छत्तीसगढ़ » सरगुजा

Previous123Next
Date : 14-Nov-2019

2020 स्वच्छता सर्वेक्षण में अंबिकापुर का मुकाबला 4226 शहरों से होगा, इस बार 6000 अंकों का होगा, सिटीजन फीडबैक व सड़क की सफाई चैलेंज

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 14 नवंबर।
स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए केंद्र सरकार ने गाइडलाइन जारी कर दिया है जो रायपुर कार्यालय में प्राप्त होने के बाद गत बुधवार की देर शाम अंबिकापुर नगर निगम को भी प्राप्त हो चुका है। स्वच्छता सर्वेक्षण को लेकर महापौर डॉक्टर अजय तिर्की व नगर निगम आयुक्त हरेश मंडावी आज पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि इस बार अंबिकापुर नगर निगम का मुकाबला ओवरऑल 4226 शहरों से है।एक से 10 लाख आबादी वाले शहरों में 436 शहरों से मुकाबला है।इस बार स्वच्छता सर्वेक्षण 6000 अंकों का होगा।स्वच्छता सर्वेक्षण में नवंबर दिसंबर के बजाय अप्रैल से जून,जुलाई से सितंबर व अक्टूबर से दिसंबर का डॉक्यूमेंट अपलोड होगा।इसे एसएस लीग या लीग मैच की तरह कहा जा सकता है। पहले नवंबर दिसंबर माह महत्वपूर्ण होते थे लेकिन अब अप्रैल से दिसंबर तक स्वच्छ सर्वेक्षण लीग होगा।

महापौर ने बताया कि इस बार सर्टिफिकेशन में सेवन स्टार नया जुड़ा है जिसमें 1000 अंक का बोनस है।सेवन स्टार के लिए वही नगर निगम अप्लाई कर सकता है जो वाटर प्लस को अनुसरण करता है। अंबिकापुर नगर निगम इसके लिए रिक्वेस्ट भेजा है। वाटर प्लस के लिए जो मापदंड है उसमें अंबिकापुर नगर निगम पूरी तरह से मापदंड को सेनेटरी पार्क के माध्यम से पूरा कर रहा है।सेनेटरी पार्क में मल से मल प्रबंधन से निकलने वाला शत-प्रतिशत जल से फूल पौधों को संचित किया जा रहा है।इसके अलावा वाटर प्लस में लैब टेस्ट सैंपल टेस्ट के बिना सेवन स्टार के लिए अप्लाई नहीं किया जा सकता जो कि अंबिकापुर सारे नॉर्म्स को पूरा करता है।गौरतलब है कि अंबिकापुर नगर निगम मैसूर इंदौर के साथ पहले से ही फाइव स्टार की श्रेणी में है।इस बार सेवन स्टार के लिए रिक्वेस्ट भेजा गया है। स्वच्छता सर्वेक्षण की टीम 4 जनवरी के बाद कभी भी शहर में छापामार अंदाज में दबिश देगी और फिड बैक लेकर वापस लौट जाएगी।

महापौर ने आगे बताया कि स्वच्छता सर्वेक्षण में डोर टू डोर संग्रहण,गिला-सूखा एवं हानिकारक कचरे का अलग-अलग संग्रहण,डोर टू डोर संग्रहण का ऑनलाइन मॉनिटरिंग,वेस्ट स्पीकर्स को स्वरोजगार से जोडऩा, आवासीय एवं व्यवसायिक क्षेत्रों में साफ-सफाई, बरसाती नाला एवं तालाबों की सफाई,सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध,होम कंपोस्टिंग,दीदी बर्तन बैंक, नेकी की दीवार का संचालन,गिले कचरे का निपटान, सूखे कचरे का निपटान,हानिकारक कचरे का निपटान, प्लास्टिक कचरे का निपटान,मलवा का संग्रहण एवं निपटान,पुराने डंपिंग यार्ड का निपटान,बड़े कचरा उत्पादकों द्वारा गीले कचरे का स्वयं निपटान या निर्धारित शुल्क भुगतान का निगम द्वारा निर्धारित संस्था से निदान,स्वच्छता एप व निदान,वैक्यूम मशीन से फिकल स्लज संग्रहण एवं एफएसटीपी संयंत्र में निपटान,एसटीपी संयंत्र में उपचारित जल का सिंचाई कार्य में उपयोग,सार्वजनिक एवं सामुदायिक शौचालय का गूगल मैप में उपलब्धता,प्रात: 6 से रात्रि 10 तक शौचालय का खुला रहना,नगर में होटल,हॉस्पिटल,स्कूल मुहल्ला,कार्यालय,मार्केट,एसोसिएशन में स्वच्छता रैंकिंग का आयोजन,वार्ड में स्व सहायता समूह, मोहल्ला समिति,एनजीओ के माध्यम से स्वच्छता गतिविधि में भाग लेना,स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 संबंधी जागरूकता हेतु वार्डों में प्रचार-प्रसार, वार्डो में जन जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन सहित जेम पोर्टल या राज्य द्वारा बनाए गए ऑनलाइन पोर्टल से सामग्री क्रय करना निर्धारण किया गया है।

महापौर डॉ. अजय तिर्की ने बताया कि सबसे ज्यादा मेहनत सिटीजन फीडबैक व सड़क की सफाई को लेकर चैलेंज है। इसके अलावा लगभग सारी तैयारी स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए पूरी कर ली गई है।देश में अंबिकापुर नगर निगम दूसरे नंबर पर है और दो लाख की आबादी वाले में पहले नंबर पर है।नागरिकों जनप्रतिनिधियों का सहयोग से इस बार ओवरऑल देश में नंबर एक पर आने की तैयारी है।महापौर ने सभी नागरिकों व जनप्रतिनिधियों से स्वच्छता सर्वेक्षण में सहयोग व मदद की अपील की है।

अंबिकापुर क्लीन आइडल प्रतियोगिता हेतु पंजीयन 25 नंबर तक
स्वच्छ सर्वेक्षण अंतर्गत अंबिकापुर नगर निगम में क्लीन आइडल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। प्रतियोगिता में पंजीयन हेतु पहले 15 नवंबर तक आवेदन हेतु तिथि तय की गई थी अब उसे बढ़ाकर 25 नवंबर तक कर दिया गया है।क्लीन आइडियल प्रतियोगिता में स्वच्छ विद्यालय, होटल, हॉस्पिटल, बाजार,मोहल्ला,कार्यालय,बगिया, चैंपियन व स्वच्छ स्ट्रीट वेंडर भाग लेंगे।प्रतियोगिता का परिणाम 10 दिसंबर को घोषित किया जाएगा


