राष्ट्रीय

29-May-2020 12:14 PM

भोपाल, 29 मई। भोपाल में 22 नए कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1395 हो गई है।
भोपाल के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के अनुसार गुरुवार रात 22 रिपोर्ट पॉजीटिव आयीं। हालांकि 1242 रिपोर्ट निगेटिव भी आयीं। जिले में अब कोरोना संक्रमित 1395 हो गए हैं। जिले में 54 लोगों की मौत दर्ज हुई है।

क्लिक करें और यह भी पढ़ें : इंदौर में कोरोना संक्रमित 3300 पार, 126 मौतें, 1673 स्वस्थ

भोपाल में अब तक 903 कोरोना संक्रमित स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में एक्टिव केस यानी अस्पताल में उपचाररत लोगों की संख्या 398 है। 

शहर का जहांगीराबाद क्षेत्र सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। इस सघन आबादी वाले क्षेत्र में कोरोना संक्रमित काफी तादाद में मिले हैं। (वार्ता)


29-May-2020 12:13 PM

इंदौर, 29 मई । मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में'कोविड 19Óके 84 नये मामले आने के बाद यहां संक्रमितों की संख्या 3344 तक जा पहुंची है। वहीं एक महिला और तीन पुरुषों समेत चार की मौत दर्ज किये जाने के बाद मृतकों की संख्या 126 हो गयी है। अब तक 1673 संक्रमितों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी भी दी जा चुकी है।

क्लिक करें और यह भी पढ़ें : देश के तीन राज्यों में 57.42 फीसदी कोरोना संक्रमित

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने गुरुवार रात स्वास्थ्य बुलेटिन जारी कर बताया कि कल 1073 सैंपल जाँचे गये थे, जिसमें से 964 असंक्रमित और 84 संक्रमित पाये गये हैं। जबकि 583 नये सैंपल जांच के लिये प्राप्त किये गये हैं। सीएमएचओ ने बताया कि अब तक कुल 33477 जांच रिपोर्ट प्राप्त की गयी हैं, जिनमें से कुल संक्रमित 3344 पाये गये हैं। जबकि गुरुवार को एक 62 वर्षीय, 65 वर्षीय और 84 वर्षीय पुरुष तथा एक 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला समेत चार की मौत दर्ज किये जाने के बाद अब तक कुल 126 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। 

क्लिक करें और यह भी पढ़ें : राजस्थान में कोरोना संक्रमित 8158 पहुंची, दो मौतें

वहीं दूसरी तरफ गुरुवार को 118 रोगियों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दिये जाने के बाद अब तक कुल 1673 रोगियों को छुट्टी दी जा चुकी है। इसके अलावा 67 संदेहियों को संस्थागत क्वारेन्टाइन केन्द्रों से स्वस्थ होने पर छुट्टी दिये जाने के बाद अब तक कुल 2884 संदेहियों को छुट्टी दी जा चुकी है।(वार्ता)

 

 

 


28-May-2020

जयपुर, 28 मई । राजस्थान में 131 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आने के साथ ही इसकी संख्या बढकर आज 7947 पहुंच गयी तथा 179 लोगों की मौत हो गयी।

चिकित्सा विभाग की ओर से गुुरूवार सुबह जारी रिपोर्ट के अनुसार सबसे अधिक झालावाड में 69, पाली 13, भरतपुर में 12, जयपुर सात, चुरू में पांच, कोटा में आठ, झुंझुनू में सात, नागौैर में पांच, दौसा में चार, अजमेर में एक नया कोरोना संक्रमित मरीज सामने आया।

क्लिक करें और यह भी पढ़ें : भोपाल में 1398 हुए कोरोना संक्रमित

विभाग के अनुसार गुुरूवार को छह करोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गयी। इस जानलेवा विषा.ाु से अब तक राज्य में 179 लोगों की मौत हो गयी है। 

विभाग के अनुसार अब तक अजमेर में 311, अलवर में 51, बांसवाडा में 85, बारां मे आठ, बाडमेर में 92, भरतपुर में 165 भीलवाडा में 134, बीकानेर में 94, चित्तौडगढ में 175, चुरू में 90, दौसा 50, धौलपुर मे 45, डूंगरपुर में 332, श्रीगंगानगर में पांच, हनुमानगढ में 21, जयपुर में 1909, जैसलमेर में 68, जालोर में 154 झालावाड 204, झुंझुनू में 109, जोधपुर में 1311, बी,स,फ 48, करौली में 11, कोटा में 422, नागौर में 421, पाली मे 394 प्रतापगढ में 13 राजसमंद 135, सवाई माधोपुर में 19, सीकर में 164 सिरोही 141 टोंक में 163 उदयपुर में 523 संक्रमित मरीज सामने आये है।

क्लिक करें और यह भी पढ़ें :महाराष्ट्र-तमिलनाडु में अब तक 75493 संक्रमित, 2030 कोरोना-मौतें

