कारोबार

रामकृष्ण केयर साइक्लोथॉन में उमड़ी अपार भीड़, अंगदान करें और सभी को प्रोत्साहित करें-डॉ. दवे
28-Nov-2021 1:05 PM (210)
रामकृष्ण केयर साइक्लोथॉन में उमड़ी अपार भीड़, अंगदान करें और सभी को प्रोत्साहित करें-डॉ. दवे

रायपुर, 28 नवंबर। रामकृष्ण केयर हॉस्पीटल के प्रमुख डॉ. संदीप दवे ने साइक्लोथान के आयोजन के अवसर पर अपने संबोधन में बताया कि 27 नवम्बर को प्रतिवर्ष देश में विश्व अंगदान दिवस के रूप में मनाया जाता है। मानव शरीर के कुछ अंग उसकी मृत्यु के बाद, अंगदान द्वारा अन्य मरीज को प्रत्यारोपण कर, उसे नया जीवन दिया जाता है। लीवर व किडनी जैसे अंगो को जीवित रहते हुए भी दान किया जा सकता है। इससे डोनर को कोई नुकसान नही होता और वह स्वस्थ्य जीवन जी सकता है।

डॉ. दवे ने बताया कि रामकृष्ण केयर हॉस्पीटल रायपुर जिसे मध्यभारत में विश्वस्तरीय चिकित्सा सुविधाओं व विशेषज्ञ डाक्टर्स की टीम के कारण प्रतिष्ठा प्राप्त है, इस अवसर पर आज साइक्लोथॉन 2021 को आयोजन किया गया। मरीन ड्राइव में आयोजित इस इवेंट में हजारों की संख्या में, युवा बच्चे व वृध्द भी उत्साह के साथ भाग लेने पहुंचे। इस अवसर पर रामकृष्ण केयर हॉस्पीटल के मैनेजिंग व मेडिकल डायरेक्टर डॉ. संदीप दवे एवं अशीम कुमार एचसीओओ के साथ अस्पताल के डाक्टर्स व स्टाफ की टीम ने कार्यक्रम के सुचारू संचालन की व्यवस्था सम्हाल रहे थे।

डॉ. दवे ने बताया कि अब समय आ गया है कि लोगो को अंगदान हेतु जागरूक किया जाय। लोग अंगदान करने आगे आये और अन्य लोगो को भी प्रेरित करें। हाल के वर्षों में लीवर, किडनी व हार्ट के मरीजों की संख्या काफी बढ़ रही है, इससे बहुत ज्यादा लोग पीडि़त हो रहे है, यदि समय पर अंगदान द्वारा उन्हे अंग मिल सके तो उनकी जिंदगी 5-10 वर्षों तक बढ़ सकती है। उन्होने आगे कहा कि पहले रक्तदान को महादान कहा जाता था लेकिन अब चिकित्सा क्षेत्र में अपार उन्नति के कारण, अंग प्रत्यारोपण संभव हो सका है इसलिए अंगदान को महादान कहा जाना चाहिये।

डॉ. अजय पराशर एवं डॉ. प्रवास चौधरी ने बताया कि अंगदान से गंभीर मरीजों के जीवन को बचाया जा सकता है, इसके लिये स्वयं अंगदान का संकल्प कर अन्य लोगों को भी प्रेरित करें। साइक्लोथॉन कार्यक्रम अपने आप में एक अनूठे कार्यक्रम के रूप में इसलिये लोगो द्वारा सराहा जा रहा क्योंकि रामकृष्ण केयर हॉस्पीटल अपनी चिकित्सकीय उत्कृष्टता के साथ ही अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वाह भी करते हुये, समय-समय पर ऐसे अनेंको कार्यक्रम सफलतापूर्वक आयोजित करता रहा है।

साइक्लोथॉन-2021 का आयोजन प्रात: 6.30 बजे रख गया था इसके बावजूद इसमें भाग लेने वाले अपनी अपनी साइकिलो के साथ मुस्तैदी से तैयार होकर पहुंच चुके थे। कार्यक्रम के दौरान, ऐसे लोगो को जो अंगदान कर चुके है, उन्हे सम्मान स्वरूप-गेस्ट सपोर्ट व डोनर श्रेणी के मोमेन्टो से सम्मानित किया गया। डॉ. संदीप दवे और डॉ. अजय पराशर ने झंडा दिखाकर प्रतिभागियों के लिये साइक्लोथान की शुरूआत की। साइक्लोथॉन की शुरूआत होते ही सभी अपनी अपनी साइकिलो में, आगे बढ़ते गये साइकल सवारों की यह भीड़ साइक्लोथॉन के निर्धारित रूट मरीन ड्राइव से आगे बढ़ते हुये घड़ी चौक, जीई रोड होते हुए शास्त्री चौक, जेल रोड, खालसा स्कूल के बगल से केनाल रोड होते हुये वापस मरीन ड्राइव पहुंचे।


इस पूरे आयोजन में प्रतिभागियों ने हजारों की संख्या में भाग लेकर अंगदान के प्रति अपना समर्थन और अन्य लोगों को इस हेतु प्रोत्साहन देकर अपना असीम उत्साह प्रदर्शित किया।


उत्साह व ऊर्जा से भरे युवा प्रतिभागियों की भीड़ ने कार्यक्रम स्थल पर, समूह में नृत्य कर पूरे माहौल को उत्सव का रूप दे दिया। रामकृष्ण केयर हॉस्पीटल के डॉ. संदीप दवे ने जनता के उत्साह व अंगदान के प्रति जागरूकता देखकर अपार हर्ष व्यक्त किया और कार्यक्रम की सफलता हेतु सभी को धन्यवाद दिया।

अन्य पोस्ट

Comments