छत्तीसगढ़ » रायपुर

Date : 14-Jul-2019

बुनकरों की आय बढ़ाने हरसंभव कोशिश- स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव
पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने नई दिल्ली में हस्तशिल्प और हथकरघा प्रदर्शनी का किया अवलोकन 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 14 जुलाई।
पंचायत एवं ग्रामीण विकास तथा स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव  ने नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन में लगे  हस्तशिल्प और हथकरघा प्रदर्शनी का  अवलोकन किया। उन्होंने बुनकरों की कारीगरी और मेहनत की सराहना करते हुए कहा कि बुनकरों को उनकी मेहनत का वाजिब दाम मिले, इसके लिए छत्तीसगढ़ सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। बुनकरों के लिए कम कीमत पर कच्चे माल की व्यवस्था की जानी चाहिए।

श्री सिंहदेव ने कहा कि छत्तीसगढ़ के बुनकरों की कोसा तथा हथकरघे की कारीगरी बेहद खूबसूरत है। हमें इनके लिए नए बाजार की तलाश करना चाहिए। छत्तीसगढ़ के हस्तशिल्प के प्रचार-प्रसार और बिक्री बढ़ाने महानगरों में ज्यादा से ज्यादा संख्या में प्रदर्शनी लगाना चाहिए।

 


Date : 14-Jul-2019

बारिश नहीं, खेतों में पडऩे लगी दरारें, चिंतित किसान पूजा-पाठ में जुटे

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 14 जुलाई।
प्रदेश में पिछले करीब हफ्तेभर से अच्छी बारिश न होने से खेत सूखने लगे हैं और कहीं-कहीं दरारें भी पडऩे लगी हैं।  दूसरी ओर समय पर बारिश न होने से चिंतित किसान अब मंदिर-देवालयों तक पहुंचकर पूजा-पाठ में जुट गए हैं। किसानों का कहना है कि आने वाले कुछ दिनों में झमाझम बारिश न होने पर खेती पिछडऩे के साथ ही धान के पौधे मुरझाकर नष्ट हो सकते हैं।  

प्रदेश के करीब 36 लाख हेक्टेयर में इस साल धान बुवाई का लक्ष्य रखा गया है, लेकिन मानसून देर से आने और अच्छी बारिश न होने से बहुत कम खेतों की बुवाई हो पाई है। धान थरहा डालकर बैठे किसान उसकी रोपाई का इंतजार कर रहे हैं। खेती के लिए पर्याप्त पानी जरूरी है, पर यहांं खेत सूखने लगे हैं। ऐसे में धान बुवाई-रोपाई के साथ बाकी सभी काम लगभग ठप सा है। 

किसानों का कहना है कि जिन किसानों के पास बोर या अन्य सिंचाई साधन हैं, वे सभी धान की रोपाई में जुटे हैं। बाकी अधिकांश किसान बारिश का इंतजार कर रहे हैं। कुछ किसान मंदिर-देवालयों तक पहुंचकर पूजा-पाठ में लगे हैं और यह कामना कर रहे हैं कि अच्छी बारिश हो। उनका कहना है कि आने वाले कुछ दिनों में बारिश न होने से उनकी खेती और ज्यादा बिगड़ सकती है। 

सब्जी फसल भी प्रभावित
बारिश न होने से प्रदेश में सब्जी-भाजी की फसल भी प्रभावित होने लगी है और यह फसल सूखकर खराब होने लगी है। किसानों का कहना है कि धान की तरह सब्जी-भाजी फसल के लिए भी समय पर पानी जरूरी है। पानी के अभाव में उनकी यह फसल भी खराब हो सकती है। 


Date : 14-Jul-2019

शिव आराधना का सावन माह 17 जुलाई से शुरू, मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना अभिषेक की तैयारी शुरू
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 14 जुलाई।
भगवान भोलेनाथ का प्रिय सावन माह 17 जुलाई से शुरू हो रहा है। इस बार 4 सावन सोमवार पड़ रहे हैं। इस बार तीसरे सोमवार को नागपंचमी के साथ त्रियोग का संयोग बन रहा है। सावन माह में शिवालयों में विशेष साज सज्जा और भोलेनाथ के श्रृंगार की तैयारियां शुरू हो गई हंै। 

सावन महीने में भगवान भोलेनाथ की आस्था से सराबोर राजधानी कांवडिय़ों के बोल बम के जयकारों से गुंजायमान होगी। शिवालयों में भोलेनाथ का विशेष श्रृंगार किया जाएगा। शिव आस्था से रचे बसे महादेव घाट में हटेश्वर महादेव के दर्शन के लिए शिवभक्तों की लंबी कतार लगेगी।

महादेव घाट हटकेश्वर महादेव के पुजारी पं. सुरेशगिरी गोस्वामी ने बताया सावन के प्रत्येक सोमवार को सुबह 4 बजे हटकेश्वर महादेव की आरती की जाएगी। सुसज्जित गर्भगृह में विराजित हटकेश्वर महादेव के दर्शन के लिए सुबह 5 बजे से मंदिर के कपाट खोल दिए जाएंगे। दोपहर को महादेव का विशेष श्रृंगार किया जाएगा और शाम को महाआरती की जाएगी। प्रत्येक सोमवार को हटकेश्वर महादेव का नवीन श्रृंगार किया जाएगा। 

