छत्तीसगढ़ » रायगढ़

Date : 17-Aug-2019

इंड सिनर्जी लिमिटेड पर जल्द हो सकती है बेदखली की कार्यवाही 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 17 अगस्त।
महापल्ली ग्राम पंचायत के ग्राम कोटमार में लगे इंड सिनर्जी लिमिटेड पर अवैध कब्जे को लेकर कार्यवाही होने की संभावना है। 

सरकारी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कंपनी का राजस्व और वनभूमि पर बड़े पैमाने पर कब्जा पाया गया है। कलेक्टर से की गई शिकायत में मामले का खुलासा हुआ है। शिकायतकर्ता द्वारा सौंपी गई लिखित शिकायत में बताया गया कि इंड सिनर्जी लिमिटेड तकरीबन 250 एकड़ जमीन पर स्थित है। इंड सिनर्जी लिमिटेड द्वारा ग्राम महापल्ली पटवारी हल्का नं 20 आरआई नं दो रायगढ़ में स्थित वनभूमि खसरा क्रमांक 05.,24 एवं 30 में अवैध कब्जा कर निर्माण कर लिया है। इसी तरह ग्राम कोटमार पटवारी हल्का नं 08  तहसील जिला रायगढ़ के खसरा क्रमांक 28 8 /1, 338  एवं 324/1 में भी अवैध कब्जा कर निर्माण किया गया है। उद्योग की भूमि से लगी हुई वनभूमि पर भी तारों से कब्जा कर प्रबंधन द्वारा घेरा बना लिया गया गया। 

बता दें कि शिकायतकर्ता की शिकायत के उपरांत जिला प्रशासन ने उक्त शिकायत की जांच करवाई। जिसमें शिकायतकर्ता के ज्यादातर आरोप को सही पाया गया है। प्रशासनिक टीम ने जांच में पाया कि इंड सिनर्जी प्रबंधन ने शासकीय जमीन पर अतिक्रमण किया है। मामले में मौखिक चर्चा के दौरान सम्बंधित अधिकारी ने अतिक्रमण की पुष्टि की है। जांच प्रतिवेदन के आधार पर उद्योग प्रबंधन पर कार्यवाही की जाएगी। फिलहाल मामला तहसीलदार को सुपुर्द किया गया है। आने वाले दिनों में बेदखली की कार्यवाही की जा सकती है।


Date : 16-Aug-2019

हर्षोल्लास के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस, कृषि मंत्री ने किया ध्वजारोहण

रायगढ़, 16 अगस्त। संसदीय कार्य, विधि एवं विधायी कार्य, कृषि विकास एवं किसान कल्याण तथा जैव प्रौद्योगिकी, पशुधन विकास, मछली पालन, जल संसाधन एवं आयाकट विभाग तथा जिले के प्रभारी मंत्री रविन्द्र चौबे ने जिला मुख्यालय के मिनी स्टेडियम में आयोजित मुख्य समारोह में ध्वजारोहण किया एवं संयुक्त परेड की सलामी ली। रायगढ़ जिले में स्वतंत्रता दिवस पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर कृषि मंत्री श्री चौबे ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन किया एवं शांति के प्रतीक कबूतर तथा गुब्बारे भी उड़ाए।  

कृषि मंत्री श्री चौबे ने कलेक्टर यशवंत कुमार एवं पुलिस अधीक्षक राजेश अग्रवाल के साथ परेड का निरीक्षण किया। इस अवसर पर छठवीं वाहिनी छत्तीसगढ़ सशस्त्र पुलिस बल, जिला पुलिस बल, होम गार्ड्स, जिला महिला बल, एनसीसी सीनियर डिवीजन (ब्वायज), एनसीसी जूनियर डिवीजन नटवर स्कूल रायगढ़, एनसीसी जूनियर डिवीजन (ब्वायज)नगर पालिका निगम स्कूल, गाईड गल्र्स कार्मेल स्कूल, स्काउट ब्वायज संत माईकल स्कूल, स्काउट ब्वायज संत माईकल स्कूल एवं कोटवार दल के संयुक्त मार्च पास्ट की सलामी ली। परेड का नेतृत्व प्रशिक्षु डीएसपी  जितेन्द्र चंद्रवंशी ने तथा सेकेण्ड इन कमाण्ड का दायित्व रक्षित निरीक्षक अमरजीत खूंटे ने निभाया। मुख्य अतिथि ने प्लाटून कमाण्डरों से परिचय प्राप्त किया तथा इस अवसर पर उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं शहीदों के परिजनों से भेंट कर उन्हें सम्मानित किया। 

इस अवसर पर विधायक प्रकाश नायक, नगर निगम के सभापति सलीम नियारिया, जिला पंचायत सीईओ सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी एवं स्कूली बच्चे उपस्थित थे। स्वतंत्रता दिवस समारोह में कार्यक्रम का संचालन प्राचार्य राजेश डेनियल एवं अम्बिका वर्मा ने किया। इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को सम्मानित किया गया।  डीएसपी जितेन्द्र चन्द्रवंशी को परेड कमांडर एवं आरआई अमरजीत खूंटे को सेकेण्ड इन कमांडर के लिए प्रशस्ति पत्र एवं शील्ड पुरस्कार प्रदान किया गया।  परेड में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए  (जूनियर) वर्ग में एनसीसी नटवर उ.मा.शाला को प्रथम, स्काउट बालक संत माइकल को द्वितीय एवं गाईड गल्र्स नटवर उच्च.मा.शाला को तृतीय पुरस्कार मिला। (सीनियर) वर्ग में छठवी वाहनी छ.ग.सशस्त्र बल को प्रथम, जिला महिला पुलिस बल को द्वितीय एवं कोटवार दल की सहभागिता रही।  सांस्कृतिक कार्यक्रम (समूह नृत्य) में ओपी जिंदल स्कूल नलवा को प्रथम, कार्मेल कन्या उ.मा.शाला को द्वितीय एवं साधुराम विद्या मंदिर को तृतीय पुरस्कार मिला। इसी तरह अन्य स्कूलों को सम्मानित किया गया। 

