छत्तीसगढ़ » बस्तर

21-Sep-2020 9:42 PM

जगदलपुर, 21 सितंबर। लॉकडाउन करने अथवा न करने को लेकर शहर पक्ष-विपक्ष दो घड़ों में बटी हुई है। इस स्थिति को देखते हुए पब्लिक वॉइस की टीम ने छोटे फुटकर व्यापारियों से मिलकर उनका राय जानने का प्रयास किया।

टीम के सदस्यों ने लालबाग और दलपत सागर के समीप बैठे सब्जी व्यापारियों से सीधे पूछा कि लॉकडाउन होना चाहिए या नहीं, जिस पर लोगों की मिली-जुली प्रतिक्रिया देखने को मिली। इस सर्वे में लगभग 45 फीसदी व्यापारियों ने कहा कि सख्त लॉकडाउन होना चाहिए और लगभग इतने ही लोगों ने कहा अभी नहीं होना चाहिए और अगर लॉकडाउन की आवश्यकता भी पड़े तो सभी छोटे व्यावसायियों की रोजी-रोटी के व्यवस्था कर बंद करना चाहिए। सिर्फ बड़े और धनाढ्य व्यापारियों की दिशा निर्देश या अपील से शहर बंद नहीं करना चाहिए। ज्यादातर व्यापारियों ने कहा कि कोरोना का जब तक दवा नहीं मिल जाता तब तक प्रशासन को इसके चैन तोडऩे के लिए वैकल्पिक व्यवस्थाओं पर भी विचार करना चाहिए।

पब्लिक वॉइस के रोहित सिंह आर्य, हरीश पारेख, परमेश राजा, गोपाल तीरथानी और मितेश पाणिग्रही ने कहा कि पब्लिक वॉइस द्वारा गूगल फार्म के जरिये तालाबंदी को लेकर किये गए एक सर्वे में भी लगभग मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली है जिसमें 55 फीसदी तालाबंदी के पक्ष में है और 40 फीसदी इसके विरोध में है और शेष असमंजस में होने की बात कही।

सदस्यों ने कहा कि सर्वे लगतार जारी है। श्री आर्य ने इस विषय में कहा है कि लॉकडाउन गरीबों और रोज कमा कर रोज खाने वालों के जरूरतों को ध्यान में रख कर किया जाना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि बड़े व्यापारियों तालाबंदी से कोई खास फर्क नहीं पड़ेगा लेकिन छोटे, मझोले और फुटकर व्यापारियों को इससे चौतरफा मार झेलना पड़ जाता है। अत: इस बार लॉकडाउन हो तो उक्त छोटे व्यापारियों को केंद्र में रख कर फैसला करना चाहिए।

सदस्यों ने आगे कहा कि जल्द सभी तथ्यों को लेकर कलेक्टर से मिलने जाएंगे और उन्हें जनता की मनसा से अवगत कराएंगे।


20-Sep-2020 8:25 PM

 

जगदलपुर, 20 सितंबर। हरियाणा प्रांत के रोहतक निवासी विजेंद्र सिंह 26 जुलाई से अपने मोटरसाइकिल पर भारत भ्रमण के लिए निकले हैं। वे शनिवार को जगदलपुर पहुंचे स्थानीय एनएमडीसी चौराहे पर भारत ज्ञान विज्ञान समिति के जिला संयोजक मनोज जोशी के नेतृत्व में उनका स्वागत किया गया।

     इस दौरान उन्होंने बताया कि वह 26 जुलाई से रोहतक हरियाणा से मोटरसाइकिल यात्रा शुरू करते हुए दिल्ली, उत्तरप्रदेश, बिहार, झारखंड, बंगाल, ओडिशा और आंध्रप्रदेश का भ्रमण करते हुए शनिवार की शाम जगदलपुर पहुंचे हैं यहां से मध्यप्रदेश, राजस्थान होते हुए हरियाणा पहुंचेंगे। इस दौरान उनके काफी समर्थक उनसे जुड़े हैं। 

उनके आग्रह पर भ्रमण की दूसरी पारी उन सभी के साथ शुरू करेंगे, लेकिन पंजाब प्रदेश का वह अकेले ही भ्रमण करेंगे और अपने संदेश जन-जन तक पहुंचाएंगे। 

उन्होंने अपने भारत भ्रमण के उद्देश्य के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना काल में देश में काफी लोग बेरोजगार हो गए हैं उनमें से कई डिप्रेशन में आकर आत्महत्या कर रहे हैं ऐसे लोगों को उन्होंने धैर्य रखते हुए समस्या से जूझने का आव्हान किया है और कहा है कि शीघ्र ही इस समस्या का हल निकलेगा और इसके लिए हम सभी को मिलकर प्रयास करना चाहिए उन्होंने अपना दूसरा संदेश किसान बचाओ खेत बचाव और तीसरा संदेश शिक्षा स्वास्थ्य की सुविधा गुणवत्ता के साथ लोगों को मिले और यह दोनों पूर्ण रूप से शासकीय सेवा घोषित हो उन्होंने शासकीय संस्थानों के निजी करण का भी विरोध करते हुए लोगों को जागरूक करने की बात कही। 