Date : 14-Nov-2019

कार की ठोकर से बाइक सवार एक मौत, दो गंभीर

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 14 नवंबर।
नगर के केशवपुर मार्ग में कार की टक्कर से बाइक सवार एक युवक की मौत हो गई, वहीं दो अन्य युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल आकर दाखिल कराया गया है। घटना बुधवार की शाम 7.30 बजे के लगभग की है।

जानकारी के अनुसार गांधीनगर थाना क्षेत्र के गोरसीडबरा निवासी अंकित कुजूर बुधवार को अपने दो साथी विलियम खेस और अंकित सिंह को लेकर केशवपुर की ओर मोटरसाइकिल से घूमने गया था। वहां से शाम को वापस आते दौरान केशवपुर तालाब के समीप विपरीत दिशा से आ रही कार की ठोकर से तीनों गंभीर रूप से घायल हो गया। मौके पर ही अंकित कुजूर ने दम तोड़ दिया। घायल दोनों बाइक सवारों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

 


Date : 14-Nov-2019

वन​ परिक्षेत्र अंतर्गत तुरगा बिट के कक्ष क्रमांक 2242 फैलपुर के जंगलों में तस्करों एवं ग्रामीणों के द्वारा प्लान्टेशन में लगे नए पौधों की कटाई ज़ोरों पर 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 14 नवंबर।
वन परिक्षेत्र अंतर्गत तुरगा बिट के कक्ष क्रमांक 2242 फैलपुर के जंगलों में तस्करों एवं ग्रामीणों के द्वारा प्लान्टेशन में लगे नए पौधों की कटाई ज़ोरों पर है। 

ऐसा ही मामला लखनपुर वन परिक्षेत्र के तुरगा बीट कक्ष क्रमांक 2242 का प्रकाश में आया है। फैलपुर से लोसगा मेन रोड से फैलपुर से कुन्नी मेन रोड में लगे प्लान्टेशनों से लकड़ी तस्करो एवं ग्रमीणों के द्वारा सागौन, सराई इमारती लकड़ी जैसे पौधों को प्लान्टेशनों से उजाड़ दिया जा रहा है। ऐसा ही चलता रहा तो वो दिन दूर नहीं जब हरे भरे जंगल टूट एवं समतल मैदान में तब्दील नजऱ आएंगे।  विदित हो कि पूर्व में भी तुरगा बिट के कछ क्रमांक 2242 में प्लांटेशनो से नए पौधों को काट कर खेतो का घेराव किया गया था और वन भूमि पर अवैध रूप से कब्जा किया गया था। इस पर आज तक कोई भी कार्यवाही विभाग के द्वारा नही गया है। 

इस विषय पर जब प्रभारी और क्षेत्राधिकारी सपना मुखर्जी से पूछा गया तो उनके द्वारा बताया गया कि मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है पता करके बताती हूं।

 


Date : 14-Nov-2019

युवा महोत्सव में दिखी लोक कला और संस्कृति की छटा, पाक कला, निबंध लेखन, चित्रकला सहित लोकगीतों ने मन मोहा, सिंहदेव व विधायक प्रतिनिधि सिद्धार्थ सिंहदेव जी के मुख्य आतिथ्य में संपन्न 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
उदयपुर, 14 नवंबर।
विकासखण्ड स्तरीय युवा महोत्सव का आयोजन जनपद प्रांगण उदयपुर में जनपद अध्यक्ष राजनाथ सिंह, उपाध्यक्ष राजीव कुमार सिंहदेव व विधायक प्रतिनिधि सिद्धार्थ सिंहदेव जी के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ। 

महोत्सव में सैला नृत्य में 06 कर्मा नृत्य में 15, सुआ नृत्य में 05, लोक गीत में 13 ग्रामीण दलों ने अपनी कला और संस्कृति का प्रदर्शन किया। इसके अलावा स्कूली छात्र छात्राओं ने भी लोक नृत्य, लोकगीत, चित्रकला और निबंध प्रतियोगिता में भाग लिया इसके साथ ही पाककला का भी आयोजन किया गया जिसमें महिला स्व सहायता समूह ने भाग लिया इस प्रकार कुल 72 प्रतिभागी दलों ने महोत्सव में भाग लिया। 

कार्यक्रम संपन्न होने के पश्चात पुरस्कार वितरण किया गया जिसमें निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कुमारी बबीता कक्षा बारहवीं शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उदयपुर द्वितीय स्थान कुमारी संगीता तिर्की कक्षा बारहवीं शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उदयपुर चित्रकला प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कुमारी कल्पना कक्षा बारहवीं शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उदयपुर द्वितीय स्थान कुमारी सविता यादव कक्षा बारहवीं शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उदयपुर ने प्राप्त किया एवं पाककला में प्रथम स्थान रामगढ़ महिला स्व सहायता समूह व द्वितीय स्थान आंगनबाड़ी महिला स्व सहायता समूह जूना पारा बेलढाब ने प्राप्त किया. कार्यक्रम को सफल बनाने में बी.ई.ओ. संजीव तिवारी, एबीईओ हेम प्रकाश साहू, बीआरसी बलवीर गिरी, प्राचार्य, बी. बी. राम, व्याख्याता अरविंद सिंह एवं ग्रामीणों जनप्रतिनिधियों शिक्षकों स्कूली छात्र छात्राओं का खंड स्तरीय अधिकारी कर्मचारियों का विशेष योगदान रहा अन्य पुरस्कार का वितरण शुक्रवार को किया जाएगा।


Date : 14-Nov-2019

युवा जन कल्याण समिति और ग्राम पंचायत रिखी के संयुक्त तत्वाधान में वार्षिक करमा नृत्य समारोह 2019 का आयोजन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
उदयपुर, 14 नवंबर।
विकास खण्ड उदयपुर के अंतर्गत ग्राम रिखी के योगाश्रम पर्वत में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी ग्रामीण युवा जन कल्याण समिति और ग्राम पंचायत रिखी के संयुक्त तत्वाधान में वार्षिक करमा नृत्य समारोह 2019 का आयोजन 12 नवम्बर को किया गया। इस आयोजन में ब्लॉक के विभिन्न ग्राम पंचायतों के करमा दलों के महिला और पुरूष प्रतिभागियों द्वारा रंग बिरंगे परिधानों में सज धजकर हजारों दर्शकों की उपस्थिति में मनमोहक प्रस्तुतियां दी गई। कार्यक्रम का शुभारंभ विश्व हिन्दू परिषद के जिलाध्यक्ष अशोक अग्रवाल, पूर्व सरपंच ढोला राम, वर्तमान सरपंच विनोद सिंह, शशि, मनीता सिंह , आदित्य गुप्ता के द्वारा देवस्थान और हनुमान जी की मूर्ति के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। 

