रायपुर

शादियों के साथ बैंड बाजा धुमाल कारोबार हुआ गुलजार
30-Nov-2020 7:04 PM 50
शादियों के साथ बैंड बाजा धुमाल कारोबार हुआ गुलजार

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर, 30 नवंबर। कोरोना काल में लंबे अंतराल के बाद देवउठनी एकादशी के साथ शादियों के मुहूर्त के साथ बैंड बाजेे की आवाज गली मोहल्लों में सुनाई देने लगी हैं। कोविड 19 के निर्देशों का पालन करते हुए शादी ब्याह में धुमाल पार्टियों को शामिल किया जा रहा है जिससे अर्से बाद धुमाल पार्टियों का कारोबार गुलजार हुआ है।

धुमाल जनकल्याण संघ अध्यक्ष गौतम महानंद ने बताया कि कोरोना के कारण उनका कारोबार पूरी तरह से ठप्प पड़ा हुआ था लेकिन इन दिनों शादियों में बैंड में मिली छूट के कारण कारोबार में उठाव आया है। उन्होंने बताया कि रायपुर में 45 धुमाल पार्टियां हैं। फिलहाल सभी पार्टियों को काम मिला हुआ है। एक पार्टी में 20 लोग शामिल रहते हैं। धुमाल पार्टी अमूमन 3 घंटे का 25 हजार लेती है। इन दिनों शासन के निर्देशों का पालन करते हुए पार्टी सैनेटाइजिंग की पूरी व्यवस्था कर रही है।

धुमाल पार्टी के पारस लंगोटे ने बताया कि धुमाल पार्टी का उनका पुश्तैनी पेशा है। कोरोना के कारण पिछले 7 महीनों से उनका काम पूरी तरह से ठप्प पड़ा हुआ था। शादियों की शुरुआत के साथ काम मिलना       शुरु हो गया है लेकिन पाबंदियों के कारण जोखिम बना हुआ है। पारस कहते हैं हाल में चंगोराभाठा में हमें फाइन भरना पड़ा। पहले मेरी धुमाल पार्टी में 40 लोग जुड़े थे लेकिन कोरोना के कारण अब सिर्फ 20 लोग ही जुड़े हैं। तीन घंटे का हम 25 हजार लेते हैं लेकिन ज्यादातर  हम ज्यादा समय तक भी बैंड बजा लेते हैं। इस धंधे  से वर्षों से  जुड़े हैं और दूसरा काम हमें आता भी नहीं है इससे कोरोना हमारे लिए चुनौती रहा।

अन्य पोस्ट

Comments