छत्तीसगढ़ » रायपुर

Date : 18-Aug-2019

दिनदहाड़े सूने घर का ताला टूटा, एक लाख का जेवर, नगदी पार, आरोपी का सुराग नहीं, पूछताछ जारी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 18 अगस्त।
सिविल लाइन स्थित कविता नगर के एक सूने मकान में दिनदहाड़े चोरी हो गई। अज्ञात चोर घर का ताला तोडक़र वहां की आलमारी में रखे करीब एक लाख के सोने-चांदी के जेवर, नगदी लेकर फरार हो गए। फिलहाल आरोपियों का पता नहीं चल पाया है, पूछताछ जारी है। 

पुलिस के मुताबिक मोबाइल दुकानदार सीताराम सोनी का कविता नगर स्टेट कालोनी में मकान हैं और घटना के समय वह परिवार समेत  अपने एक रिश्तेदार के घर बच्चे का जन्मदिन मनाने गया था। वहां से वह  करीब घंटेभर में वापस लौटा तो उसके घर का ताला टूटा हुआ था और आलमारी में रखे सारे सामान बिखरे पड़े थे। भीतर देखने पर पता चला वहां रखे सोने-चांदी के जेवरात व 15 हजार नगद पार हो चुका है। उन सभी ने चोरी को लेकर आसपास पूछताछ की, पर कहीं कुछ पता नहीं चल पाया। 

दुकानदार ने बीती रात घटना की रिपोर्ट सिविल लाइन पुलिस में दर्ज करायी। उसने बताया कि चोर सामने की चारदीवारी फांदकर कर सूने घर में घुसा था और पीछे से फरार हुआ है। 
पुलिस का कहना है कि कविता नगर में दिनभर चहल-पहल रहती है, जहां दिनदहाड़े चोरी की घटना सामने आई है। चोरी को लेकर पूछताछ की जा रही है। आसपास के वीडियो फुटेज भी निकालकर खंगाला जा रहा है। उनका मानना है कि चोरी के आरोपी जल्द पकड़ लिए जाएंगे। 


Date : 18-Aug-2019

दिव्यांग बच्चों ने दी देश भक्तिपूर्ण गीतों की प्रस्तुति

संस्कृति विभाग द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर ‘सांस्कृतिक संध्या’ का आयोजन
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 18 अगस्त।
महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय परिसर स्थित मुक्ताकाश मंच में संस्कृति विभाग द्वारा 15 अगस्त के अवसर पर सांध्यकालीन सांस्कृतिक कार्यक्रम के अंतर्गत स्थानीय कलाकारों एवं कोपलवाणी रायपुर के दिव्यांग बच्चों द्वारा देश प्रेम गीतों की प्रस्तुतियां दी गई। राज्यपाल अनुसुईया उइके द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। राज्यपाल ने कलाकारों द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रम की सराहना की। इस अवसर पर सुश्री उइके ने महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय परिसर में स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति का अनावरण किया। 

उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी शिलालेख पर पुष्पांजलि भी अर्पित की। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, लोकसभा सांसद सुनील सोनी, विधायक बृजमोहन अग्रवाल, अविनाश चंपावत, अनिल कुमार साहू सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। राज्यपाल द्वारा परिसर स्थल कला-वीथिका में विभाग के सहयोग से निर्मित डे बेबी केयर सेंटर एवं कोपलवाणी के दिव्यांग बच्चों के द्वारा बनाई गई चित्रकला का भी अवलोकन किया गया। मुख्य अतिथि द्वारा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पद्मश्री डॉ. महादेव पांडे का शाल श्रीफल से सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी केन्द्रित भजन एवं देश प्रेम गीतों की प्रस्तुति की शुरूआत कोपवल्ली के मूक-बधिर बच्चों द्वारा किया गया। गरिमा दिवाकर, मदन चौहान, पद्मश्री डॉ. भारती बंधु, राकेश तिवारी, पद्मश्री अनुज शर्मा एवं पद्मश्री ममता चन्द्राकर ने अपनी प्रस्तुतियों से मुक्ताकाशी मंच में उपस्थित दर्शकों का मन मोह लिया।

कार्यक्रम के समापन अवसर पर आभार प्रदर्शन संचालक अनिल कुमार साहू द्वारा किया गया। इस अवसर पर शहर के गणमान्य नागरिकगण, कलाकार एवं विभाग के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे। 

 


Date : 18-Aug-2019

गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ अत्यन्त रोचक ज्ञान वर्धक और उत्साहित करने वाली प्रदर्शनी-जनसंपर्क विभाग

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 18 अगस्त।
जनसंपर्क विभाग द्वारा टाऊन हॉल में लगाई गई प्रदर्शनी गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ के तीसरे दिन आज दर्शकों का तांता लगा रहा। मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रुचिर गर्ग ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया और विजिटर बुक में गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ लिखकर अपने विचार व्यक्त किए। 

प्रदर्शनी देखने आए विवेकानंद हाई स्कूल, पंडरी एवं शासकीय हिंदु उच्चतर माध्यमिक विद्यालय और प्रोफेसर जे.एन. पांडेय शासकीय बहु उद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रायपुर के 70 छात्र-छात्राओं ने कहा कि प्रदर्शनी अत्यन्त ज्ञानवर्धक, रोचक तथा उत्साहित करने वाली है। विद्यार्थियों ने कहा कि इस प्रदर्शनी में राज्य के विकास एवं स्वतंत्रता सेनानियों के विषय में सागरभित जानकारी दी गई है। छत्तीसगढ़ सरकार के आगामी विकास की रूपरेखा भी प्रदर्शित है। 