सरगुजा जिले के पुरातन संस्कृति, लोकनृत्य, लोकगीत और अन्य ग्रामीण सांस्कृतिक विधाओं को वर्तमान में युवा पीढ़ी भूलते जा रहे है। समिति के द्वारा पुरातन सांस्कृतिक विरासत को बचाये रखने के लिए व युवा पीढ़ी को इससे जोडऩे के लिए इस तरह का आयोजन प्रतिवर्ष किया जाता है। यह प्रयास विगत चार वर्षों से निरंतर जारी है। कार्यक्रम को सफल बनाने में संतोष गुप्ता, कन्हाई राम बंजारा, मुन्ना दास, भरत लाल गुप्ता, धरम सिंह, उदरपाल, मनोहर, रमेश, जितेंद्र, नीरा और ग्राम वासियों का सराहनीय योगदान रहा।

 

 


Date : 14-Nov-2019

16 दिसंबर को होगा सरगुजा विवि का पहला दीक्षांत समारोह-कुलपति

छत्तीसगढ़ संवाददाता
अंबिकापुर, 14 नवंबर।
सरगुजा विश्वविद्यालय का पहला दीक्षांत समारोह 16 दिसंबर को निर्धारित हुआ है। यह समारोह भकुरा स्थित सरगुजा विश्वविद्यालय के नवीन परिषद में 11 बजे सुबह शुरू होगा। 

गुरुवार को सरगुजा विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन हॉल में इसकी जानकारी देते हुए सरगुजा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉक्टर रोहिणी प्रसाद ने बताया कि सरगुजा विश्वविद्यालय का पहला दीक्षांत समारोह ऐतिहासिक होगा। जिसकी संपूर्ण तैयारियां हो चुकी है। पहले दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के अध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप सिंह होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता महामहिम राज्यपाल द्वारा की जाएगी। इसके अलावा समारोह में सभी विधायक एवं स्थानीय मंत्री विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे। सरगुजा विश्वविद्यालय के पहले दीक्षांत समारोह में वर्ष 2010 से लेकर अभी तक के छात्रों को पदक एवं उपाधि दी जाएगी। बीए, एमए, एमकॉम, बीटेक, एमटेक सहित अन्य विभाग के छात्रों को 261 स्वर्ण पदक के साथ-साथ 72 पी एच डी की उपाधि से इस समारोह में नवाजा जाएगा। इसकी पूरी लिस्टिंग हो गई है।उपाधि पाने वाले छात्रों को भी इसकी जानकारी पहुंचा दी जा रही है। उपाधि लेने से पहले छात्रों को अपना पंजीयन 25 नवंबर तक कराना होगा। रजिस्ट्रेशन के बाद ही वह पदक ले सकेंगे। पंजीयन शुल्क 500 रुपए है। 500 रुपए में दीक्षांत समारोह का परिधान सरगुजा विश्वविद्यालय देगा, जिसे वापस करने पर वह 500 रुपए रिफंड कर दिया जाएगा। कुलपति ने कहा कि हम जा रहे हैं कि छात्रों को ऐसा कुछ दे जो देने में भी अच्छा लगे इसके लिए उन्हें डिग्री फ्रेम करा कर दी जाएगी। सरगुजा विश्वविद्यालय के प्रथम दीक्षांत समारोह में मानद उपाधि भी दी जाएगी। इसके लिए कोई भी स्थानीय या अंचल के साथ साथ बाहर का व्यक्ति भी हो सकता है, जिसकी खोज चल रही है।

यह होगा परिधान
सरगुजा विश्वविद्यालय के प्रथम दीक्षांत समारोह के लिए परिधान भी तय कर लिया गया है। स्वर्ण पदक पानी वाले पुरुष छात्रों को सफेद कुर्ता और पैजामा पहन कर आना होगा। सरगुजा विश्वविद्यालय की ओर से पिंक कलर की पगड़ी दी जाएगी। वही महिलाओं को क्रीम कोसा कलर की साड़ी पहननी होगी। पीएचडी की उपाधि लेने वालों को भी सफेद कुर्ता पजामा मे आना होगा। मुख्य अतिथि भी सफेद कुर्ता पजामा के साथ जैकेट मे होंगे। कार्य परिषद के सदस्य सफेद कुर्ता पैजामा, वल्कल, पगड़ी और कोसा कलर के जैकेट मे होंगे। 

बोर्ड ऑफ स्टडीज के सदस्यों के लिए भी परिधान बनाया गया है।


Date : 13-Nov-2019

गोपालपुर खेल मैदान में फुटबॉल मैच प्रतियोगिता का समापन, पेनल्टी शूट में 4-3 से बरियों विजेता

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 13 नवंबर।
गोपालपुर खेल मैदान में फुटबॉल मैच प्रतियोगिता का समापन किया गया। फाइनल मैच बरियों और मरकाडाँड़ पंचायत के बीच खेला गया। नियत समय में एक-एक गोल करके दोनों टीम बराबरी में रहे। अतिरिक्त 10 मिनट के समय मे भी कोई टीम गोल नहीं कर पाई। पेनल्टी शूट में 4-3 से बरियों विजेता रही। 

मुख्य अतिथि के रूप में वरिष्ठ कांग्रेसी पूर्व सरपंच सनमान सिंह ग्राम पंचायत करवा उपस्थित थे। 
कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉक्टर पी एन विश्वास, विशिष्ट अतिथि प्यारेलाल जयसवाल मंडल अध्यक्ष भाजपा, सरपंच मोहन, गुलाम मुस्तफा, विमल बेक, स्कूल के प्राचार्य वी.राम चंद्र यादव, मुमताज अंसारी सहित अन्य लोग मौजूद थे। आयोजन समिति जीवनदान समाज सेवी संस्था के जिला अध्यक्ष श्रीमती प्रभात बेला मरकाम, उपाध्यक्ष विकास पटेल, सचिव श्यामलाल मरकाम, भगवत सिंह, डॉक्टर पीएस मरकाम ने उपस्थित अतिथियों का स्वागत किया।इस फुटबॉल टूर्नामेंट में कुल 32 टीमों ने भाग लिया था। विजेता टीम को 10 हजार रुपए और शील्ड दी गई।