विभाग के अनुसार अब तक तीन लाख 50 हजार 600 सैंपल लि, जिसमें से 7947,  पॉजिटिव तीन लाख 38 हजार 611 नेगेटिव तथा 3202 की रिपोर्ट आनी बाकी हैं। इसके अलावा राज्य में एक्टिव की संख्या 3202 है।(वार्ता)


28-May-2020

श्रीनगर, 28 मई। सुरक्षा बलों ने बुधवार रात दक्षिणी कश्मीर  के पुलवामा जिले में एक वाहन से शक्तिशाली विस्फोटक को बरामद किया जिससे एक  बड़े हमले की योजना विफल हो गयी।  आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

पुलिस  महानिरीक्षक (कश्मीर) विजय कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि  पुलवामा जिले की पुलिस, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और सेना की  सजगता और समय पर की गयी कार्रवाई से हमले की योजना विफल हो गयी।

श्री कुमार ने बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर पुलिस, सीआरपीएफ और  सेना ने कल रात करीब 21.30 बजे राजपोरा के समीप संयुक्त जांच चौकी स्थापित  की थी। इसी दौरान सुरक्षा बलों ने एक वाहन को रुकने का संकेत दिया, तभी  वाहन चालक ने गोलियां चलाई। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा बलों ने भी गोलियां चलायी। इस बीच वाहन चालक जांच चौकी से कुछ दूर वाहन को छोड़कर  अंधेरे का फायदा उठाते हुए भाग निकला। वाहनों की जांच में उसमें शक्तिशाली  विस्फोटक रखा पाया गया जो किसी बड़े हमले की योजना के तहत ले जाया जा रहा था। मौके पर पहुंचे बम निरोधक दस्ते ने विस्फोटक को  निष्क्रिय किया।

प्रारंभिक जांच में वाहन का नंबर फर्जी होने का खुलासा हुआ है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जरूरी तहकीकात कर रही है। (वार्ता)


28-May-2020

नयी दिल्ली, 28 मई । वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) महाराष्ट्र और तमिलनाडु में विकराल रूप घारण करती जा रही है और इन दोनों राज्यों में अब तक 75493 लोग इस जानलेवा विषाणु की चपेट में आ चुके हैं तथा 2030 लोगों ने जान गंवाई है। 

क्लिक करें और यह भी पढ़ें : भोपाल में 1398 हुए कोरोना संक्रमित

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से गुरुवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 6566 नये मामले सामने आये जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 158333 पर पहुंच गयी है। देश में इस संक्रमण से कुल 4531 लोगों की मौत हुई है तथा 67692 लोग स्वस्थ हुए हैं।(वार्ता)


28-May-2020

भोपाल, 28 मई। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 25 नए कोरोना संक्रमित मिलने के साथ संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1398 हो गयी है। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के अनुसार आज सुबह 800 लोगों की रिपोर्ट आयी। इसमें से 25 पॉजीटिव मिले हैं। इन सभी को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। शेष सैंपल निगेटिव पाए गए। 

क्लिक करें और यह भी पढ़ें :राजस्थान में कोरोना संक्रमित 7947, छह मौतें

भोपाल जिले में कल देर रात तक कोरोना पॉजीटिव की संख्या 1373 थी। जिले में अब तक 51 लोगों की मौत हो चुकी है और 872 संक्रमित संक्रमण से मुक्त होकर घर जा चुके हैं। आज भी यहां चिरायु अस्पताल से नौ मरीज स्वस्थ होकर घर लौटेंगे। अभी चार सौ से अधिक मरीजों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

राज्य के स्वास्थ्य संचालनालय की ओर से कल रात जारी किए बुलेटिन के अनुसार राज्य में संक्रमितों की संख्या 7261 हो गयी है। इनमें से 313 की जान नहीं बचायी जा सकी और 3927 संक्रमित स्वस्थ हो चुके हैं। एक्टिक केस लगभग तीन हजार बचे हुए हैं। (वार्ता) 


27-May-2020

कालापानी विवाद: नक्शे में बदलाव के संविधान संशोधन चर्चा को नेपाल ने टाला
राजनीतिक दलों ने कहा- पहले बने आम सहमति

काठमांडू, 27 मई। कालापानी को शामिल करते हुए नक्शे को अपडेट करने के लिए जरूरी संविधान संशोधन पर बुधवार को प्रस्तावित चर्चा को नेपाल ने टाल दिया है। संशोधन के लिए संसद की प्रतिनिधि सभा में चर्चा होनी थी। राजनीतिक दलों ने पहले इस पर देश में आम सहमति बनाने की बात की है।
 
संसद सचिवालय की ओर से प्रकाशित कार्यसूची के मुताबिक बुधवार को कानून मंत्री शिवमाया तुम्बहाम्फे स्थानीय समयानुसार 2 बजे प्रस्ताव को पेश करने वाली थीं। नेपाल ने 18 मई को नया राजनीतिक नक्शा जारी किया था जिसमें कालापानी, लिपुलेख और लिमिपियाधुरा को अपने क्षेत्र के रूप में दिखाया। इसके बाद 22 मई को संविधान संशोधन को संसद में पंजीकृत किया था।