इस प्रदर्शनी में बच्चों को शिक्षा, स्वास्थ्य, सुपोषण अभियान, जनचौपाल, महिला सशक्तीकरण, नरवा, गरवा, घुरवा और बारी के बारे में शिक्षाप्रद जानकारी मिली। छात्र-छात्राओं ने यह भी बताया कि प्रदर्शनी में उन्हें छत्तीसगढ़ के सांस्कृतिक विरासत, तीज-त्यौहारों, गांवों के विकास और खेती-किसानी के बारे में जानकारी मिली। बच्चों ने प्रदर्शनी में वितरित की जा रही छत्तीसगढ़ सरकार की विशेष पहल व उपलब्धियां शीर्षक वाली पुस्तिका को बहुत ही उपयोगी बताया। 

प्रदर्शनी देखने आए ग्राम सड्डू के रामकुमार बंजारे ने कहा कि प्रदर्शनी बच्चों के कौशल विकास एवं सभी दृष्टि से रोचक और ज्ञानवर्धक है। ग्राम बोडऱा आरंग के तरुण गितलहरे ने कहा कि यह प्रदर्शनी बहुत अच्छा है इसमें हमें अपने सांस्कृतिक परंपराओं की झलकियां देखने का अवसर मिला। रायपुर के के. फेकर ने कहा कि प्रदर्शनी हमें छत्तीसगढ़ी की परम्परा और तीज-त्यौहारों की याद दिलाता है। छत्तीसगढ़ मंत्रालय संघ के अध्यक्ष किर्तिवर्धन उपाध्याय ने कहा कि अत्यंत ही सराहनीय प्रदर्शनी है इसे प्रत्येक जिलों और तहसीलों में भी लगाना चाहिए।

 


Date : 18-Aug-2019

टीबी के संदेहास्प्रद मरीजों का अस्पतालों में होगा एचआईवी जांच- स्वास्थ्य विभाग

रायपुर, 18 अगस्त। स्वास्थ्य विभाग प्रदेश को स्वास्थ्य बनाने के लिए टीबी के संदेहास्प्द मरीजों की एचआईवी जांच भी करवाएगा। जांच कराने से पूर्व मरीजों की सहमति भी ली जायेगी। यह कदम प्रदेश में एचईवी इन्फेक्शन को नियंत्रित करने के लिए लिया गया है और इसके लिए गांव के स्वास्थ्य कर्मिर्यों की सेवा ली जाएगी। 

रायपुर जिले के टीवी एवं कुष्ठ रोग के नोडल अधिकारी डॉ.एसएन पांडेय ने बताया अभियान के तहत रायपुर जिले में लगभग 22 हजार संदिग्ध मरीजों की जांच स्वास्थ्य केंद्रों में निशुल्क की जायेगी । इससे एचआईवी के मरीजों की जल्दी से पता लगेगा। जांच में पाजेटिव पाए जाने पर मरीज को सरकारी अस्पसतलों में उपचार के लिए भेजा जाएगा।

इससे समाज और परिवार में होने वाले संक्रमण का खतरा भी नहीं रहेगा। स्वास्थ्य विभाग की मंशा है कि एचआईवी  के मरीज को जल्द से जल्द खोज कर हर संभव इलाज की सुविधाएं प्रदान की जाए। स्वास्थ्य विभाग प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में नियमित जांच के लिए पहुंचने वाली गर्भवती महिलाओं की एचआईवी जांच भी करवाई जाती है। गर्भवती महिलाओं,मितानिन और एएनएमस के माध्यम से अब सभी की पाबंदी से जांच कराई जाएगी ताकि शिशु को गर्भ में एचआईवी का संक्रमण न हो और संक्रमित गर्भवती महिला का इलाज समय रहते कराया जाए ताकि जन्म लेने वाले शिशु पूरी तरह से स्वास्थ  होता है। स्वास्थ्य विभाग एचआईवी एड्स के मरीज को छह माह तक टीबी की दवा देगी। एड्स के मरीज को भी नियमित दवा दी जाएगी। 

नोडल अधिकारी डॉ.एस एन पांडेय ने बताया लोगों में जागरुकता आने से एचआईवी रोग के मरीजों की सख्या में कमी आई है। टीबी के मरीज प्रति एक लाख में 800 लोगों की बलगम जांच कराने से 100 मरीज टीबी पॉजेटिव श्रेणी के मिल जाते हैं। डॉ.पांडेय ने बताया  एचआईवी एड्स फैलने के प्रमुख कारण होते हैं जैसे असुरक्षित यौन सम्बन्ध, संक्रमित रक्त और संक्रमित सुई का एक से अधिक लोगों में उपयोग। 

डॉ पांडेय ने बताया एचआईवी के लक्षण आमतौर पर वायरस के शरीर में पहुंचने से एक से दो महीने में नजर आने लगते हैं। रायपुर के मेडिकल कॉलेज में एचआईवी वायरल लोड टेस्टिंग सेंटर शुरु किया गया है। नई तकनीक से एचआईवी संक्रमितों के शरीर में वायरस का स्तर जांचा जाएगा। वर्तमान में ली जा रही दवाइयों का कितना असर हो रहा इसकी भी पड़ताल होगी।  

 