उन्होंने बताया कि इस लंबी यात्रा में लगभग 19 हजार लोगों से संपर्क कर यह संदेश जन-जन तक पहुंचाने का प्रयास किया है। उन्होंने बताया कि बेरोजगारी दूर करने के लिए सरकार को कर्ज पर ब्याज कम करना चाहिए शासकीय विभागों में रिक्त पदों पर नियुक्ति होनी चाहिए जिससे शासकीय विभागों का कार्य सही ढंग से संचालित हो सके क्योंकि वर्तमान में शासकीय विभागों में कर्मचारियों की काफी कमी है 1990 में आबादी के अनुसार 10 फीसदी शासकीय कर्मचारी थे जो वर्तमान जनसंख्या के आधार पर 15 फीसदी होना चाहिए। उन्होंने युवाओं से आवान किया है कि  सोशल मीडिया के माध्यम से  अपने स्वयं के  समस्या  के साथ ही क्षेत्र की समस्याओं को उजागर करना चाहिए । जिसके माध्यम से हमारी आवाज सरकार तक पहुचे और समस्याओं का निराकरण हो सके। 

इस लंबी यात्रा में परेशानियों के संबंध में 'छत्तीसगढ़Ó संवाददाता द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि मथुरा के एचपी पैट्रोल पंप में उन्होंने पेट्रोल भर आया था लेकिन पेट्रोल की जगह पानी दिया गया और आगरा पहुंचने से पहले ही उनकी मोटरसाइकिल की इंजन सीज हो गई। लोगों की मदद से मोटरसाइकिल एजेंसी पहुंचाया गया जहां पर केवल सामान का पैसा लिया गया और सर्विसिंग चार्ज नहीं ली गई। पेट्रोल पंप की शिकायत कर मैं यात्रा में आगे बढ़ गया। 

दूसरी परेशानी बिहार से लगे ओडिशा क्षेत्र के हाथी कुंड कस्बा के पास स्थित गांव मवाना में रास्ते भर महिलाएं गाय चरा रही थी खेतों में काम कर रही थी या कपड़ा धो रही थी, इसी हालत में नजर आई लेकिन मवाना में कुछ लड़कियां हाथों में किताब लिए देखें जिस से प्रभावित होकर उनसे बात करने और एक फोटो लेने का प्रयास किया जिसके चलते कुछ स्थानीय लोगों ने मुझे घेर लिया और मेरे साथ दुव्र्यवहार करने लगे मैं वहां से किसी तरह बचकर निकल गया, बाकी छोटी-मोटी परेशानियां तो यात्रा में होती रहती है।


20-Sep-2020 8:24 PM

जगदलपुर/बकावंड, 20 सितम्बर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर आज सेवा सप्ताह के रूप में बकावंड मंडल में मंडल अध्यक्ष धनुर्जय कश्यप के नेतृत्व में एवं मंडल उपाध्यक्ष हेमकांत ठाकुर, बलराम बेसरा के सहयोग से स्वास्थ्य केंद्र पंडानार में पौधारोपण कर एवं बुजुर्गों को सेवा सप्ताह के रूप में कंबल भेंट कर सम्मान किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से भाजपा जिला महामंत्री रामाश्रय ठाकुर ,जिला पंचायत के उपाध्यक्ष मनीराम कश्यप, जोगेंद्र चंद्राकर ,जितेंद्र पानीगही, वेद प्रकाश पांडे,रोहित त्रिवेदी, सत्य प्रकाश गुप्ता, पितांबर बिसाई, रघु सेठिया ,बंशीधर कश्यप ,सुनील सेठिया, दामोदर बघेल, सामू राम कश्यप ,बनसा कश्यप, श्याम सुंदर, लक्ष्मण कौशिक, जेपी कश्यप, सनत कुमार एवं ग्रामीण जन उपस्थित थे।


20-Sep-2020 8:19 PM

जगदलपुर, 20 सितंबर। नगरनार इस्पात संयंत्र के प्रभावित किसान और मजदूर संगठन द्वारा एनएमडीसी इस्पात संयंत्र को निजी हाथों में सौंपे जाने का विरोध करते हुए प्रदर्शन जारी है। इस दौरान संगठन के पदाधिकारियों ने बताया कि 18 सितम्बर को एनएमडीसी प्रबंधन और ऑल इंडिया एनएमडीसी वर्कर फेडरेशन की वर्चुवल ज्वाइंट मीटिंग में एनएमडीसी के डायरेक्टर फायनेंस अमिताभ मुखर्जी ने स्पष्ट किया कि अगले 6 से 8 माह में एनएमडीसी से नगरनार स्टील लिमिडेट (एनएसएल) को अलग (डीमर्ज) करने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। डायरेक्टर फायनेंस के द्वारा दिए गये बयान के बाद नगरनार में एक बार फिर बैचेनी बढ़ गई है और जानकारी मिलने के बाद मजदूर संगठनों ने विरोध स्वरूप डायरेक्टर फायनेस और बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के खिलाफ भी नारेबाजी की गई। 


20-Sep-2020 8:18 PM

जगदलपुर, 20 सितम्बर। प्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर भाजपा के पूर्व विधायक संतोष बाफना ने राज्य सरकार पर कोरोना संक्रमण रोकने की दिशा में प्रभावी तरीके से काम न करने एवं स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर अनदेखी एवं लापरवाही का आरोप लगाया है।

 पूर्व विधायक ने कहा है कि प्रदेशभर में जिस गति से कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से उछाल आया है उससे प्रदेश सरकार की कार्यशैली को देखकर ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि सरकार द्वारा वायरस को रोकने या नियंत्रित करने के लिए कोई भी उपाय पर ध्यान ही नहीं दिया जा रहा है। कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार ने किसी भी प्रकार के रोडमैप पर काम ही नहीं किया। सरकार ने शुरूआत से ही कोरोना से निपटने की कोई ठोस योजना नहीं बनाई। सिर्फ सप्ताह में एक दिन लॉकडाउन जैसे फैसलों से साफ है कि वह तय नहीं कर पाये कि संक्रमण को रोकने के लिए क्या करना चाहिए। इसी का नजीता है कि पूरे ही प्रदेशभर में लगातार कोरोना संक्रमण के मामलों में इजाफा हो रहा है। संक्रमण की लगातार बढ़ रही संख्या साफ इशारा कर रही है कि, पूरे प्रदेशभर में हालात संगीन होने वाले हैं लेकिन कांग्रेस सरकार की तैयारियां नाकाफी नजऱ आ रही है। मरीजों की संख्या में उतरोत्तर वृद्धि प्रदेश सरकार की विफलता को सिद्ध कर रही है।

