छत्तीसगढ़ » रायपुर

Date : 17-Jan-2020

नए एमडी बिजौरा का आफिसर्स एसोसिएशन ने किया स्वागत

रायपुर, 17 जनवरी। छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी में नव-नियुक्त प्रबंध निदेशक एवं डायरेक्टर एन.के बिजौरा को बधाई तथा भविष्य के सफल कार्यकाल के लिये मंगलकामनाएं देने का सिलसिला जारी है। छत्तीसगढ़ पॉवर कंपनी के आफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने विद्युत सेवाभवन में बिजौरा से भेंटकर शुभकामनाएंं दी। इस अवसर पर कार्यपालक निदेशक (वित्त) अजय दुबे सहित आफिसर्स एसोसिएषन के उपाध्यक्ष विजय मिश्रा, सौमित्र दुबे एवं अन्य पदाधिकारी अजय शर्मा, जी.के. राठी, निशान्त मुंडेजा ने नवपदस्थ एमडी बिजौरा के नेतृत्व में जनरेशन कंपनी की सतत् प्रगति की कामना की। 

 


Date : 17-Jan-2020

प्रदेश में कुपोषण मुक्ति के प्रयासों को यूनिसेफ ने फिर सराहा, मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के अंतर्गत मलेरिया उन्मूलन के साथ ही एनीमिया, शिशु मृत्यु दर, मातृ मृत्यु दर और कुपोषण दूर करने पर भी फोकस किया जा रहा है

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। छत्तीसगढ़ में कुपोषण मुक्ति के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा दृढ़ संकल्पित होकर किए जा रहे समन्वित अभिनव प्रयासों को लोगों की लगातार सराहना और सहयोग मिल रहा है। आज एक बार फिर अंतर्राष्ट्रीय संस्था यूनिसेफ ने छत्तीसगढ़ में कुपोषण मुक्ति के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।

यूनिसेफ इंडिया ने अपने ट्वीटर हैण्डल से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के शुभारंभ की पोस्ट साझा करते हुए लिखा कि ‘खून की कमी और कुपोषण रोकने के लिए मलेरिया की रोकथाम बहुत जरूरी कदम है। जिससे बस्तर के आदिवासी इलाकों में महिलाओं और बच्चों की जान बचाई जा सकती है।

यह छत्तीसगढ़ सरकार का महत्वपूर्ण कदम है।’ इससे पहले भी यूनिसेफ ने अपने ट्वीटर और फेसबुक एकाउंट पर दंतेवाड़ा जिले के प्राथमिक शाला बेंगलुरू की फोटो साझा कर स्कूलों में चल रहे किचन गार्डन बागवानी की सराहना करते हुए इसे बच्चों के पोषण के लिए अनूठी राह बताया था। राज्य सरकार द्वारा आकांक्षी जिलों और कुपोषण से ग्रसित आदिवासी बहुल इलाकों में खासतौर पर कुपोषण मुक्ति के प्रयास किए जा रहे है। इसके सुखद परिणामस्वरूप विगत दिनों सुपोषण अभियान में उल्लेखनीय उपलब्धि और नयी पहल के लिए 115 आकांक्षी जिलों में से दंतेवाड़ा जिले को स्कॉच अवार्ड से नवाजा गया है।

उल्लेखनीय है कि बस्तर को मलेरिया, एनीमिया और कुपोषण से मुक्त करने के संकल्प के साथ 15 जनवरी से संभाग के सातों जिलों में मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान शुरू किया गया है। अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग की टीम घरों के साथ ही स्कूलों, आश्रम, छात्रावासों और पैरा मिलिट्री कैम्पों में जाकर मलेरिया की जांच कर रही है। इसके साथ ही हाट-बाजारों में लोगों की जागरूकता के लिए अभियान चलाया जा रहा है।

मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के अंतर्गत मलेरिया उन्मूलन के साथ ही एनीमिया, शिशु मृत्यु दर, मातृ मृत्यु दर और कुपोषण दूर करने पर भी फोकस किया जा रहा है। इसके साथ ही कुपोषण और एनीमिया मुक्ति को ध्यान में रखते हुए बस्तर संभाग के साढ़े छह लाख से अधिक गरीब परिवारों के लिए ‘मधुर गुड़ योजना’ शुरू की गई है। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर पूरे प्रदेश में सुपोषण अभियान शुरू किया गया है। इसके तहत सभी विभागों के समन्वित प्रयास से कुपोषण मुक्ति का प्रयास किया जा रहा है। योजना के तहत बच्चों के साथ महिलाओं को भी गर्म भोजन दिया जा रहा है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा स्कूलों में किचन गार्डन बागवानी की शुरूआत की गई है, जिससे बच्चों को मध्यान्ह भोजन में ताजे और स्थानीय पोषक आहार मिल सकें।


Date : 17-Jan-2020

मुक्तांगन भ्रमण कर युवाओं ने छत्तीसगढ़ की संस्कृति को साझा किया, भ्रमण के माध्यम से गुजरात के युवाओं को छत्तीसगढ़ की संस्कृति को करीब से जानने का अवसर प्राप्त हुआ

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। नेहरू युवा केंद्र रायपुर द्वारा 15 दिवसीय युवा आदान प्रदान कार्यक्रम के तहत इन दिनों छग एवं गुजरात की संस्कृति का आदान प्रदान किया जा रहा है। कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ की संस्कृति साझा की जा रही है।