Date : 13-Nov-2019

बाल दिवस के उपलक्ष्य में अम्बिकापुर स्थित संकल्प हॉस्पिटल ने बच्चों के लिए नि:शुल्क नेत्र शिविर का आयोजन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 13 नवंबर।
बाल दिवस के उपलक्ष्य में अम्बिकापुर स्थित संकल्प हॉस्पिटल ने बच्चों के लिए नि:शुल्क नेत्र शिविर का आयोजन किया जा रहा है। यह शिविर जिला चिकित्सालय के पीछे स्थित संकल्प मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल परिसर में 14 नवंबर को प्रात: 10 बजे से 3 बजे तक आयोजित किया गया है। इसमें बच्चों के आंख का तिरक्षापन या भेंगापन, पर्दे(रेटिना)में तकलीफ, बच्चों का मोतियाबिंद एवं एक आंख से कम दिखना जैसे जटिल रोगों के उपचार हेतु नि:शुल्क परामर्श दिया जाएगा। 

आयोजकों ने बताया कि इस शिविर हेतु विशेष रुप से डॉ अक्षय गोयल जांच एवं परामर्श हेतु उपलब्ध रहेंगे। डॉक्टर अक्षय नोएडा आई केअर नोएडा से फेको में तथा एच् व्ही देसाई इंस्टीटूट नोएडा से बच्चों के नेत्र संबंधी रोगों पर फेलोशिप कर चुके है।आपको रेटिना पर फेलोशिप विशेष जांच एवं उपचार का कार्य नई दिल्ली के प्रख्यात शोध संस्थान वेणु आई केअर में लिया है। डॉ गोयल को छोटे बच्चों के आंख एवं रेटिना के जांच एवं उपचार का विशेष प्रशिक्षण एवं अनुभव प्राप्त है। वे मोतियाबिंद के फेको सर्जरी में भी दक्ष हैं।
 


Date : 13-Nov-2019

भोपाल में आयोजित सीबीएसई राष्ट्रीय तैराकी प्रतियोगिता जो 12 नवम्बर से 16 नवम्बर तक आयोजित, शिक्षा दुबे हुई रवाना

अंबिकापुर, 13 नवंबर। भोपाल में आयोजित सीबीएसई राष्ट्रीय तैराकी प्रतियोगिता जो 12 नवम्बर से 16 नवम्बर तक आयोजित है, के लिये शिक्षा दुबे आज भोपाल रवाना हुई। भोपाल मे वह 17 वर्ष आयुवर्ग में 200 मीटर बेक स्ट्रोक की प्रतियोगिता मे भाग लेगी, जो 16 नवम्बर को है। शिक्षा का चयन ओडिशा में 30 सितम्बर से 03 अक्टुबर तक चलने वाली सी बी एस ई तैराकी प्रतियोगिता मे उत्कृष्ट प्रदर्शन के आधार पर किया गया है।

ओडिशा मे आयोजित तैराकी प्रतियोगिता मे शिक्षा दुबे 200 मीटर बेक स्टोक मे दुसरा और 100 मीटर बेक स्टोक मे तीसरा स्थान प्राप्त किया था। शिक्षा दुबे कार्मेल स्कुल की ग्यारहवीं की छात्रा है और अपने पिता एवं कोच शरद दुबे एवं माता पुनम दुबे के साथ प्रतियोगिता मे सम्मिलित होगी।

जिला तैराकी संघ के अध्यक्ष अम्बिकेश केसरी एवं कार्मेल विद्यालय की प्रचार्या सिस्टर जीवा , प्रभाकर उपाध्याय एवं क्रीडा प्रभारी अजय पैकरा ने उसके चयन पर हर्ष व्यक्त कर जीत की शुभकामनाएं दी है।


Date : 13-Nov-2019

मल्टी परपज स्कूल अम्बिकापुर में कैबिनेट मंत्री ने बच्चों के साथ बेंच पर बैठकर स्कूल की समस्याएं एवं सुविधाओं की जानकारी ली

अम्बिकापुर। आज मल्टी परपज स्कूल अम्बिकापुर में कैबिनेट मंत्री टी.एस. सिंह देव पहुंचे।कैबिनेट मंत्री ने बच्चों के साथ बेंच पर बैठकर स्कूल की समस्याएं एवं सुविधाओं की जानकारी ली।बच्चों ने कैबिनेट मंत्री को स्कूल के विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया।मंत्री ने बच्चों को शीघ्र ही समस्याओं को दूर करने का आश्वासन दिया।


Date : 13-Nov-2019

अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन की प्रांतीय कार्यकारिणी की पंचम बैठक व दीपावली मिलन समारोह स्थानीय अग्रसेन भवन में सम्पन्न

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 13 नवंबर।
अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन की प्रांतीय कार्यकारिणी की पंचम बैठक व दीपावली मिलन समारोह रविवार को स्थानीय अग्रसेन भवन में सम्पन्न हुआ। पूरे प्रान्त के विभिन्न जिलों व शहरों से आये लगभग 150 पदाधिकारियों व सदस्यों की बैठक प्रदेश अध्यक्ष हनुमान प्रसाद अग्रवाल व महामंत्री विसंभर दयाल की उपस्थिति में हुई, जिसमें सामाजिक गतिविधियों पर चर्चा हुई। 

बैठक में पधारे मुख्य अतिथि के सी अग्रवाल,पुलिस महानिरिक्षक सरगुजा रेंज, हनुमान प्रसाद प्रदेश अध्यक्ष, विशम्भर अग्रवाल प्रदेश महामंत्री, अजय अग्रवाल अध्यक्ष श्री अग्रवाल सभा अम्बिकापुर, केशव पोद्दार प्रदेश उपाध्यक्ष, कृष्ण कुमार अग्रवाल प्रदेश उपमहामंत्री, मुकेश अग्रवाल जिला इकाई अध्यक्ष एवम प्रदेश पदाधिकारीयों के द्वारा महाराजा अग्रसेन के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम शुरू किया गया। बैठक में पर्यावरण संरक्षण हेतु चर्चा की गई व पर्यावरण संरक्षण का संकल्प सभी ने लिया साथ ही बच्चों ने उक्त विषय पर गीत की प्रस्तुति दी। सरगुजा इकाई अग्रवाल सम्मेलन की महिलाओं द्वारा फूलों की रंगोली बनाई गई थी, जिसकी सभी ने सराहना। अध्यक्षता कर रहे हनुमान प्रसाद अग्रवाल ने कहा कि अग्रवाल समाज सामाजिक क्षेत्र में बहुत ही अच्छा कार्य कर रहा है मगर सामाजिक कार्यों को ग्रामीण इलाकों में भी ले जाने की आवश्यकता है।

