छत्तीसगढ़ » सरगुजा

Previous123Next
Date : 27-Feb-2020

मांगों को लेकर कर्मचारी संघ का धरना-प्रदर्शन, प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री ने नाम सौंपा ज्ञापन
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 27 फरवरी।
छत्तीसगढ़ तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ एवं सहयोगी संगठनों के संयुक्त तत्वधान में अखिल भारतीय राज्य सरकारी कर्मचारी महासंघ के राष्ट्रीय निकाय के आह्वान पर अंबिकापुर नगर में स्टेट बैंक कलेक्ट्रेट शाखा के सामने सैकड़ों कर्मचारियों द्वारा एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन उपरांत कलेक्टर सरगुजा के माध्यम से प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किया गया।

प्रधानमंत्री को प्रेषित ज्ञापन में मांग की गई है कि नेशनल पेंशन स्कीम रद्द किया जाए व पुरानी पेंशन स्कीम लागू की जाए। ठेका प्रथा बंद करने, आउटसोर्सिंग पर रोक लगाने तथा सभी दैनिक वेतन भोगी अनियमित कर्मचारी को नियमित करने की मांग की गई। मूल्य वृद्धि पर नियंत्रण एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली को लागू किया जाए। श्रमिक विरोधी कानून वापस लेने,समान काम समान वेतन लागू करने,न्यूनतम वेतन 18 000 करने,सभी संवर्ग के कर्मचारियों को न्यूनतम पेंशन 7750 करने,बेरोजगारों को रोजगार प्रदान,महिलाओं को सुरक्षा प्रदान,किसानों के फसल का वाजिब दाम दिए जाने की मांग की गई।इसके अलावा रक्षा,रेलवे बीमा में एफडीआई बंद करने,सभी कर्मचारियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने,राज्य परिवहन निगम पुन: प्रारंभ करने की मांग की गई है।

मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन में छत्तीसगढ़ तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ व अन्य संगठनों ने मुख्यत: वेतन विसंगति,शिक्षाकर्मियों का संविलियन,पुरानी पेंशन,रसोइयों को पूर्णकालिक मानते हुए नियमित करने,समस्त विभाग में कार्यरत दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को नियमित करने की मांग की गई है। धरना प्रदर्शन में छत्तीसगढ़ तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ,छत्तीसगढ़ पेंशन धारी कल्याण, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका,कल्याण संघ,जन स्वास्थ्य रक्षक संघ,प्रशिक्षित गौ सेवक संघ,छत्तीसगढ़ महिला बाल विकास विभाग संघ,विभाग पर्यवेक्षक संघ कृषि अधिकारी संघ,मध्यान्ह भोजन संघ सहित अन्य कई संघ शामिल थे।ज्ञापन सौंपने के दौरान सीपी मिश्रा, विनोद सोनी,शैलेंद्र वर्मा,आदित्य नंदन यादव,शिवराम चौहान,सुजान बिंद,अनंत सिन्हा,संग्राम सिंह,अरविंद वर्मा सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

 


Date : 27-Feb-2020

छह सूत्रीय मांगों को ले कोटवारों ने सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 27 फरवरी।
छह सूत्रीय मांगों को लेकर कोटवार एसोसिएशन ऑफ छत्तीसगढ़ के बैनर तले सरगुजा के कोटवारों ने कलेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किया है। कोटवारों की मांग है कि उन्हें नियमित करते हुए शासकीय कर्मचारी का दर्जा दिया जाए। कोटवारों को मानदेय उच्चतम न्यायालय की मंशा के अनुरूप 18  हजार मासिक किया जाए। कोटवार नियुक्ति में व्याप्त भ्रष्टाचार एवं अनियमितताओं पर रोक लगाते हुए अनुकंपा नियुक्ति की जाए।कोटवार नियुक्ति मानदेय भुगतान, प्रतिवर्ष वर्दी के कपड़े, 3 वर्ष में एक बार गरम कोट देने संबंधी पूर्व के आदेशों का कड़ाई से पालन किया जाए। नक्सली हिंसा के शिकार मृतक कोटवारों के परिवार के सदस्यों को अनुकंपा नियुक्ति देते हुए पुलिसकर्मियों की भांति आर्थिक सहायता प्रदान किया जाए। नगर पालिक निगम क्षेत्र के अंतर्गत कोटवारों की नियुक्ति में लगा प्रतिबंध तत्काल हटाया जाए।

ज्ञापन में आगे बताया गया कि आजादी के पूर्व से कोटवार पीढ़ी दर पीढ़ी नियमित रूप से अपनी सेवा देते आ रहे हैं। कोटवारों को शासन के सभी विभागों की चाकरी करनी पड़ती है 24 घंटे के पहरवे शासन के अंतिम व महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में कार्यरत कोटवार एवं उनका परिवार अपने को उपेक्षित महसूस कर रहा है। शासन की सभी जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में कोटवारों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है परंतु उनमें से किसी भी योजना का लाभ नहीं दिया जा रहा है। सैकड़ों वर्षों पूर्व से पदस्थ कोटवारों को अभी तक नियमित शासकीय कर्मचारी का दर्जा नहीं मिल पाया है।

उनके द्वारा आगे बताया गया कि उक्त मांगों को लेकर अविभाजित मध्यप्रदेश से लेकर आज तक संघर्षरत हैं तथा विभिन्न माध्यमों से शासन का ध्यान आकर्षित करते आ रहे हैं परंतु विडंबना है कि कोटवारों की ज्वलंत समस्या का निराकरण नहीं हो रहा है। नौकर,बंधुआ मजदूरों की तरह काम लेकर उनका शोषण किया जा रहा है।कोटवारों को न्यूनतम 1500 से लेकर अधिकतम 3 हजार तक मानदेय दिया जाता है।इतनी अल्प राशि में घर चलाना खेती करना परिवार का पालन पोषण ब्याह बीमारी कैसे संभव है इसके लिए सरकार को शीघ्र पहल करनी चाहिए।यही नहीं कोटवारों को गांव से अपने कार्य क्षेत्र में बाहर कहीं भी ड्यूटी लगा दी जाती है परंतु कोई भत्ता की व्यवस्था नहीं होती है जिसके कारण कोटवारों को अपने संसाधन व खर्च से ड्यूटी करनी पड़ती है।

