जान्जगीर-चाम्पा

दिग्गी ने पूछा महाराज गौ सेवा कैसे चल रहा है?
28-Dec-2020 3:12 PM 39
दिग्गी ने पूछा महाराज गौ सेवा कैसे चल रहा है?

गोबर के बहुउद्देशीय प्रयोग से अवगत कराया राजेश्री महन्त ने 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
शिवरीनारायण, 28 दिसंबर।
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह छत्तीसगढ़ राज्य के कांग्रेस के दिवंगत नेता मोतीलाल वोरा के शोक संतप्त परिवार से मिलने के लिए छत्तीसगढ़ आए हुए थे। वे पहुना में रुके हुए थे। 

राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री डॉक्टर महन्त रामसुन्दर दास जी महाराज अपने तीन दिवसीय जांजगीर-चांपा जिले के प्रवास से पामगढ़ में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में सम्मिलित होकर मुख्यालय रायपुर वापस हो रहे थे ।उन्हें जैसे ही पता चला कि  दिग्विजय सिंह पहुना में रुके हुए हैं वे सीधे वहां पहुंचे स्वागत सत्कार की। औपचारिकता पूर्ण होने के पश्चात पूर्व मुख्यमंत्री ने राजेश्री महन्त जी से पूछा महाराज राज्य में गौ सेवा कैसे चल रहा है? राजेश्री महन्तजी महाराज ने उन्हें अवगत कराते हुए कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशन में गौ सेवा आयोग पूरे छत्तीसगढ़ राज्य में अच्छा कार्य कर रहा है, गौ माता का संरक्षण एवं संवर्धन विगत 15 वर्षों की तुलना में बहुत अच्छा हो रहा है। गोबर के बहुउद्देशीय प्रयोग राज्य के विभिन्न गौशाला एवं गौठानों में हो रहा है। लोग गोबर से दीपक, राखी, मृतक संस्कार तथा अन्य उपयोग के लिए बनाए जाने वाले गोबर की लकड़ी बना रहे हैं इसकी मांग बाजार में निरंतर बनी हुई है। 

सरकार दो रुपए किलो में किसानों से गोबर खरीद रही है इसका उपयोग जैविक खाद के निर्माण के लिए किया जा रहा है, जैविक खाद को सरकार किसानों से 10 किलो में क्रय कर रही है इससे सामाजिक आर्थिक व्यवस्था मजबूत हुई है। महिला स्व सहायता समूहों के द्वारा गौठानों में मशरूम का उत्पादन भी किया जा रहा है राजेश्री महन्त की बातें सुनकर पूर्व मुख्यमंत्री काफी प्रसन्न हुए।  मंत्री शिव डहरिया ने पूर्व सरकार पर कटाक्ष करते हुए उन्हें अवगत कराया कि पहले वे लोग एक रुपए किलो में चावल दिया करते थे अब हमारी सरकार 2 रुपए किलो में गोबर खरीद रही है उनके इस बात पर लोगों ने खूब ठहाके लगाए। वार्तालाप के समय छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम, अमितेश शुक्ला, छाया वर्मा, किरणमयी नायक, शैलेश नितिन त्रिवेदी, चंद्रशेखर शुक्ला, राजेंद्र तिवारी जैसे अनेक नेतागण उपस्थित थे। 
 

अन्य पोस्ट

Comments