ताजा खबर

शेयर बाजार : एफएंडओ एक्सपायरी से उतार-चढ़ाव संभव, आगामी बजट पर नजर
24-Jan-2021 6:15 PM 39
शेयर बाजार : एफएंडओ एक्सपायरी से उतार-चढ़ाव संभव, आगामी बजट पर नजर

मुंबई, 24 जनवरी | देश के शेयर बाजार में इस सप्ताह फ्यूचर्स एवं ऑप्शंस सेगमेंट के जनवरी सीरीज के अनुबंधों की एक्सपायरी को लेकर उतार-चढ़ाव का दौर बना रह सकता है। निवेशकों को आगामी बजट का इंतजार रहेगा, इसलिए बजट को लेकर कयासबाजी पर भी उनकी नजर बनी रहेगी। सप्ताह के दौरान विभिन्न कंपनियों द्वारा जारी होने वाले तिमाही वित्तीय नतीजों और अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की बैठक के नतीजों पर भी बाजार की निगाहें टिकी रहेंगी। घरेलू शेयर बाजार में बीते सप्ताह के आखिर में घरेलू कारकों के साथ-साथ वैश्विक संकेत भी कमजोर रहने के कारण मुनाफावसूली का दबाव बढ़ने से प्रमुख संवेदी सूचकांक साप्ताहिक आधार पर गिरावट के साथ बंद हुए। हालांकि इस सप्ताह भी देश में कोरोना वैक्सीन कार्यक्रम की प्रगति और विदेशी बाजारों से मिलने वाले संकेतों का असर भारतीय शेयर बाजार पर बना रहेगा।

जानकार बताते हैं कि निवेशकों को फिलहाल आगामी बजट की उम्मीदों का इंतजार रहेगा। अगले महीने एक फरवरी को आगामी वित्त वर्ष 2021-21 का आम बजट संसद में पेश होगा। इससे एक दिन पहले आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया जाएगा। कारोबारी सप्ताह के आखिर में शुक्रवार को संसद का बजट सत्र आरंभ हो रहा है।

शेयर बाजार में इस सप्ताह फ्यूचर्स एवं ऑप्शंस सेगमेंट के जनवरी सीरीज के अनुबंधों की एक्सपायरी गुरुवार को होने जा रही है जिसको लेकन उतार-चढ़ाव के साथ कारोबार देखने को मिल सकता है।

कारोबारी सप्ताह आरंभ में सोमवार को कोटक महिंद्रा बैंक और एलएंडटी द्वारा चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के वित्तीय नतीजे जारी किए जाएंगे जबकि दूसरे दिन मंगलवार को गणतंत्र दिवस पर देश के शेयर बाजार में कारोबार बंद रहेगा। इस प्रकार, इस सप्ताह सिर्फ चार सत्रों में कारोबार होगा। एक्सिस बैंक और हिंदुस्तान यूनीलीवर के वित्तीय नतीजे बुधवार को जारी होंगे और अगले दिन गुरुवार को मारुति सुजुकी इंडिया के तिमाही वित्तीय नतीजे जारी होंगे जबकि टाटा मोटर्स, टेक महिंद्रा, सनफार्मास्युटिकल्स समेत कुछ प्रमुख कंपनियों के वित्तीय नतीजे शुक्रवार को जारी होंगे।

फेडरल रिजर्व की दो दिवसीय बैठक में ब्याज दरों को लेकर लिए जाने वाले फैसले की घोषणा बुधवार को ही होगी जिस पर बाजार की नजर बनी रहेगी। वहीं अमेरिका में टिकाऊ वस्तुओं के दिसंबर के ऑर्डर के आंकड़े भी इसी दिन जारी होंगे जबकि जापान में औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े शुक्रवार को जारी होंगे।

घरेलू शेयर बाजार की चाल तय करने में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों के निवेश के प्रति रुझान और अंतराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव की भी अहम भूमिका रहेगी।

--आईएएनएस

अन्य पोस्ट

Comments