इस दौरान जिला अध्यक्ष सुघेराम चौहान,उपाध्यक्ष धनेश्वर राम,कोषाध्यक्ष रामकुमार दास,धनेशवर दास, बंटू राम,विश्वनाथ,संतोष राम,तिलक राम,हरिकिशन, रोमन राम सहित अन्य उपस्थित थे।

 


Date : 27-Feb-2020

सलका स्कूल में वार्षिकोत्सव, छात्र-छात्राओं ने दी रंगारंग प्रस्तुति

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
उदयपुर, 27 फरवरी।
विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत सलका में संचालित शासकीय उत्तर माध्यमिक विद्यालय में वार्षिकोत्सव व 12वीं के छात्रों हेतु छात्र विदाई कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में मां सरस्वती के छायाचित्र पर धूप व दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व जनपद उपाध्यक्ष राजीव सिंह देव व कार्यक्रम के अध्यक्ष जनपद उपाध्यक्ष नीरज मिश्रा कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि आदिवासी प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश सिंह व अन्य अतिथियों के द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित समस्त अतिथियों का छात्र-छात्राओं के द्वारा उत्साह के साथ माल्यार्पण व पुष्प भेंटकर स्वागत किया गया। इसी के साथ स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ी, नागपुरी, शिक्षा जागरूकता पर नाटक, भोजपुरी, स्वागत गीत, सुगा ,शैला एवं स्वच्छता को लेकर व अन्य कई सांस्कृतिक रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। 
मुख्य अतिथि राजीव सिंह देव ने कहा कि बच्चे देश के भविष्य होते हैं, बच्चों को सही शिक्षा और मार्गदर्शन देने वाले शिक्षक का स्थान समाज में अनुकरणीय है। क्योंकि शिक्षक ही छात्र-छात्राओं को अच्छी शिक्षा देने में एवं उनकी सोच विचार को संतुलित रखने में बहुत बड़ी भूमिका निभाते हैं। छात्र जीवन सबसे महत्वपूर्ण जीवन होता है छात्र जीवन में हमें सिर्फ और सिर्फ शिक्षा अध्ययन पर ध्यान रखना चाहिए क्योंकि यह समय जो होता है वह हमारे भविष्य को तय करने का समय होता है । 

कार्यक्रम के अध्यक्ष जनपद उपाध्यक्ष नीरज मिश्रा ने कहा कि छात्र हमेशा अपनी शिक्षा अध्ययन को लेकर गंभीर हो और शिक्षा के साथ-साथ संस्कारवान भी होना चाहिए क्योंकि शिक्षा के साथ-साथ संस्कार भी मानव जीवन में महत्वपूर्ण है और जिस छात्र में शिक्षा का अध्ययन करने की क्षमता है। उस छात्र में संस्कार अपने आप ही आ जाएगा।शिक्षा से ही संस्कार प्राप्त हो सकता है।

विशिष्ट अतिथि ओमप्रकाश सिंह ने बच्चों को आगामी परीक्षा हेतु बधाई व शुभकामनाएं देते हुए अच्छे भविष्य की कामना की।कार्यक्रम में भाग लिए छात्र छात्राओं को अतिथियों के द्वारा पुरस्कार वितरण कर कार्यक्रम का समापन किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से ग्राम पंचायत सलका सरपंच राम सिंह पैकरा, प्राचार्य बी बी राम, राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी ऋषि पांडे, जनपद सदस्य सरिता महंत, कांग्रेसी नेता अंकित बारी, पत्रकार ललन सिंह, क्रांति कुमार रावत, अखिलेश जायसवाल, सलका उप सरपंच महिपाल सिंह, धर्म सिंह, शिक्षक गुरदास महंत ,चंद्र भूषण सिंह ,शिवचरण एक्का, रमेश कुमार चंद्रा, फुलकेरिया मिंज, मंजू कुजुर, मेरी बहोलन धान ,दीपचंद एक्का, अतिथि शिक्षक संतोष पाण्डेय, घनश्याम कर्ष,सहित सैकड़ों छात्र-छात्राएं व ग्रामीण जन उपस्थित रहे।कार्यक्रम का संचालन ऋषि पाण्डेय ने किया।


Date : 27-Feb-2020

ग्राम पंचायत रिखी उप सरपंच बने विकास 

उदयपुर, 27 फरवरी। विकासखंड उदयपुर अंतर्गत ग्राम पंचायत रिखी में उपसरपंच चुनाव में विकास श्रीवास्तव ने मनोज आर्मो को 6  के मुकाबले 9 वोट से हराकर विजयी हुए। इस दौरान पूर्व सरपंच विनोद सिंह एवं पंच गण व अन्य ग्रामीण सक्रिय रहे पीठासीन अधिकारी परमेश्वर पैकरा द्वारा निर्वाचन संपन्न कराया गया। विकास श्रीवास्तव के समर्थकों में काफी उत्साह रहा परिणाम आने के बाद फूल माला से उनका स्वागत किया गया इस दौरान विकास श्रीवास्तव ने कहा कि पंचायत के विकास के लिए सरपंच एवं पंच गणों के साथ मिलकर कार्य करेंगे तथा पंचायत को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाएंगे।

 