भारत द्वारा लिपुलेख होते हुए लिंक रोड के उद्घाटन के बाद नेपाल ने यह नक्शा जारी किया था। संविधान संशोधन के लिए दो तिहाई बहुमत की आवश्यकता है, इसलिए प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने मंगलवार शाम सर्वदलीय बैठक बुलाई ताकि आम सहमति बनाई जा सके और प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पास किया जाए।

लेकिन मधेश के राजनीतिक दल सरकार पर उनकी मांगों को भी शामिल करने का दबाव डाल रहे हैं। जनता समाजवादी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने एएनआई से कहा, ''हम लंबे समय से अपनी मांगें उठा रहे हैं लेकिन अभी तक कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया है, जबकि पीएम ओली इसे राष्ट्रीय भावना से जुड़ा हुआ मुद्दा बता रहे हैं।''
 
सत्ताधारी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के पास नेशनल असेंबली में दो तिहाई बहुमत है, लेकिन संविधान संशोधन के लिए इसे निम्न सदन में दूसरी पार्टियों से भी मदद की जरूरत है, क्योंकि 10 सीटें कम हैं।

नेपाली कांग्रेस ने सरकार के इस कदम का समर्थन किया है, लेकिन संविधान संशोधन प्रस्ताव पर पार्टी में चर्चा की जरूरत बताई है। इस बीच कओली और पुष्प कमल दहल की अगुआई में सत्ताधारी पार्टी ने सभी से अपील की है कि राष्ट्रीय भूभाग के अजेंडे को उनकी राजनीतिक मांगों के साथ ना मिलाया जाए। (एएनआई)


27-May-2020

दिल्ली में 47 तो चुरू में 49 पार, अगले 24 घंटे में आंधी-बारिश का अनुमान

नई दिल्‍ली, 27 मई। दिल्ली में 47 तो चुरू में 49 पार कर रहा पारा, अगले 24 घंटे में आंधी-बारिश का अनुमानराजधानी दिल्ली से लेकर उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश आदि क्षेत्रों में गर्म हवा के थपेड़े तांडव मचा रहे हैं। बुधवार को राजधानी दिल्ली के पालम में पारा 47.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। इस बीच, भारत मौसम विभाग  ने अनुमान जताया है कि 28 मई से 30 मई तक बारिश/आंधी की संभावना है, जिसके चलते उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में अधिकतम तापमान कम हो सकता है।

पंजाब के पटियाला में भी गर्मी का कहर जारी रहा। यहां अधिकतम तामपान 44.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अमृतसर और लुधियाना में तापमान क्रमश: 43.5 और 44.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 42.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग ने 28 और 31 मई को कुछ स्थानों पर गरज के साथ छींटे पड़ने और 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी चलने की संभावना जतायी है। जबकि 29 ओर 30 मई को दोनों राज्यों में बिजली कड़कने और 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का पूर्वानुमान व्यक्त किया है।

मौसम विभाग का ताजा अनुमान उत्तर प्रदेश के 16 शहरों के लिए राहत भरी खबर लेकर आया है।अनुमान जाहिर किया गया है कि 16 जिलों में अचानक मौसम पलट गया है या तो पलटेगा। यूपी के कई जिले भयंकर गर्मी से जूझ रहे हैं। यूपी में अब तक का सबसे गर्म शहर प्रयागराज रहा वहीं बुंदलेखंड में पारा 48 डिग्री तक पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक मथुरा, आगरा, हाथरस, एटा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा और औरैया में शाम 6 बजे तक आंधी और हल्की बारिश की संभावना है।

दिल्ली में रात 9 बजे के बाद ठंडी-ठंडी हवाएं चली जिससे लोगों ने राहत की सांस ली। बुधवार को राजधानी दिल्ली के पालम में पारा 47.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। वहीं पूरी दिल्ली का तापमान 45.9 और आयानगर का पारा 46.7 रहा। पूरी दोपहर गर्म हवा चलती रही। शाम को हल्के बादल भी नजर आए लेकिन गर्मी में फिर भी कोई राहत नहीं मिली।

आज पश्चिम बंगाल के कोलकाता के कुछ हिस्सों में बारिश हुई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने भविष्यवाणी की थी कि बादलों के गर्जन और बिजली के साथ, हवा की गति के साथ 50-60 किमी प्रति घंटा और हल्की से थोड़ा ज्यादा बारिश हो सकती है।

हरियाणा और पंजाब में बुधवार को भी लू का कहर जारी रहा। वहींए दोनों राज्यों में सबसे अधिक तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस नारनौल में दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि नारनौल में अधिकतम तापमान सामान्य से छह डिग्री अधिक दर्ज किया गया। वहींए हरियाणा के हिसार में अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 46.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि अंबाला में अधिकतम तापमान 43.8 डिग्री सेल्सियस, करनाल में 42.8 डिग्री सेल्सियस रहा।