सावन माह में भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना के लिए मंदिर खास साज-सज्जा की जा रही है। बूढ़ेश्वर मंदिर के पं. महेश पाण्डेय ने बताया कि भोर आरती पश्चात शिवभक्तों के लिए मंदिर के द्वार खोल दिए जाएंगे। सावन के प्रत्येक सोमवार को बूढ़ेश्वर महादेव का बेल पत्र फूल से विशेष श्रृंगार किया जाएगा। शिवभक्तों की आस्था से मंदिर सराबोर रहेगा। 

 


Date : 14-Jul-2019

तेलीबांधा तालाब में लगाए वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, देखने केंद्र से पहुंचे अफसर, सराहना

रायपुर, 14 जुलाई। भारत सरकार के अंतर्गत केन्द्रीय जहाजरानी मंत्रालय में संयुक्त सचिव रबीन्द्र अग्रवाल ने तेलीबांधा स्थित सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का भ्रमण व अवलोकन किया। उन्होंने तालाबों के शुद्धिकरण के लिए रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड की इस पहल की तारीफ  की और इस तरह की परियोजना को शहरी क्षेत्रों की मुख्य जरूरत बताया।

श्री अग्रवाल केंद्र सरकार की जलशक्ति अभियान के अंतर्गत रायपुर जिले में संचालित कार्ययोजनाओं के निरीक्षण के लिए छत्तीसगढ़ के भ्रमण पर पहुंचे। जल शुद्धिकरण, जल संरक्षण, और भू गर्भीय जल स्तर को बढ़ाने तेलीबांधा प्रोजेक्ट को नवाचार मानते हुए उन्होंने तेलीबांधा परियोजना को देश भर में एक माडल के रुप में चिन्हित किया है। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी और रायपुर नगर निगम देश भर में ऐसा पहली नगरीय निकाय है जिसने भू जल संरक्षण व आम निस्तारी  के लिए एक साथ 45 तालाबों के संरक्षण और शुद्धिकरण की ठोस कार्ययोजना निर्धारित की है। श्री अग्रवाल के साथ रायपुर नगर निगम के अपर आयुक्त अविनाश भोई और भेल के परियोजना विभाग के उप महाप्रबंधक थोरात सी एल, जल संसाधन विभाग, नगर निगम,स्मार्ट सिटी के अधिकारी भी मौजूद थे।

रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के प्रबंधक प्रमोद भास्कर ने इस संयंत्र में नालों से बहकर आने वाले पानी की शुद्धिकरण संपूर्ण प्रक्रिया के बारे में श्री अग्रवाल को विस्तार से बताया। उन्होंने संयंत्र के विभिन्न हिस्सों तथा उनकी कार्यप्रणाली का भी अवलोकन किया। उल्लेखनीय है कि इस तरह का एसटीपी बूढ़ा तालाब के पास भी स्थापित किया जा रहा है। उन्हें अवगत कराया गया कि रायपुर के 48 तालाबों को पुनर्जीवित किए जाने हेतु प्रक्रिया शुरू की जा रही  है।

 श्री अग्रवाल ने तालाबों के पुनर्जीवन व शुद्धिकरण के लिए नगर निगम और स्मार्ट सिटी के प्रयासों की सराहना की।

 


Date : 14-Jul-2019

सूचना तकनीक से बढ़ा स्कूली बच्चों में पढ़ाई के प्रति आकर्षण- राज्य शैक्षणिक अनुसंधान

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 14 जुलाई।
स्कूलों में शैक्षिक गुणवत्ता की दिशा में राज्य को अग्रसर बनाने के लिए राज्य शैक्षणिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा नए शिक्षा सत्र से की गई अभिनव पहल से स्कूली बच्चों में पढ़ाई के प्रति आकर्षण बढ़ रहा है। पाठ्य पुस्तकों की पारंपरिक दुनिया से आगे सक्रिय पाठ्य पुस्तक तैयारी के लिए नवीनतम सूचना तकनीक का उपयोग किया गया है। 

राज्य शैक्षणिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के अधिकारियों ने बताया कि शिक्षा सत्र 26 जून से प्रारंभ हुआ तब से 3 जुलाई तक प्ले-स्टोर से दीक्षा एप डाउनलोड कर पाठ्य पुस्तकों में उपलब्ध रोचक पाठ्य सामग्रियों का उपयोग तीन हजार घंटों तक किया जा चुका है। पुस्तक में उपलब्ध अतिरिक्त पाठ्य सामग्री के उपयोग के लिए 60 हजार बार क्यूआर कोड को स्केन किया गया। एप पर पाठ्य सामग्रियों का अध्ययन 70 हजार बार किया गया और पीसी, मोबाईल-फोन, टेबलेट जैसे 18 हजार विभिन्न प्रारूपों पर देखा गया। पाठ्य पुस्तकों का उपयोग ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीकों से किया जा रहा है। इसका बुनियादी ढांचा मल्टीचैनल है। इसे पीसी, मोबाईल-फोन, टेबलेट जैसे विभिन्न प्रारूपों पर प्राप्त किया जा  सकता हैं। डिजिटल इंफ्रॉस्ट्रक्चर ऑन नॉलेज शेयरिंग (दीक्षा) पोर्टल का विशेष आकर्षण आकलन भी है। अभ्यास में अंकित क्यू.आर. कोड पर रोचक प्रश्न भी दिए गए हैं, जिससे विद्यार्थी खेल-खेल में सीखने का आकलन कर सकेगे।
राज्य में हिन्दी माध्यम की कक्षा पहली से दसवीं तक विभिन्न विषयों की 67 किताबें तैयार कर इनकी दो करोड़ 83 लाख एक हजार 216 प्रतियां मुद्रित कर विद्यार्थियों तक पहुंचाई गई हैं। इन पुस्तकों में तीन हजार चालीस क्यूआर कोड अंकित किए गए हैं। इससे विभिन्न पाठ्य सामग्रियों के वीडियो, ऑडियो, पीपीटी और पीडीएफ के रूप में रोचक सामग्री प्रस्तुत की गई हैं। यह विद्यार्थियों एवं शिक्षकों दोनों के लिए उपयोगी होगी। मोबाइल पर क्यू.आर. कोड स्केन कर संबंधित पाठ से अतिरिक्त प्रश्न एवं उत्तर और अन्य जानकारी प्राप्त की जा सकती है। बच्चों को उनकी भाषा में पाठ्य सामग्री प्राप्त हो और शिक्षा आनंददायी बन सकें इस उद्देश्य से क्यू.आर. कोड के लिए विशेष आकर्षण बहुभाषा में पाठ्य सामग्री का विकास करना भी है। 

