बालोद

समाज के विकास के लिए बच्चों को शिक्षा देना जरूरी-साय
03-Jun-2024 7:35 PM
समाज के विकास के लिए बच्चों को शिक्षा देना जरूरी-साय

निषाद समाज के वार्षिक अधिवेशन में शामिल हुए सीएम

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर/बालोद, 3 जून। बालोद जिले के हीरापुर में आयोजित निषाद (केंवट) समाज के वार्षिक अधिवेशन में शामिल होने पहुंचे मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने समाज के विकास के लिए शिक्षा को महत्वपूर्ण मानते हुए कहा कि किसी भी समाज को आगे बढ़ाने के लिए समाज के बच्चों को शिक्षा की बहुत आवश्यकता होती है। इसलिए समाज के लोगों से आग्रह है कि अपने बेटे-बेटियों को खूब पढ़ाएं। हमारे विद्वानों ने कहा है शिक्षा के बिना जीवन अधूरा है, शिक्षा ही विकास का मूलमंत्र है। मानव को अगर किसी भी क्षेत्र में आगे बढऩा है तो शिक्षा बहुत ही जरूरी है।

उन्होंने कहा कि शिक्षा केवल नौकरी पाने का माध्यम नहीं है बल्कि समाजसेवा के लिए, अच्छी राजनीति के लिए, अच्छी खेती-बाड़ी के लिए, अच्छे व्यापार के लिए है। कोई भी क्षेत्र में अच्छा काम करना है तो शिक्षा बहुत जरूरी है। इसलिए समाज के लोगों से आग्रह है कि सब अपने बेटे-बेटी को स्कूल भेजें, अच्छी शिक्षा दें।

समाज के विकास में नशाखोरी

सबसे बड़ा बाधक

समाज के विकास में नशाखोरी को बहुत बड़ा बाधक बताते हुए सीएम साय ने कहा कि आज युवा वर्ग नशाखोरी को ओर आगे बढ़ रहा है। जिसको आपको-हमको मिलकर रोकने की जरूरत है। नशाखोरी से घर में कलह होता, मारपीट जैसी घटनाएं होती है और कभी-कभी नशे के गिरफ्त में आकर युवा जघन्य घटनाओं को भी अंजाम देते हैं। जो समाज के लिए हानिकारक है। उन्होंने समाज के लोगों से अपने-अपने बच्चों पर निगरानी रखने और उनकी गतिविधियों पर ध्यान रखने की बात कही।

राम और निषादराज का गहरा रिश्ता

विष्णु देव साय ने कहा कि भगवान राम और निषादराज का गहरा रिश्ता है। छत्तीसगढ़ भगवान राम का ननिहाल है और ये माता कौशल्या की धरती है। इसलिए प्रभु राम हमारे भांजे हैं। उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा प्रदेश के रामभक्तों को अयोध्या में रामलला के दर्शन कराने की बात कही।

निषाद समाज द्वारा आई मांग पर श्री साय ने कहा कि आचार संहिता के कारण अभी मांग को पूरा करने की घोषणा नहीं कर रहा हूँ, लेकिन आप सभी का मांगपत्र मेरे पास है। मैं आश्वस्त करता हूँ कि आचार संहिता हटते ही सबको पूरा किया जाएगा। हमारी सरकार किसी को निराश नहीं करेगी।

मुख्यमंत्री ने समाज के लोगों से कहा कि आप लोगों के आशीर्वाद से मुझे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री का दायित्व मिला है। मैं गांव के एक छोटे से किसान का बेटा हूँ। जिसको आज इतने बड़े पद में मेरी पार्टी और हमारे प्रधानमंत्री जी ने बैठाया है। आज छत्तीसगढ़ की जो तीन करोड़ जनता है उसके विश्वास में एक मुख्यमंत्री होने के नाते खरा उतरूं, इसके लिए मुझे राजा रामचंद्र का, सीता माता का, निषादराज का आशीर्वाद चाहिए।

हम सब मिलकर बनाएँगे विकसित छत्तीसगढ़ - साय

सीएम साय ने कहा कि हमारा छत्तीसगढ़ बहुत ही धनी प्रदेश है, खनिज सम्पदा से भरपूर है। यहां आयरन ओर, कोयला, सोना, टिन, हीरा और भी कई खनिज हैं। सौ से भी ज्यादा वन सम्पदा हमारे छत्तीसगढ़ में है। यहाँ की धरती माटी उपजाऊ है और आप सभी मेहनतकश किसान हैं। हम सब मिलकर छत्तीसगढ़ को विकसित प्रदेश बनाएँगे।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार किसी भी समाज या व्यक्ति को निराश नहीं करेगी। आप लोगों ने हमें सरकार में बैठाया है आपके हर समस्या का समाधान हमारी सरकार करेगी। 

वार्षिक अधिवेशन में विधायक और निषाद समाज के प्रदेश अध्यक्ष कुंवर सिंह निषाद, कांकेर लोकसभा प्रत्याशी भोजराज नाग, भाजपा प्रदेश मंत्री प्रबल प्रताप सिंह जूदेव, भाजपा जिलाध्यक्ष पवन साहू, भाजपा नेता यशवंत जैन, कृष्णकांत पवार, यज्ञदत्त शर्मा, राकेश यादव, नेहरू निषाद सहित समाज के वरिष्ठ पदाधिकारी एवं समाजजन उपस्थित रहे।

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news