कलेक्टर यशवंत कुमार ने कलेक्टोरेट में किया ध्वजारोहण  
स्वतंत्रता दिवस के पावन अवसर पर कलेक्टर यशवंत कुमार ने कलेक्टोरेट परिसर रायगढ़ में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। कार्यक्रम में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, सहायक कलेक्टर संवित मिश्रा, अपर कलेक्टर सुखनाथ अहिरवार एवं आर.ए.कुरूवंशी सहित सभी विभागों के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। इस अवसर पर कलेक्टोरेट परिसर स्थित सृजन सभाकक्ष में आयोजित एक संक्षिप्त कार्यक्रम में कलेक्टर यशवंत कुमार ने अधिकारियों एवं कर्मचारियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी-कर्मचारी अपने क्षेत्र में लगन, मेहनत व कर्तव्यनिष्ठ के साथ कार्य करें और अपने क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करके दिखाएं। इस मौके पर डिप्टी कलेक्टर श्री सोम ने ऐसा देश है मेरा देश भक्ति गीत सुनाया। डीकाराम शेष ने देशभक्तिपूर्ण कविता सुनाया। डॉ.माधुरी त्रिपाठी ने आज तिरंगा तीन रंगों से रंगा तिरंगा सुंदर कविता सुनाई। 


Date : 13-Aug-2019

370 पर बात करने आई गोमती 170 पर अटकी, कहा-जल जंगल व जमीन आदिवासियों से जुड़ा मामला

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 13  अगस्त।
रायगढ़ सांसद गोमती साय चुनाव जीतने के बाद पहली बार बार सीधे तौर पर पत्रकारों से मुखातिब हुई। सांसद साय ने सबसे पहले जम्मू कश्मीर से 370 और 35 ए हटाने को लेकर केंद्र की मोदी सरकार के फैसले स्वागत किया, लेकिन 170 ख, पेसा एक्ट और फारेस्ट एक्ट राइट के खत्म होने से इनकार किया। जम्मू कश्मीर में लोगों को रोजगार मिलेगा। यहां के एसटी एससी के लोगो को यहां मौका मिलेगा रोजगार मिलेगा। देश में अब कई कानून में बदलाव किए जा रहे है कई खत्म किए जा रहे हैं। इसमें एक 170 ख पेसा एक्ट और फारेस्ट एक्ट राइट भी शामिल है। जिसे खत्म किये जाने की सुगबुगाहट चल रही है। जम्मू कश्मीर के बाद अब देश के अंदर आदिवासी क्षेत्रों में लागू 170 ख और पेसा एक्ट कानून सहित फारेस्ट एक्ट राइट को हटाने को लेकर जन संगठनों में खलबली मची हुई है। 170 ख सहित पेसा एक्ट और फारेस्ट एक्ट राइट समाप्त किये जाने को लेकर भाजपा सांसद गोमती साय ने कहा की जल जंगल जमीन सीधे आदिवासियों से जुड़ा हुआ है। गोमती साय ने कहा कि भाजपा जनहित को लेकर चलने वाली सरकार है अदिवासी नेता भी यही चाहते है सरकार भी आदिवासियो के हितों के लिए काम करती है । जल जंगल जमीन सीधे तौर पर आदिवासियो से जुड़ा हुआ है इसे समाप्त नहीं किया जा सकता।

नेशनल हाईवे का काम पूरा करना लक्ष्य- गोमती साय
रायगढ़ जिले की सांसद व भाजपा के नेता ने जिले के विकास के लिए छत्तीसगढ़ की कांगे्रस सरकार को आगे आने के लिए कहा है। उन्होंने बताया कि पूरे जिले में हाईवे के काम रूक चुके हैं और इसके लिए राज्य सरकार को चाहिए कि तत्काल ठेकेदारों से मिलकर रूके हुए कामों को शुरू करवाएं चूंकि केन्द्र ने अपना काम कर दिया है और ऐसे में अब राज्य सरकार की बारी है कि आदिवासी अंचलों को जोडऩे के लिए सडक़ों के अधूरे काम को पूरा करें और जनता को आवागमन में असुविधा न हो। 

 


Date : 13-Aug-2019

दहेज प्रताडऩा, ससुरालियों पर जुर्म दर्ज, पति के खिलाफ भी लिखाई रिपोर्ट 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 13 अगस्त। 
शहर की एक नवविवाहिता ने अपने पति सहित ससुराल वालों पर प्रताडि़त करने का आरोप मढा है। पुलिस ने आरोपी ससुरालियों के खिलाफ जुर्म दर्ज करते हुए दहेज प्रताडऩा के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया है। इस संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक रायगढ़ सिद्धी विनायक कालोनी में रहने वाली युवती का विवाह चन्द्रपुर निवासी गौरव शर्मा पिता राजेश शर्मा उम्र 23 वर्ष के साथ इस साल जनवरी माह में हुआ था। युवती के पिता ने अपने सामर्थ के अनुसार विवाह मे जेवर, बर्तन, कपडे, घरेलू सामान, एसी, पंलग, सोफा सेट, गददा, ड्रेसिंग टेबल, ओवन आदि दिए थे तथा नगद एक लाख रुपए भी लगन के समय दिए थे। विवाह के पहले युवती के ससुर ने अपना घर कच्चा है उसे पक्का मकान बनाना है बोलकर तीन लाख रुपए मांग किए तब युवती के पिता ने नगद तीन लाख रुपए दिए। विवाह के दो माह बाद ही फिर से ससुरालवाले घर के ऊपरी मंजिल का निर्माण करना है बोलकर फिर से तीन लाख रुपए की मांग करने लगे। युवती का पति गौरव शर्मा एक दिन बिलासपुर की एक लडक़ी को अपने घर ले आया था, जिसका समर्थन उसके ससुराल वाले कर रहे थे। इस बात को युवती ने अपने माता पिता को बताया तो उसके माता पिता उसके ससुराल आकर उसके ससुरालवालों से बातचीत किए और समझाये तब युवती का पति, सास, ससुर एवं देवर अपना गलती स्वीकार करते हुए भविष्य मे ऐसी गलती नहीं होगी तथा पैसे की मांग नहीं करेंगे बोले, लेकिन युवती के मायके वालों के जाने के बाद पुन: चारो मिलकर युवती से मारपीट कर प्रताडि़त कर कहने लगे कि छोटी छोटी बात को अपने पिता को बताकर पंचायत कराकर बदनाम करा रही हो। तब युवती माह जून में अपने मायके आकर रहने लगी। उसके ससुरालवालों ने उसकी पूछपरख नहीं की बल्कि उसका पति दूसरी लडकियों का फोटो मोबाईल स्टेटस पर रखकर उसे मानसिक रूप से प्रताडि़त करने लगा। इसके बाद युवती ने मामले की शिकायत कोतवाली में की। जहां युवती के आवेदन पर थाना कोतवाली में धारा 498(ए), 34 भादंवि दर्ज कर विवेचना में लिया गया है ।  