राजस्थान के ज्यादातर इलाके लू यानी गर्म हवाओं की चपेट में हैं जहां बुधवार को चुरू में अधिकतम तापमान 49.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बुधवार को पारा 50.0 डिग्री सेल्सियस था।राज्य के बाकी हिस्सों में भी जोरदार गर्मी व लू पड़ रही है। बीकानेर में अधिकतम तापमान 48.0 डिग्री सेल्सियस, श्रीगंगानगर में 48.9 डिग्री, कोटा में 47.2 डिग्री, जैसलमेर में 46.1 डिग्री, बाड़मेर 45.9 डिग्री, जयपुर में 44.8 डिग्री, अजमेर में 44.0 डिग्री व जोधपुर में 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।मौसम विभाग के अनुसार अगले चौबीस घंटों में भी राज्य के जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, अजमेर, भरतपुर व कोटा संभाग के कुछेक स्थानों पर तीव्र लू (हीट वेव) तथा काफी स्थानों पर लू चलने के आसार हैं।

मौसम विभाग की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार, झारखंड, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, जम्मू कश्मीर लद्दाख, हिमांचल प्रदेश, ओडिशा, तेलंगाना और अरुणांच प्रदेश में बारिश होने के असार हैं। (navbharattimes.indiatimes.com)


27-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ न्यूज डेस्क

लखनऊ, 27 मई। प्रवासी मजदूरों को लेकर उत्तरप्रदेश में अब तक 1337 रेलगाडिय़ां आ चुकी हैं। उनमें गोरखपुर देश का ऐसा पहला जिला है जिसमें दो सौ से ज्यादा गाडिय़ां पहुंची हैं, और इस एक जिले में दो लाख से अधिक मजदूर लौटे हैं। यह जानकारी देते हुए यूपी सरकार के एसीएस होम ने बताया कि राजधानी लखनऊ में 89 गाडिय़ां पहुंची हैं।


27-May-2020

नई दिल्ली, 27 मई । भारत कोरोनावायरस के गंभीर/नाजुक मरीजों के मामले में अमेरिका के बाद दूसरे नंबर पर आ गया है। वर्डोमीटर के 26 मई के आंकड़ों के अनुसार, अमेरिका में 17,114 कोरोना संक्रमित गंभीर/नाजुक स्थिति में है। भारत में ऐसे मरीजों के संख्या 8,944 हो गई है। दुनियाभर में गंभीर रूप से संक्रमित कोरोना मरीजों में करीब 17 प्रतिशत भारत में हैं। तीसरे स्थान पर ब्राजील है, जहां 8,318 कोरोना संक्रमित नाजुक स्थिति में हैं। दुनियाभर में कोरोनावायरस से कुल 53,166 मरीजों की हालत चिंताजनक बनी हुई है। 

अप्रैल में कोरोनावायरस का गढ़ रहे स्पेन, यूके, इटली, फ्रांस और जर्मनी में गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों की संख्या काफी कम हो गई है। स्पेन में 854, यूके में 1,559, इटली में 541, फ्रांस में 1,609 और जर्मनी में 873 मरीजों की हालत नाजुक है। लगता है कि इन यूरोपीय देशों में बुरा वक्त गुजर गया है। 

भारत में इस समय कोरोनावायरस के 80,578 सक्रिय मामले हैं। सक्रिय मामलों में भारत विश्व में पांचवे नंबर पर है। अमेरिका 11,41,751 सक्रिय मामलों के साथ पहले नंबर पर है, रूस 2,27,406 मामलों के साथ दूसरे नंबर पर, ब्राजील 1,99,314 मामलों के साथ तीसरे और फ्रांस 89,311 मामलों के साथ चौथे नंबर पर है। कुल मामलों में भारत पहले ही ईरान को पीछे छोडक़र 10वें नंबर पर आ चुका है। अगर कोरोना के मामले इसी रफ्तार से बढ़ते रहे तो भारत टर्की, जर्मनी और फ्रांस को भी पीछे छोड़ देगा।

भारत ने कोरोनावायरस के टेस्ट पिछले कुछ दिनों में बढ़ाए हैं लेकिन अब भी दस लाख की आबादी पर केवल 2,268 टेस्ट ही हो रहे हैं। वर्डोमीटर के अनुसार, अमेरिका में प्रति दस लाख की आबादी पर 45,910 टेस्ट, रूस में 62,775 टेस्ट, स्पेन में 76,071 टेस्ट, यूके में 52,065 टेस्ट, इटली में 57,586 टेस्ट, फ्रांस में 21,217 टेस्ट, जर्मनी में 42,922 टेस्ट हो रहे हैं। भारत में अब तक 31,26,119 लाख लोगों का टेस्ट हुआ है। (एनडीटीवी) (https://khabar.ndtv.com)