 श्री बाफना ने आगे कहा है कि राज्य में सरकार की लापरवाह व हांफती व्यवस्था के कारण ही कोरोना संक्रमण से यह लड़ाई अब और भी ज्यादा कठिन दौर में पहुंचती जा रही है। दिक्कत तो यह है कि इस लड़ाई में सरकार की जो कमियॉ पहले दिन दिख रही थी, वो आज भी बदस्तूर जारी है। लचर स्वास्थ्य जागरूकता, अपर्याप्त चिकित्सा अनुसंधान, अपर्याप्त स्वास्थ्य बजट के कारण महामारी से निरंतर बढ़ती संख्या खतरे की घंटी की तरह बज रही है। लेकिन सरकार की कानों में जू तक नहीं रेंग रही है। साथ ही छत्तीसगढ़ कृषि पर आधारित राज्य है और यहां की अधिकतर जनसंख्या ग्रामीण क्षेत्रों में ही निवास कर करती है। वहीं, अपेक्षाकृत तौर पर कोरोना संक्रमण का कम असर देखा जाना चाहिए था किन्तु शहरों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र भी इस महामारी से बहुत ही बुरी तरह से प्रभावित हो रहे है।

दूसरी ओर, राज्य के निजी अस्पतालों में भी संक्रमित मरीजों के ईलाज के नाम पर खाना पूर्ति हो रही है। और कोरोना संक्रमित मरीजों के ईलाज के लिए अपनी व्यवस्था दुरूस्त करने के की बात कह कर निजी अस्पताल प्रबंधन अपना पल्ला झाड़ रहे है। सरकार की ओर से बार-बार जारी होने वाले दिशा-निर्देशों के बावजूद निजी अस्पतालों में हालत सुधरने की बजाय लगातार बिगड़ रही है।

  पूर्व विधायक श्री बाफना ने सरकार को आने वाली परिस्थितियों से आगाह करते हुए कहा है कि परिस्थितियॉ और भयावह न हो जाए इसके लिए सरकार को संक्रमित मरीजों की समय रहते पहचान करने संबंधित कारगर कदम उठाकर प्रदेशभर में व्यापक स्तर पर लॉकडाउन करने का निर्णय लिया जाना चाहिए। व संक्रमण से नियंत्रण के उपायों पर काम करने व जनता को जागरूक करने के लिए लगातार जन जागरूकता कार्यक्रम चलाने के लिए सभी सामाजिक संघ-संगठनों व व्यापारियों एवं सभी वर्गों के साथ मिलकर आवश्यक सुझाव भी आमंत्रित किये जाने चाहिए। इसके अलावा डॉक्टर, नर्स, पुलिस कर्मी, सफाई कर्मी जो बड़ी संख्या में महामारी के चपेट में आये हैं, सरकार को अपने प्रयासों से इस लड़ाई में उन सभी मनोबल बनाए रखना है क्योंकि इस लड़ाई में जीत हमें इन्हीं की बदौलत मिलनी है।


20-Sep-2020 8:17 PM

जगदलपुर, 20 सितम्बर। कलेक्टर रजत बंसल के निर्देशानुसार प्रभारी खनिज अधिकारी हेमंत चेरपा के मार्गदर्शन में जिला खनिज जांच दल द्वारा 17 सितंबर को बस्तर जिले के तारापुर, बजावंड एवं जगदलपुर क्षेत्र में आकस्मिक निरीक्षण दौरान गौण खनिज चूना पत्थर के 1 वाहन तथा रेत के 2 वाहन कुल 3 वाहन अवैध परिवहन करते पाये जाने पर परिवहनकर्ताओं के विरूद्ध खनिज का अवैध परिवहन का प्रकरण दर्ज किया गया।

ग्राम तारापुर तहसील बकावण्ड के भस्कली नदी पर रेत के अवैध उत्खनन की शिकायत के आधार पर 17 सितम्बर को प्रात: 4 बजे जांच की गई, मौके पर रेत उत्खनन नहीं पाया गया परन्तु प्रथम दृष्टया संदेह के आधार पर ग्राम तारापुर के नदी घाट से दूर पुजारी पारा के पास लावारिस हालात में खड़ी चेन माउन्टेन पोकलेन मशीन को जब्त किया गया है तथा तीन दिवस के भीतर इस कार्यालय में जवाबदावा प्रस्तुत करने हेतु नोटिस वाहन में चस्पा किया गया है एवं: अग्रिम कार्यवाही हेतु छानबीन प्रक्रियाधीन है।

अवैध परिवहन के कुल 3 प्रकरण को बिना वैध अभिवहन पास के चालकों द्वारा खनिजों का परिवहन करते पाये जाने पर खनिज मय वाहनों को जब्त किया गया। 


20-Sep-2020 8:08 PM

जगदलपुर, 20 सितम्बर। कोविड-19 के प्रति लोंगों में जागरूकता फैलाने के लिए जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में रविवार को जगदलपुर शहर के लालबाग क्षेत्र में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