 


Date : 13-Aug-2019

व्यापारियों ने बदली कारगिल चौक की तस्वीर

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 13  अगस्त।
शहर के हृदय स्थल बूजी भवन चौक में स्थित कारगिल युद्ध विजय की याद में बने विजय स्तंभ कारगिल चौक स्मारक का जीर्णोंद्वार यहां के रहवासियों एवं व्यापारियों ने मिल कर किया। श्री पंचमुखी हनुमान सेवा समिति के अध्यक्ष एवं व्यापारी कृष्ण कुमार केशरवानी में बताया है कि सन 2000 में बने उस स्मारक को रायगढ़ विकास मंच के माध्यम से यहां के व्यपारियों ने जिंदल के सहयोग से बनवाया था। जो कि देख रेख के अभाव में जगह जगह से टूट-फुट गया था। जिसे लेकर कई बार प्रशासन एवं नगर निगम को भी गुहार लगाई गई, लेकिन नतीजा वहीं ढाक के तीन पात रहा। तीन माह पूर्व एक शराबी ने यहां लगी हुई बन्दूक के बट को कुल्हाड़ी मारकर तोड़ दिया था। जिसे यहां के व्यपारी एवं श्री पंचमुखी हनुमान सेवा समिति के अध्यक्ष ने बदलवाया था। इस स्मारक के टूटे फूटे भाग को पुन: नए सिरे से प्लास्टर कर नए प्रकार से इसे रंग रोगन कर सजाया गया है। जो कि अब बहुत ही ज्यादा आकर्षक लग रहा है। इसमें तिरंगे के रंग में इसके पिल्लरों को रंग दिया गया है। व्यपारियों के द्वारा कई बार नगर निगम को इस बात से अवगत करा कर स्मारक एवं यहां के प्रकाश व्यवस्था को सुधारने का अनुरोध स्थानीय पार्षद एवं निगम आयुक्त को कि गई, लेकिन उन्होंने इस दिशा में कोई प्रयास नहीं किया।

इससे व्यापारियों ने स्वयं ही अपने खर्चे पर यहां की प्रकाश व्यवस्था को ठीक करते हुए चौक में तीनों ओर लाइट लगवाकर प्रकाश व्यवस्था दुरुस्त की।


Date : 12-Aug-2019

गले मिल दी बकरीद की बधाई
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़,
12  अगस्त। कुर्बानी का पर्व ईदु-उल-अजहा सोमवार को धूम-धाम के साथ मनाई गई। मुस्लिम धर्म का दूसरा बड़ा पर्व ईद-उल-अजहा है। इसे लोग बकरीद के नाम से भी जानते हैं। इसमें मुस्लिम समुदाय द्वारा बकरों की कुर्बानी दी जाती है। 

जिसे सुन्नत माना जाता है और कुर्बानी हर उस मुस्लिम वर्ग के लोगों के लिए वाजिब है। बकरीद पर्व के लिए मुस्लिम भाई पखवाड़े भर से तैयारी कर रहे थे। बकरों की खरीद परोख्त चल रही थी। गांव-गांव जा कर बकरों की तलाश की जा रही थी। इसके बाद चुस्त बकरों की खरीदी की गई। वहीं घरों की भी साफ-सफाई व रंग रोगन किया जा रहा था। 

जहां तैयारी पूरी होने के बाद अब बकरीद पर्व मनाया जाएगा। कुर्बानी के पर्व में सुबह मुस्लिम भाई बकरीद की नमाज के लिए ईदगाह पंहुचें। जहां बकरीद की नमाज सुबह साढ़े आठ बजे अदा की गई और इसके बाद पर्व की बधाई सभी मुस्लिम भाईयों ने आपस में गले मिलकर दी।


पुलिस की तैयारी चुस्त
ईदु-उल-अजहा के मौके पर किसी तरह की अप्रिय घटना घटित नहीं हो इसके लिए पुलिस प्रशासन भी गंभीर दिखी और इस दिन शहर के मुस्लिम मोहल्लों में तो पुलिस के जवान तैनात थे। इसके साथ ही ईदगाह में नमाज के दौरान भी पुलिस जवान भी शहर में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मुस्तैद थे। ईदगाह में नमाज के दौरान यातायात बाधित न हो, इसके लिए घड़ी चौक पर चार पहिया वाहनों को परिवर्तित मार्ग से भेजा जा रहा था।


Date : 12-Aug-2019

डीजल पेट्रोल की कीमतों पर अंकुश लगाए सरकार-जोगी कांग्रेस

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 12  अगस्त।
आम आदमी की कमर तोडऩे वाली डीजल और पेट्रोल पर बढ़ाई गई अनाप-शनाप कीमतों को लेकर राज्य सरकार से आदेश तत्काल वापस कराने एवं सूखा प्रभावित क्षेत्र में बीमा का 25 प्रतिशत राशि बकाया बोनस की दोनों किस्त की राशि को किसानों को भुगतान कराए जाने की मांग करते हुए जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने राज्यपाल के नाम डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है। 