मुख्य अतिथि पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज के.सी अग्रवाल ने कहा कि हमें समाज की कुरीतियों को दूर करने के लिए पहल करनी चाहिए,समाज खर्चों को कम कर पुरानी रीति रिवाज के साथ सारे त्यौहार व रस्म निभाए। उन्होंने कहा कि हमें ऐसा प्रयास करना चाहिए जिससे प्री वेडिंग शूट जैसे कुरुति आज के युवा वर्ग समझ सके व आने वाले समय में ऐसी कुरीति खत्म हो सके।   अग्रवाल सभा के अध्यक्ष अजय अग्रवाल ने सभी को दीपावली की बधाई देते हुए कहा कि समाज हमेशा से सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेता आया है इसी का परिणाम है कि आज अग्रवाल समाज को सामाजिक समाज के रूप में देखा जाता है।

प्रदेश महामंत्री कृष्णा अग्रवाल ने अग्रवाल सम्मेलन के कार्यों की गतिविधियों से अवगत कराया। सरगुजा महिला इकाई को उत्कृष्ट कार्य हेतु पुरस्कृत किया गया कार्यक्रम के समापन में सभी अतिथियों का स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया गया। 


Date : 12-Nov-2019

नर्मदापुर में बड़े झाड़ के जंगल की शासकीय भूमि को मोटी रकम लेकर राजस्व रिकॉर्ड में कर देने के आरोप में आरटीआई कार्यकर्ता डीके सोनी द्वारा शिकायत करने के बाद सरगुजा कमिश्नर ने नायब तहसीलदार के विरुद्ध जांच का आदेश दिया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 12 नवंबर।
-छत्तीसगढ़ का शिमला मैनपाट के नर्मदापुर में बड़े झाड़ के जंगल की शासकीय भूमि को मोटी रकम लेकर राजस्व रिकॉर्ड में कर देने के आरोप में आरटीआई कार्यकर्ता डीके सोनी द्वारा शिकायत करने के बाद सरगुजा कमिश्नर ने नायब तहसीलदार के विरुद्ध जांच का आदेश दिया है।कलेक्टर सरगुजा के नाम से पत्र प्रेषित करते हुए आवेदन पत्र में उल्लेखित तथ्यों की जांच करा कर बिंदुवार जांच प्रतिवेदन मय प्रमाणित प्रासंगिक दस्तावेजों के सात दिवस के भीतर उपलब्ध कराने हेतु आदेशित किया गया है।

डी के सोनी अधिवक्ता एवं आरटीआई कार्यकर्ता के द्वारा कमिश्नर सरगुजा से गत 14 अक्टूबर 2019 को एक शिकायत आवेदन प्रस्तुत किया गया है जिसमें यह आरोप लगाया गया है कि नायब तहसीलदार मैनपाट राधेश्याम वर्मा द्वारा ग्राम नर्मदापुर तहसील मैनपाट में स्थित शासकीय भूमि खसरा नंबर 16 52/1 रकबा 4. 259 है जो कि वर्तमान राजस्व रिकॉर्ड के बी-1 के खाता क्रमांक 406  पर प्रवेश यादव पिता सत्यनारायण यादव निवासी ग्राम नर्मदापुर तहसील मैनपाट का नाम राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है।उसमें ना तो प्रवेश यादव को किसी प्रकार का पट्टा मिला है, और ना ही कोई प्रकरण चला है।आरोप है कि नायब तहसीलदार राधेश्याम वर्मा द्वारा प्रवेश यादव से मिलीभगत कर उससे मोटी रकम लेकर सीधे राजस्व रिकॉर्ड में नाम चढ़ावा लिया गया, जबकि उपरोक्त भूमि खसरा नंबर 16 52/1 सरगुजा स्टेट सेटलमेंट में गैरमजरूआ सरकार बड़े झाड़ के जंगल के रूप में राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज है। 

आरोप है कि नायब तहसीलदार राधेश्याम वर्मा का काफी नजदीकी प्रवेश यादव है जिसके कारण नियम विरुद्ध तरीके से शासकीय दस्तावेजों में कूट रचना कर प्रवेश यादव जिसकी उम्र 25 से 27 वर्ष की है का नाम बिना पट्टा जारी किए बिना किसी आदेश के राजस्व रिकॉर्ड में दुरुस्त कर दिया गया है। उक्त शिकायत की गंभीरता को देखते हुए कमिश्नर श्री ईमिल लकड़ा द्वारा गत 4 नवंबर 2019 को कलेक्टर सरगुजा के नाम से पत्र प्रेषित करते हुए आवेदन पत्र में उल्लेखित तथ्यों की जांच करा 7 दिवस के अंदर जांच प्रतिवेदन सरगुजा कलेक्टर से मांगा गया है।

 


Date : 12-Nov-2019

गुरु नानक जयंती के अवसर पर गुरुद्वारा में छत्तीसगढ़ शासन में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव पहुंचे और माथा टेक आशीर्वाद लिया

अंबिकापुर, 12 नवंबर। जगद्गुरु श्री गुरु नानक देव जी का 550 वां शताब्दी प्रकाश पर्व की खुशी में अम्बिकापुर सहित जिले में अमन के साथ प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है। आज प्रकाश पर्व पर गुरुद्वारा में गुरु का अटूट लंगर बरताया गया।आज प्रकाश पर्व पर गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में प्रात:11 बजे शब्द कीर्तन,दोपहर 2.30 बजे के उपरांत अरदास व गुरु का अटूट लंगर बरताया गया।  गुरु नानक जयंती के अवसर पर गुरुद्वारा में छत्तीसगढ़ शासन में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव पहुंचे और माथा टेक आशीर्वाद लिया। इस दौरान समाज के लोगों ने टीएस सिंह देव को तलवार व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।


Date : 12-Nov-2019

सामाजिक परिवारिक विघटन की प्रक्रिया से पूरे परिवार को जोडऩे का कार्य,उपेक्षित होते बुजुर्गों की पीड़ा उनके साथ बेहद आत्मीयता से जुड़कर कार्य करने व समाज मे अनेक जागरूकता लाने को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अंबिकापुर केंद्रीय जेल की कल्याण अधिकारी बानी मुखर्जी को पुरस्कृत किया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 12 नवंबर।
समाज में शिक्षा को अंतिम व्यक्तित्व पहुंचाने,सामाजिक परिवारिक विघटन की प्रक्रिया से पूरे परिवार को जोडऩे का कार्य,उपेक्षित होते बुजुर्गों की पीड़ा उनके साथ बेहद आत्मीयता से जुड़कर कार्य करने व समाज मे अनेक जागरूकता लाने को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अंबिकापुर केंद्रीय जेल की कल्याण अधिकारी बानी मुखर्जी को पुरस्कृत किया है।बानी मुखर्जी का कहना है कि सभी समस्याओं का हल शिक्षा ही है।