27-May-2020

नई दिल्ली, 27 मई। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को मीडिया के एक वर्ग पर हमला बोलते हुए कहा कि महाराष्ट्र में कोविड-19 की स्थिति पर उनकी टिप्पणी को तोड़ मरोडक़र पेश किया गया है। गांधी ने एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें वह राज्य में व्याप्त स्थितियों के बारे में बात कर रहे हैं।  गांधी ने ट्विटर पर वीडियो साझा करते हुए कहा, इस वीडियो को देखिये और समझिये कि किस प्रकार बिकाऊ मीडिया सच को तोड़ मरोडक़र पेश करता है और अपने मालिकों की सेवा के लिए असल मुद्दों से ध्यान भटकाता है।

इससे पहले दिन में जब राहुल से महाराष्ट्र में कोविड-19 के बढ़ते मामले के बारे में पूछा गया था जहां पर कांग्रेस सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल है तब उन्होंने कहा था कि सरकार चलाने और सरकार का समर्थन करने में अंतर होता है। राहुल ने कहा, ‘‘महाराष्ट्र सरकार को हम समर्थन दे रहे हैं और निर्णय लेने की अहम भूमिका में नहीं हैं। साथ ही उन्होंने कहा था कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में महाराष्ट्र सरकार को केंद्र सरकार की पूरी मदद की जरूरत है।  (भाषा)


27-May-2020

नई दिल्ली, 27 मई । दिल्ली के बख्तावरपुर के पास तिगीपुर गांव के किसान पप्पन सिंह गहलोत मशरूम की खेती करते हैं और इनके यहां पिछले 27 सालों से बिहार से कुछ मजदूर काम करने के लिए आते हैं और सीजन के बाद वापस चले जाते हैं। इस बार भी 10 लोग इस परिवार से यहां पर आए हुए थे, उसी दौरान लॉकडाउन लागू हो गया। अभी खुंबी का सीजन भी खत्म हो गया इसलिए इन लोगों को घर वापस जाना था। पप्पन सिंह गहलोत ने कहा कि वह इन लोगों को घर से एयरपोर्ट तक खुद अपनी कार से छोडऩे जाएंगे और उसके बाद सभी के फ्लाइट के टिकट भी पप्पन सिंह गहलोत ने अपने खर्च पर बुक करवाए हैं। सभी 10 मजदूरों के हवाई जहाज के टिकट बुक हो चुकी है और 28 मई की सुबह की फ्लाइट है।

साथ ही यहां से निगम पार्षद सुनीत चौहान ने इन मजदूरों की स्क्रीनिंग करवाई है और इन मजदूरों का बिहार में एयरपोर्ट से घर तक पहुंचाने का खर्च सुनीत चौहान उठाएंगे। पप्पन सिंह ने कहा कि यह अपने मजदूरों को तीन-तीन हजार रुपये अलग से ईनाम भी दे रहे हैं और साथ ही यदि कोई भी दिक्कत इन्हें वहां पर होती है तो ये इन्हें वहां और भी पैसे भेज देंगे लेकिन अपने मजदूरों को भूखा नहीं मरने देंगे।

ये सभी 10 मजदूर एक ही परिवार से हैं और पिछले 27 सालों से यहां मजदूरी करने के लिए हर वर्ष आते हैं। इन लोगों के साथ घर परिवार का रिश्ता बन गया है और इनके हर सुख दुख में खड़ा रहने की बात पप्पन सिंह गहलोत करते हैं। साथ ही इन मजदूरों का कहना है कि उन्होंने जब यह बात घर पर फोन करके बताई तो परिजनों को भी विश्वास नहीं हुआ कि वे फ्लाइट से आएंगे। उनका कहना है कि उन्होंने कभी भी हवाई जहाज की सवारी नहीं की थी, पहली बार हम जहाज से जाएंगे जिनके लिए बहुत बड़ी सौभाग्य की बात है।

देश में मजदूरों की दुर्गति जगजाहिर है किस तरह से मजदूर पैदल यात्रा कर जा रहे हैं। बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों में और बड़े-बड़े धनाढ्य लोगों के पास काम करने वाले मजदूर भी दर-दर की ठोकरें खाते हुए अपने घर जा रहे हैं। जहां एक किसान ने ऐसी पेशकश की है कि उसके मजदूर हवाई जहाज से जाएंगे यह एक प्रेरणा है सभी के लिए है। साथ ही पप्पन सिंह ने कहा कि वह अपने मजदूरों को बस से इसलिए नहीं भेज रहे हैं क्योंकि बस में असुरक्षित ज्यादा है और खाने पीने की दिक्कत हो सकती है क्योंकि बस में लंबा वक्त लगेगा इसलिए उन्होंने अपने मजदूरों को फ्लाइट से भेजने का निर्णय लिया है। जरूरत है दूसरे लोग भी अब इसी तरह से अपने पास काम करने वाले लोगों की मदद करें। (एनडीटीवी) (https://khabar.ndtv.com)

 