ज्ञापन के माध्यम से जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने अवगत कराया कि प्रदेश में भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली राज्य सरकार द्वारा वेट बढ़ाया गया है। इससे डीजल और पेट्रोल की कीमतें अनापशनाप बढ़ गया है। इससे महंगाई व लोगों के जेब पर अतिरिक्त बोझ बढ़ रहा है। वित्तीय कुप्रबंधन के कारण मुख्यमंत्री ने राज्य को दिवालियापन के कगार पर खड़ा करना बताया है। इससे बचने के लिए बौखलाहट में सरकार द्वारा बिना सोचे समझे इस प्रकार का कदम उठाया गया है। सरकार को ऐसा न करके अच्छे से शासन चलाना सीखने की नसीहत दिए है । साथ सलाह के तौर पर शासन की अर्थव्यवस्था सुधारने के लिए ऐसे कारगर कदम उठाने चाहिए जिससे जनता पर कोई भार न पड़े। वही प्रदेश के 16 जिले की 90 तहसीलों में अवर्षा के कारण सूखे की स्थिति बनी है। इससे निपटने के लिए सूखा प्रभावित क्षेत्र के इन किसानों को राहत पहुंचाने के लिए दो निर्णय सरकार को तत्काल लिए जाने की मांग किए हैं। इस दौरान शहर अध्यक्ष देवेन्द्र भट्ट के नेतृत्व में परवजे आलम, सैदर अली, आबीर शाह, इशराफील अंसारी, सोमवार साहू, रोहित पटेल, गौरव सिंह, अरूण सिंह, शिव चौहान, अनिल भट्ट, संजु मरार, अजय डनसेना, जमीर बेग सहित जनता कांगे्रस छत्तीसगढ़ जे के कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

 


Date : 12-Aug-2019

उच्च शिक्षामंत्री उमेश पटेल ने जुनवानी में नवनिर्मित विद्युत उपकेन्द्र का शुभारंभ किया

ग्रामवासियों की मांग पर सीसी रोड व सामुदायिक भवन बनाने की घोषणा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 12  अगस्त।
उच्च शिक्षा, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल ने रायगढ़ विकासखण्ड के ग्राम-जुनवानी में 1 करोड़ 35 लाख रुपए की लागत से 33/11 नवनिर्मित विद्युत उपकेन्द्र का शुभारंभ किया और ग्रामवासियों की मांग पर सीसी रोड एवं सामुदायिक भवन बनाने की घोषणा की। उन्होंने ग्रामवासियों को अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि लो-वोल्टेज एवं विद्युत कटौती की समस्या लेकर ग्रामवासी मेरे पाए आए थे उनकी समस्याओं को संज्ञान में लेकर आज उन्हें उपकेन्द्र की सौगात दी गई है। इससे जुनवानी के आसपास के लगभग 16 गांव को लो वोल्टेज की समस्या से मुक्ति मिल गई है। उन्होंने कहा कि रायगढ़ जिले के हर गांव, मजरे, टोले, गांव-कस्बों तक शत-प्रतिशत विद्युत आपूर्ति करना प्राथमिकता की श्रेणी में है। उन्होंने आगामी दिनों में खरसिया क्षेत्र में 3 सब विद्युत केन्द्र स्थापित करने की मंशा जाहिर की है, ताकि क्षेत्र में विद्युत परिचालन और सुव्यवस्थित हो सके। इस उपकेन्द्र से 16 गांव में बैसपाली, भद्रापाली, जुनवानी, नवापारा, अरसीपाली, रानीगुड़ा, पंझर, बायंग, जैमुरा, टायंग, मौहापाली, बरपाली, कोलिहापाली, कुलबा, सरवानी, लिटाईपाली आदि गांव लाभान्वित होंगे। उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने कहा कि पुलिस, डॉक्टर एवं विद्युत विभाग के अधिकारी को चौबीसो घंटे सक्रिय होकर काम करना पड़ता है। जब भी उनको बुलावा आता है उनको अपनी ड्यूटी निभानी पड़ती है। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों की सराहना करते हुए कहा कि कम समय में ग्रामवासियों के लिए उपकेन्द्र स्थापित कर दिए। कार्यक्रम में लाल कुमार पटेल, अवधराम पटेल, निराकार पटेल ने अपने विचार व्यक्त किए और ग्रामवासियों को लो-वोल्टेज की समस्या से मुक्ति दिलाने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री ने पौधरोपण भी किया। अपर कलेक्टर सुखनाथ अहिरवार ने ग्रामवासियों को शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरूवा एवं बाड़ी योजना के बारे में जानकारी दी। उन्होंने किसानों को योजना का लाभ उठाकर आर्थिक रूप से मजबूत होने के लिए प्रोत्साहित किया। साथ ही अपने खेतों के मेड़ों में राहड, तुअर, साग-सब्जी उत्पादन करने के लिए प्रोत्साहित किया। रायगढ़ के विद्युत विभाग के मुख्य अभियंता  सीएस सिंह ने बताया कि प्रदेश में औसतन तीस गांव में एक सब स्टेशन है, वहीं खरसिया विकासखण्ड में 11 गांव में एक सब स्टेशन स्थापित किए गए है। खरसिया विकासखण्ड में एक वितरण केन्द्र के पीछे पांच सब स्टेशन है। खरसिया के ग्राम-चपले एवं पुटकापुरी में अति उच्च दाब 132/33 केव्ही के दो उपकेन्द्र स्थापित किए गए है। इसी प्रकार सिंचाई के लिए पहले किसानों की संख्या 3870 थी और वर्तमान में लगभग 11500 को कनेक्शन दिया गया है। इसी प्रकार पहले 33/11 के 13 उपकेन्द्र थे अब वर्तमान में 23 उपकेन्द्र हो गए है।

उपभोक्ताओं की संख्या खरसिया विकासखण्ड में 39000 हजार से बढक़र 72000 हो गई है। साथ ही 6 माह में अतिरिक्त कार्यो में लाईनों का सुधरीकरण, अतिरिक्त ट्रांसफार्मर, उपकेन्द्र सहित लगभग 2 करोड़ का कार्य किए गए है। इस अवसर पर ग्राम पंचायत के सरपंच, पंच, उपसरपंच, विद्युत विभाग के अधीक्षण यंत्री बीएल वर्मा, कार्यपालन अभियंता गुंजन शर्मा, कार्यपालन अभियंता एसके साहू, सहायक यंत्री   एनके नायक सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे। 

 

 


Date : 12-Aug-2019

मंत्री पटेल ने यशवंत दास महंत को दी श्रद्धांजलि

खरसिया, 12 अगस्त। उच्च शिक्षा मंत्री और स्थानीय विधायक उमेश पटेल सहयोगियों सहित स्व. यशवंत दास महंत के दशकर्म में शामिल हुए और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शोकाकुल परिवार को ढांढस बंधाया। ज्ञात हो कि युवा कांग्रेस नेता राहुल महंत के पिता यशवंत दास महंत का पिछले दिनों निधन हो गया था। शनिवार को उनका दशकर्म कार्यक्रम गंज पीछे स्थित उनके निज निवास में हुआ जहां उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल भी पहुंचे। इस दौरान उनके साथ बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता भी उपस्थित थे।