सक्रिय पाठ्य पुस्तक का प्रमुख उद्देश्य पाठ्यचर्या से संबंधित अतिरिक्त aसामग्री उपलब्ध कराना है। जो पठन-पाठन में मदद करने के साथ कक्षा के पाठ्य पुस्तकों के अलावा विद्यार्थियों को अतिरिक्त शैक्षणिक सामग्री प्राप्त करने की सुविधा देगा। यह शिक्षकों एवं विद्यार्थियों के सीखने की आवश्यकता की पूर्ति करती है। एकल शिक्षकीय शालाओं के लिए यह विशेष रूप से उपयोगी सिद्ध होगा।  इन पाठ्य पुस्तकों को उपयोग करने के लिए प्ले-स्टोर से दीक्षा एप डाउनलोड कर सकते हैं।


Date : 14-Jul-2019

बस की ठोकर से पिता-पुत्र की मौत, मां-बेटी घायल, ड्रायवर गिरफ्तार
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अभनपुर/नवापारा, 14 जुलाई।
शनिवार दोपहर को अभनपुर के पास बस की ठोकर से बाइक सवार पिता और पांच साल के बेटे की मौके पर मौत हो गई, वहीं उसकी पत्नी और तीन साल की बच्ची गंभीर रूप से घायल हो गर्इं। हादसे के बाद बस चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 जानकारी के मुताबिक ग्राम चेरिया निवासी महेंद्र तारक अपनी पत्नी लक्ष्मी, पांच वर्षीय बेटा सूर्या और तीन वर्षीय बेटी किरण के साथ मोटर साइकिल से अभनपुर से रायपुर जा रहे थे। इस दौरान छत्तीसगढ़ ढाबा के पास तेज रफ्तार बस क्रमांक सीजी04 एफ जी 0786 ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाईक सवार सभी सड़क पर गिर गए। दुर्घटना में गंभीर चोट लगने की वजह से महेंद्र और उसके बेटे की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं पत्नी और बेटी गंभीर रूप से घायल हो गईं। दोनों को रायपुर मेकाहारा भेजा गया। पुलिस ने बस चालक श्यामलाल नेताम को गिरफ्तार कर लिया है। 

थाना प्रभारी बोधन साहू ने बताया कि मृतकों में पिता महेन्द्र तारक एवं पुत्र सूर्या तारक का पंचनामा कर पोस्टमार्टम हेतु भेजा गया। शाम होने के वजह से पीएम नहीं हो पाया है।
 रविवार 14 जुलाई को पीएम होगा। 

 


Date : 14-Jul-2019

मां ब्रम्हचारिणी दरबार में गुरू पूर्णिमा महोत्सव 16 को 

राजिम, 14 जुलाई। माँ ब्रम्हचारिणी दरबार शिवाजी चौक अमापारा राजिम में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी गुरु पूर्णिमा महोत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा। मंदिर समिति के ताजराम साहू ने बताया की दिनांक 16 जुलाई मंगलवार को प्रात: 9 से दोपहर 2 बजे तक गुरु पूर्णिमा महोत्सव मनाया जाएगा।

 गुरुदेव भरतलाल साहू (भगत) एवं पं. अर्जुननयन तिवारी के पावन सानिध्य में कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इस अवसर पर मंदिर समिति के तेजेश साहू, फगेंद्र यदु, भागीराम साहू, दिनेश्वर साहू, यशवंत साहू, ईश्वर सिन्हा, विजेंन्द्र वर्मा, भुवन साहू, नारायण प्रसाद देवांगन, गणेश पटेल, तुलसी राम साहू, चुन्नीलाल देवांगन, जनक साहू, लक्ष्मण साहू, रूपलाल साहू आदि ने भक्तों से अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होने की अपील की है।

 


Date : 14-Jul-2019

साईं बाबा मंदिर का स्थापना दिवस मनाया, बाजे गाजे के साथ पालकी यात्रा निकाली
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजिम, 14 जुलाई।
गरियाबंद रोड स्थित साईं बाबा मंदिर का स्थापना दिवस मनाया गया। प्रात: मंदिर में काकड़ आरती की गई। पश्चात श्री साईं व्रत कथा एवं हवन पूजन किया गया। दोपहर 12 बजे मध्यान आरती की गई। दोपहर 1 बजे साईं बाबा के भक्तों के लिए आम भंडारा की व्यवस्था की गई। भंडारा में हजारों भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया। दोपहर 2 बजे के बाद साईं मंदिर राजिम से साईं बाबा की पालकी यात्रा बाजे गाजे के साथ निकाली गई। 