कार्यक्रम की 11 वीं कड़ी में विगत दिवस प्रतिभागियों को नवा रायपुर स्थित मुक्तांगन का भ्रमण कराया गया। प्रतिभागी मुक्तांगन स्थित आदिवासियों के घर, आदिवासी कलाकृति, छग परम्परा के प्रतीक, मातागुड़ी सहित विविध मॉडल को देख प्रभावित हुए। भ्रमण का उद्देश्य गुजरात के युवाओं को छग की पौराणिक संस्कृति, रहन सहन एवं आदिवासी परम्परा को मॉडल के माध्यम से समझना था। इस भ्रमण के माध्यम से गुजरात के युवाओं को छत्तीसगढ़ की संस्कृति को करीब से जानने का अवसर प्राप्त हुआ।

इस भ्रमण में छग के 100 से ज्यादा प्रतिभागी शामिल हुए इन्होंने  मुक्तांगन में वनभोज भी किया। शिविर में शामिल गुजरात के शेख अलिफजान ने बताया कि दाहोद एवं बस्तर की कलाकृति में बहुत समानता है। छग की बांस कला एवं मेटल आर्ट की जितनी तारीफ़ की जाए कम है। मुक्तांगन में बनाई गई कलाकृति छग की सांस्कृतिक सम्पन्नता को दर्शाता है।

छग के बिलासपुर से प्रतिभागी तपेश शर्मा ने अत्यंत हर्ष व्यक्त करते हुए बताया कि वे इस शिविर के माध्यम से छग को एक ही जगह में देखने का अवसर मिला। उन्होंने बताया कि इस शिविर के माध्यम से छग के साथ साथ गुजरात की संस्कृति को भी जानने का अवसर मिला। वे गुजराती भाषा एवं खान पान से भी परिचित हुए।

गुजरात की तेजश्वीनी रोजिया ने बताया कि वे छग के बारे में अक्सर पढ़ा या सुना करती थी कि यहां विविधताओं से भरी संस्कृति है। लेकिन उन्होंने जितना सुना था उससे कहीं ज्यादा खूबसूरत है। छग के लोग बहुत भोले एवं सहज स्वभाव के होते हैं। इनमें प्रतिस्पर्धा की भावना बेहद कम होती है वे सभी का सहयोग करने को तत्पर होने के साथ ही मिलनसार होते हैं।

इस भ्रमण को सफल बनाने में सांस्कृतिक विभाग छग शासन, जिला युवा समन्वयक अर्पित तिवारी, लुकेश बघेल, डॉ आशीष चंद्र शर्मा, आदित्य भारद्वाज, प्रीतम निर्मलकर, दीक्षा पटेल, रामेश्वर, लक्ष्मी, नरेंद्र, ईश्वर, रविशंकर, अनुपमा, शारदा, डालिमा सहित नेहरू युवा केन्द्र संगठन रायपुर का विशेष योगदान रहा।

 


Date : 17-Jan-2020

सामाजिक संस्था क्रिएटिव आईस प्रमोशन्स द्वारा वृद्धाआश्रम में मनाया गया जीना इसी का नाम है, बुजुर्गों को शॉल, कम्बल, श्रीफल, अनाज, दाले, तिल के लड्डू, फल एवं समस्त जरूरत की सामग्री प्रदान की गई

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। सामाजिक संस्था क्रिएटिव आईस प्रमोशन्स द्वारा मकर संक्रांति के अवसर पर श्याम नगर स्थित ‘आश्रय’ वृद्धाश्रम में ‘जीना इसी का नाम है’ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आयोजकों एवं अतिथियों द्वारा बुजुर्गों को शॉल, कम्बल, श्रीफल, अनाज, दाले, तिल के लड्डू, फल एवं समस्त जरूरत की सामग्री प्रदान की गई।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि बृजमोहन अग्रवाल, डॉ. एस. के. शर्मा, महेश दरयानी एवं रिचा ठाकुर द्वारा समस्त दानदाताओं को’’ दानवीर 2020’’ के सम्मान पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया।

कार्यक्रम की शुरूआत थांवर गजवानी ने ‘ये तो सच है कि भगवान है’ गाकर तालियां बटोरी। तुलिका शर्मा ने ‘सत्यम शिवम सुंदरम’, ‘ओ पालन हारे’ अनिल कृष्णानी ने ‘जीना इसी का नाम है’, ‘जीना यहां, मरना यहां’ बजरंग बंसल ने चलो बुलावा आया है, संदीप शर्मा ने ‘ओ माझी रे अपना किनारा’ गीत की सुमधुर प्रस्तुति दी गई।

कार्यक्रम में संरक्षक डॉ. एस.के.शर्मा, आयोजक महेश दरयानी, बृजमोहन अग्रवाल एवं कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ. अजय आयोजक सतीश कटियारा एवं उर्मिला देवी अमर बसंल, रविन्द्र सिंह, राजकुमार राठी, मनोज पंजवानी, जितेन्द्र कृष्णानी, अमर गिदवानी, धमेन्द्र दुर्घा, हरिन्द्र अरोरा (रिक्की) प्रहलाद शादीजा, राजा बजाज, दुर्गा दुबे, राधा राजपाल, रिचा ठाकुर, सुनीता नागरानी की सहभागिता रही।  इस कार्यक्रम में महिला मंडल अशोका हाईट्स मोवा एवं सत्यमकाम वेलफेयर सोसायटी का विशेष सहयोग रहा।


Date : 16-Jan-2020

किसान बाजार में किसानों की जगह कोचिया बैठकर कारोबार कर रहे, औने-पौने दाम पर अपनी उपज बेच रहे, किसानों को अपनी सब्जी बेचने का मौका ही नहीं मिल पा रहा
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16 जनवरी।
पंडरी मंडी परिसर स्थित किसान बाजार में किसानों की जगह कोचिया बैठकर कारोबार कर रहे हैं और औने-पौने दाम पर अपनी उपज बेच रहे हैं। पंडरी मंडी परिसर में किसानों के लिए सरकार ने किसान बाजार का निर्माण कराया है, जहां करीब 50 दूकानें बनी है। इन दूकानों में से अधिकांश में कोचिया बैठकर कारोबार में लगे हैं। वे थोक बाजार से सब्जी लाकर वहां ज्यादा दाम पर बेच रहे हैं। किसानों को अपनी सब्जी बेचने का मौका ही नहीं मिल पा रहा है। 

