महासमुन्द

मजदूरी भुगतान के लिए डीएफओ का इंतजार करते शाम तक वन मंडल में बैठी रही महिलाएं, जमीन पर साथ बैठ सुलझाई समस्याएं
22-Oct-2021 6:03 PM (24)
मजदूरी भुगतान के लिए डीएफओ का इंतजार करते शाम तक वन मंडल में बैठी रही महिलाएं, जमीन पर साथ बैठ सुलझाई समस्याएं

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुंद, 22 अक्टूबर।
आगामी दीपावली पर्व पर पुराने भुगतान के लिए गुरूवार को कौंदकेरा व गाड़ाघाट की 35 महिलाएं डीएफओ कार्यालय पहुंचीं। महिलाएं दोपहर 1 बजे कार्यालय पहुंची, उस वक्त वन मंडल अधिकारी दफ्तर में ही नहीं थे। महिलाओं ने अधिकारी से मिलने और भुगतान के लिए आश्वासन लेने की जिद करते हुए देर शाम 7 बजे तक कार्यालय में ही बैठी रहीं। शाम जब डीएफ ओ कार्यालय पहुंचे तो देखा कि बड़ी संख्या में महिलाएं वहां उपस्थित हैं। इसके बाद डीएफओ पंकज राजपूत महिलाओं के पास पहुंचे और जमीन पर बैठकर उनसे बातें की। उन्होंने सप्ताह भर के भीतर भुगतान करने का आश्वासन दिया। इसके बाद महिलाओं को वापस उनके गांव भेजने के लिए गाड़ी का प्रबंध भी किया।

महिलाओं ने वनमंडल अधिकारी से कहा-अगले माह दीपावली है साहब। पिछले साल किए गए मजदूरी का भुगतान अब तक नहीं हुआ है। दीपावली पर रुपए नहीं मिले तो परिवार के साथ आकर हम यहीं वन विभाग के आफिस में दीपावली मनाएंगे। हमने पिछले साल दिसंबर और जनवरी माह में वन विभाग के नर्सरी में कई काम किए थे। जिसका भुगतान उन्हें अभी तक नहीं किया गया है।

मानकी साहू व मधु ध्रुव ने कहा कि हमने इतने समय तक काम किया है, अब अगले महीने ही दीपावली है। बिना पैसे के हम इतना बड़ा त्योहार कैसे मनाएंगे। यही समस्या अन्य महिलाओं ने डीएफओ को भी बताई।

इस संबंध में डीएफ ओ पंकज राजपूत ने बताया कि महिलाओं ने जब काम किया था, उस समय कोई प्रोजेक्ट नहीं था। कुछ पुराने पौधे बचे हुए थे और इनसे गलती से काम करा लिया गया। लिहाजा भुगतान में देरी हो गई। इन्होंने जितना भी काम किया है उसका वाजिब भुगतान सप्ताह भर के भीतर कर दिया जाएगा।
 

अन्य पोस्ट

Comments