कार्यक्रम में कलेक्टर रजत बंसल,पुलिस अधीक्षक दीपक झा और जिला पंचायत सीईओ इंद्रजीत चन्द्रवाल ने लाल बाग मैदान के पास अस्थाई बाज़ार में कोविड जागरुकता कार्यक्रम अन्तर्गत एनएसएस के स्वयंसेवक, युवोदय वालिंटियर्स, पुलिस के अधिकारियों और नगर निगम और अन्य विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ बाज़ार स्थल का दौरा कर लोगों को मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंस का पालन करने हेतु प्रेरित किया। 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों की देखभाल कर रहे शिक्षकगण से चर्चा कर होम आइसोलेशन में सहयोग की अपील की। 

इस अवसर पर बीकेटी संस्था के द्वारा जिला प्रशासन को 100 पीपीई किट दान किया गया। स्वयं सहायता समूह द्वारा निर्मित मास्क को एनएसएस के स्वयंसेवकों को दिया गया जिसे वो मास्क नहीं पहनने वालों को जुर्माना की जगह विक्रय कर रहे है। युवोदय के वालिंटियर्स द्वारा नुक्कड़ के माध्यम से कोरोना के प्रसार को रोकने हेतु बाज़ार में उपस्थित लोगों को सन्देश दिया गया। वालिंटियर द्वारा कोरोना रोकथाम संबंधी वाल पेंटिंग भी किया गया। 

कार्यक्रम के दौरान कोविड जागरुकता रथ से लोक कलाकारों ने नारा उद्बोधन कर लोगों से कोरोना वायरस से बचाव की जानकारी दी। इस अवसर निगम आयुक्त प्रेम पटेल, डीएमसी अशोक पांडेय सहित अन्य लोग शामिल हुए।


19-Sep-2020 9:25 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जगदलपुर, 19 सितम्बर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने बस्तर में लगातार बढ़ते नक्सली वारदातों पर चिंता  व्यक्त करते हुए कहा कि लगातार नक्सलियों के बढ़ते खौफ से आमजन भयभीत है। प्रदेश की सरकार द्वारा नक्सलियों के खिलाफ कारगर कार्रवाई नहीं करने से नक्सली अब सड़क पर आ गए हंै। बस्तर संभाग मुख्यालय के कुछ ही दूरी  पर नक्सली पर्चा लगाकर और लगातार आम लोगों को अगवा, तैनात जवान सहित वन अधिकार का  हत्या कर दहशत फैल रहे हैं। अब लगता है एक तरह से नक्सली मसलों पर प्रदेश की सरकार बैकफुट पर है। नक्सली मोर्चे के साथ ही हर मोर्चे पर असफल प्रदेश की सरकार इस मुद्दे पर जवाब नहीं दे पा रही है।

उन्होंने कहा कि बीजापुर में एक वन परिक्षेत्र अधिकारी की हत्या के बाद एक जवान की हत्या हो जाती है। इस तरह के बढ़ते वारदातों से अधिकारियों व कर्मचारियों के मनोबल पर असर पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि नक्सलियों द्वारा बीजापुर जिला में अगवा कर एक जवान की हत्या करके अपने कुत्सित मंशा प्रकट किया है। इस तरह के कई वारदातों को लगतार अंजाम दे रहे हैं। इन सब के बाद भी प्रदेश की सरकार नक्सलियों को करारा जवाब देने में नाकाम है। यही कारण है कि नक्सली बिना भय वारदातों को अंजाम देने में जुटे हैं।

उन्होंने कहा कि नक्सलवाद की समस्या को गैर राजनीतिक तौर पर  देखने की जरूरत है। जब प्रदेश में भाजपा की सरकार थी, तब सुरक्षा आवश्यकता के अनुरूप सबको दी गयी थी, लेकिन जब से कांग्रेस की सरकार प्रदेश में आई है, नक्सली मसले को सियासी चश्में से देख रही है। जिसके कारण भय का वातावरण अधिक है।

नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि बदले की कार्रवाई के तौर पर भाजपा के कई पूर्व विधायकों व नक्सल प्रभावित इलाके के जनप्रतिनिधियों की सुरक्षा बिना समीक्षा किये हटा दी गई है। एक तरफ जहां लगातार नक्सलियों का खौफ बढ़ता जा रहा है। वहीं कोई अप्रिय स्थिति निर्मित होती है तो इसके लिये जवाबदार कौन होगा। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के मसले पर प्रदेश सरकार को पत्र भी लिखा गया है। इस पर अब तक कोई आवश्यक कार्रवाई नहीं की गई है।


19-Sep-2020 9:25 PM

जगदलपुर, 19 सितंबर। आए दिन कोविड-19 अस्पताल में मरीजों को दिए जाने वाले भोजन को लेकर शिकायतें मिल रही थी। इसकी वास्तविकता की जांच करने के उद्देश्य से स्थानीय विधायक एवं संसदीय सचिव रेखचन्द जैन  डीमरापाल मेडिकल कॉलेज के कोविड-19 अस्पताल के मरीजों एवं स्टाफ  को दिए जाने वाले भोजन का स्वाद चखा। भोजन में दाल रोटी चावल और खिचड़ी का स्वाद लिया। भोजन के संबंध में डाइटिशियन ने जानकारी भी दी। श्री जैन ने भोजन में और क्या सुधार किया जा सकता है, इस पर चर्चा कर बताने के बात कही ।