Date : 27-Feb-2020

माइलस्टोन्स स्कूल में हर्षोल्लास के साथ मना वार्षिकोत्सव

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 27 फरवरी।
माइलस्टोन्स नर्सरी स्कूल का वार्षिकोत्सव 25 फरवरी को राजमोहिनी भवन में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। सर्वप्रथम कार्यक्रम के मुख्य अतिथि निगम सभापति अजय अग्रवाल व प्रदेश कांग्रेस सचिव शफी अहमद के द्वारा दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। तत्पश्चात नर्सरी से क्लास 8  तक के बच्चों के द्वारा आर्कषक नृत्य की प्रस्तुति दी गई। 

श्री अग्रवाल एवं शफी अहमद ने बच्चों की कला की सराहना करते हुए कहा कि यह विद्यालय जिस प्रकार कार्य कर रहा है, निश्चित ही आने वाले वर्षों में विद्यार्थियों की संख्या कई गुनी हो जाएगी। 

संस्था के प्राचार्य सूरज अग्रवाल ने बताया कि विद्धार्थियों के विकास में स्टाफ  समर्पित होकर कार्य कर रहे हैं व अभिभावकों का भी सहयोग मिल रहा है। बच्चों को हीरे के समान तराश कर समाज और देश के विकास में योगदान दिया जा रहा है। कार्यक्रम के मध्य में अजय अग्रवाल, शफी अहमद, दिनेश गर्ग, दीक्षा गर्ग, दिनेश गोयल, मुकेश अग्रवाल एवं सचिन अग्रवाल के द्वारा 2018 -19 की वार्षिक परीक्षा में प्रत्येक क्लास में प्रथम एवं द्वितीय रैंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कार वितरित किया गया एवं कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी बच्चों को गिफ्ट वितरित किया गया। कार्यक्रम में प्रबंध समिति के अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल एवं उपाध्यक्ष कौशल्या देवी एवं स्कूल की समस्त शिक्षिकाओं, चांदनी परवीन, प्रीति ताम्रकार नेहा सिंह, रानू गुप्ता, आयुषी गुप्ता, आकांक्षा गुप्ता, रुकसाना कुरैशी, सिपरा सिंह, छवि कन्नौजिया, शेफाली राजपाल, शालिनी सिंह, माधुरी सिंह, शिखा गुप्ता, मनीषा मिश्रा, सीमा मानवानी, पूनम तिवारी, रौशन सिद्दीकी का सराहनीय योगदान रहा। मंच संचालन शालिनी सिंह, कहकशां परवीन एवं जिज्ञासा भगत के द्वारा किया गया । 

 

 


Date : 27-Feb-2020

मुख्यमंत्री करेंगे मैनपाट महोत्सव का शुभारंभ
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 27 फरवरी।
मैनपाट महोत्सव का शुभारंभ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मुख्य आतिथ्य एवं खाद्य योजना आर्थिक सांख्यिकी एवं संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत की अध्यक्षता एवं अन्य विशिष्ट अतिथियों की उपस्थिति में 29 फ रवरी को दोपहर 2:30 बजे से आयोजित किया जाएगा।  

  मैनपाट महोत्सव के द्वितीय दिवस 1 मार्च को नगरीय प्रशासन विकास एवं प्रभारी मंत्री सरगुजा शिव डहरिया के मुख्य आतिथ्य एवं छत्तीसगढ़ शासन के खाद्य एवं संस्कृति विभाग मंत्री अमरजीत भगत की अध्यक्षता में तथा अन्य विशिष्ट अतिथियों की गरिमामयी उपस्थिति में सायं 4 बजे से आयोजित किया जाएगा। 

महोत्सव के दौरान नौकायन, जूमरिंग, आर्चरी, पतंग उत्सव, राज्य स्तरीय सायकल रेस, पैरा सीलिंग, रैपलिंग, टेम्पोलिन, वैलीक्रासिंग, हैंगिंग बॉल सहित अन्य एडवेंचर स्पोर्टस होंगे। 29 फरवरी को संजय सुरीला एण्ड डांस ग्रुप, चक्रप्रिया नृत्यकला, देव उपाध्याय एवं साथी खैरागढ़ एवं नासिर एवं निन्दर सूफियाना के द्वारा मनोरम सांस्कृतिक कार्यक्रम व 1 मार्च को छत्तीसगढ़ के सुपर स्टार अनुज शर्मा, विख्यात गायिका एश्वर्या पंडित, सुशंात घोष पार्टी खैरागढ़ तथा साधना एवं करण चिरोले के द्वारा तथा 2 मार्च को प्रसिद्ध भोजपुरी गायक आलोक कुमार, भोजपुरी गायिका एवं डांसर अक्षरा सिंह अगरतला के सम्राट चौधरी तथा गुमला के शीतल के द्वारा नृत्य प्रस्तुत की जाएगी।     

 मुख्यमंत्री के आतिथ्य में 29 फरवरी को महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत सामूहिक विवाह का आयोजन किया जाएगा। इस योजना के तहत 350 नवविवाहित दम्पत्तियों को नि:शुल्क उपहार प्रदान किए जाएंगे। समापन समारोह 2 मार्च को छत्तीसगढ़ शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास, चिकित्सा शिक्षा मंत्री टीएस सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य एवं छत्तीसगढ़ शासन के खाद्य एवं संस्कृति विभाग मंत्री अमरजीत भगत की अध्यक्षता में तथा अन्य विशिष्ट अतिथियों की उपस्थिति में सायं 4 बजे से आयोजित किया जाएगा। 

 

 

 

 

 

 


Date : 27-Feb-2020

माइलस्टोन्स स्कूल में हर्षोल्लास के साथ मना वार्षिकोत्सव

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 27 फरवरी।
माइलस्टोन्स नर्सरी स्कूल का वार्षिकोत्सव 25 फरवरी को राजमोहिनी भवन में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। सर्वप्रथम कार्यक्रम के मुख्य अतिथि निगम सभापति अजय अग्रवाल व प्रदेश कांग्रेस सचिव शफी अहमद के द्वारा दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। तत्पश्चात नर्सरी से क्लास 8  तक के बच्चों के द्वारा आर्कषक नृत्य की प्रस्तुति दी गई। 