 

 

 


Date : 12-Aug-2019

सीसी रोड का भूमिपूजन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
सरसींवा, 12 अगस्त। स्थानीय ग्राम पंचायत एवं प्राथमिक शाला स्कूल मार्ग  का क्षेत्रीय विधायक चंद्रदेव राय एवं सभापति रेशम कुर्रे ने भूमिपूजन कर सीसी रोड निर्माण कार्य प्रारंभ किया। सीसी रोड 200 मीटर लम्बी व 5 लाख की लागत से बनेगी। उल्लेखनीय है कि इस मार्ग पर पंचायत का हैंडपम्प है। जहां पानी निकासी हेतु कोई नाली ना होने के कारण गर्मी के दिनों में भी कीचड़ रहता है। स्कूली बच्चों को भी कीचड़ से गुजरते हुए जाना पड़ता है। सीसी रोड निर्माण होने से यह मार्ग अब कीचड़ मुक्त हो जाएगा।  इस अवसर पर प्रमुख रूप से ताराचंद्र देवांगन, इस्माइल खान, भावेश केशरवानी उपसरपंच गुड्डू पांडेय, प्रेम सरदार विनोद साहू विनोद जयसवाल उपस्थित थे।


Date : 11-Aug-2019

नेशनल हाइवे-49 में पिछले कई घंटों से जाम में फंसे, वाहन हाइवे में जल भराव से ट्रकों की लगी लंबी कतार 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
खरसिया, 11 अगस्त।
खरसिया के बरगढ़ पलगढ़ा के पास रायगढ़ बिलासपुर नेशनल हाइवे-49 में पिछले कई घण्टों से जाम लगा हुआ है। निर्माणाधीन पुल के अधूरे निर्माण एवं पानी निकासी की समस्या के चलते खरसिया के बरगढ़ पलगढ़ा के पास हज़ारों वाहन जाम में फंसे हुए हैं। वहीं छोटे वाहन चालक ग्रामीणों की मदद से किसी तरह खतरा उठा कर गाड़ी पार कर रहे हैं जो खतरनाक हो सकता है। अफसोस की बात यह है कि इस समस्या से निजात दिलाने के लिए प्रशासन और न ही नेशनल हाईवे के निर्माण में लगे हुए ठेकेदार ने इसकी सुध ली है।

      बुधवार की शाम से शुरू हुई लगातार बारिश के कारण रायगढ़ बिलासपुर नेशनल हाईवे पर खरसिया के बरगढ़ पलगढ़ा के पास पिछले 72 घंटों से भी ज्यादा समय से जाम लगा हुआ है। नेशनल हाइवे में जल भराव से हजारों ट्रकों की लगी लम्बी कतार लगी हुई है जो पानी के कम होने का इंजतार कर रहे हैं। जाम के चलते मुंबई से कलकत्ता जाने वाले नेशनल हाइवे में आवागमन अवरुद्ध हो गया है। नेशनल हाईवे के इंजीनियर एवं कांट्रेक्टरों की लापरवाही का खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है। इस नेशनल हाईवे के किनारे पानी निकासी के लिए नालियां बनाई गई है जो पर्याप्त चौड़ी नहीं है और सही लेबल में नहीं होने के कारण पहाडों़ से उतरने वाला पानी सड़कों पर जमा हो गया है। नेशनल हाईवे के इस क्षेत्र में निर्माण के पहले ही स्थानीय निवासियों ने पानी निकासी के लिए पहले बड़ी पुलिया बनाए जाने की मांग की थी। लेकिन ना तो लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने और ना ही ठेकेदारों ने इस ओर ध्यान दिया। लापरवाही के कारण मार्ग पर आवागमन तो अवरुद्ध हुआ ही वहीं अब तक हुए निर्माण कार्य की गुणवत्ता भी सवालों के घेरे में आ गई है। 

फोन नहीं उठा रहे लोनिवि के अधिकारी
इस स्थिति को लेकर लोक निर्माण विभाग के अधिकारी श्री भदौरिया को मोबाइल पर संपर्क साधा गया तो कई बार प्रयास करने के बाद भी उन्होंने फोन नहीं उठाया।

 


Date : 11-Aug-2019

सांस्कृतिक भवन को लेकर राजनीति शुरू, चक्रधर समारोह आयोजन को लेकर उठ रहे सवाल 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 11 अगस्त।
सांस्कृति नगरी के रूप में पहचान बना चुके रायगढ़ का सांस्कृतिक भवन बनकर तैयार है और इस भवन में करोड़ो की लागत आने के बाद विभिन्न बड़े सांस्कृतिक कार्यक्रम यहां होने हैं, लेकिन अब इस पर राजनीति होने लगी है। कहने को तो यह भवन राष्ट्रीय स्तर के चक्रधर समारोह के सफल आयोजन के लिए बनाया गया था और इसके अलावा शहर में होने वाली अन्य सांस्कृतिक गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए कई नई सुविधाएं शामिल की गई, पर पहली बार इस भवन को लेकर राजनीति भी तेज हो गई है। एक तरफ जिला प्रशासन के अधिकारी चक्रधर समारोह के आयोजन इसी सांस्कृतिक भवन में कराने की तैयारी कर रहे हैं और वे चाहते हैं कि हर साल टेंट तथा अन्य खर्चों से समिति को निजात मिले, लेकिन ऐसा भी नहीं हो पा रहा है। 

लंबी जद्दोजहद के बाद मिला सांस्कृतिक भवन- सलीम नियारिया
निगम के सभापति सलीम नियारिया भी इस मामले में सीधे-सीधे सांस्कृतिक भवन में ही चक्रधर समारोह जैसे बड़े आयोजन कराने की बात कहते हैं। उनका यह भी कहना है कि लंबी जद्दोजहद के बाद जिले वासियों को यह सांस्कृतिक भवन मिला है और जबरन इसे लेकर किसी प्रकार की राजनीति करना भी गलत है। सभापति का यह मानना है कि सभी सुविधाएं इस भवन के भीतर है और चक्रधर समारोह के लिए ही इसका निर्माण करवाया गया है। 