19-Sep-2020 9:24 PM

जगदलपुर, 19 सितम्बर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70वें जन्मदिन के अवसर पर जारी सेवा सप्ताह के अंतर्गत आज  जगदलपुर शहर के अटल बिहारी बाजपेयी वार्ड, प्रवीरचंद भंजदेव वार्ड और लोकमान्य तिलक वार्ड में आम, अमरुद, बादाम आदि के पौधे रोपे गए। इन वार्डों में पांच पांच पौधों का रोपण सामाजिक दूरी का पालन करते हुए किया गया। जिसकी देखरेख की जिम्मेदारी का दायित्व पार्षद को सौंपा गया है। पौधरोपण में शक्ति केंद्र प्रभारी संतोष त्रिपाठी, पूर्व अध्यक्ष श्रीधर ओझा,युवा मोर्चा जिला उपाध्यक्ष राकेश तिवारी, पार्षद शम्भु नाग, महेंद्र पटेल, भुवनेश्वर ध्रुव, समरथ भास्कर, गंगोत्री एवं वार्डवासी आदि शामिल रहे।


19-Sep-2020 9:20 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जगदलपुर, 19 सितम्बर। विकासखंड जगदलपुर के ग्राम बिरिंगपाल में संचालित सहकारी मर्यादित विपणन केंद्र मंडी में कार्यरत 17 महिलाओं को अकारण काम से निकालने का आरोप है। इसकी शिकायत जनपद अध्यक्ष अनीता पोयाम के पास पहुंचीं। मामले की वास्तविक जानकारी लेने सहकारी मर्यादित विपणन केंद्र बिरिंगपाल जाने पर वहां की महिलाओं ने अपनी आपबीती बताई।

अपने कथन में महिलाओं ने आरोप लगाया कि मंडी प्रबंधक के द्वारा यहां की महिलाओं से घरेलू काम लिया जाता है । यहां की महिलाओं को सुबह 6 बजे बुलाया जाता है व घर में काम कराया जाता है उसके बाद सुबह 9 से शाम 6 बजे मंडी में काम कराया जाता है। घर का खाना भी यहां की महिलाओं से बनवाया जाता है व बर्तन, झाड़ू ,पोछा सारे कार्य कराए जाते हैं जिसके कारण महिलाओं को घर के सदस्यों के समक्ष शर्मिंदा होना पड़ रहा है। महिलाओं के द्वारा मना करने पर उन्हें काम से निकाल देने की धमकी दी जाती है। इतना सहन करने के बाद भी यदि कार्य में कुछ गलती हो गई तो गाली गलौज की जाती है जिससे यहां की महिलाओं का मनोबल गिर रहा है एवं शोषित महसूस कर रही हैं।

जनपद अध्यक्ष  अनीता पोयम की मौजूदगी में भी मंडी प्रबंधक के द्वारा यहां काम कर रही महिलाओं को धमकी दी जा रही थी। जिसे सुन जनपद अध्यक्ष अनीता पोयम ने भी मंडी प्रबंधक को फटकार लगाई।

इस दौरान यहां ग्राम पंचायत की सरपंच  रचना ,ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष  लक्ष्मी कश्यप,  चंद्रिका, मुन्नी बाई, गौरी, हनी, चमेली कलावती ,जमीला, पार्वती, मंजिला आदि मौजूद रहे।


19-Sep-2020 9:19 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

भानपुरी, 19 सितंबर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर भाजपा एवं भाजयुमो मंडल भानपुरी के द्वारा सिविल अस्पताल भानपुरी में फल, बिस्किट, सेनिटाइजर, मास्क का वितरण मरीजों को किया गया। कोरोना महामारी के चलते अस्पताल के अधिकारियों के माध्यम से मरीजों तक फल पहुंचवाया गया। इस अवसर पर  पूर्व मंत्री  केदार कश्यप, मण्डल के अध्यक्ष संतोष बघेल, जिला पंचायत सदस्य निर्देश दिवान, भाजयुमो अध्यक्ष प्रवीण सांखला, तुलसु कश्यप, रमेश दिवान, महेश कश्यप, घनश्याम पान्नीग्राही आदि उपस्थित रहे।


19-Sep-2020 9:18 PM

जगदलपुर, 19 सितम्बर। बस्तर विश्वविद्यालय के कुलसचिव द्वारा संबद्ध सभी महाविद्यालयों के प्राचार्यो को 17 सितंबर को पत्र के माध्यम से यह जानकारी दी गई है कि वार्षिक परीक्षा 2020 एवं सेमेस्टर परीक्षा जनवरी से जून 2020 के लिए प्रश्न पत्र एवं उत्तर पुस्तिकाओं के वितरण एवं जमा किए जाने के निर्देश को स्थगित किया गया है। साथ ही यह जानकारी दी गई है कि अब परीक्षार्थियों को प्रश्न पत्र एवं उत्तर पुस्तिका बस्तर विश्वविद्यालय के वेबसाइट पर ऑनलाइन उपलब्ध हो सकेगा और इसके लिए शीघ्र ही बस्तर विश्वविद्यालय के वेबसाइट पर विस्तृत जानकारी भी उपलब्ध कराई जाएगी।


19-Sep-2020 9:16 PM

भरी बरसात में 15 किमी पैदल चलकर बास्तानार के अंतिम गांव पहुंचे चित्रकोट विधयक

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जगदलपुर, 19 सितम्बर। बरसात में पहाड़ी नाला, जंगलों एवं खेतों को पार कर लगभग 15 किलोमीटर की दूर पैदल यात्रा कर चित्रकोट विधायक राजमन बेंजाम बास्तानार विकासखंड के अंतिम ग्राम पंचायत वहानपुर और करनंगली पहुंचे और पंचायत भवन का भूमिपूजन किया तथा विकास कार्यों का जायजा लिया।