किसानों का कहना है कि वे सब्जी लेकर वहां तक पहुंचने का प्रयास करते हैं, लेकिन कोचिया वहां पहुंचने के पहले ही उनकी सब्जी भाजी का भाव कर लेते हैं और फिर दिनभर उसे बेचते बैठे रहते हैं।

 

 


Date : 16-Jan-2020

आईटीएमएस तकनीक से 35 हजार से अधिक वाहनों का चालान, 239 प्रकरणों की पतासाजी में मिली सफलता

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16 जनवरी।
शहरी यातायात प्रबंधन की अति आधुनिक एकीकृत प्रणाली दक्ष आम नागरिकों की लोक सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इस प्रणाली से जहां लोक सुरक्षा के बेहतर प्रबंधन के साथ  पुलिस को आरोपियों की पहचान करने में आसानी हो रही है।

इस प्रणाली के माध्यम गत वर्ष 239 प्रकरणों में जरूरी साक्ष्य पुलिस को मिले, जिसके माध्यम से आरोपियों तक  पुलिस आसानी से पहुंच सकी। इस तकनीक के जरिए 33716 चालानी कार्यवाही भी पुलिस ने की है।

स्मार्ट सिटी के महाप्रबंधक एस.के. सुंदरानी ने बताया कि एकीकृत यातायात प्रबंधन की यह प्रणाली 2019 से रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने प्रारंभ की है। पुलिस विभाग की टीम सिटी कमांड एवं कंट्रोल सेंटर के माध्यम से पूरे शहर की निगरानी करता है। शहर में लगे 200 से भी अधिक कैमरों के माध्यम से आपराधिक प्रकरणों पर जानकारी जुटाने में पुलिस को बहुत मदद मिल रही है। 

इस प्रणाली के जरिए पुलिस ने पिछले साल ऑटो रिक्शा में बैठे यात्री से हुई 2.50 लाख की लूट का खुलासा किया। इसी तरह पंडरी कैनाल चौराहे में कैशियर से हुई 74 हजार की लूट भी इस सिस्टम के तहत पकड़ी गई।

सितंबर माह में हीरापुर क्षेत्र से ट्रक चोरी के प्रकरण में भी अहम जानकारी इस प्रणाली के माध्यम से मिली। इस प्रणाली के जरिए गत वर्ष मार्च में 23, अप्रैल में 16, मई में 25, जून में 27, जुलाई में 32, अगस्त में 28, सितंबर में 25, अक्टूबर से 35 एवं नवंबर में 28 प्रकरण का खुलासा सीसीटीवी कैमरे की मदद से संभव हुआ। गत वर्ष यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर तैतीस हजार सात सौ सोलह चालान काटे गए। इसमें केवल सितंबर माह में ही 7299 चालान कटे।

 

 


Date : 16-Jan-2020

महापौर ढेबर ने वार्ड के निरीक्षण के दौरान तालाब में अभियान चलाकर साफ सफाई करवाने, घाट व पचरी निर्माण करवाकर जनहित की दृष्टि से सौंदर्यीकरण के निर्देश दिए

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16 जनवरी।
महापौर एजाज ढेबर ने नगर निगम जोन 1 के यतियतन लाल वार्ड क्रमांक 4 के क्षेत्र एवं निगम जोन 8 के संत कबीर दास वार्ड क्रमांक 3 के क्षेत्र का सघन भ्रमण कर समस्याओं के त्वरित निदान हेतु संबंधित जोन अधिकारियों को निर्देशित किया। 

  महापौर ढेबर ने विजय नगर बस्ती में भ्रमण के दौरान खुले आसमान के नीचे पावर पंप देखकर जोन स्तर पर तत्काल कार्यवाही कर पावर पंप की सुरक्षा एवं व्यवस्थित पेयजल उपलब्धता हेतु उस पर टंकी लगवाने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने वार्ड के दर्री तालाब के निरीक्षण के दौरान तालाब में अभियान चलाकर साफ सफाई करवाने, तालाब में घाट व पचरी निर्माण करवाकर जनहित की दृष्टि से सौंदर्यीकरण के निर्देश भी दिये। 

 नगर निगम जोन 8 के संत कबीर दास वार्ड क्रमांक 3 के गोगांव क्षेत्र में वार्ड पार्षद की उपस्थिति में गोगांव के बंधवा तालाब एवं तीन तरिया तालाब के भ्रमण के दौरान महापौर ढेबर ने संबंधित जोन 8 अधिकारियों को तालाबों के भीतर मवेशियों का प्रवेश रोकने, रिटेनिंग वॉल शीघ्र बनवाने एवं तालाब का पानी गंदा होने से बचाने कार्य करने के निर्देश दिये। 

 

 

 

 


Date : 16-Jan-2020

देश की अखंडता और अतुल्यता को बढ़ाने वाला है नागरिकता संशोधन अधिनियम- प्रसून
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16 जनवरी।
नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) देश में ज्वलंत मुद्दा बना हुआ है और इसके लिए विपक्ष भी गर्माया हुआ है। असलियत में बात की जाए तो लोगों को अभी तक ये पता ही नहीं है कि नागरिकता संसोधन अधिनियम है क्या। बिना इस पर रिसर्च किए हुए ही लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। सीएए जबकि देश के विकास और अतुल्यता को बढ़ाने में कारगर है। ये कहना है कोलकाता से आए प्रसून मेत्रा का। वे राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच और अवसर फाउंडेशन के परस्पर सहयोग से हुए कार्यक्रम में वक्ता के रूप में उपस्थित हुए। आयोजन में डॉ. वर्णिका शर्मा भी विशेष रूप से उपस्थित हुई। कार्यक्रम में सीएए पर चर्चा की गई।