श्री अग्रवाल एवं शफी अहमद ने बच्चों की कला की सराहना करते हुए कहा कि यह विद्यालय जिस प्रकार कार्य कर रहा है, निश्चित ही आने वाले वर्षों में विद्यार्थियों की संख्या कई गुनी हो जाएगी। 

संस्था के प्राचार्य सूरज अग्रवाल ने बताया कि विद्धार्थियों के विकास में स्टाफ  समर्पित होकर कार्य कर रहे हैं व अभिभावकों का भी सहयोग मिल रहा है। बच्चों को हीरे के समान तराश कर समाज और देश के विकास में योगदान दिया जा रहा है। कार्यक्रम के मध्य में अजय अग्रवाल, शफी अहमद, दिनेश गर्ग, दीक्षा गर्ग, दिनेश गोयल, मुकेश अग्रवाल एवं सचिन अग्रवाल के द्वारा 2018 -19 की वार्षिक परीक्षा में प्रत्येक क्लास में प्रथम एवं द्वितीय रैंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कार वितरित किया गया एवं कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी बच्चों को गिफ्ट वितरित किया गया। कार्यक्रम में प्रबंध समिति के अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल एवं उपाध्यक्ष कौशल्या देवी एवं स्कूल की समस्त शिक्षिकाओं, चांदनी परवीन, प्रीति ताम्रकार नेहा सिंह, रानू गुप्ता, आयुषी गुप्ता, आकांक्षा गुप्ता, रुकसाना कुरैशी, सिपरा सिंह, छवि कन्नौजिया, शेफाली राजपाल, शालिनी सिंह, माधुरी सिंह, शिखा गुप्ता, मनीषा मिश्रा, सीमा मानवानी, पूनम तिवारी, रौशन सिद्दीकी का सराहनीय योगदान रहा। मंच संचालन शालिनी सिंह, कहकशां परवीन एवं जिज्ञासा भगत के द्वारा किया गया । 

 

 


Date : 27-Feb-2020

मैनपाट महोत्सव के लिए विभिन्न चयन स्पर्धाएं, साज-सज्जा में कमलेश्वरपुर स्कूल अव्वल

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 27 फरवरी।
तीन दिवसीय मैनपाट महोत्सव में व्यंजन, चित्रकला एवं साज-सज्जा प्रतियोगिता का आयोजन 25 एवं 26  फरवरी को किया गया। अम्बिकापुर में आयोजित व्यंजन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान संगीता तिर्की एवं द्वितीय स्थान रोशनी ने प्राप्त किया। 

मैनपाट के रोपाखार में आयोजित साज-सज्जा प्रतियोगिता में प्रथम स्थान हायर सेकेण्डरी स्कूल कमलेश्वरपुर, द्वितीय स्थान कस्तूरबागांधी आवासीय विद्यालय नर्मदापुर एवं तृतीय स्थान संयुक्त रूप से माध्यमिक शाला डांगबुड़ा, जामडीह, उड़ुमकेला तथा चित्रकला प्रतियोगिता के ग्रामीण वर्ग में प्रथम स्थान देवननंदन पैकरा, द्वितीय स्थान शोभनाथ सिंह पैकरा एवं तृतीय स्थान सुरेन्द्र सिंह पैकरा, चित्रकला प्रतियोगिता के ग्रामीण वर्ग में प्रथम स्थान आबिदा बानो, द्वितीय स्थान मिल्का कुजूर एवं तृतीय स्थान अनुज एक्का ने प्राप्त किया। चयनित प्रतिभागियों को 29 फ रवरी से 2 मार्च तक होने वाले मैनपाट महोत्सव में पुरूस्कृत किया जाएगा। 

 


Date : 26-Feb-2020

पहाड़ी कोरवाओं व पण्डो जाति के उत्थान के लिए होगी पहल, राज्यपाल से मिला सामाजिक कार्यकर्ताओं का प्रतिनिधिमंडल

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 26 फरवरी।
सरगुजा संभाग में निवासरत पहाड़ी कोरवा व पण्डो जनजाति के उत्थान तथा इनके समग्र विकास के मुद्दों को लेकर राजकुमार पटेल पूर्व मंत्री मध्यप्रदेश शासन के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ की राज्यपाल  अनुसुईया उइके से राजभवन में सौजन्य मुलाकात की गई, जिसमें सरगुजा संभाग में निवासरत पहाड़ी कोरवा तथा पण्डो जाति के लोगों के उत्थान व विकास के मुद्दे पर विस्तृत चर्चा की गई। 

इसके अलावा कैलाश गुफा तथा पंडरा पाठ जशपुर जिले में रहने वाले पहाड़ी कोरवा जो मूलत: पहाड़ी कोरवा जाति के हैं, जिनमें से कुछ पहाड़ी कोरवा समुदाय के लोगों को गलत तरीके एवं त्रुटिवश सामान्य जाति बघेल क्षत्रि घोषित कर दिया गया है, तथा इनके सैकड़ों एकड़ जमीन को सामान्य जाति के लोग ले लिए हैं। इन सब तथ्य पर विस्तृत चर्चा की गई। इन त्रुटियों को सुधार करने के संबंध में अधिवक्ता डीके सोनी ने राज्यपाल को बताया गया।

कोरवा जाति के लोगों को मुख्य धारा से जोडऩे के संबंध में विस्तृत चर्चा की गई। जिस पर राज्यपाल द्वारा कैलाश गुफा आने की इच्छा जाहिर की गई। इसके अलावा सूरजपुर जिले में स्थित पण्डोनगर में भी आकर वहां स्थित राष्ट्रपति भवन का अवलोकन करने तथा वहां के पण्डो जाति के समुदाय से मिलने के बाद कही गई। राज्यपाल से मिलने वाले लोगों में राजकुमार पटेल पूर्व मंत्री मध्यप्रदेश शासन , नितिन सिंघवी सामाजिक कार्यकर्ता, डीके सोनी अधिवक्ता एवं व्यास मुनि द्विवेदी सामाजिक कार्यकर्ता शामिल थे।