27-May-2020

लखनऊ, 27 मई । उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले में ट्रेन की पटरी पर चार लोगों के शव बरामद हुए हैं। इनमें तीन महिलाएं और एक पुरुष है। ये लोग पटरी पर सो गए थे जिनके ऊपर से ट्रेन गुजर गई। चंदौली के एएसपी ने इस हादसे की पुष्टि की है।

एएसपी ने कहा, पटरी पर चार शव मिले हैं जिसमें तीन महिलाएं और एक पुरुष है। शवों को शवगृह भेजा गया है। उनके पास से किसी तरह का कोई सामान नहीं मिला है। रेल के ड्राइवर ने सूचना दी थी कि ट्रेन की पटरी पर कुछ लोग सोए हुए थे जिनके ऊपर से ट्रेन गुजर गई है। शिनाख्त जारी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार की रात करीब 8.30 बजे के आसपास मालगाड़ी गुजर रही थी।

इसकी चपेट में आने से 40 वर्षीय पुरुष, 36 वर्षीय महिला, 18 वर्षीय किशोरी और 12 वर्षीय बालिका की मौत हो गई।

घटना की सूचना मिलते ही एसपी, एएसपी प्रेम चंद, सदर कोतवाली और अलीनगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। वहीं डीआरएम पंकज सक्सेना भी जीआरपी जवानों के साथ विशेष ट्रेन से घटनास्थल पहुंचे।

पुलिस ने रेलवे ट्रैक पर क्षत-विक्षत पड़े शवों को एकत्रित किया और उसकी शिनाख्त स्थानीय ग्रामीणों से कराने की कोशिश की, लेकिन शव इतने क्षत-विक्षत हो चुके थे कि उनकी शिनाख्त नहीं हो पाई।

मृतकों के पास कागजात होने की उम्मीद से जवानों ने रेलवे ट्रैक पर काफी देर तक खोजबीन की, लेकिन उन्हें कोई कागजात नहीं मिला। एसपी ने बताया कि मृतक एक ही परिवार के मालूम होते हैं। मामला दुर्घटना का नहीं, बल्कि आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है।(टीवी9) (https://www.tv9bharatvarsh.com)


27-May-2020

जयपुर, 27 मई। राजस्थान में 109 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आने केे साथ ही इसकी संख्या बढकर आज 7645 पहुंच गयी तथा 172 लोगों की मौत हो गयी।

चिकित्सा विभाग की ओर से बुधवार सुबह जारी रिपोर्ट के अनुसार सबसे अधिक झालावाड में 64, कोटा में 16, नागौर में 12, राजधानी जयपुर एवं भरतपुर में छह-छह, झुंझुनू में दो तथा बीकानेर, दौसा एवं करौली में एक-एक नया कोरोना संक्रमित मरीज सामने आया है।

विभाग के अनुसार बुधवार को दो करोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गयी। इस जानलेवा विषाणु से अब तक राज्य में 172 लोगों की मौत हो गयी है। 

क्लिक करें और पढ़ें : महाराष्ट्र और तमिलनाडु में कोरोना के करीब 48 फीसदी मामले

विभाग के अनुसार अब तक अजमेर में 309, अलवर में 51, बांसवाडा में 85, बारां मे पांच, बाडमेर में 91, भरतपुर में 149 भीलवाडा में 127, बीकानेर में 86, चित्तौडगढ़ में 174, चुरू में 85, दौसा 46, धौलपुर मे 43, डूंगरपुर में 331, गंगानगर में दो, हनुमानगढ में 14, जयपुर में 1866, जैसलमेर में 68, जालोर में 154 झालावाड 135, झुंझुनू में 98, जोधपुर में 1278, बीएसएफ 48, करौली में 11, कोटा में 412, नागौर में 416, पाली मे 360, प्रतापगढ में 13 राजसमंद 126, सवाई माधोपुर में 19, सीकर में 151 सिरोही 139 टोंक में 159 उदयपुर में 517 संक्रमित मरीज सामने आये है।

विभाग के अनुसार अब तक तीन लाख 37 हजार 159 सैंपल लिए जिसमें से 7645, पॉजिटिव तीन लाख 26 हजार 368 नेगेटिव तथा 3146 की रिपोर्ट आनी बाकी हैं। इसके अलावा राज्य में कुल एक्टिव केस 3190 है। (वार्ता)


27-May-2020

नयी दिल्ली, 27 मई । महाराष्ट्र और तमिलनाडु में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) का कहर सबसे अधिक है और इन दोनों राज्यों में संक्रमितों की कुल संख्या 72,486 हो गयी है जो देश भर का लगभग 48 प्रतिशत है। दोनों राज्यों में मृतकों की संख्या क्रमश: 1792 और 127 है।

क्लिक करें और पढ़ें : राजस्थान में कोरोना संक्रमित संख्या 7645 पहुंची, दो की मौत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बुधवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 6,387 नये मामले सामने आये जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 1,51,767 पर पहुंच गयी है। देश में इस संक्रमण से कुल 4,337 लोगों की मौत हुई है तथा 64,426 लोग स्वस्थ हुए हैं।(वार्ता)


