बस्तर

बंगाल की हिंसा पर विपक्षी दलों का मौन निंदनीय-किरण देव
05-May-2021 6:44 PM (40)
बंगाल की हिंसा पर विपक्षी दलों का मौन निंदनीय-किरण देव

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जगदलपुर, 5 मई ।
राज्य प्रायोजित हिंसा और कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों के मौन ने बंगाल के घटनाक्रम पर शर्मनाक राजनीति को उजागर किया है। गरीब, महिला, दलितों पर अत्याचार हो रहा है और देश का तथाकथित सहिष्णु समाज जो भाजपा शासित राज्यों पर होने वाली घटनाएं जिन पर कानूनी कार्यवाही होती है पर कोहराम मचा देता है,उसका यह विभेदकारी मौन निंदनीय है। उक्ताशय के विचार भारतीय जनता पार्टी छ.ग. प्रदेश महामंत्री किरण देव ने व्यक्त किये।

 उन्होंने जारी विज्ञप्ति में कहा कि बंगाल चुनाव परिणाम के पश्चात तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा जो तांडव बंगाल की जनता व भाजपा समर्थकों के खिलाफ किया गया वह निंदनीय, शर्मनाक और मानवता पर निर्मम प्रहार है। विजयी उन्माद मे आगजनी,लूट,हत्या,का जो खेल तृणमूल कांग्रेस द्वारा बंगाल मे किया गया, वह ईंगित करता है कि ममता बेनर्जी की पूरे घटनाक्रम पर सहमति है। 

चुनाव प्रचार के दौरान भी ममता बेनर्जी खुलेआम सुरक्षा बलों,भाजपा समर्थकों को धमकी दे रही थीं व विषवमन कर रही थीं। ऐसे मे बंगाल में हो रहे अत्याचार पर कोई निष्पक्ष कार्यवाही होगी इसमें संदेह है। 

श्री देव ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस की तानाशाही, भयादोहन और तुष्टिकरण की राजनीति का यह परिणाम है कि बंगाल मे कोई भी सत्तारूढ़ दल के विरोधी विचार को हिंसा और राज्य के तंत्र के माध्यम से कुचलने का प्रयास किया जाता है।  उन्होंने कहा कि वर्तमान में तृणमूल कांग्रेस देश में अराजक, भ्रम, हिंसा की राजनीति की परिचायक व सिरमौर है किंतु आश्चर्य जनक व शर्मनाक कृत्य उन लोगों के मौन से भी झलक रहा है। 
 

अन्य पोस्ट

Comments