Date : 26-Feb-2020

वाहन की ठोकर से बाइक सवार की मौत

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 26 फरवरी।
रिश्तेदार को लेकर घर वापस आ रहे बाइक सवार की मौत अज्ञात वाहन की टक्कर से हो गई। पुलिस के अनुसार सूरजपुर जिले के शिवप्रसाद नगर निवासी रामबकस कुशवाहा (65 वर्ष) अपने रिश्तेदार महेंद्र कुशवाहा के साथ मोटरसाइकिल से ग्राम पतराटोली गत 24 फरवरी को जा रहा था। शाम 7 बजे के लगभग ग्राम डमगला गैस गोदाम के सामने विपरीत दिशा से आ रहे अज्ञात वाहन की टक्कर से दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। राहगीरों की सूचना पर परिजन मौके पर पहुंचे और दोनों को मिशन अस्पताल में दाखिल कराया। रामबकस की स्थिति गंभीर होने पर उसे मिशन से रिफर कर दिया गया। उसका उपचार मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चल रहा था, आज उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।


Date : 26-Feb-2020

अज्ञात कारणों से महिला की मौत

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 26 फरवरी।
थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कटिंदा पटेल पारा निवासी संगीता यादव 35 वर्ष की मौत अज्ञात कारणों से 24 फरवरी की दरमियानी रात हो गई। महिला के अचानक मौत होने की रिपोर्ट परिजनों ने 25 फरवरी को थाना लखनपुर में दर्ज कराया है। जांच पड़ताल पूरी नहीं हो पाने कारण शव का पोस्टमार्टम 26 फरवरी को कराया गया तथा शव को परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस द्वारा मर्ग सदर कायम कर पंचनामा कार्यवाही में लिया गया है फिलहाल जांच पड़ताल जारी है। बताया जा रहा है कि महिला को अल्सर की बीमारी थी और वह शराब सेवन अधिक किया करती थीं।


Date : 26-Feb-2020

अभाविप ने अधिवेशन मे रखें वर्तमान शैक्षणिक परिदृश्य को लेकर प्रस्ताव

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 26 फरवरी।
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद छत्तीसगढ़ प्रांत का 5 वां प्रदेश अधिवेशन दुर्ग में संपन्न हुआ। इस अधिवेशन में पूरे प्रदेश से प्रतिनिधि छात्र-छात्राओं ने शिरकत की।

 विद्यार्थी परिषद ने इस अधिवेशन में तीन विषयों वर्तमान शैक्षणिक परिदृश्य, वर्तमान प्रदेश एवं छात्रवृत्ति एक अधिकार पर सर्वसम्मति से तीन प्रस्ताव पारित किए। इन प्रस्तावों के माध्यम से परिषद ने प्रदेश में शिक्षा के स्तर में सुधार तथा सामाजिक जीवन को सुचारू बनाए रखने के लिए सभी शिक्षाविदों शिक्षकों एवं शिक्षार्थियों के साथ ही समाज जीवन के प्रत्येक क्षेत्र से संबंधित व्यक्तियों से पारस्परिक सहयोग का आह्वान किया है। अपने प्रस्ताव के माध्यम से परिषद ने प्रदेश में स्वस्थ शैक्षणिक वातावरण के निर्माण में बाधक बन रहे विभिन्न मुद्दों तथा छात्रवृत्ति वितरण में समय की अनियमितता आदि पर भी सरकार का ध्यान आकृष्ट करने का प्रयास किया है। 

परिषद ने कहा है कि छत्तीसगढ़ प्रदेश विभिन्न खेलों और कलाओं की भूमि है। कला एवं खेल जगत से जुड़ी कई प्रतिभाएं आज विश्व पटल पर प्रदेश का मान बढ़ा रहे हैं। छात्र जीवन में भी खेल और कला का महत्वपूर्ण स्थान है। छात्रवृत्ति इन आयामों में भी मझे हुए व्यक्तित्व तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है, परंतु वर्तमान में राज्य सरकार द्वारा खेल एवं कला के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों के लिए कोई नियमित छात्रवृत्ति योजना नहीं है। परिषद ने इस ओर शासन का ध्यान आकृष्ट कराया है। इसके साथ साथ मांग किया गया है कि खेल एवं कला के क्षेत्र में भी अध्ययन क्षेत्र के समान ही छात्रवृत्ति निर्धारित की जाए। 

इस संबंध में कलेक्टर के माध्यम से परिषद ने मुख्यमंत्री के नाम भी ज्ञापन प्रेषित किया है। ज्ञापन सौंपते दौरान नगर सह मंत्री अतीश पांडे, विवेक तिवारी, वर्षा गुप्ता, पिंटू पांडे ,रोहित राजवाड़े, राहुल भगत, अजय सिंह, आनंद यादव ,विकास पैकरा सहित अन्य उपस्थित थे।

 


Date : 26-Feb-2020

चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की अंतिम चयन व प्रतीक्षा सूची 

अम्बिकापुर, 26 फरवरी। संभागीय संयुक्त संचालन स्वास्थ्य सेवाएं सरगुजा अम्बिकापर कार्यालय की स्थापना में कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की सहायक ग्रेड 3 के पद पर पदोन्नति हेतु दावा आपत्ति निराकरण पश्चात अंतिम चयन एवं प्रतिक्षा सूची को स्थानीय कार्यालय के सूचना पटल पर चस्पा कर दिया गया है। इस संबंध में संभागीय संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाएं सरगुजा संभाग अम्बिकापुर कार्यालय के सूचना पटल तथा वेबसाईट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यूजीव्हीइन अवलोकन कर सकते है। 