27-May-2020

नयी दिल्ली, 27 मई। सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया ने लॉकडाउन के दौरान रद्द उड़ानों के यात्रियों को नि:शुल्क यात्रा की तिथि बदलने का विकल्प दिया है। 

एयरलाइन ने बताया कि 23 मार्च से 31 मई के बीच जिन यात्रियों की उड़ानें रद्द रही हैं वे इसका लाभ उठा सकते हैं। वे 25 मई से 24 अगस्त के बीच की यात्रा के लिए टिकट बुक करा सकते हैं। इसके लिए उन्हें अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा।

यदि कोई यात्री तारीख के साथ ही अपना मार्ग भी बदलना चाहता है तो उसे मार्ग बदलने का शुल्क भी नहीं देना होगा, हालाँकि नये मार्ग पर किराया अधिक होने पर किराये के अंतर का भुगतान करना होगा। यात्री एयर इंडिया के कॉल सेंटर, कार्यालय या प्राधिकृत ट्रेवेल एजेंटों के माध्यम से अपने टिकट में ये बदलाव करा सकते हैं। (वार्ता) 


27-May-2020

गुवाहटी, 26 मई। असम में बाढ़ से हालात बिगड़ते ही जा रहे है और ब्रह्मपुत्र नदी समेत अन्य प्रमुख नदियों के उफान पर आने से राज्य में करीब 1.94 लाख लोग प्रभावित हो गए हैं।

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के एक आधिकारिक बयान जारी कर बताया कि राज्य के सात जिले बाढ़ से प्रभावित हैं।

बयान के अनुसार राज्य में आधिकारिक तौर पर करीब 1,94,916 लोग बाढ़ से प्रभावित हुए है जिसमें से गोलपारा जिले में अकेले एक लाख साठ हजार से अधिक लोग प्रभावित हैं।

राज्य में ब्रह्मपुत्र समेत दो अन्य नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बाढ़ के कारण गोलपारा और तिनसुकिया जिले में करीब नौ हजार लोगों को राहत शिविरों में स्थांतरित किया गया हैं।

एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की सहायता से स्थानीय प्रशासन द्वारा बचाव और राहत कार्य चलाया जा रहा है। (वार्ता)


27-May-2020

बेंगलुरु, 26 मई। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण कर्नाटक में लगभग पिछले दो महीने बंद मंदिर पूजा के बाद अगले माह यानी जून से खुलेंगे। मुजराई कोटा के मंत्री श्रीनिवास पूजारी ने यह जानकारी दी। 

श्री पुजारी ने मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने साथ बातचीत के बाद यहां पत्रकारों को बताया कि उन्होंने श्री येदियुरप्पा के साथ चर्चा की है और उन्होंने भी एक जून से मंदिर खोलने पर सहमति जताई हैं।

उन्होंने कहा कि मंदिरों को पूरी तरह से खोलने और फिर से पूजा-अर्चना शुरू करने के लिए हालांकि अभी और समय लग सकता है। राज्य में करीब 34 हजार मंदिर हैं। 

श्री पुजारी ने कहा कि सभी मंदिरों को खोला जाएगा और निवारक उपाय करने और सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा, Þमैं अधिकारियों के साथ चर्चा करूंगा और यह तय करूंगा कि क्या उपाय किए जाएं ताकि श्रद्धालुओं की सुरक्षा सुनिश्चित हो सके। (वार्ता)


26-May-2020

देवाशीष भारती

झारखंड, 26 मई । सांप का नाम सुनते ही हर किसी के जेहन में डर समा जाता है। कोबरा जैसा सांप अगर किसी को काट ले तो उसका बच पाना लगभग असंभव माना जाता है। अकसर सांप के काटने से मनुष्य की मौत हो जाती है। लेकिन झारखंड के जामताड़ा जिले के बागडेहरी में इसके उलट एक घटना सामने आई है। जिस पर विश्वास कर पाना बेहद मुश्किल है। जहरीले कोबरा सांप ने एक व्यक्ति को काटा और उस शख्स को कुछ नहीं हुआ बल्कि सांप ही मर गया।

जामताड़ा के बागडेहरी थाना में तैनात एक पुलिसकर्मी को कोबरा सांप ने काट लिया। लेकिन पुलिसकर्मी पर इसका कोई असर नहीं हुआ बल्कि सांप ही मर गया। इस घटना ने हर किसी को हैरान कर दिया है। चारों तरफ इस हैरान कर देने वाली घटना की चर्चा हो रही है। दरअसल असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर चरण बोपोय सुबह अपनी ड्यूटी के लिए वर्दी पहनकर निकलने वाले थे कि तभी सांप ने उन्हें डंक मार दिया। उनकी नजर नीचे गई तो देखा कि एक कोबरा सांप ने चूहे का शिकार करने बाद उन्हें भी काट लिया। 