Date : 17-Aug-2019

प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण के लिए 12 सदस्यीय अध्ययन दल गठित, मुंबई, हैदराबाद व दिल्ली भ्रमण 20 से 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त। 
प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण को लेकर 12 सदस्यीय एक अध्ययन दल का गठन किया गया है, जिसमें दो विधायक समेत छत्तीसगढ़ी फिल्म से जुड़े लोग शामिल हैं। यह दल 20 से 25 अगस्त तक मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद का भ्रमण कर सुझाव व कांसेप्ट प्लान तैयार करेगा। इसके बाद उसे संस्कृति विभाग को सौंप देगा। 

सूत्रों के मुताबिक छत्तीसगढ़ के जन प्रतिनिधियों, कला विशेषज्ञों, कला मर्मज्ञों, फिल्म निर्माता, कलाकार तथा विभागीय प्रतिनिधियों के इस दल को मुंबई फिल्म सिटी के प्रख्यात सेट डिजाइनर एवं कलाकार जयंत देशमुख के मार्गदर्शन में भेजा जा रहा है। 
अध्ययन दल में केसकाल विधायक लखेश्वर बघेल, गुंडरदेही विधायक कुंवर सिंह निषाद, कला विशेषज्ञ दिलीप लहरिया, छत्तीसगढ़ी फिल्म अभिनेता अनुज शर्मा, फिल्म निर्माता प्रेम चंद्राकर, दिलीप षड़ंगी, सुनील तिवारी भूपेन्द्र साहू, विनय जैन, लक्ष्मण चंद्राकर, गुरप्रीत सिंह व उपयंत्री सुभाष जैन शामिल हैं। माना जा रहा है कि प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण से प्रदेश के कलाकारों के काम के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। 

 


Date : 17-Aug-2019

यंग इंडियंस ने सिलतरा प्राथमिक शाला में किया नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन, सदस्यों-चिकित्सकों ने लगभग 500 क्षेत्रवासियों को सेवाएं दी

रायपुर, 17 अगस्त। यंग इंडियन रायपुर चैप्टर ने रायपुर मेडिकल सिटी के सहयोग से एक मेगा नि:शुल्क स्वास्थ्य परामर्श शिविर का आयोजन किया। रायपुर चेप्टर के चेयरमैन तरंग खुराना ने बताया कि यह शिविर सिलतरा प्राथमिक शाला में आयोजित किया गया। विभिन्न क्षेत्र जैसे नेत्र रोग, स्त्री रोग, दंत रोग, चर्म रोग, हड्डी रोग आदि के विशेषज्ञ, होम्योपैथी, आयुर्वेदिक, सामान्य चिकित्सक और न्यूरोलॉजिस्ट ने सेवाएं दीं। यंग इंडियन एसोसिएशन के तरंग खुराना, शशांक नत्थानी, आदित्य मुंदड़ा, रोमिल राठी, रितेश गंडेचा, प्रतीक शुक्ला एवं विपुल जैन ने मुख्य रूप से इस शिविर को सार्थक बनाने में सहयोग दिया।

श्री खुराना ने बताया कि यंग इंडियंस रायपुर चेप्टर जनसेवा के विभिन्न कार्यों से जुड़ी है और रायपुर के साथ-साथ ग्रामीण अंचलों के विकास कार्यों में अग्रसर रहता है। जेसीआई रायपुर मेडिको सिटी की अध्यक्षा डॉ. दिव्या सचदेव ने बताया कि शिविर में नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण के साथ-साथ नि:शुल्क दवा भी वितरित की गई। नेत्र परीक्षण शुगर परीक्षण, खून जांच आदि का लाभ लगभग 500 से ज्यादा क्षेत्रवासियों ने उठाया। 

श्री खुराना ने बताया कि सिलतरा के सरपंच नत्थू राम को इस स्वास्थ्य शिविर का विशेष लाभ हुआ क्योंकि वे सिलतरा औद्योगिक क्षेत्र के निवासी हैं और उन्हें इस बात का एहसास है कि समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण शिविरों का आयोजन कराया जाए और क्षेत्रवासी बीमारियों से मुक्त रहें। डॉ. अजय सहाय, डॉ. चंदन अग्रवाल, डॉ. मनीष गुप्ता, डॉ. अभिषेक सचदेव, डॉ. फरीद शेख, डॉ. अश्विनी देवांगन, डॉ. प्रिया सराफ, डॉ. जितेंद्र  सराफ, डॉ. कृष्णकांत साहू, डॉ. संध्या साहू, डॉ. अनिल गुप्ता, डॉ. कृष्णकांत भोई, डॉ. वोमिका गजपाल, डॉ. दिव्या सचदेव, डॉ. स्वाति सचदेव, डॉ. अंकित शर्मा, डॉ. मोहित पटेल, डॉ. रूद्र साहू, डॉ. अरुण कुमार, डॉ. प्रवास चौधरी, डॉ. कमलेश अग्रवाल, डॉ. अविनाश गुप्ता, डॉ. सुजीत परिहार ने मुख्य रूप से सेवाएं दी। 
 

 


Date : 17-Aug-2019

मोबाइल एप से 7वें आर्थिक गणना सर्वे शुरू, निगम कमिश्नर ने किया शुभारंभ
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त।
भारत सरकार द्वारा कराई जा रही सातवीं आर्थिक गणना का शुभारंभ नगर निगम कमिश्नर शिव अनंत तायल ने किया। यह आर्थिक सर्वेक्षण, राष्ट्रीय जनगणना के बाद देश भर में होने वाली दूसरी सबसे बड़ी गणना है ,जिसमें देश के भीतर क्रियाशील उन सभी उद्यम व प्रतिष्ठानों की गणना की जाती है जिनका भारतीय अर्थव्यवस्था में रोजगार सृजन पर बड़ा योगदान है। नगर निगम मुख्यालय में इस आर्थिक गणना सर्वेक्षण को ध्वज दिखाकर शुभारंभ करते हुए कमिश्नर तायल ने प्रगणकों व पर्यवेक्षकों को इस कार्य को पूरा करने में उनकी सक्रिय भागीदारी को राष्ट्रीय महत्व का अति महत्वपूर्ण कार्य बताया। 