Date : 11-Aug-2019

किरोड़ीमल नगर में नलवा करा रहा नियम के विरूद्ध अनलोडिंग, रेलवे अधिकारियों ने जांच उपरांत कराया बंद 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 11 अगस्त
। किरोड़ीमल नगर में स्थित नलवा की रेक पॉइंट मे नियम विरुद्ध अनलोडिंग का कार्य कराए जाने की शिकायत किए जाने पर रेलवे अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए और घटना स्थल पर जाकर जांच किए जाने पर शिकायत को सही पाया गया। इसके बाद तत्काल कार्य पर रोक लगा दी गई। रेलवे से जुड़े के अधिकारियों ने बताया कि रेक खाली कराने के निर्धारित नियम होते हैं, लेकिन अधिकृत ठेकेदार के द्वारा नियम विरुद्ध कार्य किया जा रहा है। रेलवे से जुड़े अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक कि यह कार्य आकाश लॉजिस्टिक द्वारा कराया जा रहा है। नियमों के तहत रेक पॉइंट में रेलवे सुरक्षा के मद्देनजर मशीन के जरिए खाली करने की अनुमति नहीं देती है। रेलवे प्लेटफार्म में खड़ी गाड़ी यदि खाली करने का कार्य पोकलेन या अन्य किसी मशीन से करवाया जाता है तो बड़ी दुर्घटना की सम्भवना से इंकार नहीं किया जा सकता। रैक खाली करवाए जाने के नियमों के तहत मानविय श्रम का उपयोग निर्धारित है। 

जबकि सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली कि किरोड़ीमल नगर की नलवा की रेक पॉइंट में विगत कई माह से मशीनों के जरिये से रैक खाली करवाया जा रहा है। मामले की जानकारी के बाद रेलवे के अधिकारी तत्काल रेक पॉइंट पहुंचे और शिकायत को सही पाया। इसके बाद ठेकेदार ने आनन-फानन में वहां से मशीनें हटा ली, लेकिन इसी बीच मीडिया ने रेक खाली करते हुए मशीनों का वीडियो बना लिया था। मौके पर पहुंचे रेलवे के अधिकारियों ने पाया कि रेलवे साइडिंग के किनारे चार-पांच मशीनें खड़ी है। वहीं मौके पर जांच करने पर वहां मशीनों के पहिये के निशान स्पष्ट नजर आ रहे थे। ऐसे में रेल अधिकारियों ने इसकी पुष्टि भी कर दी है। इस संबंध में किरोड़ीमल नगर के स्टेशन मास्टर ने बताया कि मौके पर मशीनों के पहिये के निशान मिले हैं। अभी जांच की जा रही है और जांच रिपोर्ट बनाकर ऊपर भेज दी जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि फिलहाल रेक लोडिंग का काम बंद करा दिया गया है। 

 

 


Date : 11-Aug-2019

रायगढ़, बिलासपुर नेशनल हाईवे 49 को जाम से जल्द मुक्त कराने की मांग, बसपा ने दी आंदोलन की चेतावनी  

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 11 अगस्त। 
रायगढ़ -बिलासपुर हाईवे 49 में ट्रकों डम्फर व वाहनों की जाम लगा रहता है। इससे पहुंच मार्ग  बाधित हो जाता है। ऐसे में बसपा ने हाईवे को जाम से मुक्त कराने की मांग करते हुए आंदोलन की चेतावनी दी है। 

विदित हो की निर्माणधीन सडक़ को ठेकेदार द्वारा जल्द निर्माण नहीं कराने की वजह से आए दिन यहां जाम की स्थिति देखने को मिलती है। आसपास के लोगों की माने तो ठेकेदार की मनमानी व लेट लतीफी के कारण यहां बनने वाले पुल बरसात के पहले नहीं बन सके। इस कारण खरसिया के बरगढ़ के पास हजारों संख्या में ट्रक डम्पर की जाम कि स्थिति निर्मित हो गई है पानी के जमाव के कारण मुंबई से कलकत्ता जाने वाला नेशनल हाईवे अवरूद्ध हो जाता है। बहुजन समाज पार्टी के जोन प्रभारी महेन्द्र जायसवाल ने नवनिर्मित पुल निर्माण की लेट लतिफी का दोषी इंजिनियर ठेकेदार  व जिम्मेदार अधिकारी को ठहराया है और कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर कहा है कि अगर जल्द से जल्द राहगीर व ट्रकों की जाम खत्म करने व जिम्मेदार ठेकेदार व इजिंनियर के  ऊपर कार्यवाही नहीं की जाती है, तो आगामी दिनों उग्र आंदोलन किया जाएगा। 

 


Date : 11-Aug-2019

एटीएम चोरी करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार, नगदी-बाईक बरामद, फरार आरोपियों की तालाश में जुटी पुलिस

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 11 अगस्त। 
शहर के वीआईपी एरिया सर्किट हाउस रोड स्थित कांप्लेक्स में लगे एसबीआई के एटीएम बूथ को तोडक़र साढ़े 26 लाख रुपए की सनसनीखेज चोरी की घटना को अंजाम देने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं मामले से जुड़े करीब पांच आरोपी फरार बताए जा रहे हैं। 

इस संबंध में आज पुलिस कंट्रोल रूम में मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक राजेश अग्रवाल ने बताया कि 7 अगस्त की शाम से लेकर 8अगस्त की अल सुबह तक इस सीजन की अब तक की सबसे तेज व अनवरत बारिश हुई। बारिश ऐसी थी कि शहर की रफ्तार पर ही ब्रेक सा लग गया था और जन जीवन भी प्रभावित हो गया था। मूसलाधार बारिश के कारण शाम से ही सडक़ें सूनसान हो गई थीं। इसी का फायदा उठाकर चोरों ने सर्किट हाउस रोड स्थित एसबीआई के एटीएम बूथ को बरसते पानी के मध्य रात को अपना निशाना बनाया और बूथ का शटर बंदकर इत्मिनान से पहले कैश बाक्स समेत एटीएम को तोडक़र ले गए। सुबह स्टेट बैंक एटीएम शाखा के एजीयूटिव अधिकारी त्रिलोचन साव के पुलिस में इस मामले की सूचना देने पर खुलासा हुआ कि कैश बाक्स में 26 लाख 65 हजार रुपए थे। 