भौगोलिक रूप से पठारी क्षेत्र एवं जंगलों से घिरा बास्तानार विकासखंड जहां गांव तथा आबादी भी दूर-दूर बसी हुई है। ऐसे क्षेत्र में सरकार की योजनाओं तथा मूलभूत सुविधाओं को पहुंचाना किसी चुनौती से कम नहीं है। पर चित्रकोट विधायक राजमन बेंजाम इस क्षेत्र के विकास हेतु कृत संकल्पित हैं और लगातार क्षेत्र का दौरा कर लोगों की समस्या से रूबरू हो रहे हैं तथा उसके समाधान का रास्ता भी निकाल रहे हैं। इसी क्रम में विधायक ने सुदूरवर्ती नक्सली प्रभावित वहानपुर और करनंगली का दौर कर पंचायत भवन का भूमिपूजन किया और विकास कार्यों का जायजा लिया।

इस अवसर पर विधायक राजमन बेंजाम ने कहा कि अंतिम ग्राम पंचायत का विकास भी हमारी सरकार तथा प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्राथमिकता है और इस हेतु हम कृतसंकल्पित हैं। इस सूदूर अंचल तक पैदल आने का कारण रोड तथा पुल पुलिया की स्थिति जानना चाहता था। मैंने अधिकारियों को इस मार्ग के सर्वे के लिए भी निर्देश दिए हैं।

इस अवसर पर विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम के साथ बुधराम कवासी जनपद सदस्य,सोमड मंडावी सरपंच संघ अध्यक्ष, लक्षमण बेको सरपंच वुहानपुर, शंकर बेको सरपंच करनंगली, लखमो कवासी सरपंच बोदेनार, फूलमती मंडावी सरपंच कालागुडा बली गावड़े उपसरपंच तुरांगुर ,मनकू मुच्छाकी उप सरपंच,चंद्र शेखर ठाकुर, देवेन्द्र पोडियाम , लक्ष्मण कर्मा,दुल्लो मुचाकी,नन्नू पोयाम, रविन्द्र मरकाम, मंदर गोयल,प्रदीप बेको, मेहतर नाग, सुरेन्द्र बेको,, जितेंद्र चौहान,सुदरु पोयामा आदि उपस्थित रहे।


19-Sep-2020 9:15 PM

जगदलपुर, 19 सितम्बर। भारतीय जनता पार्टी द्वारा  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70वें जन्मदिन को सेवा सप्ताह के रूप में मनाया जा रहा है। इसी कड़ी में आज भाजपा जगदलपुर द्वारा शहर में 750 से अधिक फलदार एवं पुष्प के पौधों को रोपित किया गया। भाजपा नगर अध्यक्ष राजेन्द्र बाजपेयी ने बताया, हमने अपने समस्त कार्यकर्ताओं से ये अपील की थी कि मोदी जी के 70वें जन्मदिन को यादगार बनाने प्रत्येक कार्यकर्ता अपने अपने घरों के सामने, बगीचे में, छत पर अथवा सार्वजनिक स्थानों पर 'एक पौधा मोदी जी के नामÓ अवश्य लगाएं। विगत दो दिनों से हमने भाजपा कार्यालय से नगर में प्रत्येक वार्ड के कार्यकर्ताओं को पौधे वितरित किए। आज हमारे नगर के समस्त वरिष्ठ एवं कनिष्ठ भाजपा कार्यकर्ताओं ने पौधारोपण कर कार्यक्रम को सफल बनाया। इस अवसर पर भाजपा कार्यालय जगदलपुर में भी अशोक के 11 पौधे लगाए गए।  नगर अध्यक्ष राजेन्द्र बाजपेयी के नेतृत्व में सम्पन्न हुए,आज के इस कार्यक्रम में मनोहर दत्त तिवारी, आर्येन्द्र सिंह आर्य, बबलू दुबे, शशिनाथ पाठक, बन्टू पाण्डेय एवं सुरेश कश्यप ने महत्वपूर्ण दायित्व निभाया।


19-Sep-2020 9:14 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जगदलपुर, 19 सितंबर। बस्तर संभागीय दिव्यांग विकास संघ ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा और बस्तर संभाग में संचालित दृष्टि एवं श्रवण बाधित विद्यालय में शिक्षकों की कमी दूर करने की मांग की है। उक्त जानकारी  संघ के सचिव जगधर राम कश्यप ने शुक्रवार की दोपहर स्थानीय पत्रकार भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान दी।

उन्होंने बताया कि नेत्रहीन कन्या छात्रावास जोआन्ना वालों में बनकर तैयार है। दृष्टि एवं श्रवण बाधित छात्रावास को 50 सीटर से बढ़ाकर 100 सीटर किया जाए। शासकीय दृश्य एवं श्रवण बाधित आरती विद्यालय को शिक्षा विभाग में संविलियन कर दिया जाए, क्योंकि समाज कल्याण विभाग द्वारा कभी भी शिक्षकों की भर्ती पर गंभीरता से विचार नहीं किया गया है। इस विद्यालय के शिक्षकों का निरंतर जगदलपुर से रायपुर स्थानांतरण भी चलता रहता है, जिससे भी बच्चों की पढ़ाई प्रभावित होती है. वर्तमान में भी एक-एक शिक्षक हैं इनके माध्यम से दसवीं तक के विद्यालय की कक्षाओं को कैसे संचालित किया जा सकता है।