प्रदेश में 16 अगस्त से प्रथम चरण की आर्थिक गणना शुरू कर दी गई है। राज्य के सभी 27 जिलों के 20082 गांवों एवं शहरी क्षेत्र के 9364 प्रखंडों में सातवीं आर्थिक गणना का कार्य निष्पादित किया जाएगा। प्रथम चरण के अंतर्गत 8446 ग्रामों व 3765 प्रगणक खंडों में प्राथमिकता के आधार पर सर्वे प्रारंभ किया जा रहा है। ज्ञात हो कि भारत सरकार द्वारा पिछले सभी छह आर्थिक गणना राज्य शासन के आर्थिक व सांख्यिकी संचालनालय के माध्यम से निष्पादित कराए गए थे। इस बार सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय ,भारत सरकार द्वारा डिजिटल इंडिया के महत्व को देखते हुए सातवीं आर्थिक गणना का कार्य मोबाइल ऐप के जरिए करने हेतु इलेक्ट्रॉनिकी व दूरसंचार मंत्रालय के अधीन कॉमन सर्विस सेंटर, ई गवर्नेस सर्विस प्राइवेट लिमिटेड को इस कार्य की जिम्मेदारी सौंपी गई है,जो आंकड़ों के संग्रहण, प्रमाणीकरण ,रिपोर्ट तैयार करने हेतु ऐप का उपयोग करने का कार्य करेगा। छत्तीसगढ़ में इस सर्वेक्षण हेतु राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के उप महानिदेशक रोशन लाल साहू की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय संचालन समिति गठित की गई है।

नगर निगम मुख्यालय में आर्थिक गणना के शुभारंभ के अवसर पर सीएससी के स्टेट हेड मदन मोहन राउत, एन के सहारे, डीपीएसओ आर एन वर्मा आदि उपस्थित थे।

 

 

 

 

 

 

 


Date : 17-Aug-2019

5 हजार अनियमित कर्मियों की छंटनी के विरोध में 25 को धरना-प्रदर्शन
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त।
प्रदेश के सैकड़ों अनियमित कर्मी छंटनी के विरोध में 25 अगस्त को रायपुर में एकजुट होकर धरना-प्रदर्शन करेंगे।  उनका कहना है कि भूपेश सरकार आने के बाद करीब 5 हजार कर्मियों की छंटनी हो चुकी है। आने वाले दिनों में और भी अनियमित कर्मचारियों की छंटनी हो सकती है। ऐसे में वे सभी सड़क पर उतरने मजबूर हैं। 

अनियमित कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों की शनिवार को यहां कलेक्टोरेट गार्डन में एक बैठक हुई। बैठक में नई सरकार के आने के बाद जारी अलग-अलग विभागों में छंटनी को लेकर चर्चा हुई। इस दौरान पता चला कि स्वास्थ्य विभाग, पंचायत, कृषि, शिक्षा समेत अलग-अलग विभागों में काम करने वाले करीब 5 हजार अनिमित कर्मी नौकरी से हटाए जा चुके हैं। छंटनी का यह क्रम लगातार जारी है। ऐसे में वे सभी एकजुट होकर आंदोलन की रणनीति बना रहे हैं। 

संघ के कमलेश सिन्हा व अन्य पदाधिकारियों का कहना है कि 25 तारीख को आयोजित आंदोलन सांकेतिक है। आंदोलन के माध्यम से वे सभी सरकार से अनियमित कर्मियों की छंटनी बंद करने की मांग करेंगे। इसके बाद भी छंटनी जारी रहने पर वे सभी आगे की रणनीति बनाने के लिए विवश होंगे। 

 


Date : 17-Aug-2019

चरामेति फाउंडेशन द्वारा पंडित सखाराम दुबे शासकीय प्राथमिक शाला में बच्चों को कापी- लेखन सामग्री का वितरण

रायपुर, 17 अगस्त। चरामेति फाउंडेशन द्वारा पंडित सखाराम दुबे शासकीय प्राथमिक शाला में 14 अगस्त को चतुर्थ स्थापना दिवस मनाया गया। इस अवसर पर शाला में उपस्थित विद्यार्थियों को कापियों के साथ लेखन सामग्री भी वितरित की गई। 
शिक्षा सेवा के रूप में स्थापना दिवस मनाए जाने की वार्ड पार्षद एवं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि दिलीप यदु ने सराहना की।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि ज्ञानेश झा ने विद्यार्थियों को कापियों एवं लेखन सामग्री का सदुपयोग करने के लिए कहा। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विकास खंड शोर्ष समन्वयक  शिरीष तिवारी ने चरामेति फाउंडेशन के प्रति आभार व्यक्त करते हुए बच्चों को मन लगाकर पढऩे के लिए कहा। कार्यक्रम में कुलदीप सिंह होरा, डॉ. मृणालिका ओझा,  के एस अरोरा, तन्मय बोस, अजय विश्वकर्मा,  विवेक राठौर,  नीरज रामानुज भाई पुरोहित, ऐस के तिवारी, दीपक पात्रिकर, पी एन सोलंकी, सी पी आर नायडू, मनोज वर्मा,  वी सी सरखेल, जोगिंदर कुमार,  धनंजय वर्मा  प्रशांत महतो,  सुधीर शर्मा,  प्रेम साहू के अलावा प्रधान पाठिका आशा पदमवार, सरोज व्यास, एवं ममता अहार शामिल रही। कार्यक्रम का संचालन चरामेती फाउंडेशन के प्रातीय महासचिव राजेन्द्र ओझा द्वारा किया गया। 