Date : 26-Feb-2020

मैनपाट महोत्सव का कलेक्टर ने किया निरीक्षण

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 26 फरवरी।
प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी मैनपाट में पर्यटन को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से मैनपाट महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। मैनपाट महोत्सव का तीन दिवसीय आयोजन वर्ष 29 फरवरी से 2 मार्च 2020 तक किया जाएगा। 

कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर द्वारा मैनपाट के महोत्सव स्थल रोपाखार का निरीक्षण करते हुये अधिकारियों को समय-सीमा में आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये। इस दौरान उन्होंने हेलीपेड, मुख्य मंच की साज-सज्जा,ग्रीन रूम,व्हीआईपी बैठक व्यवस्था,मीडिया कव्हरेज हेतु मंच निर्माण,विकास प्रदर्शनी, हितग्राहीमूलक योजनाओं के लाभार्थियों का स्टाल,पत्रकारों की बैठक व्यवस्था के साथ ही अन्य लोगों की बैठक व्यवस्थाए सामूहिक विवाह हेतु स्थल का निर्धारण, समारोह स्थल में प्रकाश,साण्ड सिस्टम,एडवेंचर स्पोर्टस,फिल्म फेस्टिवल ,फूडकोर्ट  छत्तीसगढ़ी व्यंजन के लिए स्थल चयन सहित अन्य व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने निर्देशित किया गया।  

कलेक्टर ने बताया कि मैनपाट महोत्सव में मुख्यमंत्री,कन्या विवाह योजना के अंतर्गत महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 350 जोड़ो का विवाह का आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही विभिन्न विभागों के योजनाओं के तहत लाभार्थी हितग्राहियों को सामग्री का वितरण किया जाएगा। महोत्सव में फिल्म फेस्टिवल का आयोजन किया जाएगा जिसमें मशहूर फिल्में एलईडी टीवी के माध्यम से दिखाई जाएगी। एडवेंचर स्पोर्टस में पर्यटकों कों एटीबी बाईक चलाने का मौका मिलेगा।  
सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भोजपुरी सुरपर स्टार गायिका सुश्री अक्षरा सिंह, संजय सुरीला,प्रियाशु मिश्रा सहित अन्य ख्यातिलब्ध कलाकार तथा स्थानीय कलाकारों एवं स्कूली बच्चों द्वारा मनमोहक संस्कृतिक प्रस्तुतियां दी जाएंगी।     इस मौके पर जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुलदीप शर्मा,वनमण्डलाधिकारी पंकज कमल,अपर कलेक्टर एएल ध्रुव,सहायक कलेक्टर जनपद सीईओ अभिषेक शर्मा,अनुविभागीय राजस्व अधिकारी अजय त्रिपाठी एवं सुश्री दीपिका नेताम सहित सभी विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे। 


Date : 26-Feb-2020

समारोहपूर्वक दी विदाई

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 26 फरवरी।
श्री साई बाबा आदर्श स्नातकोत्तर महाविद्यालय अम्बिकापर में समारोह आयोजित कर स्नातकअंतिम वर्ष के विद्यार्थियों को विदाई दी गई। समारोह में महाविद्यालय प्रबंधक, प्राचार्य, सभी विभागाध्यक्षों द्वारा उन्हें शुभकामनाएं दी गई तथा कनिष्ठ छात्र-ंछात्राओं द्वारा सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं मनोरंजक खेलों का आयोजन भी किया गया। सरस्वती वंदना तथा प्रार्थना के पश्चात् उद्बोधन के क्रम में महाविद्यालय शासी निकाय केअध्यक्ष विजय कुमार इंगोले ने कहा कि यहां के विद्यार्थी जब समाज में किसी अच्छे मुकाम पर पहुंचेंगें तो हमें भी गर्व की अनुभूति होगी। महाविद्यालय में प्राप्त शिक्षा का सदुपयोग तभी है जब वह जीवन यापन के साधन के साथ ही समाजोपयोगी भी बने। 

सचिव अजय कुमार इंगोले ने समय प्रबंधन एवं अनुशासन की महत्ता से अवगत कराते हुए कहा कि जीवन के हर चरण में यह दोनों तत्व सदैव उपयोगी है। प्राचार्य डॉ. राजेश श्रीवास्तव ने लक्ष्य निर्धारण आत्मविश्वास तथा लक्ष्य प्राप्ति के उपायोंकी चर्चा करते हुए विद्यार्थियों को आगामी जीवन के लिए शुभकामनाएं दी। छात्र संघ प्रभारी तथा कला संकाय के विभागाध्यक्ष डॉ. आर.एन. शर्मा ने स्नातक के बाद कैरियर की संभावनाएं तथा उनसे संबंधित पाठ्यक्रमों के संबंध में बताया। वाणिज्य संकाय के विभागाध्यक्ष डॉ. सुमित कुमार डे ने जीवन में उन्नति के लिए निरंतर परिश्रम करने की सीख दी। कंम्प्यूटर विज्ञान संकाय के विभागाध्यक्ष डॉ. रितेश वर्मा ने कहा कि वास्तव में यह विदाई समारोह न होकर स्नातक होने की दहलीज पर खड़े विद्यार्थियों का सम्मान समारोह है,क्योंकि प्रत्येक विद्यार्थी महाविद्यालय से भावनात्मक रूप से जुड़ा हुआ है। पाठ्यक्रम कीअवधि समाप्त होने पर वह जीवन के नए आयामों की ओर अग्रसर होता है किंतु हमसे अलग नहीं होता। 