पालकी यात्रा साईं मंदिर से नगर के प्राचीन दत्तात्रेय मंदिर तक निकाली गई। इस अवसर पर मंदिर परिसर में साईं सेवा संस्थान द्वारा स्कूली बच्चों को स्कूल बैग एवं कॉपी कलम का वितरित किया गया। संध्या आरती 6.30 बजे संख्या आरती की गई। आरती के पश्चात बजरंग अखाड़ा प्रमुख सफल धीवर एवं साथियों द्वारा साईं भजन की आकर्षक प्रस्तुति की गई। कार्यक्रम में साईं सेवा संस्थान के प्रमुख मोहन ठाकुर, लाला साहू, लिलेश्वर यदु, दौलत सिंह ठाकुर रायपुर, मुकेश देवांगन रायपुर, योगेश तिवारी, मुन्ना ठाकुर, सफिल धीवर, मुकेश सोनकर, भुरू ठाकुर, संजू सिंह ठाकुर, संजय यादव, गोलू सोनकर, युवेन्द यदु, राकेश गुप्ता, दिलीप गोस्वामी, पूरन यादव, मुकेश अवसरिया, नारायण साहू, नवदीप भार्गव गातापार, कमल धीवर, गोलू दाढे, गोपी धीवर, मुक्तानंद यादव, दानू ठाकुर, जगतपाल ठाकुर, रीना ठाकुर, बबली ठाकुर, इंदु साहू, अनीता यादव, श्रीमती महोबिया, मीता महाडि़क, खुशबु ठाकुर, भारती देवांगन, महिमा ठाकुर, मालती ठाकुर, साईं मंदिर से देवा ठाकुर, नागेश अवसर एवं पुजारी अश्वनी सिंह ठाकुर सहित बड़ी संख्या में भक्तगण उपस्थित थे।

 


Date : 13-Jul-2019

नेशनल लोक अदालत में पति-पत्नी में विवाद सहित कई मामलों का हुआ निराकरण

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
जिला न्यायालय में शनिवार को आयोजित नेशनल लोक अदालत में पति-पत्नी में विवाद सहित कई मामलों का निराकरण किया गया। लोक अदालत में 11 हजार से ज्यादा मामलों की सुनवाई की गई। इसमें सिविल और राजीनामा योग्य आपराधिक मामले शामिल किए गए सुनवाई में 6 हजार मामले न्यायालय के तथा 5 हजार से ज्यादा प्रिलिटिगेशन के मामले शामिल रहे। 

पवन कुमार अग्रवाल प्रधान न्यायाधीश की अदालत में छेडख़ानी और मारपीट के केस में पक्षकारों के बीच सुलह कराई गई। आरोपी ने इस मौके पर महिला से माफी मांगी। इसी तरह टिकरापारा में मारपीट के केस में आपसी राजीनामे से दो पक्षों के बीच सुलह कराई गई। 
कुटुम्ब अदालत में बुजुर्ग दंपत्ति के बीच भरण-पोषण राशि की सहमति के साथ मामले का निराकरण किया गया। पति की शराब की आदत से परेशान होकर अदालत की शरण लेने वाले दंपत्ति के बीच अदालत ने सुलह कराई। 


Date : 13-Jul-2019

नगर निगम ने सडक़ों पर घूम रहे दो दर्जन आवारा मवेशियों की धर-पकड़ शुरू

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
लगातार शिकायत के बाद नगर निगम ने सडक़ों पर घूम रहे आवारा मवेशियों की धर-पकड़ शुरू कर दी है। शहर के शास्त्री चौक, नगर घड़ी चौक, मालवीय रोड, जीई रोड, पुरानी बस्ती, टिकरापारा समेत कई जगहों से दो दर्जन से अधिक मवेशी पकडक़र कांजी हाउस में डाले गए। निगम अधिकारियों का कहना है कि आवारा मवेशियों को पकडऩे उनका अभियान फिलहाल जारी रहेगा। 

निगम की लगातार हिदायत के बाद भी डेयरी मालिक व अन्य लोग अपने मवेशियों को हर रोज सडक़ों पर छोड़ देते हैं। ये मवेशी सब्जी बाजारों से लेकर मुख्य मार्गों पर घूमते हुए वहीं अपना ठिकाना बनाकर बैठे रहते हैं। दूसरी ओर आवारा मवेशियों के चलते हादसों का डर लगातार बना रहता है। रात में कई बार हादसे भी हो चुके हैं। बाइक सवार मवेशियों से टकराकर घायल हो रहे हैं। निगम की कार्रवाई न होने से इन दिनों सडक़ों पर आवारा मवेशियों की जमघट लग रही है। 

अभियान से जुड़े कर्मियों का कहना है कि निगम अफसरों के आदेश पर वे सभी काऊ कैचर लेकर शहर की सडक़ों पर निकलते हैं। चौक-चौराहों और मुख्य मार्गों पर बैठे मवेशियों को काऊ कैचर में डालकर उसे कांजीहाउस तक ले जाते हैं। उनका कहना है कि दोपहर तक दो दर्जन से अधिक आवारा मवेशी पकड़ लिए गए हैं, अभियान जारी है। 

 