Date : 17-Aug-2019

'सक्षम' संस्था की टीम की पहल पर देवकी जैन के देहावसान उपरांत नेत्रदान किया

रायपुर, 17 अगस्त। 'सक्षम' संस्था की टीम की पहल पर विगत दिवस देवकी जैन के देहावसान उपरांत नेत्रदान किया गया। विदित हो कि 15 अगस्त को परपोड़ी जिला बेमेतरा निवासी देवकी जैन पति गौतम जैन का 15 अगस्त के निजी अस्पताल में देहांत हो गया। 

'सक्षम' जिला सचिव संगीता चौबे एवं संदीप गोलछा ने इस मौके पर जैन परिवार को नेत्रदान के लिए प्रोत्साहित किया फलस्वरूप उनके परिवार की सहमति देवकी जैन की आंखों को अरविंदो नेत्रालय ने सही समय पर नेत्रदान के लिए आई बैंक में सुरक्षित कर दिया। जैन परिवार की ओर से किए गए महादान नेत्रदान के लिए सक्षम टीम ने जैन परिवार के प्रति आभार जताया है। संगीता चौबे ने बताया छत्तीसगढ़ में वर्ष 2008 से 'सक्षम'  समाज सेवा की क्षेत्र में कार्यरत है। जिला स्तर पर दिव्यागंों के लिए भी संस्था काम कर रही है। 

 


Date : 17-Aug-2019

कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने मर्रा में कृषि कॉलेज और अनुसंधान केन्द्र का शुभारंभ किया
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त।
ग्राम मर्रा में आज कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केंद्र का शुभारंभ हो रहा है। यह पाटन की जनता को समर्पित है। यह क्षेत्र में कृषि के विकास के लिए अहम भूमिका निभाएगा। यह बात कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने आज दुर्ग जिले के पाटन विकासखंड के ग्राम मर्रा में महाविद्यालय एवं कृषि मेले के शुभारंभ के अवसर पर कही। इस अवसर पर कार्यक्रम में वन मंत्री मोहम्मद अकबर, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेडिय़ा सहित अनेक जन प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे। 

श्री चौबे ने शुभारंभ समारोह में कहा कि खेती की तरक्की कैसे होगी जब हम आधुनिक पद्धति से खेती करेंगे। इसलिए ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप यह महाविद्यालय शुरू किया गया है। बजट में मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रावधान रखा और अपर मुख्य सचिव केडीपी राव एवं कृषि विवि के कुलपति डॉ एस के पाटिल ने इस पर तेजी से कार्रवाई सुनिश्चित कराई और आज महाविद्यालय का स्वप्न मूर्त रूप ले चुका है। मुख्यमंत्री ने इसके लिए जमीन उपलब्ध करा दी है। भविष्य में महाविद्यालय का तेजी से विस्तार होगा। 

वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि आज मर्रा में कृषि महाविद्यालय आरम्भ हो रहा है। यह मुख्यमंत्री और कृषि मंत्री ने बड़ा तोहफा क्षेत्र की जनता को दिया है। पदभार संभालते ही केवल 2 घंटे के भीतर मुख्यमंत्री ने 14 हजार करोड़ रुपये की कर्जमाफी कर दी। 

महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेडिय़ा ने भी उपस्थिजनों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्णयों से राज्य में कृषि विकास का मार्ग तेजी से प्रशस्त हो रहा है। वे न केवल किसान को उपज के अच्छे मूल्य दिलाने की दिशा में कार्य कर रहे हैं अपितु कृषि महाविद्यालयों की स्थापना से रिसर्च वर्क को भी बढ़ावा दे रहे हैं। अंचल में आधुनिक खेती की दिशा में यह कदम मील का पत्थर साबित होंगे। 

कृषि विवि के कुलपति डॉ. एस.के. पाटिल ने मर्रा स्थित महाविद्यालय की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह प्रदेश का 24 वां महाविद्यालय एवं अनुसंधान केंद्र है। यहां इस बैच में 24 विद्यार्थियों के पढऩे की सुविधा है। उन्होंने कहा कि कृषि की बेहतरीन पढ़ाई के साथ ही यह केंद्र रिसर्च के लिए भी बेहतरीन केंद्र होगा। इस मौके पर अतिथियों ने हितग्राहियों को जाति प्रमाण पत्र का वितरण, वर्मी बेड, बैटरी स्प्रेयर, आइस बॉक्स, मूंग बीज एवं विभिन्न सामग्री हितग्राहियों को प्रदान की। 
इस मौके पर डॉ ओमप्रकाश परगनिहा की किताब का विमोचन भी किया गया। कार्यक्रम में जिले के प्रमुख जनप्रतिनिधियों के साथ बड़ी संख्या में किसान भी मौजूद थे।

 