समानता दिलाने वाला है कानून
प्रसून ने बताया कि सीएए देश के विकास में बड़ी भूमिका निभाने वाला है और भारत की एकता को बढ़ाने में सहयोगी है। इसमें केवल उन लोगों को नागरिकता दी जाएगी जो देश में पहले से रहे हैं। देश में राजनीति की बड़ी भूमिका होती है मगर किसी भी दल को कानून को बिना समझे उस पर नकारात्मक प्रतिक्रिया देना लाजिमी नहीं है। भारत सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाय की प्रणाली पर कार्य करता है और सीएए पूरी तरह सही है। प्रसून वर्ष 2018 से इस पर रिसर्च कर रहे हैं और पटना  आदि शहरों में इस पर वक्तव्य दे चुके हैं। आयोजन में फैंस और अवसर फाउंडेशन के सदस्य उपस्थित रहे।

 

 

 


Date : 16-Jan-2020

राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तहत पुलिस ग्राउंड में ड्रॉप रो बॉल के मैच, प्रतियोगिता में 11 टीमें शामिल रही

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16 जनवरी।
राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तहत पुलिस ग्राउंड में ड्रॉप रो बॉल के मैच हुए। प्रतियोगिता में 11 टीमें शामिल रही। ड्रॉप रो बॉल बालक अंडर 17 ट्रिपल के तहत पंजाब ने 2-0 से तमिलनाडू को, राजस्थान ने 2-0 उ.प्र. को, दिल्ली ने 2-1 से उ.प्र. को, म.प्र. ने तमिलनाडू को, 2-0 से पराजित किया। 

बालक अंडर 19 में दिल्ली ने 2-1 से विद्याभारती को, म.प्र. ने दिल्ली को 2-0 से, छग ने 2-0 से उ.प्र. को विद्याभारती ने 2-1 से तमिलनाडू को म.प्र. ने पंजाब को 2-0 से पराजित किया। 
ड्राप रो बॉल बालिका अंडर 19 में राजस्थान ने 11-7, 11-10 से पंजाब को, म.प्र. ने राजस्थान को 6-0, 11-2 से पराजित किया। अंडर 17 बालिका में पंजाब ने 11-4 से तमिलनाडू को, उ. प्र. ने 11.-10, 7-11, 11-6 से  तमिलनाडू को पराजित किया। अंडर 17 बालक डबल्स ने म.प्र. ने 11-3, 11-7 से पंजाब को पराजित किया। 

 

 


Date : 16-Jan-2020

राज्यस्तरीय युवा महोत्सव, गिटार स्पर्धा में सुमित रहे विजेता, 17 जिलों के प्रतिभागी शामिल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16जनवरी।
राज्यस्तरीय युवा महोत्सव में रायपुर शहर के सुमित गटकरी विजेता रहे। सुमित को यह उपलब्धि तीसरी बार मिली है। बीसीए में अध्ययरत सुमित कमलादेवी संगीत महाविद्यालय से गायन में विद की परीक्षा दे रहे हैं। 

सुमित ने बताया कि युवा उत्सव में कुल 17 जिलों के प्रतिभागी शामिल थे। स्पर्धा में उन्होंने राग जोग की प्रस्तुति दी। 10 मिनट की नियत अवधि में उन्होंने राग जोग में आलाप, विलंबित रचना, मध्य रचना के साथ झाला की प्रस्तुति दी। गिटार के जुनूनी सुमित ने गिटार में वेस्टर्न का रोमियो जैकब से तथा शास्त्रीय का अनिन रॉय से प्रशिक्षण प्राप्त किया है। निजी शो में गिटार की प्रस्तुति देने वाले सुमित अमूमन गिटार की शास्त्रीय प्रस्तुति ही देते हैं। 

 

 

 


Date : 16-Jan-2020

स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तहत टेबल सॉकर में छत्तीसगढ़ को रजत पदक

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16 जनवरी।
स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तहत गुरुवार को मायाराम सुरजन स्कूल में टेबल सॉकर के मुकाबले खेले गए। स्पर्धा में बालक वर्ग में 9 एवं बालिका वर्ग में 8 टीमों ने भाग लिया। स्पर्धा में दिल्ली ने स्वर्ण पदक तथा छत्तीसगढ़ रजत पदक प्राप्त किया। 

टेबल सॉकर अंडर 14 बालिका वर्ग में छत्तीसगढ़ की प्रिया पटेल और दिल्ली की नवनीत कौर के बीच फाइनल मुकाबला हुआ जिसमें 7-6 से दिल्ली विजेता रही। भारती विद्या की रोशनी कुमारी को स्पर्धा में कांस्य पदक मिला। 

 


Date : 16-Jan-2020

पैरी के धार लोककला द्वारा चंगोराभाठा में सुआ लोक उत्सव सम्मान कार्यक्रम आयोजित, प्रतिभागियों ने सुआ नृत्य के माध्यम से बेटी बचाओ, बेटी बढ़ाओ का संदेश दिया

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 16 जनवरी।
पैरी के धार लोककला द्वारा चंगोराभाठा में विगत दिवस को सुआ लोक उत्सव सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर 8 सौ से अधिक प्रतिभागियों ने सुआ नृत्य के माध्यम से बेटी बचाओ, बेटी बढ़ाओ का संदेश दिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक बृजमोहन अग्रवाल तथा विशिष्ट अतिथि संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत रहे। 