श्रीमती बानी मुखर्जी ने बताया कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए नरवा गुरुवा गुरुवा और बारी के सभी घटकों की अवधारणा तथा योजना को सफल बनाने में एवं ग्रामीण संस्थाओं को स्थिर करने के लिए महत्वकांक्षी योजना है।ग्रामीण परिवेश में ही अधिकतर समय होने के कारण सरपंच के माध्यम से ग्रामीण पुरुष एवं महिलाओं को एक जगह एकत्रित कर श्रीमती मुखर्जी उन्हें पहले तो टटोलटी हैं। उनके परेशानी को जानने के बाद समझाने का प्रयास करती हैं।

श्रीमती मुखर्जी का कहना है कि गांव में प्रमुख रूप से कृषि की स्थिति का अनेक महत्व होता है।कार्य के माध्यम से सामाजिक समावेश एवं एकजुटता की अनेक आवश्यकताएं होती हैं जिसमें अनेक चुनौतियां भी आती हैं।परंतु लोगों को जागरूक करने से वे समझने लगे हैं।फील्ड जॉब के दौरान बच्चों एवं महिलाओं को उनकी सुरक्षा के बारे में एवं जननी सुरक्षा तथा सुरक्षित जीवन के लिए महिलाओं से अपील करती हैं कि घर से निकल कर बाहर आए और शिक्षा की मुख्यधारा से जुड़े।छत्तीसगढ़ वासियों के अंतिम व्यक्ति का विकास और सशक्तिकरण लाने वह प्रतिबध है।युवा वर्ग के लिए वह कहती हैं कि युवा पीढ़ी को बर्बाद करने वाले नशे को मन से दूर करें।

 


Date : 12-Nov-2019

सरगुजा के वरिष्ठ कवि रामप्यारे रसिक की पुस्तक कलाम-ए-रसिक का विमोचन प्रवीण प्रकाशन सरगुजा के तत्वावधान में स्थानीय सरस्वती शिशु मंदिर सभागार में सम्पन्न

अम्बिकापुर, 12 नवंबर। सरगुजा के वरिष्ठ कवि रामप्यारे रसिक की पुस्तक कलाम-ए-रसिक का विमोचन प्रवीण प्रकाशन सरगुजा के तत्वावधान में स्थानीय सरस्वती शिशु मंदिर सभागार में सम्पन्न हुआ। यह रामप्यारे रसिक की बारहवीं कृतिहै।कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार भगत सिंह विेहेस ने की। इस अवसर पर मुख्य अतिथि सेवा निवृत प्राचार्य बी.डी.लाल ने अपने विचार व्यक्त करतु हुये साहित्य को समाज का आईना बताते हुए रसिक की रचनाओं की सराहना की।

आयोजन के प्रथम चरण में पुस्तक विमोचन किया गया तथा दूसरे चरण में पुस्तक कलामे-ए-रसिक की रचनाओं की संगीमयी प्रस्तुति दी गई। प्रारंभ में अतिथि श्रीमती पूनम दुबे ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। साहित्य एवं इतिहास के मर्मज्ञ गोविंद शर्मा ने रामप्यारे रसिक के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने रसिक को युग प्रवर्तक कवि बताते हुए एक सच्चा समाज सुधारक निरूपित किया।नीलम सोनी ने उन्हें अपना प्रेरणा स्त्रोत बताते हुए अपनी प्रकाशित कृति भाव सरोवर उन्हें समर्पित करने का उल्लेख किया। 

इस अवसर पर प्रसिद्ध गायिका बबिता विष्वास, ममता रानी ने रसिक की भोजपुरी गीतों का गायन किया। कु. मेघा रावत, प्रेमानंद पातर, प्रदीप विष्वास ने हिन्दी गीतों एवं गजलों का सस्वर गायन एवं मोहरलाल रावी ने सरगुजिहा गीतों की मनमोहक प्रस्तुति दी।  अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए कवि भगत सिंह ने कहा कि रामप्यारे रसिक की रचनाये राष्ट्रीय स्तर की है, जिनके पर्याप्त प्रचार-प्रसार की आवष्यकता है। उन्होंने सरगुजिहा रामायण लिखने के लिए रसिक जी को बधाई दी। उनकी लोकप्रियता को देखते हुए उन्हें जनमानस का कवि कहा। 
 


Date : 12-Nov-2019

लोक संस्कृति के संरक्षण और विकास में युवा महोत्सव की भूमिका अहम- खाद्य मंत्री अमरजीत भगत 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 12 नवंबर।
खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने मैनपाट विकासखण्ड में नर्मदापुर स्थित मिनी स्टेडियम में आयोजित विकासखण्ड स्तरीय युवा महोत्सव में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। महोत्सव में क्षेत्र के 100 से अधिक युवाओं ने विभिन्न विधाओं में उत्साह और उमंग के साथ भाग लिया तथा प्रतिभा का प्रदर्शन किया। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को अतिथियों द्वारा प्रमाण पत्र व शील्ड प्रदान किया गया। 

मुख्य अतिथि की आसन्दी से समारोह को संबोधित करते हुए मंत्री श्री भगत ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशानुरूप छत्तीसगढ़ की परंपरा, संस्कृति को बढ़ावा देने और युवाओं की प्रतिभा को आगे लाने के लिये यूथ फेस्टिवल 2019 का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारे लोक संस्कृति को संरक्षित एवं विकसित कर उसे नयी उचाईयों तक ले जाने में युवा महोत्सव  का महत्वपूर्ण भूमिका है। पूरे छत्तीसगढ़ में युवा महोत्सव का आयोजन स्वामी विवेकानंद की स्मृति में आयोजित की जा रही है। विकासखण्ड स्तरीय  आयोजन के बाद जिला स्तर एवं राज्य स्तरीय आयोजन होगें। विकास खण्ड स्तर से उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागी राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर पहचान स्थापित कर सकता है। श्री भगत ने कहा कि सरगुजा में करमा, शैला, सुग्गा, डोमकेच आदि लोकनृत्य की परंपरा है जो सरगुजिहा संस्कृति की पहचान है।