Date : 25-Feb-2020

सोशल आउटरीच के अंतर्गत समाजकार्य के विद्यार्थी हुए शामिल

अम्बिकापुर, 25 फरवरी। श्री साई बाबा आदर्श महाविद्यालय अम्बिकापर के द्वारा सोशल आउटरीच अंतर्गत स्थानीय केन्द्रीय जेल एवं दीन दयाल अत्न्योदय योजना अन्तर्गत आश्रय योजना स्थल का भ्रमण एवं अवलोकन किया गया। जेल के भ्रमण एवं अवलोकन के दौरान समाजकार्य के विद्यार्थियों ने जेल व्यवस्था, जेलों में बंदियों के सामाजिक मनोवैज्ञानिक पुर्नवास हेतु चलाये जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों का सूक्ष्मता से अवलोकन किया तथा पाया कि बंदियों के सामाजिक मनोवैज्ञानिक पुर्नवास में जेल प्रशासन महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर रहा है। 

जेल प्रशासन द्वारा प्रदान की जा रही स्वास्थ्य सुविधाएं भी सराहनीय पाई गई। बंदियों के जीवन उनके आर्थिक समायोजन हेतु विभिन्न स्वरोजगार मूलक कार्यक्रम, काष्ठकला, चादर-दरी निर्माण, फर्नीचर निर्माण, प्रिंटिंग प्रेस, वस्त्र सिलाई कढ़ाई तथा व्यक्तित्व विकास की प्रक्रिया का अवलोकन किया। 

 शहरी आजीविका मिशन के द्वारा संचालित दीन दयाल अत्न्योदय योजना अन्तर्गत आश्रय योजना स्थल के भ्रमण के दौरान समाजकार्य के छात्र-छात्राओं ने निराश्रितों हेतु चलाने जा रही इस योजना के सामाजिक आर्थिक स्वावलंबन के तरीकों का सूक्ष्म अवलोकन किया। छात्र-ंछात्राओं की जिज्ञासाओं का समाधान करते हुए योजना की समन्वयक श्रीमती जंयती सिंह ने बताया कि न्यूनतम शुल्क पर आवास, भोजन की सुविधा, स्वयं सहायता समूह के द्वारा उपलब्ध करायी जाती है।

 इसका लाभ कोई भी व्यक्ति ले सकता है। गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले व्यक्तियों के लिये निशुल्क है। समाजकार्य के दृष्टिकोण से यह योजना उत्कृष्ट है। इस दौरान श्री साई बाबा आदर्श महाविद्यालय के सहयोग की सराहना योजना संचालिका के द्वारा की गयी। महाविद्यालय के समाजकार्य विभाग के द्वारा विभागाध्यक्ष डॉ. आर. एन. शर्मा एवं सहायक प्राध्यापक श्रीमती रौनक निशा के नेतृत्व में आयोजित इस भ्रमण अवलोकन में एम.एस. डब्ल्यू के समस्त छात्र-छात्राओं ने उत्साहपूर्वक भाग लिया।


Date : 25-Feb-2020

छत्तीसगढ़-झारखंड को जोडऩे वाली सड़क पर नक्सलियों ने 4 वाहन फूंके

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 25 फरवरी।
छत्तीसगढ़ और झारखंड को जोडऩे वाली सड़क कुरूंद से चंपा सड़क निर्माण कार्य पर सोमवार की रात नक्सलियों ने जमकर उत्पात मचाया। भारी संख्या में नक्सलियों ने रात करीबन 12 से 1 बजे कैंप में सो रहे कर्मचरियों को उठाकर चार वाहनों को आग के हवाले कर दिया एवं पर्चा छोड़कर वहां से भाग खड़े हुए। पूरे घटना की जिम्मेदारी पीएलएफआई संगठन ने ली है।

छत्तीसगढ़-झारखंड बॉर्डर पर स्थित झारखंड के महुआडांड़ थाना क्षेत्र के ग्राम चंपा में घटित इस घटना के बाद सूचना मिलते ही बलरामपुर जिले की करौंधा थाना पुलिस की टीम मौके पर पहुंची।

उन्होंने एहतियातन निर्माण कार्य में लगे अन्य दर्जनभर से अधिक वाहनों को सुरक्षित कैंपस में खड़ा कराया। 
गौरतलब है कि कि 4 दिन पहले ही झारखंड से आए नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ की सीमा में घुसकर सडक़ निर्माण में लगे 7 वाहनों को आग के हवाले कर दिया था। सोमवार को ही आईजी ने भी घटनास्थल का जायजा लिया था। छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा झारखंड सीमा पर नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन प्रहार शुरू करने की रणनीति बनाई जा चुकी है। इससे पहले ही छत्तीसगढ़-झारखंड बॉर्डर पर झारखंड के महुआडांड़ थाना क्षेत्र के ग्राम चंपा में सोमवार की रात करीब 9 बजे हथियारबंद नक्सलियों ने उत्पात मचाया। उन्होंने महुआडांड़ से चंपा तक सड़क निर्माण कार्य में लगे 4 वाहनों को आग के हवाले कर दिया। आग से एक वाहन पूरी तरह जलकर खाक हो गया, जबकि मजदूरों ने नक्सलियों के जाने के बाद 3 अन्य वाहनों में लगी आग बुझा दी।  सूचना मिलते ही घटनास्थल से करीब 4 किमी दूर छत्तीसगढ़ के बलरामपुर थाना क्षेत्र के करौंधा थाना प्रभारी रात में ही दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे। फिर उन्होंने मजदूरों से पूछताछ के बाद निर्माण कार्य में लगे अन्य वाहनों को सुरक्षित कैंपस में खड़ा कराया। 

मजदूरों ने बताया कि नक्सली अपने साथ पेट्रोल भी लेकर आए थे। घटनास्थल पर नक्सली करीब 10 मिनट तक रहने के बाद वहां से चले गए। उन्होंने मजदूरों से ठेकेदार और मुंशी का मोबाइल नंबर भी लिया। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि लेव्ही वसूलने उन्होंने दोनों का नंबर लिया है।