सुआ लोक उत्सव एवं सम्मान पर लोककला शिक्षा, खेल, समाज सेवा के क्षेत्र में उपलब्धि प्राप्त विभूतियों को सम्मानित किया गया। सुआ उत्सव के दौरान विविध स्कूलों के विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक प्रस्तुति दी एवं पर्यावरण विज्ञान पर आधारित प्रदर्शनी लगाई। इस अवसर पर समिति अध्यक्ष दुष्यंत कुमार दुबे, रमा, उमा जोशी सहित अन्य सदस्य शामिल रहे। 

 

 


Date : 16-Jan-2020

राज्यपाल के अभिभाषण का विपक्षी बहिष्कार, सदन स्थगित, विपक्ष ने कहा-साल में दो बार अभिभाषण, गलत परंपरा

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 16 जनवरी। विधानसभा के विशेष सत्र में आज राज्यपाल के अभिभाषण का विपक्षी भाजपा और जोगी पार्टी ने बहिष्कार कर दिया। इसके बाद सदन की कार्यवाही दोपहर एक बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार गलत परंपरा स्थापित कर रही है। राज्यपाल का अभिभाषण एक साल में दो-दो बार करवाया जा रहा है, जबकि राज्य सरकार को पूरा अभिभाषण करा देना चाहिए और कृतज्ञता ज्ञापन बाद में कराया जा सकता था। राज्यपाल अनुसुइया उइके ने अपने अभिभाषण ने सभी का अभिवादन करते हुए कहा- राज्य सरकार ने अल्प समय में उत्कृष्ट कार्य प्रणाली से गौरवशाली परंपराएं स्थापित की है।

छत्तीसगढ़ विधानसभा के विशेष सत्र की शुरुआत राज्यपाल के अभिभाषण से हुई, हालांकि राज्यपाल के अभिभाषण शुरू होने से पहले ही विपक्ष ने वाकआउट कर दिया। विपक्ष का आरोप है कि विशेष सत्र को सिर्फ एक दिन का बुलाया गया है। एक दिन के विशेष सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण कराने और उसके चर्चा के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाएगा। नियम के मुताबिक पूरा अभिभाषण एक दिन करवाया जा सकता था। भाजपा की तरफ से बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि ये एक गलत परंपरा की शुरुआत है और वो इस परंपरा का हिस्सा नहीं बन सकते। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि उनकी पार्टी अभिभाषण और चर्चा में भाग नहीं लेगी।

विपक्षी भाजपा के बाद जोगी पार्टी ने भी गलत परंपरा शुरू करने का आरोप लगाते हुए राज्यपाल के अभिभाषण से वाकआउट कर दिया। जोगी पार्टी के सदस्य पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि ये बेहद गलत परंपरा की शुरुआत हो रही है। देश में कभी भी ऐसा नहीं हुआ, इसलिए वो इस अभिभाषण में हिस्सा नहीं लेंगे। विधायक धर्मजीत सिंह का कहना है कि सत्तापक्ष विधानसभा में गलत परंपरा को लागू करना चाहती है। यह संसदीय प्रणाली के विपरीत है, जिसे किसी हाल में स्वीकार नहीं किया जा सकता।

राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि विधानसभा में आने का पहला अवसर है, जिसकी सुखद अनुभूति मुझे भावुक कर रही है। उन्होंने विश्वास जताया कि हम सब मिलकर छत्तीसगढ़ विधानसभा की कीर्ति पताका को और ऊंचा करने में सफल होंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता की आकांक्षाओं के अनुरुप नवा छत्तीसगढ़ गढऩे में अपना योगदान पूरा मनोयोग से करें।

राज्यपाल ने कहा कि भारतीय संविधान में अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजातियों के लिए आरक्षण की समय सीमा बढ़ाए जाने के लिए निर्धारित प्रक्रिया है, उसे पूरा करने में आपकी भागीदारी दर्ज होना है। उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि मेरी सरकार ने छत्तीसगढ़ में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्गों को बेहतर जिंदगी की रोशनी दी है।

राज्यपाल के अभिभाषण के बाद एससी-एसटी आरक्षण की समयावधि बढ़ाने के प्रस्ताव को अनुसमर्थन के लिए पटल पर रखा गया और कार्यवाही दोपहर एक बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

अजा-जजा आरक्षण प्रस्ताव पारित
विधानसभा के विशेष सत्र में अजा-जजा आरक्षण की समयावधि 10 वर्ष बढ़ाने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। इस प्रस्ताव पर कांग्रेस के साथ विपक्षी भाजपा व जोगी पार्टी ने भी अपना समर्थन दिया। इसके बाद विशेष सत्र स्थगित कर दी गई। 

विधानसभा के विशेष सत्र की शुरूआत में राज्यपाल के अभिभाषण का विपक्ष ने बहिष्कार कर दिया। इस दौरान सदन की कार्रवाई 2 घंटे के लिए स्थगित कर दी गई। दोपहर 1 बजे सदन की कार्रवाई फिर से शुरू हुई और अनुसूचित जाति, जनजाति आरक्षण की समयावधि बढ़ाने को लेकर चर्चा शुरू हुई। कांग्रेस, भाजपा और जोगी पार्टी के विधायकों ने चर्चा में भाग लेते हुए प्रस्ताव का समर्थन किया। 

इसके पहले राज्यपाल सुश्री उइके ने अपने अभिभाषण में कहा था कि मेरी सरकार ने छत्तीसगढ़ में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्गों को बेहतर जिन्दगी की रोशनी दी है। इन वर्गों के प्रति संवेदनशीलता और इन्हें संविधान प्रदत्त अधिकारों से सशक्त बनाने की प्रतिबद्धता ने मेरी सरकार के प्रति विश्वास के एक नए युग की शुरूआत की है। उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि छत्तीसगढ़ विधानसभा अपनी परंपरा के अनुरूप लोकतंत्र को और अधिक मजबूत बनाने की चुनौती स्वीकार करेगी।