बस्तर संभाग दिव्यांग संघ के सचिव ने बेरोजगार दिव्यांगजनों को रोजगार प्राप्त कराने के लिए बस्तर संभाग में विशेष भर्ती अभियान चलाने की मांग की है। उन्होंने यह भी मांग की है कि कोविड-19 के तहत दिव्यांग जनों के परिवारजनों को अधिक क्षति हुई है उन्हें आर्थिक सहायता दी जाए. दिव्यांग पेंशन योजना के तहत दी जाने वाली राशि 350 को बढ़ाकर 15 सौ रुपए की जाय। पत्रकार वार्ता के दौरान संघ के सदस्यगण श्रीकांत पांडे मुन्नालाल और प्रेम राम बघेल उपस्थित थे।


19-Sep-2020 3:06 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जगदलपुर, 19 सितंबर।
सुरक्षा बल के जवानों पर ग्रामीणों को प्रताडि़त करने का आरोप लगाते हुए किष्टाराम एरिया कमेटी माकपा माओवादी पार्टी ने पहली बार वीडियो और प्रेस नोट जारी किया है। 

किष्टाराम एरिया कमेटी ने प्रेस नोट में कहा है कि केन्द्र-राज्य सरकार समन्वय में क्रांतिकारी आंदोलन को खत्म करने के लक्ष्य से समाधान रणनीति अभियान को अंजाम दिए जा रहे हैं। पुलिस अर्ध सैनिक बलों व डीआरजी गुण्डों ने संयुक्त रूप से गश्ती सर्चिंग के दौरान गांवों पर हमला कर जनता के धन साल को लूटकर नुकसान पहुंचाना, निर्दोष लोगों को पकडक़र मारपीट करना जेलों में ठूसना, महिलाओं के अमानवीय व्यवहार करना सशक्त बल के लिए साधारण बात हो गई। लोन वराटु अभियान के तहत हमारे पार्टी के कार्यकर्ताओं को कमजोर कर पार्टी व आंदोलन से अलग करने के लक्ष्य से इस अभियान को चलाया जा रहा है। 

आगे कहा कि सुकमा जिले के किष्टाराम थाना अंतर्गत बेरमाजोड़ी गांव से 7 सितम्बर को हमला कर आम जनता का तीर, धनुष, टंगिया को लूट कर ले गए। वापस जाने वक्त पुलिस कोमालपाड़ में दुधी जोगा, हुंगा इन लोगों को कैम्पों में यातना दे रहे हैं। इनके मात्र दुधी कोसी, कोवासी हड़मे, मडक़ाम जोना, मडक़ाम मंगड़ी, मडक़ाम पोज्जे, वंजाम मुय्ये, पूनेम मूखे और माड़वी बीड़े पर पुलिस बलों द्वारा कुत्ते छोड़ दिए गए जिसमें दो महिला गंभीर रूप से घायल हुई हैं। 

9 सितंबर को भेज्जी एनाडमडगु कैम्प से डीआरजी सीआरपीएफ पुलिस बलों ने एताम गच्चनपल्ली गांवों का रात 3 बजे घेराव कर हमला किए, इसमें 6 लोगों की पिटाई की गई। अगस्त 18 को किष्टाराम थाना कैम्प से डीआरजी बलों ने दोकपाड़ गांव में हमला कर लाइट इत्यादि सामान लूटा गया है। इसके पहले 1 अगस्त को कोमालपाड़ गांव को घेरकर हमला किया गया। इसमें माड़वी पाण्डु सोडी भीमा मडक़म लखमा पाण्डु को जबरदस्ती आत्म समर्पण करवाकर छोड़ा गया। माडवी पाण्डु मोड़ी भीमा की बेदम पिटाई कर जेल में ठूसा गया है। 

2020 मार्च में कोरोना महामारी के चलते आम जनता को लॉकडाउन के नाम से सडक़ों पर पिटाई करना, लोकल बाजारों को बंद करवाकर जनता के राशन पानी पर रोक लगाना, लॉकडाउन करना, पुलिस बलों को बिना रोकथाम का राशन पानी पहुंचाना उनके लिए लॉकडाउन नहीं है। दूसरी तरफ जनता पुलिस दमन से जूझ रही है।

इस पुलिस दमन को नेतृत्व किए मडक़म मुदराज आयना पेंटा, अर्जुन (कुडमा) नवीन रामा जैसे खुंखार डीआरजी गुण्डों को कड़ी से कड़ी सजा भुगतना पड़ेगा।


18-Sep-2020 10:08 PM

जगदलपुर, 18 सितंबर। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी रजत बंसल ने आदेश जारी कर जिला स्तर पर बेहतर कोविड प्रबंधन और निगरानी के लिए महत्वपूर्ण वर्टिकल हेतु अधिकारियों को जिला स्तरीय नोडल अधिकारी के रूप में नियुक्त किया है। जिसमें अनुविभागीय अधिकारी राजस्व तोकापाल गीता रायस्त को डेडिकेटेड कोविड अस्पताल डिमरापाल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व जीआर मरकाम को कोविड केयर सेंटर्स धरमपुरा, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग हेतु जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग शैल ठाकुर और सैंपलिंग एवं टेस्टिंग के लिए डिप्टी कलेक्टर प्रवीण वर्मा को नोडल अधिकारी बनाया गया है। उक्त नोडल अधिकारियों द्वारा दिए दायित्व से संबंधित गतिविधियों कीे सतत मॉनिटरिंग कर समस्याओं के निराकरण हेतु जिला स्तर पर समन्वय का कार्य किया जाएगा।


18-Sep-2020 10:04 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जगदलपुर, 18 सितंबर। आज सुकमा जिला पंचायत अध्यक्ष कवासी हरीश लखमा के आह्वान पर एवं उनके सुकमा से नगरनार तक होने वाली पदयात्रा जन आवाज के समर्थन व नगरनार स्टील प्लांट के निजीकरण के विरोध में सुकमा, बस्तर, जगदलपुर, दरभा, नगरनार, नारायणपुर में ग्रामीणों ने मशाल रैली निकाली।