Date : 17-Aug-2019

आकार लेने लगी हैं गणेश प्रतिमाएं, गणेशोत्सव की तैयारी शुरू

रायपुर, 17 अगस्त। गणेशोत्सव करीब आते ही मूर्तिकार गणेश प्रतिमाओं को अंतिम रूप देने में जुट गए हैं। कई जगहों पर प्रतिमाएं लगभग तैयार कर ली गई है और उसे जल्द सुखाकर रंग-रोगन चढ़ाए जा रहे हैं। दूसरी ओर गणेशोत्सव समितियों द्वारा चौक-चौराहों पर पंडाल लगाने के साथ ही उसकी सजावट शुरू कर दी गई है। लोगों में गणेशोत्सव को लेकर अभी से उत्साह देखा जा रहा है। गणेशोत्सव शहर के चौक-चौराहों, मोहल्लों, कॉलोनियों समेत कई घरों में गणेशजी की प्रतिमाएं स्थापित की जाती हंै। इस दौरान कई छोटे-बड़े आयोजन भी होते हैं। खासकर बच्चों के बीच अलग-अलग स्पर्धाओं के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम रखे जाते हैं। शहरभर में गणेशोत्सव की धूम रहती है। ऐसे त्योहार शुरू होने के पहले उसकी तैयारी जोरों के साथ  चल रही है। मूर्तिकार प्रतिमा निर्माण के साथ ही उसे बाजारों में उतारने की तैयारी में लगे हैं। वहीं विभिन्न संगठनों-समितियों की ओर से उसकी स्थापना की तैयारी शुरू कर दी गई है।

 


Date : 17-Aug-2019

राज्यपाल से राजभवन में छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्रीज के प्रदेशाध्यक्ष ने सौजन्य मुलाकात की

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त।
राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से आज यहां राजभवन में छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्रीज के प्रदेशाध्यक्ष जैन जीतेन्द्र बरलोटा के नेतृत्व में प्रतिनिधिमण्डल ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने सुश्री उइके को राज्यपाल बनने पर बधाई और शुभकामनाएं दी। राज्यपाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्रीज की विभिन्न क्षेत्रों में गतिविधियां हैं और सक्रिय रूप से कार्य करने वाली संस्था है। 

प्रदेश के विकास के लिए संस्था की ओर से जो भी सुझाव-प्रस्ताव दिये जाएंगे, उस पर शासन स्तर तक चर्चा की जाएगी। इससे हमारा प्रदेश तेजी से प्रगति की राह में आगे बढ़ेगा और आर्थिक सशक्तिकरण भी आएगी। प्रतिनिधिमण्डल ने राज्यपाल को बताया कि छत्तीसगढ़ विभिन्न संसाधनों से बहुल राज्य है। यहां कृषि उत्पाद जैसे टमाटर, अदरख प्रचुर मात्रा में होते हैं, अत: खाद्य प्रसंस्करण पर आधारित उद्योग लगाया जा सकता है, इससे युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।  उन्होंने बताया कि यहां चावल की कई प्रजातियां हैं, प्रचुर मात्रा में धान का उत्पादन होता है और चावल विदेशों को निर्यात भी किया जाता है। यहां पर कई वनोपज जैसे ईमली, तिखूर भी प्रचुर मात्रा उत्पादन होता है, जिसे आसपास के राज्यों में भेजा जाता है। इस अवसर पर पूरन लाल अग्रवाल, रमेश गांधी, योगेश अग्रवाल, लालचंद गुलवानी, अरविंद जैन और भरत बजाज उपस्थित थे।

 


Date : 17-Aug-2019

रमन ने छलावा किया, भूपेश ने अजा वर्ग का सम्मान आरक्षण बढ़ाया- डहरिया
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त।
नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने अनुसूचित जाति वर्ग का आरक्षण बढ़ाए जाने का स्वागत किया है। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार माना है। डॉ. डहरिया ने इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह पर तीखा हमला बोला और कहा कि वे अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों के साथ हमेशा झूठ और छलावे की राजनीति करते रहे हैं। 

डॉ. डहरिया ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि रमन सरकार ने अजा वर्ग के आरक्षण में कटौती कर 16 से 12 फीसदी कर दिया था। तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अजा वर्ग के लोगों का आक्रोश को शांत करने की नीयत से यह भी कहा कि वर्ष-2011 में जनगणना की रिपोर्ट आने के बाद आरक्षण संशोधन विधेयक लाकर ऐसा किया जाएगा। लेकिन इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं की गई। 

नगरीय प्रशासन मंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया था कि अजा वर्ग के आरक्षण को ससम्मान वापस किया जाएगा। वर्ष-2013 के विधानसभा चुनाव में घोषणा पत्र से उत्साहित होकर अजा वर्ग के कुछ भीतरघातियों के द्वारा, भाजपा को समर्थन व सहयोग किया जिसके कारण कांग्रेस की सरकार बनते रह गई। उन्होंने कहा कि जनगणना रिपोर्ट के आधार पर आरक्षण का प्रतिशत बढ़ाने की मांग की गई थी। जिसे स्वीकार कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का सार्वजनिक अभिनंदन किया जाएगा। 

 


Date : 17-Aug-2019

गंगरेल में पानी कम, फिर भी सिंचाई के लिए छोड़ा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त।
यह एक ऐसा मामला है जिसमें जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे की सिंचाई के लिए गंगरेल से पानी छोडऩे की घोषणा से विभाग मुश्किल में फंस गया है। हाल यह है कि बांध में पर्याप्त पानी नहीं है और हफ्तेभर लगातार सिंचाई के लिए पानी छोड़ा जाना जारी रहा, तो पेयजल  की समस्या पैदा हो सकती है। इन हालातों पर चर्चा के लिए जल संसाधन विभाग की आपात बैठक चल रही है। 