जैसे ही सांप ने चरण बोपोय को काटा थोड़ी देर बाद वो छटपटाने लगा और मर गया। फिर एएसआई बोपोय पुलिस स्टेशन चले गए। वहां उन्होंने इस घटना की जानकारी अन्य पुलिसकर्मियों को दी। इसके बाद तुरंत ही उन्हें अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने जांच के बाद पाया कि उन पर सांप के काटने का कोई असर नहीं हुआ वो पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

इस घटना के बाद एएसआई चरण बोपोय का कहना है कि वो पूरी तरह से ठीक महसूस कर रहे हैं। उन्हें किसी तरह की कोई तकलीफ नहीं हुई है। ड्यूटी पर जाने के समय उन्हें सांप ने काट लिया था।  उन्होंने इस घटना की जानकारी थाने में दी। फिर उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया।

डॉक्टरी जांच के बाद एएसआई चरण बोपोय को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। वो पूरी तरह से ठीक हैं और अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। कोबरा सांप का जहर सबसे जहरीला माना जाता है। लेकिन इस घटना को किसी चमत्कार से कम नहीं माना जा रहा है।(आजतक) (aajtak.intoday.in)

 


26-May-2020

नई दिल्ली, 26 मई। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पिछले दिनों दिल्ली में घर लौट रहे कुछ प्रवासी मजदूरों से मिले थे। उनकी तस्वीरें आईं तो वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने तंज कसते हुए कहा था कि राहुल ने ऐसा करके उन मजदूरों का वक्त खराब किया। वे ड्रामेबाजी करते हैं। अगर सीरियस होते तो उनका कुछ बोझ उठा लेते। अब कांग्रेस नेता ने इस तंज का अपने अंदाज में जवाब दिया है। मंगलवार को राहुल ने वीडियो कॉन्फे्रंस में कहा कि अगर वे मुझे परमिशन दें तो मैं जरूर बैग उठाकर ले जाऊं। उन्होंने कहा कि एक का नहीं, 10-15 का उठाकर ले जाऊंगा।

निर्मला ने क्या कहा था?

17 मई को राहत पैकेज का ऐलान करते समय वित्त मंत्री ने राहुल गांधी पर ताना मारा था। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस पार्टी राहत पैकेज की प्रेस कॉन्फे्रंस को ड्रामा बताती है लेकिन असली ड्रामेबाज वह खुद है। उन्होंने कहा राहुल गांधी सडक़ पर बैठकर मजदूरों से बात करके उनका टाइम खराब कर रहे थे। इससे अच्छा होता उनके बच्चे, सूटकेस को पकडक़र उनके साथ पैदल चलते।

पैदल ही निकल जाऊंगा उत्तर प्रदेश

कांग्रेस नेता ने मंगलवार को कहा कि मजदूरों से बातचीत करने में उनका लक्ष्य एक ही है। उन्होंने कहा कि मैं उनके दिल में क्या है, यह समझने की कोशिश करता हैं। मैं सच बोलूं तो मुझे इसका बहुत फायदा मिला । उनकी जानकारी और ज्ञान से मुझे बहुत फायदा मिलता है। जहां तक मदद की बात है, मैं मदद करता रहता हूं। अगर वो मुझे परमिशन दें तो मैं जरूर बैग उठाकर ले जाऊं। एक का नहीं, 10-15 का उठाकर ले जाऊंगा। राहुल ने कहा, अगर वो (निर्मला) चाहती हैं मैं यहां से उत्?तर प्रदेश चला जाऊंगा। मुझे वहां अलाउ कर दें। मैं पैदल यहां से निकल जाऊंगा। जितने लोगों की मदद मैं रास्ते में कर सकूंगा, मैं कर दूंगा।

मजदूरों पर राहुल ने क्यों बनाई फिल्म

राहुल गांधी ने प्रवासी मजदूरों के संघर्ष पर एक मिनी-फिल्म बनाई थी। उन्होंने कहा कि ये मैंने इसलिए बनाई कि हमारे जो बाकी नागरिक हैं, वे इनकी पीड़ा को समझें, उनके दर्द को सुनें। काफी इम्पैक्ट होता है। ये लोग हमारी शक्ति हैं। अगर हम इनकी मदद नहीं करेंगे तो किसकी करेंगे। वित्त मंत्री की जो भी राय है, उसके लिए मैं उनको धन्यवाद करता हूं।

सरकार से राहुल गांधी के सवाल

राहुल गांधी ने मंगलवार को सरकार से उसका आगे का प्लान पूछा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के 4 स्टेज फेल हो चुके हैं, ऐसे में मैं सरकार से पूछना चाहता हूं कि आगे के लिए उसकी क्?या रणनीति है। मजदूरों के लिए क्या व्यवस्था है, एमएसएमईएस को कैसे खड़ा करेंगे? उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान पहला ऐसा देश है जो बीमारी के बढ़ते वक्त लॉकडाउन खत्म कर रहा है। (नवभारतटाईम्स) (https://navbharattimes.indiatimes.com)