बस्तर जिले के जगदलपुर शहर में अल्ताफ उल्ला खान के नेतृत्व में डॉ. राजेंद्र प्रसाद वार्ड, गंगा नगर वार्ड, लोकमान्य तिलक वार्ड, क्षत्रपति शिवजी वार्ड, महाराणा प्रताप वार्ड, दंतेश्वरी वार्ड, कुशाभाऊ ठाकरे वार्ड, गांधी नगर वार्ड, संतोषी वार्ड,चन्द्रशेखर आजाद वार्ड, श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड,अटल विहारी बाजपाई वार्ड, गुरुगोविंद सिंग वार्ड, रवींद्रनाथ वार्ड मदनमोहन मंलवीय वार्ड महेंद्र कर्मा वार्ड, अब्दुल कलाम वार्ड ,शांति नगर, शहीद गुण्डाधुर वार्ड, महारानी वार्ड पंडरीपानी छोटू ध्रुव व दरभा में जनपद सदस्य मुन्ना लाल कश्यप के द्वारा विभिन्न पंचायतों में मामड्ड पाल, मुनगा, केलाउर पखनार, बिसपुर, चितापुर व नगरनार सरपंच लेखन बघेल के द्वारा मार्केल, माड़पाल, चोखवाड़ा, बामनी, कस्तूरी, उपनपाल, अमागुडा के ग्रामीणों ने मशाल रैली निकाली।

ग्राम पंचायत पुस्पाल से राजकुमार सेठिया व नारायणपुर जिला से अभिषेक बाजपाई के द्वारा केशरपाल, सालेमेटा, व बस्तर जिले के विभिन्न स्थानों पर मशाल जला कर नगरनार स्टील प्लांट निजीकरण करने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कहा गया कि बस्तरवासियों को धोखा देने का काम केंद्र की भाजपा सरकार कर रही है।

 इस दौरान छोटू धुव्र, खुर्शेदखान,पार्षद कमलेश पाठक, तरनजीत सिंह जिलासंयोजक सोशल मीडिया युवा कांग्रेस ,राहुल निराला, जितेश्वर धुव्र ,मुरारी,भरत,धन्नू सोनी,संतोष दत्ता, नंदलाल, सम्राट, सुमिस्ट, रूकेंद्र, सोनसाय, निहाल यादव,राजा ध्रुव,शुभम,राकेश प्रजापति, गणेश,रविन्द्र,लक्ष्मण पिल्ले, विकास, शिवलाल मण्डावी,रमेश बेट्टी, मासों,राजू मण्डावी, बलराम,रोशन,रूपधर, कितेन्द्र सेठिया,गंगाराम सेठिया,लिमधर नाग(पंच),राजूराम मौर्य, बाल सिंह,पांडुराम,संभु नाथ,जयसिंह, बाल सिंह,भोला बघेल,यंत्री ठाकुर,सँखनाथ,रघुवीर डोंगरे,राजवीर डोंगरे, रणजीत, आकाश,देवेंद्र नाथ एंव अन्य उपस्थित रहे।


18-Sep-2020 10:03 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जगदलपुर, 18 सितंबर। गांवों को मलेरिया मुक्त बनाने मच्छरों के लार्वा को घर-घर ढूंढकर विनिष्टिकरण किया जा रहा है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और जिला मलेरिया अधिकारी के निर्देशन में बस्तर जिले के दरभा, लोहण्डीगुड़ा और बास्तानार ब्लॉक के 100 से अधिक गांवों  में गोदरेज-एम्बेड परियोजना, फैमिली हेल्थ इंडिया के बीसीसीएफ, मितानिन दीदी, एएनएम, एमटी के द्वारा लोगों के घर-घर जाकर कोविड -19 के नियमों का पालन करते हुए परिवार के लोगों को मास्क लगाने, नियमित साबुन से हाथ धोने, दो गज की दूरी रखने के साथ ही बरसात के मौसम में मलेरिया और डेंगू जैसी मच्छरजनित बीमारियों से बचाव हेतु  घरों में रखे पुराने मटके, टायर, बर्तन आदि में जमा पानी और लार्वा को नष्ट किया जा रहा है और उसे पलटकर रखवाया जा रहा है, जिससे उसमें पानी जमा ना होने पाए, साथ ही घर में और घर के बाहर जमा  पानी में जला ऑयल या मिट्टी का तेल डलवाया जा रहा है और लोगों को समझाया जा रहा है कि जमा हुए पानी मे  हर 7 दिन में जला हुआ तेल डाले या उस पानी की निकाशी करे, लोगो को रोज रात में  सोते समय कीटनाशक मच्छरदानी लगाने, नीम पत्ती म धुंआ, अगरबत्ती, कॉइल आदि का उपयोग प्रतिदिन करने के लिए समझाया जा रहा है।            

 आईईसी के लिए फ्लिप बुक के माध्यम से परिवार के लोगों को बुखार, पेट दर्द, उल्टी,कपकपी, बदन दर्द होने पर 24 घंटे में ही मितानिन दीदी, एएनएम दीदी, उप स्वास्थ्य केंद्र पर मलेरिया का पता करने के लिए खून की जांच करवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

एम्बेड टीम के कार्यकर्ताओं द्वारा मितानिन दीदियों को मोबाइल के माध्यम से मलेरिया और डेंगू से संबंधित ई-मोड्यूल आधारित गोंड़ी और हल्बी भाषा में ट्रेनिंग दी जा रही है जिससे उनकी जानकरी को और बढ़ाया जा सके।