Date : 16-Jan-2020

विधानसभा में सीएम के डायस पर डिवाइस, बीजेपी विधायकों की आपत्ति के बाद हटाई गई

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 16 जनवरी। छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के टेबल में लगे डिवाइस पर विपक्ष ने आपत्ति जताई। इस डिवाइस को लेकर दोनों पक्षों काफी देर तक नोंकझोंक भी हुई। विपक्ष की आपत्ति पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने कार्यवाही पांच दिन के लिए स्थगित की और डिवाइस को हटाने के निर्देश दिए। बीजेपी के विधायकों ने पूर्व विधायकों की सुरक्षा के मसले को उठाया।

त्तीससगढ़ विधानसभा की कार्यवाही दोपहर एक बजे जैसे ही फिर से शुरु हई, बीजेपी के विधायक बृजमोहन अग्रवाल और अजय चंद्राकर ने डिवाइस पर आपत्ति जताते हुए आसंदी से सवाल किया कि सदन के नेता के डायस पर कौन सा डिवाइस लगाया गया है, इस डिवाइस को लगाने की अनुमति कब दी गई, कब नोटिफिकेशन जारी की गई। वरिष्ठ विधायक अजय चंद्राकर ने व्यवस्था का प्रश्न उठाया और कहा कि सदन के भीतर डिवाइस का उपयोग नहीं हो सकता, यह कैसे हो गया है। जबकि अग्रवाल ने कहा यह सुरक्षा का मसला है। उन्होंने आशंका जताई कि इससे विधायकों के लोकेशन को बाहर भेजा जा सकता है। संभव है कि इसके जरिए उन पर निगरानी रखी जा रही हो।

विपक्ष की आपत्ति के बीच सदन के नेता मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मुझे भी इसकी जानकारी नहीं थी, मैंने भी जिज्ञासावश पूछा तो बताया गया कि विधानसभा की कार्यवाही पेपरलेस करने की प्रक्रिया के तहत इसे लगाया गया है। इसके बावजूद भी विपक्ष के विधायकों ने आपत्ति जताई और इसे हटाने की मांग की।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ महंत ने कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित कर डिवाइस को हटवाया। बीजेपी विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने पूर्व विधायकों की सुरक्षा हटाने पर सदन में अपनी चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि पूर्व विधायकों की भी सुरक्षा हटा ली गई है। जिसमें नक्सल क्षेत्रों के पूर्व विधायक भी इसमें शामिल है।


Date : 16-Jan-2020

फिरौती के चलते उद्योगपति का अपहरण, तलाश जारी, उद्योगपति सोमानी अपनी कंपनी में काम पूरा कर शाम-रात तक अपने घर लौट रहे थे, तभी उनका अपहरण कर लिया गया

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 16 जनवरी। सिलतरा स्थित सोमानी प्रोसेसर इस्पात कंपनी के मालिक प्रवीण सोमानी का 9 दिन बाद भी कहीं पता नहीं चल पाया है। पुलिस की आठ टीम बिहार, झारखंड, उत्तरप्रदेश समेत अलग-अलग राज्यों में उनकी तलाश में लगी है। अपुष्ट सूत्रों से जानकारी मिली है कि फिरौती के चलते उनका अपहरण हुआ है। इस संबंध में परिजनों और पुलिस ने किसी भी तरह की पुष्टि नहीं की है।

उद्योगपति प्रवीण सोमानी का 8 जनवरी की शाम-रात अपहरण कर लिया गया। वे उसके बाद से लगातार गायब हैं। उनके गायब होने पर अलग-अलग तरह की चर्चा चलती रही। बाद में पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू की। उन्हें खोज निकालने पुलिस पर बड़े उद्योगपतियों का दबाव है। लिहाजा पुलिस की अलग-अलग टीम आसपास के पड़ोसी राज्य झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश आदि जगहों पर खोजबीन में लगी है। उद्योगपति सोमानी के मिलने को लेकर अभी तक कोई जानकारी सामने नहीं आई है। पुलिस और परिवार वाले भी उनका अपहरण, फिरौती को लेकर होने से इंकार कर रहे हैं।

उद्योगपति सोमानी अपनी कंपनी में काम पूरा कर शाम-रात तक अपने घर लौट रहे थे, तभी उनका अपहरण कर लिया गया। रात तक वापस न लौटने पर परिजनों ने उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट धरसींवा पुलिस ने दर्ज कराई। दूसरे दिन पुलिस ने उनकी खोजबीन शुरू की। इस दौरान परसुलीडी स्थित रामकुटीर कॉलोनी के पास उनकी कार बरामद की गई। इसी आधार पर पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज की जांच करते हुए उनकी तलाशी शुरू की। कार के आसपास चल रही दो संदिग्ध कारों की भी पहचान की कोशिश की, पर कुछ भी पता नहीं चल पाया।

पुलिस अब कंपनी में काम करने वाले पुराने ठेकेदारों तक पहुंचकर उद्योगपति की तलाश में लगी है। एक टीम बिहार के हाजीपुर तक भी पहुंची है। दूसरी ओर पुलिस की टीम यहां स्थानीय स्तर पर उन्हें मदद करने वालों की भी तलाश कर रही है। अभी तक की पुलिस जांच और पूछताछ में यह पता नहीं चल पाया है कि आरोपी कहां से और कैसे शहर पहुंचे। घटना स्थल व आसपास जांच के हिसाब से पुलिस की टीम आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास कर रही है। इस संबंध में पुलिस अफसर कुछ भी कहने से इंकार कर रहे हैं।