प्रदेश में अल्प वर्षा की स्थिति को देखते हुए आरंग, अभनपुर क्षेत्र के किसानों ने हाल ही में जल संसाधन मंत्री श्री चौबे से खरीफ फसल की सिंचाई के लिए गंगरेल बांध से पानी छोडऩे की मांग की थी। उनकी इस मांग पर मंत्री श्री चौबे ने 17 अगस्त से गंगरेल से पानी छोडऩे के निर्देश दिए। उनके निर्देश पर आज से प्रति सेकेंड 570 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है और शाम तक उसकी मात्रा बढ़ाकर प्रति सेकेंड 1 हजार क्यूसेक की जा सकती है। नहरों से खेतों तक पहुंचने वाले पानी से फिलहाल राहत मिलेगी, लेकिन आगे पर्याप्त बारिश न होने पर फसल की स्थिति फिर से बिगड़ सकती है। 

जानकारी के मुताबिक गंगरेल में फिलहाल 45 फीसदी, मॉडमसिल्ली में 32 फीसदी व दुधावा बांध में 38 फीसदी पानी है। पिछले साल इस समय तक गंगरेल में 80 फीसदी पानी भर चुका था। गंगरेल में 25-30 फीसदी पानी रायपुर शहर और बीएसपी के लिए रखना जरूरी है, लेकिन सरकार ने गंगरेल से 108 एमसीएम पानी देना तय किया है। यह पानी नहरों से आखिरी छोर तक पहुंच पाएगा या नहीं, यह तय नहीं है। गंगरेल से छोड़े जा रहे पानी से करीब 20 हजार एकड़ में सिंचाई माना जा रहा है।  

सिंचाई अधिकारियों का कहना है कि गंगरेल से जो पानी छोड़ा जा रहा है,  उससे कुरूद, अभनपुर व आरंग क्षेत्र के किसानों को फायदा हो सकता है, लेकिन कसडोल, लवन तक पानी पहुंचना मुश्किल है। उनका अनुमान है कि 108 एमसीएम पानी लगातार छोडऩे पर 8 दिन से ज्यादा नहीं चलेगा। ऐसे में अच्छी बारिश न होने पर बाद में पीने के पानी की समस्या आ सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक फिलहाल करीब हफ्तेभर प्रदेश में अच्छी बारिश के आसार नहीं हैं। ऐसे में बांधों में जमा पानी और उसके बचाव को लेकर चिंता स्वाभाविक है। 

किसान नेताओं का कहना है कि धमतरी, कुरूद क्षेत्र के खेतों में फिलहाल पानी की ज्यादा जरूरत नहीं है, लेकिन अभनपुर, आरंग व उसके आगे के क्षेत्र में सिंचाई के लिए पानी जरूरी है। कई जगहों पर खेत सूख चुके हैं और वहां दरारें पडऩे लगी हैं। ऐसे में नहरों से छोड़े जा रहे पानी को जमीन तुरंत सोख लेगी और धान की जरूरत के मुताबिक वह खेत में नहीं रूकेगा। उनका कहना है कि सिंचाई के लिए पानी की मांग बालोद, दुर्ग, बेमेतरा व मध्य छत्तीसगढ़ के अल्प वर्षा प्रभावित बाकी सभी जिलों से भी आ सकती है। ऐसे में बांधों में कम मात्रा में जमा पानी को उन सभी क्षेत्रों के लिए छोडऩा मुश्किल हो सकता है। 

दूसरी ओर सरकार के फैसले से जल संसाधन विभाग के अफसर मुश्किल में पड़ गए हैं। उनकी यहां एक लंबी बैठक भी चलती रही, जिसमें बांधों में जमा पानी को सिंचाई के लिए देने पर आगे रायपुर शहर और बीएसपी भिलाई के लिए पानी की कमी पर चर्चा चलती रही, क्योंकि कुछ किसान नेताओं ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखकर पानी छोडऩे के मंत्री के निर्देश पर जनहित में पुनर्विचार की मांग की है। 

 


Date : 17-Aug-2019

अविनाश ट्विनसिटी की आज भव्य लॉंचिंग, रायपुर से लेकर दुर्ग तक के नागरिक मौजूद, यूनिक लोकेशन के फायदे के साथ विश्वस्तरीय सुविधाएं

रायपुर, 17 अगस्त। मध्य भारत की बड़ी रियल एस्टेट कंपनी अविनाश ग्रुप ने आज सुबह मेगा टाउनशिप प्रोजेक्ट अविनाश ट्विनसिटी लांच किया। अपने यूनिक लोकेशन की वजह से यह रायपुर से लेकर दुर्ग तक के रहवासियों के लिए कई मायनों में खास साबित होगी। अविनाश ग्रुप द्वारा आज सुबह एक प्रेसवार्ता आयोजित की गई, जिसमें प्रबंध संचालक आनंद सिंघानिया और डायरेक्टर सुनील अग्रवाल ने इस परियोजना के बारे में जानकारी साझा की।  रायपुर, कुम्हारी, भिलाई और दुर्ग के रहवासी इस मौके पर मौजूद थे और प्लॉट्स की बुकिंग किए।

श्री सिंघानिया एवं श्री अग्रवाल ने बताया कि अविनाश ट्विनसिटी मेगा टाउनशिप रायपुर-भिलाई के मध्य, कुम्हारी मे टोल प्लाजा पर नेशनल हाईवे 53 से लगी हुई है। इस प्रोजेक्ट मे रहने वालों को एक तरफ रायपुर शहर की फास्ट लाइफटाइल की सुविधा मिलेगी तो दूसरी ओर एजुकेशन हब भिलाई का फायदा मिलेगा। वर्किंग प्रोफेसनल, बिजनेस मैन, अर्ध शासकीय सेवा करने वालो को रायपुर और नया रायपुर जाने में सुविधा होगी, बच्चों की पढ़ाई के लिए भिलाई में स्थित प्रतिष्ठित संस्थान जैसे आईआईटी, इंजीनियरिंग कालेज और स्कूल जाना अब आसन हो जाएगा। 