Date : 25-Feb-2020

भालू ने ग्रामीण पर किया हमला, बिगड़ी मानसिक स्थिति

अंबिकापुर, 25 फरवरी। सूरजपुर जिले के भैयाथान क्षेत्र अंतर्गत ग्राम धरसेढी में 10 दिन पूर्व भालू ने हमला कर दो लोगों की जान ले ली थी। उस दौरान भालू ने एक अन्य ग्रामीण पर हमला कर उसे घायल कर दिया था।

 उक्त घटना से घायल ग्रामीण की मानसिक स्थिति बिगड़ चुकी है। बताया गया कि घायल ग्रामीण के मुंह से भालू जैसी आवाज निकल रही है। अस्पताल में किसी पर हमला ना कर दे, इसे लेकर उसे बांधकर उसका उपचार किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार ग्राम धरसेढी निवासी सोना सिंह 25 वर्ष को 15 फरवरी के दिन भालू ने हमला कर घायल कर दिया था। उससे पहले उसी दिन भालू ने गांव में दो ग्रामीणों की जान ले ली थी। उक्त घटना के बाद से घायल सोना का उपचार गांव के ही स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा था। उसकी हालत बिगडऩे पर उसे ओडग़ी अस्पताल भी ले जाया गया, जहां उसकी स्थिति ठीक नहीं होने पर उसे रविवार को मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाकर दाखिल कराया गया। बताया गया कि बीती रात वह वार्ड में अन्य मरीजों के परिजन पर हमला करने दौड़ा था। इसके बाद से उसके परिजनों ने रात भर उसे पकड़ कर रखा। फिलहाल उसके हाथ पैर बांधकर उसका उपचार किया जा रहा है।


Date : 25-Feb-2020

कालातीत दवाइयों को खुले में फेंक लगाई आग

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 25 फरवरी।
 लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र द्वारा कुछ दिनों पहले खुले आसमान के नीचे दवाइयों को खुले में जलाने का नजारा  नगरवासियों के द्वारा देखा गया। इस पर नगरवासियों द्वारा आपत्ति जाहिर की गई।

 इस संबंध में पूछने पर लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बीएमओ डॉ. पी एस केरकेट्टा ने जानकारी नहीं होने की बात कही, साथ ही फार्मासिस्ट ही इस बारे में बेहतर बता सकते हैं ऐसा बताया गया। खुले में दवाइयों के जलाए जाने पर सीएमएचओ डॉ. पूनम सिसोदिया से चर्चा करने पर उन्होंने कहा कि यदि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ऐसा किया गया है तो जाहिरी तौर पर गलत है। 

खंड चिकित्सा अधिकारी की जिम्मेदारी बनती है कि इस तरह से खुले आसमान के नीचे कालातीत हो चुके दवाइयों को न जलाया जाए और यदि ऐसा है तो जवाब देना होगा। कालातीत दवाइयों की सूची मांगने पर स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा बाद में देने की बात कही गई।


Date : 25-Feb-2020

बच्चे देश के भविष्य, इन्हें उचित शिक्षा और व्यवस्था की आवश्यकता - सिंहदेव 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
उदयपुर, 25 फरवरी।
आज के नन्हे मुन्ने बच्चे कल देश के भविष्य होंगे इसलिए अति आवश्यक है कि उन्हें उचित शिक्षा व्यवस्था प्रदान की जाए। यह बातें छत्तीसगढ़ शासन के कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव ने उदयपुर विकासखंड उदयपुर के अंतर्गत ग्राम बसवार के स्कूल अवर लेडी ऑफ़ गुड हेल्थ के वार्षिक महोत्सव के दौरान रविवार को कही। 

विगत 3 वर्षों से भकुरमा पंचायत के आश्रित ग्राम कुदर बसवार में मिशन संस्था की ओर से अंग्रेजी माध्यम का विद्यालय संचालित किया जा रहा है जिसकी तीसरी वर्षगांठ के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में कैबिनेट मंत्री टी एस सिंहदेव  तथा विशिष्ट अतिथि अंबिकापुर प्रान्त के बिशप पतरस मिंज थे। 

कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। विद्यालय के वार्षिक महोत्सव में स्कूली बच्चों ने कथक पोंगल कुचिपुड़ी और अन्य नृत्य प्रस्तुत कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। नन्हे-मुन्ने बच्चों के द्वारा अंग्रेजी में दिए व्याख्यान को सुनकर लोग हतप्रभ रह गए। इस पर मंत्री ने चुटकी लेते हुए कहा कि इतने फर्राटेदार अंग्रेजी तो पता नहीं संस्था प्रमुख भी बोल पाते हैं या नहीं। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि सुदूर वनांचल क्षेत्र में ऐसी शिक्षा व्यवस्था काबिले तारीफ है ।

 सभा को फादर संजय एवं फादर रॉबिन रेनू ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन नन्हे-मुन्ने बच्चों ने किया। पूरे कार्यक्रम के दौरान अनिल टोप्पो, केवल राम, संजय एक्का का विशेष योगदान रहा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के अलावा आदिवासी प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश सिंह मंत्री प्रतिनिधि सिद्धार्थ सिंह देव जिला पंचायत सदस्य राजनाथ सिंह गुलाब सिंह सहित बच्चों के अभिभावक एवं सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

लेमरू प्रोजेक्ट से लोग नहीं होंगे विस्थापित 
कार्यक्रम के दौरान उपस्थित ग्रामीणों ने ले मोरी प्रोजेक्ट से होने वाली परेशानियों पर चर्चा की और उसे रोकने की बात कही तब कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव ने बताया कि जंगल में बाउंड्री लगाई जाएगी। बस्ती को खाली नहीं कराया जाएगा और मेरी पूरी कोशिश होगी कि उदयपुर और लखनपुर विकास खंड के गांव को इस प्रोजेक्ट से बाहर किया जाए।

 


Previous123Next