Date : 16-Jan-2020

ओपी गुप्ता की रिमांड खत्म, शाम कोर्ट की तैयारी, पुलिस ने उसे एक नाबालिग से तीन साल तक यौन शोषण मामले में गिरफ्तार किया था

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 16 जनवरी। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के ओएसडी रहे ओपी गुप्ता की न्यायिक रिमांड आज समाप्त हो गई है। सूत्रों के मुताबिक दोपहर बाद उन्हें कोर्ट में पेश करने की तैयारी है। पुलिस ने उन्हें एक नाबालिग से तीन साल तक यौन शोषण मामले में गिरफ्तार किया था।

महिला थाना में पीडि़त नाबालिग द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद सिविल लाइन पुलिस ने उन्हें उसी देर रात हिरासत में लेकर कोर्ट में पेश किया था, जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया था। न्यायिक अभिरक्षा की अवधि खत्म होने के बाद ओपी गुप्ता को आज दोपहर बाद फिर से कोर्ट में पेश किया जाएगा। उन पर यौन शोषण का आरोप किसी और ने नहीं, बल्कि खुद यातनाएं झेल चुकी नाबालिग ने लगाया है। पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई शुरू की है। आरोप के चलते उन पर पास्को एक्ट के तहत भी कार्रवाई की गई है।

सूत्रों के मुताबिक पुलिस ने इस मामले में और भी साक्ष्य जुटा लिए हैं। 16 जनवरी तक रिमांड पर भेजने के बाद आज दूसरी बार ओपी गुप्ता को न्यायालय में पेश किया जाएगा। इस दौरान होने वाली सुनवाई में पुलिस नए साक्ष्यों के साथ अपना पक्ष मजबूत करने की कोशिश करेगी, ताकि उन्हें जल्द सजा सुनाई जा सके।


Date : 16-Jan-2020

आदिवासी हॉस्टल में रैगिंग, अधीक्षक निलंबित, गायब तीनों छात्र बयान देने पहुंचे थे कलेक्टोरेट

 छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 16 जनवरी। शहर के डीडी नगर स्थित एक आदिवासी ब्वॉयज हॉस्टल में बीती रात सीनियर छात्रों द्वारा जूनियर छात्रों की जमकर रैगिंग लेने और उनके साथ मारपीट करने के मामले में वहां का अधीक्षक निलंबित कर दिया गया। अधिकारियों की चार सदस्यीय टीम घटना के बाद हॉस्टल पहुंची, तो वहां सभी ने किसी भी तरह की  रैगिंग और मारपीट से इंकार कर दिया था। इस संबंध में वहां से गायब तीन छात्रों को अपर कलेक्टर ने आज बयान के लिए बुलाया था। इसके बाद हॉस्टल में अव्यवस्था को लेकर अधीक्षक पर कार्रवाई की गई।

डीडी नगर के आदिवासी ब्वॉयज हॉस्टल में रैगिंग और मारपीट की खबर शहर में फैलते ही हडक़ंप मच गया। घटना की सच्चाई जानने अपर कलेक्टर पदमिनी भोई कुछ अधिकारियों के साथ वहां पहुंचीं, तो वहां हॉस्टल अधीक्षक, रसोइया व अन्य ने घटना से इंकार कर दिया। अपर कलेक्टर ने जब उन सभी को फटकार लगाई और तीन छात्रों के गायब होने के बारे में पूछा तो उन सभी ने कहा कि तीनों छात्र पुरखौती मुक्तांगन घूमने गए हैं। तीनों छात्र रात तक वापस आ जाएंगे।

बताया गया कि तीनों छात्रों के रात तक वापस न लौटने पर अपर कलेक्टर व सहायक आयुक्त आदिवासी ने पुलिस की उपस्थिति में हॉस्टल अधीक्षक व अन्य का बयान दर्ज किया और गायब छात्रों को वापस आने पर बयान के लिए कलेक्टोरेट बुलाया। जानकारी के मुताबिक तीनों छात्र आज सुबह अपना बयान देने अपर कलेक्टर के पास पहुंचे। वहां तीनों ने घटनाक्रम की जानकारी दी। इसके बाद कलेक्टर की अनुशंसा पर हॉस्टल अधीक्षक महेन्द्र बघेल निलंबित कर दिया गया।

उल्लेखनीय है कि हॉस्टल में करीब सौ छात्र रहकर पढ़ाई करते हैं। इसमेें से 33 छात्र फस्र्ट ईयर के हैं। बाकी आगे कक्षा की पढ़ाई करते हैं।


Date : 16-Jan-2020

सॉफ्ट टेनिस बालिका के फाइनल में पहुंची छत्तीसगढ़, फाइनल में छत्तीसगढ़ का मुकाबला तमिलनाडू से होगा

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 15 जनवरी। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तहत मायाराम सुरजन शा. कन्या उ. मा. विद्यालय में सॉफ्ट टेनिस प्रतियोगिता के बालिका अंडर 19 वर्ग के फाइनल में छत्तीसगढ़ जगह बनाने में सफल रही। फाइनल में छत्तीसगढ़ का मुकाबला तमिलनाडू से होगा। बालक वर्ग में म.प्र. और तमिलनाडू के बीच फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। बालक एवं बालिका वर्ग दोनों में ही दिल्ली ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।

गुरुवार को बालक 19 के तहत पहला सेमीफाइनल मुकाबला म.प्र. और दिल्ली के बीच खेला गया जिसमें म.प्र. विजेता रहा। दूसरा सेमी फाइनल छत्तीसगढ़ और तमिलनाडू के बीच खेला गया जिसमें तमिलनाडू विजेता रहा। फाइनल मुकाबला म.प्र. और तमिलनाडू के बीच खेला जाएगा। तीसरे स्थान के दिल्ली और छत्तीसगढ़ के बीच खेला गया। जिसमें दिल्ली विजेता रही। 