Date : 13-Jul-2019

आर्थिक तंगी, भावना लॉ कॉलेज में दाखिला से वंचित

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
गरियाबंद जिले के ग्राम कोसमबुड़ा (छुरा) के किसान गुमान सिंह ध्रुव की बेटी भावना आर्थिक तंगी के कारण हिदायतुल्ला विधि विवि में दाखिला नहीं ले पा रही है। फीस जमा करने की अंतिम तिथि 16 जुलाई है और उसके पिता 1,88,130 रुपये फीस की राशि जुटाने में असमर्थ हैं।  भावना के पिता गुमान सिंह ध्रुव ने शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर बेटी की पढाई के लिए आर्थिक मदद मांगी है। 

अनुसूचित जनजाति की भावना ध्रुव ने बताया कि उसने प्रयास आवासीय विद्यालय बिलासपुर में 11वीं और 12वीं की पढ़ाई करते हुए क्लैट की कोचिंग की थी। क्लैट में ऑल इंडिया रैंक 40787 तथा ऑल इंडिया कैटेगरी में उसकी 554 वीं रैंक है। रैंक के आधार पर उसका हिदायतुल्ला राष्ट्रीय विधि विवि में बीएएलएलबी के लिए चयन हो गया है। लॉ कॉलेज में दाखिले के लिए उसे 16 जुलाई तक 1,88,130 रु. जमा करना है लेकिन उसके पिता के पास फीस के लिए पैसे नहीं हैं।  भावना कहती है प्रयास से कोचिंग के बावजूद अगर वह लॉ कॉलेज में दाखिले से वंचित रह जाएगी तो प्रयास की कोचिंग उसके लिए बेमानी साबित हो जाएगी।

भावना के पिता गुमान सिंह ध्रुव ने बताया कि उनके पास मात्र डेढ़ एकड़ खेत है। उन्होंने किसी तरह 50 हजार जुटा कर लॉ कॉलेज में बेटी की सीट रिजर्व करा ली है लेकिन 16 जुलाई तक 1,88,130 रुपये जुटाना उनके लिए कठिन है। बेटी की पढ़ाई के लिए शिक्षा मंत्री से उन्होंने आर्थिक मदद मांगी है। मदद न मिलने पर मजबूरन उसकी बेटी लॉ की पढ़ाई से वंचित रह जाएगी। 

 


Date : 13-Jul-2019

विप्र कला वाणिज्य एवं शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय में उत्कृष्ठ खिलाड़ी विप्र खेल रत्न से सम्मानित 

रायपुर, 13 जुलाई। विप्र कला वाणिज्य एवं शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय में शनिवार को आयोजित खिलाड़ी सम्मान समारोह में राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय स्तर में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों को विप्र खेल रत्न से सम्मानित किया गया। 

खिलाड़ी सम्मान समारोह के अवसर पर अखिल भारतीय स्तरीय स्पर्धा में पं. रविवि का प्रतिनिधित्व करने वाले विप्र कॉलेज के 58 खिलाडिय़ों को  भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विप्र शिक्षण समिति अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा ने ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीतने वाले खेल रत्न से सम्मानित कोमेश डान्डे को विप्र कॉलेज में नि:शुल्क अध्ययन सुविधा प्रदान करने की घोषणा की। 

इस अवसर पर वल्र्ड यूनिवर्सिटी नौकायान प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले स्वाती साहू, एशियन सॉफ्टबॉल स्पर्धा में शामिल खिलाड़ी प्रीति वर्मा को विप्र खेल रत्न से सम्मानित किया। इस अवसर पर प्राचार्य डॉ. मेघेश तिवारी ने महाविद्यालय में उपलब्ध खेल मैदान प्रशिक्षण सुविधा के संदर्भ में जानकारी देते हुए कहा कि इस वर्ष 58 विद्यार्थियों का विश्वविद्यालय की ओर से अखिल भारतीय स्तर पर प्रतिनिधित्व करना ऐतिहासिक उपलब्धि है। खिलाड़ी सम्मान समारोह का संचालन डॉ. कैलाश शर्मा ने किया। इस अवसर पर विवेक शर्मा, रीना शुक्ला, मोहित श्रीवास्तव सहित समस्त प्राध्यापक एवं विद्यार्थीगण मौजूद रहे। 

 


Date : 13-Jul-2019

ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में नाबार्ड की भूमिका महत्वपूर्ण- कृषक कल्याण मंत्री चौबे

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
प्रदेश के कृषि विकास एवं कृषक कल्याण मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा है कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में नाबार्ड की महत्वपूर्ण भूमिका है। 
श्री चौबे रायपुर में नाबार्ड के 38वें स्थापना दिवस पर आयोजित समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गांवों और किसानों की समृद्धि से ही हमारा राज्य खुशहाल एवं समृद्ध बनेगा। उन्होंने जल ग्रहण क्षेत्र विकास कार्यक्रम और कौशल विकास से समृद्धि पत्रिका का विमोचन किया तथा नाबार्ड के द्वारा संचालित वाटरशेड विकास निधि, किसान उत्पादक विकास संगठन, आदिवासी विकास निधि के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए पुरस्कार प्रदान किए।