मामले की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, नगर पुलिस अधीक्षक सहित शहर के सभी थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और मामले में जांच शुरू की दी। पुलिस अधीक्षक द्वारा एक टीम गठित की गई और लगातार मामले में आरोपी की पतासाजी की जा रही थी। तभी मुखबिर से पुलिस को तमनार थाना क्षेत्र के ग्राम महलोई में रहने वाला सुरेश गुप्ता के इस वारदात से जुड़े होने की आशंका हुई। इसके बाद उसे हिरासत में लेकर पुछताछ किया गया, तो उसने अपना जुर्म काबुल किया और इसके बाद पुलिस ने उसके साथी परमेश्वर भगत   व घरघोड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम ढेरम निवासी कार्तिक राम   को हिरासत में लेकर पुछताछ किया, तो उन्होंने भी अपना जुर्म कबुल किया और हमीरपुर के जंगल में ले जाकर घन व सब्बल से एटीएम मशीन को तोडक़र रकम निकालने की बात कही।

 सुरेश गुप्ता ने दो लाख सत्तर हजार रुपए, परमेश्वर भगत ने तीन लाख छह हजार रुपए एंव कार्तिक ने नगद तीन लाख पचास हजार रुपए रखे थे। शेष रकम को अन्य साथी लेकर फरार हो गए। जिसकी तालाश पुलिस के द्वारा की जा रही है।

 पुलिस ने बताया कि सुरेश गुप्ता ने एटीएम से निकाली गई रकम में से सत्तर हजार रुपए मूल्य का एक बाईक खरीदा है। जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया और परमेश्वर भगत ने भी एक बाईक खरीदा और दस हजार रुपए का एक मोबाइल खरीदा। जिसे भी बरामद कर लिया गया है। फिलहाल पुलिस के द्वारा मामले में आगे की जांच करते हुए फरार आरोपियों की तालाश की जा रही है। 


Date : 10-Aug-2019

कांजी हाउस अव्यवस्था का शिकार, अवैध वसूली का भी लग रहा आरोप

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 10 अगस्त।
नगर निगम द्वारा संचालित कांजी हाउस अव्यवस्था का शिकार हो गया है। कहने को तो नगर निगम ने आवारा पशुओं को पकडक़र यहां रखने के लिए पर्याप्त व्यवस्था का दावा किया था लेकिन हकीकत से कोसो दूर यहां लाए जाने वाले जानवर भूख का शिकार हो जाते हैं। 

इतना ही नहीं भारी गंदगी तथा लापरवाही संचालित इस कांजी हाउस में आवारा पशु बीमार भी हो जाते हैं। कई बार तो पालतू पशुओं को यहां लाने के बाद बड़ी वसूली का भी बड़ा दौर चलता है। चूंकि नगर निगम ने कांजी हाउस बनाया तो जरूर है पर इसे आज भी ठेके में संचालित करके कमाई का एक जरिया भी बना दिया गया है। स्थानीय डेयरी संचालक बताते हैं कि गायों को यहां पडक़र लाने के बाद उन्हें भूखा प्यासा रखा जाता है और जब उसके मालिक उन्हें छुड़ाने जाते हैं तो मोटी रकम मांगी जाती है। साथ ही साथ यह कहा जाता है कि आपके जानवर को रखने के बाद जो खर्चा हुआ है उसको भी जमा करना होगा। 

जबकि कांजी हाउस के भीतर चारे की व्यवस्था तो दूर पीने के पानी तक की व्यवस्था नही है। हमने जब नगर निगम कांजी हाउस संचालक रोहित मिर्रे से बात की तो उन्होंने यह दावा किया कि डेढ़ से दो हजार जानवर यहां आसानी से रखे जा सकते हैं और उनके लिए पर्याप्त चारे, पानी की व्यवस्था भी निगम के माध्यम से की जाती है। 

 


Date : 10-Aug-2019

जिंदल की वादाखिलाफी को लेकर ग्रामीणों ने दिया धरना

सिक्यूरिटी हेड ने प्रदर्शनकारियों को धमकाया, दूसरे दिन भी आंदोलन जारी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 10 अगस्त।
जिंदल प्रबंधन की वादाखिलाफी के बाद अपनी सात सूत्रीय मांगों को लेकर धरने पर बैठे ग्रामीणों के साथ कल सिक्युरिटी हेड ने हुज्जतबाजी की। इसके बाद एकबारगी वहां का माहौल गरमा गया, लेकिन पुलिस के हस्तक्षेप की वजह से कोई बड़ी घटना नहीं घटित हुई। 

जिंदल प्रबंधन की वादाखिलाफी को लेकर कोसमपाली में स्थित जिंदल समूह के सीमेंट प्लांट के मुख्य गेट के सामने कल ग्रामीणों ने धरना दिया। नगर निगम के पार्षद पंकज पटेल ने बताया कि जिंदल प्रबंधन की वादाखिलाफी के बाद धरना प्रदर्शन शुरू किया गया है। पार्षद ने बताया कि ग्रामीण अपनी सात सूत्रीय मांगों पर अड़े हुए हैं। खासतौर पर ग्रामीणों का कहना है कि हर वर्ष जिंदल द्वारा बनाये गए राखड़ डेम की ऊंचाई बढ़ती जा रही है। इससे कि ग्रामीणों की जान का खतरा बढ़ता जा रहा है। वहीं इस राखड़ डेम का निर्माण भी उचित मापदंडों के आधार पर नहीं होना बताया जा रहा है। ग्रामीणों ने स्थानीय लोगों को रोजगार न दिए जाने की बात को भी प्रमुख रूप से मुद्दा बनाया है। उल्लेखनीय है कि धरनास्थल पर स्थिति उस समय बिगड़ गई जब सिक्युरिटी हेड कपूर अपने साथ सुरक्षा कर्मियों को लेकर पहुंच गए और ग्रामीणों से सीधे भीड़ गए। कपूर ने ग्रामीणों के बीच जाकर कहा कि जिसे भिडऩा है वो मुझसे भिड़े, इसके बाद स्थिति बेकाबू हो गई। जिसे वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने बड़ी मशक्कत के बाद संभाला। आज पंकज पटेल ने बताया कि प्रदर्शनकारियों की मांग पूरी नहीं होने के कारण आज दूसरे दिन भी आंदोलन जारी है।