मैनपाट जनपद के उपाध्यक्ष श्री अटल यादव ने कहा कि संस्कृति को अक्षुण्ण रखना हम सब का दायित्व है । इन्हें दायित्वों के निर्वहन के लिए आज यहॉ युवा महोत्सव का अयोजन किया गया है। इस तरह के आयोजन सदैव होते रहना चाहिए जिससे युवा प्रतिभागियों को अवसर और मंच मिल सके। 

प्रतियोगिता में इन्हें मिला प्रथम स्थान- 15 से 40 आयु समूह में करमा नृत्य हायर सेकेण्डरी स्कूल भैंसाखार, गौरा नृत्य ग्राम पंचायत पिडिय़ा, मांझी नृत्य ग्राम पंचायत हर्रामार, ग्रामीण करमा में ग्राम पंचायत डांगबुड़ा,   चित्रकला में पल्लवी गुप्ता, तात्कालिक भाषण में कुमारी शालिनी गुप्ता, एकांकी नाटक में हायर सेकेण्डरी स्कूल कमलेश्वरपुर, कत्थक नृत्य में कुमारी रीना गुप्ता, हारमोनियम वादन में श्री धरमवीर, बॉसुरी वादन में श्री शैलेन्द्र फिलिप, गिटार वादन में श्री सुनेश्वर, एकल गीत में श्री उमेश दास एवं हेमन्त प्रथम स्थान रहे।

 


Date : 12-Nov-2019

श्री श्याम मंडल परिवार द्वारा मंगलवार को 23 वां श्री श्याम बाबा महोत्सव भक्ति व उल्लास के साथ धूमधाम से मनाया 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 12 नवंबर।
श्री श्याम मंडल परिवार द्वारा मंगलवार को 23 वां श्री श्याम बाबा महोत्सव भक्ति व उल्लास के साथ धूमधाम से मनाया गया। मंगलवार की सुबह सतरंगी निशान के साथ भव्य शोभा यात्रा नगर में निकाली गई। राम मंदिर से निकली शोभायात्रा सदर रोड, महामाया चौक, देवीगंज रोड होते हुए श्री श्याम मंदिर पहुंची। सतरंगी निशान लेकर निकली शोभायात्रा के दौरान श्याम सेवा मंडल परिवार में भक्ति और उमंग उल्लास का माहौल देखा गया। शोभायात्रा में नाचते हुए लोगों ने श्री श्याम बाबा के जयकारे लगाए। 

शहर के नमनाकला स्थित श्री श्याम मंदिर को आकर्षक विद्युत झालरों से दुल्हन की तरह सजाया गया था। मंगलवार की सुबह 10.30 बजे सवामणी भोग के बाद शोभायात्रा नगर में निकली थी। शाम को 7 बजे फूलों का अलौकिक श्रृंगार दर्शन के बाद 7:30 बजे अखंड ज्योत प्रज्वलन व रात्रि 8  बजे से छप्पन भोग भंडारा प्रसाद वितरण का कार्यक्रम रखा गया था। इसके बाद भजन संध्या का आयोजन शुरू हुआ। भजन संध्या में कोलकाता से आए कलाकार शुभम -रूपम व फतेहाबाद हरियाणा से आई परविंदर पलक द्वारा संगीतमय भजनों की प्रस्तुति दी गई। श्री श्याम महोत्सव के अवसर पर विभिन्न स्पर्धाओं के क्रम में शाम भजनों पर नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। जिसमें सब जूनियर, जूनियर व सीनियर वर्ग के प्रतिभागियों ने उत्साह से भाग लिया। पूरे आयोजन में श्री श्याम मंडल परिवार के अध्यक्ष आनंद अग्रवाल, सतीश अग्रवाल, विनोद अग्रवाल, विष्णु अग्रवाल, संजय अग्रवाल, गोपाल अग्रवाल, राजेश अग्रवाल, संदीप अग्रवाल, रितेश अग्रवाल, डॉक्टर सुजीत अग्रवाल, संजीव गोयल, शेखर गोयल, बजरंग अग्रवाल, कृष्ण कन्हैया अग्रवाल, नटवरलाल केडिया सहित भारी संख्या में लोग शामिल रहे।


Date : 11-Nov-2019

जोनल लेवल डीएव्ही नेशनल स्पोर्ट्स टूर्नामेंट में डीएव्ही पब्लिक स्कूल हुडको भिलाई में 7- 8 नवंबर को आयोजित, खिलाडियों ने सर्वोत्तम प्रदर्शन करते हुए विद्यालय का परचम लहराया और कुल 12 पदक अपने नाम किये 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 11 नवंबर।
इस वर्ष का जोनल लेवल डी. ए. व्ही. नेशनल स्पोर्ट्स टूर्नामेंट डी. ए. व्ही. पब्लिक स्कूल हुडको भिलाई में 7- 8 नवंबर 2019 को आयोजित किया गया। इसमें डी. ए. व्ही. मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल, केवरी, लखनपुर के 14 खिलाडियों ने अपना अभी तक का सर्वोत्तम प्रदर्शन करते हुए एक बार फिर विद्यालय का परचम लहराया और कुल 12 पदक अपने नाम किये । 

एक ओर जहां एथेलेटिक्स में विद्यालय की गत वर्ष की राष्ट्रीय स्तर की धाविका सोनिका राजवाड़े ने 1500 मीटर तथा 800 मीटर की दौड़ में कुल 2 स्वर्ण पदक हासिल किये, वहीं दूसरी ओर *ताईक्वान्डो में* पिछली बार के राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी श्रेयांशु गुप्ता ने 78 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक, पुष्पराज पैंकरा ने 48-51 किग्रा भार वर्ग में रजत पदक, रुपाली पटेल ने 63- 68 किग्रा भार वर्ग में रजत पदक और आतिफ़ रज़ा खान ने 57-59 किग्रा भार वर्ग में कांस्य पदक हासिल किए।
इसी प्रकार जूडो में विद्यालय के आदित्य मार्को ने 90 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक पर कब्ज़ा जमाया।