श्री चौबे ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में 2500 रूपए क्विंटल की दर से रिकार्ड धान खरीदी की गई है। अगले वर्ष 2500 रूपए की दर से धान खरीदी करने पर 20 से 25 लाख क्विंटल अतिरिक्त धान की खरीदी होने की संभावना है। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों की समृद्धि के लिए चलायी जा रही राज्य की महत्वाकांक्षी योजना में नरवा, गरूवा, घुरवा अऊ बाड़ी के विकास और संवर्धन की विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि गौठान में गोबर गैस संयंत्र, लगाया जाएगा और इनके संचालन के लिए स्व-सहायता समूहों को दायित्व सौंपा जाएगा। 
श्री चौबे ने कहा कि राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में परम्परागत रूप से लोहारी, बढ़ाई, कुम्हार, बंसोड़ आदि कार्यों से जुड़े युवाओं को आजीविका के लिए बाजार उपलब्ध कराने को ध्यान में रखते हुए पौनी-पसारी योजना शुरू की जा रही है। उन्होंने नाबार्ड के अधिकारियों को आगामी खरीफ सीजन में धान खरीदी, सुराजी गांव योजना तथा परम्परागत रूप से व्यवसाय करने वाले छोटे कारोबारियों को सक्षम बनाने की दिशा में कार्य करने पर जोर दिया।

सहकारिता विभाग के सचिव रीता शाडिल्य ने कहा कि वर्ष 1982 में नाबार्ड की स्थापना कृषि एवं ग्रामीण विकास को बढ़ावा देने के लिए किया गया था। भारत के लाखों-लाख ग्रामीण क्षेत्रों तक सुगम पहुंचने के लिए सडक़ों का निर्माण करवाने का लगातार प्रयास करने की अवश्यकता है। नाबार्ड के मुख्य महाप्रबंधक सुरेश ने नाबार्ड के कार्यों एवं प्रस्तावित योजनाओं के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम को एसबीआई के एस.एल.व्ही.सी. कनवेयर आलोक सिन्हा ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर पद्मश्री फूलबासन बाई, शमशेद बेगम एवं नाबार्ड, विभिन्न बैंकों के पदाधिकारी, एनजीओ, स्व-सहायता समूह, सीएसआर के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

 


Date : 13-Jul-2019

निजी अस्पतालों द्वारा स्मार्ट कार्ड से इलाज न करने या ज्यादा राशि मांगने पर कार्रवाई 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
अनुबंधित निजी अस्पतालों में स्मार्ट कार्ड से इलाज न करने या पैकेज से ज्यादा राशि मांगने की शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी और उसे स्मार्ट कार्ड योजना से बाहर किया जाएगा। इसके अलावा अस्पताल में बाकी गड़बड़ी की की भी जांच की जाएगी। 
प्रदेश में करीब 58 लाख बीपीएल, एपीएल परिवारों के मुफ्त इलाज के लिए स्मार्ट कार्ड बनाए गए हैं। बीपीएल परिवारों को आयुष्मान योजना और एपीएल  परिवारों का मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत इलाज की सुविधा दी गई है, लेकिन सरकार की इस सुविधा को लाभ मरीजों को  निजी अस्पतालों में सही ढंग से नहीं मिल पा रहा है। उन्हें वहां पैकेज कम बताकर और राशि की मांग की जा रही है और मरीज-परिजन परेशान हैं। मीडिया में इसकी शिकायत लगातार सामने आ रही है, पर सरकार की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। 

आईएमए अस्पताल बोर्ड के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. राकेश गुप्ता का कहना है कि महंगाई के हिसाब से स्मार्ट कार्ड में इलाज पैकेज बहुत कम है। इसकी शिकायत रमन सरकार से कई बार की गई। अंत तक सुधार न करने पर कई अस्पतालों ने सितंबर-2018 के बाद स्मार्ट कार्ड से इलाज बंद कर दिया। उनका कहना है कि आईएमए की तरफ से सरकार को एक ट्रस्ट बनाकर बीपीएल मरीजों का इलाज कराने सुझाव दिया गया था, लेकिन सरकार ने उनकी बात नहीं सुनीं। सभी के मुफ्त इलाज के लिए एक ही पैकेज तय है और कम पैकेज में इलाज संभव नहीं है। 

सचिव स्वास्थ्य निहारिका बारिक का हिदायत देते हुए कहना है कि निजी अस्पतालों में स्मार्ट कार्ड से इलाज न करने या पैकेज से ज्यादा पैसे मांगने की शिकायत आती रही है। शिकायतों पर कार्रवाई भी हुई है। अभी भी किसी निजी अस्पताल से स्मार्ट कार्ड से इलाज को लेकर कोई शिकायत आएगी, तो कार्रवाई होगी। उन अस्पतालों को स्मार्ट कार्ड योजना से बाहर करते हुए शिकायतों के हिसाब से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उल्लेखनीय है कि गरीबों को आयुष्मान योजना से 5 लाख व एमएसबीवाय से 50 हजार रुपये तक मुफ्त इलाज की सुविधा है।

 


Date : 13-Jul-2019

पुनिया ले रहे मंत्रियों का रिपोर्ट कॉर्ड नरवा योजना परखने महासमुंद पहुंचे

कल चार मंत्रियों संग बैठक

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया शनिवार की देर शाम सरकार के तीन मंत्रियों ताम्रध्वज साहू, रूद्रकुमार गुरू और अनिला भेडिय़ा का रिपोर्ट कॉर्ड लेंगे। बाकी मंत्रियों से वे रविवार को रूबरू होंगे और उनके विभाग की गतिविधियों पर चर्चा करेंगे। 
श्री पुनिया सरकार के कामकाज की समीक्षा कर रहे हैं। उनके साथ प्रभारी सचिव चंदन यादव और अरूण उरांव भी हैं। प्रदेश प्रभारी श्री पुनिया खुद मुख्य सचिव रह चुके हैं। ऐसे में विभाग के कामकाज को परखने का उनका अपना अलग ही नजरिया है। यही वजह है कि पुनिया के साथ बैठक के पहले मंत्रिगण पूरी तैयारी कर रहे हैं। 

सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार को उन्होंने पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत के साथ बैठक की। भगत को कुछ ही दिन हुए हैं इसलिए उन्होंने अपनी विभाग की गतिविधियों की जानकारी दी। उन्हें फूड फॉर ऑल स्कीम से भी अवगत कराया। प्रदेश प्रभारी श्री पुनिया ने उन्हें इस सिलसिले में सुझाव भी दिए हैं। इसी तरह पंचायत मंत्री ने उन्हें नरवा योजना की जानकारी दी। 

खुद प्रदेश प्रभारी शनिवार की सुबह महासमुंद जाकर नरवा योजना की जानकारी ली है। इस दौरान दोनों प्रभारी सचिवों के साथ-साथ प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम भी थे। बताया गया कि रविवार को श्री पुनिया बाकी मंत्रियों रविन्द्र चौबे, मोहम्मद अकबर, उमेश पटेल और डॉ. शिवकुमार डहरिया के साथ बैठक करेंगे। श्री पुनिया ने विधायकों से भी रायशुमारी की है। कुछ विधायकों ने मंत्रियों के दौरे आदि को लेकर शिकायतें भी की थी। उनका कहना था कि उनके क्षेत्र में प्रवास के दौरान उन्हें जानकारी नहीं दी जाती है। इस तरह के विषयों को श्री पुनिया ने गंभीरता से लिया है। इस पर मंत्रियों से भी चर्चा करेंगे। प्रदेश प्रभारी मंत्रियों के रिपोर्ट कॉर्ड से पार्टी हाईकमान को अवगत कराएंगे। 

 

 


Date : 13-Jul-2019

केन्द्रीय वित्त आयोग आएगा राज्य के दौरे पर

रायपुर, 13 जुलाई। पन्द्रहवें केन्द्रीय वित्त आयोग के सदस्य 23, 24 और 25 जुलाई को राज्य के तीन दिवसीय दौरे पर आएंगे। इस दौरान वे राज्य में चलाए जा रहे विकास कार्यो की जानकारी लेंगे और क्षेत्र में भी इसका अवलोकन करेंगे। पन्द्रहवें वित्त आयोग के राज्य भ्रमण की तैयारियों के संबंध में चर्चा करने के लिए मंत्रालय महानदी भवन में मुख्य सचिव सुनील कुजूर ने विभागीय वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक ली और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

उन्होंने आयोग के सदस्यों के साथ बैठक में होने वाले चर्चा के बिन्दुओं, विभागीय जानकारियों और प्रस्तुतिकरण का संकलन 19 जुलाई तक तैयार करने के निर्देश दिए हैं। केन्द्रीय वित्त आयोग का कार्यकाल पांच वर्ष के लिए होता है। इसके पूर्व 14वें वित्त आयोग द्वारा 2014 में राज्य का भ्रमण किया गया था। आयोग प्रत्येक पांच वर्ष में विभिन्न राज्यों का भ्रमण करता है और केन्द्र सरकार को यह अनुशंसा करता है कि किस आधार पर राज्यों को वित्तीय सहायता उपलब्ध करायी जाएगी। तीन दिन के इस दौरे में केन्द्रीय वित्त आयोग के सदस्य राज्य की भौगोलिक, सामाजिक, आर्थिक, औद्योगिक, राजनैतिक आदि परिदृश्यों की जानकारी लेंगे। साथ ही राज्य के विकास में रूकावट या बाधा बन रहे तथ्यों से भी अवगत होंगे। केन्द्रीय वित्त आयोग के सदस्यों को गृह विभाग द्वारा राज्य की नक्सली समस्या और उससे जुड़े विभिन्न तथ्यों के विषय में बताया जाएगा। जिसमें सदस्यों के विचार सुने जाएंगे। इसके अलावा राज्य के विभिन्न राजनीतिक दलों से वित्त आयोग के सदस्य मिलेंगे। राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ‘नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी’ के क्रियान्वयन का अवलोकन क्षेत्र में करेंगे। 

साथ ही पुरातात्विक महत्व के स्थलों का भी अवलोकन करेंगे। केन्द्रीय वित्त आयोग के सदस्य मंत्रालय में मुख्यमंत्री एवं विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठकर खनिज, वन, आवास एवं पर्यावरण, वाणिज्यकर (जीएसटी), उद्योग, स्मार्ट सिटी नया रायपुर आदि के विषय में जानकारी लेंगे।

 बैठक में अपर मुख्य सचिव वित्त अमिताभ जैन, आर.पी. मण्डल, के.डी.पी. राव, मनोज पिंगवा, आर.के. विज, डॉ. कमलप्रीत सिंह, अविनाश चम्पावत, टी.सी. महावर, अलरमेल मंगई डी, अन्बलगन पी., संगीता पी.,  राकेश चतुर्वेदी, कलेक्टर रायपुर भारतीदासन, आसिफ शेख सहित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

 