 


Date : 10-Aug-2019

अवैध कब्जों की परवाह नहीं निगम को, कार्यालय से चंद कदमों की दूरी पर अवैध कब्जे को लेकर मौन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 10 अगस्त।
निगम प्रशासन की कार्रवाई उस वक्त दिखावा साबित हो जाती है जब उसके द्वारा शहर के ठेले गुमठियों पर कार्रवाई तो की जाती हैं, लेकिन निगम से महज 100 मीटर की दूरी पर मौजूद वार्ड क्रमांक 19 दैनिक सब्जी मंडी संजय कॉम्लेक्स के पास हुए बेशकिमिती करोड़ो की जमीन और अवैध कब्जे को लेकर शिकायत के बावजूद कब्जे पर मौन सहमति समझ से परे हैं।

यहां बताना लाजमी होगा कि जहां वार्ड क्रमांक 19 दैनिक सब्जी मंडी के इस क्षेत्र में हुए अवैध कब्जाधारियों को जहा व्यवस्थापन के नाम पर विभिन्न आवास योजना के तहत आवास दिए जाने की बात तो सामने आ रही हैं, लेकिन अवैध कब्जाधारी कब्जा छोड़ जाते नजर नहीं आ रहे हैं। नतीजन शहर के प्रमुख दैनिक सब्जी मंडी के इस क्षेत्र में आग लगने के दौरान अग्निशमन वाहन के भी प्रवेश न होने की स्थिति रहती है। वहीं इस मामले में निगम सभापति सलीम नियारिया ने चर्चा में संजय काम्प्लेक्स के इस भाग में कब्जे की बात स्वीकार कर नवनियुक्त निगमायुक्त के संज्ञान में डालकर उचित कार्रवाई करने का भरोसा तो जरूर दिलाया, लेकिन वर्षों से काबिज रसूखदारों का अवैध कब्जा निगम की जानकारी के बावजूद भी आज पर्यन्त काबिज हैं।

 


Date : 10-Aug-2019

रायगढ़ वन मंडल की गड़बडिय़ों को लेकर वनमंत्री को सौंपा ज्ञापन

जिला सेव फारेस्ट समिति ने की जांच की मांग

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 10 अगस्त।
वन मंडल रायगढ़ में पिछले करीब तीन सालों में कई घोटले व गड़बड़ी का मामला सामना आ चुका है। इन सभी गड़बड़ी मामलों की जांच की मांग भी उठ चुकी है, पर मामले में विभाग के अधिकारी लीपापोती करते हुए कार्रवाई के बदले लापरवाह अधिकारी अपने विभाग के कर्मचारियों को ही बचाने में लगे हुए हैं और उनके साथ मिलकर जमकर कमीशनखोरी को अंजाम दे रहे हैं। ऐसे में कई गड़बडिय़ों को लेकर जिल सेव फारेस्ट समिति के पदाधिकारी छत्तीसगढ़ के वनमंत्री से मुलाकात कर मामले से अवगत कराते हुए एक आवेदन सौंपा है और मामले में कार्रवाई की मांग की गई है। 

वन मंडल रायगढ़ में पिछले लगभग ढाई सालों से पदस्थ अधिकारियों के द्वारा मनमानी करते हुए रायगढ़ वन मंडल को पूरी तरह बदनाम कर रख दिया है। कभी भवन व स्टापडेम निमार्ण को लेकर कमीशनखोरी कर रहे हैं, तो कभी प्लांटेशन व लाठी, हेलमेट की खरीदी के नाम पर गड़बड़ी कर अपने उच्चाधिकारियों को फंसा रहे हैं और मामले की शिकायते होने के बाद भी मामले में कोई कार्रवाई विभाग की ओर से नहीं की जा रही है। ऐसे में लगातार रायगढ़ वन मंडल प्रदेश भर में गड़बडिय़ों की वजह से सुर्खिंयों में है और रायगढ़ का जंगल भी तहस नहस होते जा रहा है। जहां इस बात को गंभीरता से लेते हुए जिला सेव फारेस्ट समिति के अध्यक्ष गोपाल अग्रवाल, सचिव मोहसिन खान, सदस्य रामकुमार थुरिया, छोटू सहित अन्य सदस्य राजधारी पहुंचे और यहां छत्तीसगढ़ के वनमंत्री मोहम्मद अकबर से मुलाकात करते हुए रायगढ़ वन मंडल में हुई गड़बडिय़ों की जानकारी देते हुए एक ज्ञापन सौंपकर मामले में जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है। जहां वनमंत्री मोहम्मद अकबर ने मामले में जांच का आश्वसन दिए हैं। 

 


Date : 10-Aug-2019

आवारा मवेशियों से किसान परेशान रातभर कर रहे खेतों की रखवाली

खरसिया, 10 अगस्त। आवारा मवेशियों के झुंड से सबसे ज्यादा किसान परेशान हैं। मवेशियों के झुंड सीधे खेतों में पहुंचकर लगी फसलों को सफाचट करते हुए पौधों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। फसल बचाने के लिए किसानों को रात-रात भर खेतों की रखवाली करनी पड़ रही है।

शहर की सड़कों पर बैठकर लावारिस आवारा मवेशी यातायात को तो प्रभावित करते ही हैं साथ ही दिन और रात में खेतों की फसलों को भी चौपट कर रहे हैं। नगर के इन आवारा मवेशियों से सबसे ज्यादा खरसिया से सटे हुए ग्राम मदनपुर, भेलवाड़ीह, मौहापाली, अंजोरी पाली आदि गांव के किसान परेशान हैं। 

एक ओर कम बारिश के चलते पौधों की बढ़ोत्तरी ठीक से नहीं हो पाई है वहीं लावारिस मवेशियों के द्वारा पौधों को काफी नुकसान पहुंचाया जा रहा है। किसानों ने प्रशासन से लावारिस मवेशियों के लिए कुछ इंतजाम करने रोकथाम की मांग की है, जिससे फसलों को नुकसान से बचाया जा सके। एक ओर सरकार लाखों रुपए खर्च करके गौठान की व्यवस्था कर रही हैं लेकिन जिला मुख्यालय सड़कों पर घूमने वाले लावारिश पशुओं की ओर नगर पालिका प्रशासन द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है।