श्री सिंघानिया एवं श्री अग्रवाल ने बताया कि शासन के प्रस्तावित खारुन रिवर फ्रंट परियोजना का भी अविनाश ट्विनसिटी को लाभ मिलेगा। प्रोजेक्ट से करीबी, रायपुर रेलवे स्टेशन की दूरी मात्र 11 किमी है। रायपुर एयरपोर्ट और दूसरी ओर भिलाई इस्पात सयंत्र तक की दूरी मात्र 30 मिनट मे तय की जा सकती है। 1000-2000 वर्ग फीट के प्लाट उपलब्ध हैं। भव्य प्रवेशद्वार, मंदिर, क्लब हाउस , 10 लैंडस्केप्ड  गार्डन , स्विमिंग पूल, किड्स प्ले एरिया, जोगिंग ट्रैक, 24 घंटे सैक्युरिटी, सीसीटीवी, अंडरग्राउंड केबलिंग जैसी विश्वस्तरीय सुविधाएं यहां मिलेंगी। अविनाश ट्विनसिटी को ग्राहकों का जो प्रतिसाद मिला है। 

 


Date : 17-Aug-2019

प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण के लिए 12 सदस्यीय अध्ययन दल गठित, मुंबई, हैदराबाद व दिल्ली भ्रमण 20 से 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 अगस्त।
प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण को लेकर 12 सदस्यीय एक अध्ययन दल का गठन किया गया है, जिसमें दो विधायक समेत छत्तीसगढ़ी फिल्म से जुड़े लोग शामिल हैं। यह दल 20 से 25 अगस्त तक मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद का भ्रमण कर सुझाव व कांसेप्ट प्लान तैयार करेगा। इसके बाद उसे संस्कृति विभाग को सौंप देगा। 

सूत्रों के मुताबिक छत्तीसगढ़ के जन प्रतिनिधियों, कला विशेषज्ञों, कला मर्मज्ञों, फिल्म निर्माता, कलाकार तथा विभागीय प्रतिनिधियों के इस दल को मुंबई फिल्म सिटी के प्रख्यात सेट डिजाइनर एवं कलाकार जयंत देशमुख के मार्गदर्शन में भेजा जा रहा है। 
अध्ययन दल में केसकाल विधायक लखेश्वर बघेल, गुंडरदेही विधायक कुंवर सिंह निषाद, कला विशेषज्ञ दिलीप लहरिया, छत्तीसगढ़ी फिल्म अभिनेता अनुज शर्मा, फिल्म निर्माता प्रेम चंद्राकर, दिलीप षड़ंगी, सुनील तिवारी भूपेन्द्र साहू, विनय जैन, लक्ष्मण चंद्राकर, गुरप्रीत सिंह व उपयंत्री सुभाष जैन शामिल हैं। माना जा रहा है कि प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण से प्रदेश के कलाकारों के काम के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। 

 


Date : 17-Aug-2019

राज्यपाल से शबनम मौसी की भेंट 

रायपुर, 17 अगस्त। राज्यपाल अनुसुईया उइके से राजभवन में मध्यप्रदेश के शहडोल जिले के सोहागपुर विधानसभा के पूर्व विधायक शबनम मौसी ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने राज्यपाल को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी। राज्यपाल ने शबनम मौसी को शाल और श्रीफल भेंट स्वरूप प्रदान किया। 


Date : 17-Aug-2019

राज्यपाल से मुलाकात की 

रायपुर, 17 अगस्त। राज्यपाल अनुसुईया उइके से राजभवन में मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी और कृषि तथा ग्रामोद्योग विभाग की प्रमुख सचिव एवं छत्तीसगढ़ भवन नई दिल्ली की आवासीय आयुक्त डॉ. मनिंदर कौर द्विवेदी ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने राज्यपाल को पुष्पगुच्छ भेंट कर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी। 

 


Date : 17-Aug-2019

निषाद समाज महानगर महिला समिति द्वारा स्वतंत्रता दिवस हर्ष और उल्लास के साथ मनाया 

रायपुर, 17 अगस्त। निषाद समाज महानगर महिला समिति रायपुर के द्वारा स्वतंत्रता दिवस हर्ष और उल्लास के साथ रामसागर पारा निषाद भवन में मनाया गया। मुख्य अतिथि निषाद समाज रायपुर जिला अध्यक्ष डीआर निषाद ने सुबह साढ़े 7 बजे ध्वजारोहण किया। इसके बाद उन्होंने स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भविष्य में समाज में एकता और उन्नति के लिए अच्छे कार्य के लिए और प्रयास किए जाएंगे। महिला समिति की सदस्यों ने स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों को याद करते हुए कहा कि समाज के लिए आगे आकर नि:स्वार्थ भाव से समाज सेवा करेंगे। समाज में महिला संगठन को सुदृढ़ करेंगे, और विकासात्मक एवं रचनात्मक कार्य भविष्य में करते रहेंगे। इस अवसर पर रायपुर महानगर अध्यक्ष बसंत निषाद, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष आनंद निषाद, नरेश, रामेश्वर निषाद, गणेश, मीना, माया, चंद्रकला आदि उपस्थित रहीं।