Date : 13-Jul-2019

लोक अदालत में बांटे औषधीय पौधे

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
औषधीय पादप बोर्ड द्वारा हर्बल गार्डन योजना के तहत विगत कुछ दिनों से शहरवासियों को नि:शुल्क औषधीय पौधे वितरित किए जा रहे है। इसी कड़ी में शनिवार को जिला न्यायालय परिसर में पौधे बांटे गए।  शनिवार को जिला न्यायालय परिसर में आयोजित लोक अदालत के दौरान राजीनामा के लिए पहुंचे पक्षकारों में पौधे लेने के लिए खासा उत्साह नजर आया। ज्ञात हो औषधीय पादप बोर्ड द्वारा इस 25 लाख पौधे वितरित करने का लक्ष्य रखा गया है जिसमें से 3 लाख पौधे राजधानी और आसपास के इलाके में बांटे जाएंगे। 


Date : 13-Jul-2019

कंटेनर वाहन से 12 लाख का स्किन क्रीम पार, जुर्म 

आरोपी फरार, पूछताछ जारी
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
आरंग के रसनी टोल प्लाजा के समीप खड़े एक कंटेनर वाहन में चोरी हो गई। वाहन का ताला तोड़ उसमें रखे 88 कार्टून दवा पार कर दिया गया, जिसकी कीमत करीब 12 लाख रुपये आंकी जा रही है। दवा कंपनी प्रबंधक की शिकायत पर आरंग पुलिस मामला दर्ज कर पूछताछ में लगी है। आरोपी का फिलहाल पता नहीं चल पाया है। 

पुलिस के मुताबिक कंटेनर वाहन नासिक (महाराष्ट्र) से रांची (झारखंड) जा रहा था। 29 जून की रात वह आरंग के रसनी टोल प्लाजा के पास खड़ा था। वाहन में अलग-अलग कार्टून में बीयो हाउस कंपनी का बेटनोवेट-सी स्किन क्रीम रखा हुआ था। बताया गया कि रात में जब वाहन वहां चालक सोया हुआ था, तभी अज्ञात आरोपी ने कंटेनर का ताला तोडक़र वहां रखे 88 कार्टून पार कर दिया। चालक को इसकी जानकारी बाद में हुई। 

टीआई का कहना है कि बीयो हाउस कंपनी का एक गोदाम नासिक में है, जहां से स्किन क्रीम झारखंड भेजी जा रही थी। चोरी की घटना पर कंपनी प्रबंधक महेन्दर गुर्म ने बीती शाम-रात पुलिस में मामला दर्ज कराया। कंपनी वालों की शिकायत पर पुलिस पूछताछ में लगी है। फिलहाल चोरी के आरोपी का कहीं पता नहीं चल पाया है, पूछताछ जारी है। 

 

 

 


Date : 13-Jul-2019

अत्याधुनिक तकनीक, सोशल मीडिया ने विद्यार्थियों को समस्या ग्रस्त बनाया- डॉ. वी एस रविन्द्रन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 13 जुलाई।
राजकुमार कॉलेज में विगत दिवस दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में ख्यातिनाम शिक्षाविद् और शिक्षा मनोविज्ञानी डॉ. वी एस रविन्द्रन ने ‘विद्यालयीन छात्र-छात्राओं में बढ़ती आक्रामकता के अंतर्निहित कारण और निवारण’ विषय पर अपने विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर ओडिशा, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के 60 प्राचार्यों की सहभागिता रही। कार्यशाला के दूसरे दिन शिक्षकों की सहभागिता में शैक्षिक परामर्श एवं निर्देशन में शिक्षक की भूमिका विषय पर खुली चर्चा की गई। 
कार्यशाला में डॉ. रविन्द्रन ने कहा कि आज का विद्यार्थी अत्याधुनिक तकनीकों और अधिक सोशल मीडिया के प्रयोग के कारण अस्थिर होते जा रहा है। वर्तमान में विद्यार्थी परिस्थितिवश सहज, शांत नहीं रह पाता है। फलस्वरूप वह स्वयं अनेक समस्याओं से घिरा पाता है। इस कठिन समय में शिक्षक विद्यार्थी का सच्चा सहायक होता है। 

उन्होंने कहा प्रशिक्षण, सदुपयोगी शिक्षण और लाभकारी दूरदर्शी मार्गदर्शन से देश के भविष्य की नींव तैयार करने की महती भूमिका शिक्षक को वहन करनी होगी। शिक्षक को विद्यार्थियों से अधिक से अधिक वार्तालाप करना चाहिए। 
कार्यशाला के समापन अवसर पर उपप्राचार्य शिवेंद्रनाथ शाहदेव ने आभार प्रदर्शन किया तथा कार्यक्रम का संचालन डॉ. जोड़ता तोमर ने किया। 

 


Date : 13-Jul-2019

सीएम ने कुमारी मुस्कान के  निधन पर दुख जताया

रायपुर, 13 जुलाई। मुख्यमंत्रीभूपेश बघेल ने बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के अनुसूचित जाति कन्या आश्रम देवसुन्दरा में अध्ययनरत कुमारी मुस्कान के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक और संवेदना व्यक्त की है। 
उन्होंने जिला प्रशासन को उनके परिवार को तत्कालिक सहायता और छात्र सुरक्षा बीमा योजना का लाभ दिलाने के निर्देश दिए हैं।  कुमारी मुस्कान की 11 जुलाई को अचानक तबियत खराब होने पर उसका ससहा के उप स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज कराया गया। रात में भोजन और दवाई लेने के बाद वह सो गई और सोने के दौरान उनका इंतकाल हो गया। 
शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसका अंतिम संस्कार गृह ग्राम बिनौरी में किया गया।