बालिका अंडर 19 के तहत पहला सेमीफाइनल म.प्र. और तमिलनाडू के बीच खेला गया जिसमें तमिलनाडू विजेता रही। दूसरा सेमीफाइनल दिल्ली और छत्तीसगढ़ के बीच खेला गया जिसमें छत्तीसगढ़ विजेता रही। तीसरे स्थान के लिए म.प्र. और दिल्ली के बीच मुकाबला हुआ। जिसमें दिल्ली ने विजेता रही। 

 


Date : 16-Jan-2020

राजस्थान में जनआधार कार्ड ने दी कांग्रेस को मजबूती, 65 वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा स्पर्धा में शामिल राजस्थान से आए खिलाडिय़ों ने उक्त तथ्यों को छत्तीसगढ़ से साझा किया

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 16 जनवरी। राजस्थान में जनआधार कार्ड और बेरोजगारी भत्ता से कांग्रेस सरकार को जहां मजबूती मिली है वहीं सीएए को यहां समर्थन मिला हुआ है। 65 वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा स्पर्धा में शामिल राजस्थान से आए खिलाडिय़ों ने उक्त तथ्यों को छत्तीसगढ़ से साझा किया। खिलाडिय़ों ने बताया भाजपा शासनकाल में भामाशाह कार्ड पर वसुन्धरा राजे की तस्वीर ने राजस्थान के चुनावी गणित को प्रभावित किया। कांग्रेस सरकार ने भामाशाह कार्ड की जगह जनआधार कार्ड लागू किया। यह कार्ड परिवार की महिला मुखिया के नाम पर बनता है और इसके माध्यम से ही सरकारी योजनाओं का लाभ परिवार के सदस्यों को मिलता है।

खिलाडिय़ों ने बताया कि शिक्षित बेरोजगारों को नियमित रुप से 3500, 3000 की दर से बेरोजगार भत्ता मिल रहा है। जिसकी वजह से कांग्रेस को युवाओं का समर्थन मिला हुआ है। राजस्थान में चूंकि पाकिस्तान के हजारों शरणार्थी बर्षों से बसे हुए हैं इसलिए सीएए को लेकर यहां विरोध नहीं है। शरणार्थी चाहते हैं कि उन्हें भारत की नागरिकता मिल जाए।


Date : 16-Jan-2020

राजस्व विभाग द्वारा प्रदेश के राजस्व कार्यालयों में नामांतरण प्रकरणों को समयावधि में निपटाने के निर्देश, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव सुबोध सिंह ने सभी जिला कलेक्टरों को इस संबंध में समुचित कार्यवाही सुनिश्चित करने कहा 

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 16 जनवरी। राजस्व विभाग द्वारा प्रदेश के राजस्व कार्यालयों में लंबित नामांतरण प्रकरणों को निर्धारित समयावधि में निपटाने के निर्देश दिए गए हैं। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव सुबोध सिंह ने सभी जिला कलेक्टरों को इस संबंध में समुचित कार्यवाही सुनिश्चित करने कहा है।

राजस्व सचिव ने निर्देशित किया है कि पंजीयन कार्यालयों से भूमि अंतरण की आनलाईन सूचना प्राप्त होते ही नामांतरण हेतु हित अर्जन करने वाले व्यक्ति से आवेदन का इंतजार नहीं करते हुए नामांतरण की कार्यवाही तत्काल प्रारंभ करने कहा गया है। हल्का पटवारी के द्वारा पंजीयन कार्यालय से प्रत्येक शुक्रवार को प्राप्त सभी सूचनाओं को नामांतरण पंजी में दर्ज कर संबंधित राजस्व अधिकारी के समक्ष पर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। नामांतरण पंजी में प्रकरण प्रस्तुत होने पर राजस्व अधिकारी के द्वारा विधिवत वर्तमान और प्रस्तावित भूमि स्वामी को सूचना जारी करते हुए दावा आपत्ति प्राप्त करने के लिए इश्तेहार प्रकाशन कराना होगा। इश्तेहार में वर्णित की जाने वाली तिथि एवं स्थान पर राजस्व अधिकारी के द्वारा संबंधित पक्षकारों की सुनवाई के बाद यदि कोई आपत्ति प्रस्तुत नहीं होने पर उसी तिथि को ही नामांतरण पंजी को प्रमाणित करना होगा।

विधिवत सूचना तामीली किए जाने के बाद संबंधित पक्षकार यदि गैरहाजिर होगा तो भी प्रविष्टि एकपक्षीय प्रमाणित करना होगी। यदि प्रकरण में कोई विवाद हो तो विवाद का संक्षिप्त विवरण नामांतरण पंजी में अंकित करते हुए राजस्व न्यायालय में  प्रकरण पंजीबद्व कर विधिवत कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। इसी तरह अविवादित प्रकरणों में निर्धारित समयावधि में अभिलेख दुरूस्ती की कार्यवाही की जाएगी। उप पंजीयक कार्यालयों से भूमि विक्रय के पंजीयन की प्राप्त आनलाईन सूचना के आधार पर नामांतरण प्रकरण पंजीबद्व कर सक्षम प्राधिकारी नियमित रूप से नामांतरण की कार्यवाही करेंगे तथा अविवादित नामांतरण प्रकरणों में पंजीयन कार्यालय से प्राप्त सूचना की तिथि से अधिकतम 45 दिवस के अंदर अभिलेख दुरूस्ती की कार्यवाही पूरी करना अनिवार्य होगा।