कराटे में गत वर्ष के राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी सुहेल खान ने 82 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक, अनिक अग्रवाल ने 74 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक, अमन साहू ने 58 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक और मिथिलेश साहू ने 65 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक और मोनिका राजवाड़े ने 44 किग्रा भार वर्ग में रजत पदक हासिल किए। विद्यालय के कुल 14 खिलाड़ी छात्र-छात्राओं ने विभिन्न खेल स्पर्धाओं में कुल 11 पदक हासिल किये जिनमें 08 स्वर्ण, 3 रजत और 1 कांस्य पदक हैं। इस तरह 3 छात्राएं डी. ए. व्ही. नेशनल गेम्स के लिए 27-29 नवंबर को पानीपत हरियाणा में शिरकत करेंगी तो दूसरी ओर विद्यालय के 7 छात्र डी. ए. व्ही. नेशनल गेम्स के लिए 10-12 दिसंबर को हैदराबाद तेलंगाना में भाग लेंगे।

डी. ए. व्ही. मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल, केवरी, लखनपुर के नेशनल स्पोर्ट्स में खिलाडिय़ों के चयन की बात की जाए तो विद्यालय ने पिछले वर्ष के 7 खिलाडिय़ों के चयन के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ते हुए इस बार 10 खिलाडिय़ों के चयन का नया कीर्तिमान बनाया है। डी. ए. व्ही. नेशनल स्पोर्ट्स के लिए छात्र- छात्राओं की इस उपलब्धि से विद्यालय परिवार में हर्ष व्याप्त है।

प्राचार्य विनय श्रीवास्तव ने सभी खिलाडिय़ों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हम आशा करते हैं कि इस वर्ष लखनपुर के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ेगा और यहां की खेल प्रतिभाएं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने क्षेत्र का नाम रोशन करेंगी। उन्होंने छात्रों की इस सफलता में उनकी खेल प्रशिक्षिका सावित्री तिवारी को विशेष रूप से बधाई दी ।

और संपूर्ण विद्यालय के शिक्षक- शिक्षिकाओं ने खिलाडिय़ों को उनकी उपलब्धियों के लिए बधाई के साथ साथ आगामी राष्ट्रीय स्तर के स्पर्धाओं के लिए सभी खिलाडिय़ों को अपनी शुभकामनाएं दीं।

 


Date : 11-Nov-2019

श्री गुरुनानक देव के 550वें प्रकाश पर्व पर इस बार खास तैयारियां सिख समुदाय द्वारा की गई

अंबिकापुर, 11 नवंबर। श्री गुरुनानक देव के 550वें प्रकाश पर्व पर इस बार खास तैयारियां सिख समुदाय द्वारा की गई है। आज प्रकाश पर्व पर गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में प्रात:11 बजे शब्द कीर्तन, दोपहर 2.30 बजे के उपरांत अरदास व गुरु का अटूट लंगर बरताया जाएगा। 


Date : 10-Nov-2019

सीएम ने मंत्रियों के साथ किया केनापारा जलाशय में बोटिंग, मछली पालन के केज कल्चर पद्धति के बारे में जानकारी ली
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 10 नवंबर।
 भूपेश बघेल ने सूरजपुर जनपद अंतगर्त ग्राम पंचायत केनापारा स्थित केनापारा पर्यटन स्थल में स्कूल शिक्षा एवं आदिमजाति कल्याण मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता सरंक्षण मंत्री अमरजीत भगत तथा उच्चशिक्षा मंत्री उमेश पटेल के साथ करीब 600 मीटर तक बोटिंग का आनंद लिया। उन्होंने जलाश्य के मध्य में जिला प्रशासन द्वारा मत्स्य पालन हेतु विकसित केज कल्चर का अवलोकन किया तथा अधिकारियों से मछली पालन के केज कल्चर पद्धति के बारे में जानकारी ली। 

अधिकारियों ने बताया कि केज कल्चर में यहॉ पंगेशियस प्रजाति के मछली का पालन किया जा रहा है। यहॉ 32 केज स्थापित किया गया है अभी मछलियों का वजन अधिकतम 1 किलो है। मुख्यमंत्री ने मछली का अवलोकन करते हुए कहा कि पंगेशियस प्रजाति की इस मछली को छत्तीसगढ़ी में ''टेंगना'' कहते है। यह मछली पकडऩे पर कांटा वार करता है जिससे तेज दर्द होता है। उन्होंने अपने बचपन के दिनों की याद ताजा करते हुए कहा कि गांव के खेत एवं नालों में टेंगना, मुंगरी एवं केवच खूब पकड़ा करते थे। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि  मछली पालन करने वाले समूह को स्वरोजगार से जेडऩे के लिए शासन की योजनाओं का पूरा लाभ दें। उन्हें मछली पालन के लिए आवश्यक प्रशिक्षण देकर कुशल बनाये।

सरगुजिहा व्यंजन का उठाया लुत्फ- मुख्यमंत्री ने बोटिंग के दौरान मंत्रियों सहित बोटिंग संचालन करने वाले शिव शक्ति ग्राम संगठन की महिला समूह द्वारा तैयार किये गये सरगुजिहा व्यंजनों का लुत्फ उठाया। इन व्यंजनों में रसोरा, पीठा रोटी, डुबकी, ठेकुवा, सूजीपुवा, चीला रोटी, लकरा चटनी सहित करीब पंद्रह व्यंजन शामिल थे।
उल्लेखनीय है कि सूरजपुर विकासखंड के ग्राम केनापारा में क्लोजऱ माइनिंग फंड के तहत कोलियरी क्रमांक 6 में मत्स्य पालन, बोटिंग एवं कैंटीन स्थापना हेतु जिला जिला प्रशासन द्वारा मछली पालन विभाग को वर्ष 2017 -18 में 1करोड़ 97 लाख रुपये की स्वीकृति दी गई थी।मछली पालन विभाग द्वारा केज कल्चर हेतु मार्च 2019 में कार्य प्रारंभ किया । यहॉ 51 लाख 20 हज़ार रुपये की लागत से 32 नग केज, 2 लाख 1 हजार 36 रुपये की लागत से केज तक आने जाने के लिए रपटा, 16 लाख 85 हजार रुपये की लागत से स्टोर एवं स्टाफ रूम का निर्माण किया गया है। 12 लाख 80 हजार रुपये के मत्स्य बीज तथा 31 लाख 8 हजार फीड एवं अन्य सामग्रियों में व्यय किया गया है। 

जलाशय में केनापरा के महामाया मछुआ समिति को मत्स्य पालन रोजगार से जोड़ा गया है। प्रति केज 2 हजार किलोग्राम मत्स्य उत्पादन के मान से 10 से 12 माह में 32 केज में करीब 64 हजार किलोग्राम मत्स्य उत्पादन होगा। कुल आय एवं व्यय के हिसाब से करीब 14 लाख शुद्ध लाभ अनुमानित हैं ।

 


Previous123Next