जान्जगीर-चाम्पा

घर भले ही संगमरमर का हो लेकिन गोबर से लिपने पर ही पवित्र होता है- राजेश्री महन्त
24-Jan-2021 6:00 PM 32
 घर भले ही संगमरमर का हो लेकिन गोबर से  लिपने पर ही पवित्र होता है- राजेश्री महन्त

फिनाइल-वॉशिंग पाउडर बना रही महिला समूह की सराहना 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
शिवरीनारायण, 24 जनवरी।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल किसान पुत्र हैं, उन्हें किसानों की पीड़ा का भली-भांति ज्ञान है इसीलिए उन्होंने मुख्यमंत्री के पद को धारण करने के कुछ घंटे के भीतर ही किसानों के हित में अपना पहला कलम चलाया।
 गोधन न्याय योजना उनका एक क्रांतिकारी कदम है जिसकी चर्चा पूरे देश में होने लगी है यह बातें छत्तीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत रामसुन्दर दास ने जांजगीर के समीप स्थित ग्राम खोखरा के आदर्श गौठान के निरीक्षण के दौरान उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए अभिव्यक्त की।  उन्होंने शनिवार को जांजगीर-चांपा जिले के प्रवास पर  वहां के सभी गणमान्य नागरिकों ने उनका आत्मीयता स्वागत किया। राजेश्री महन्त ने वृक्षारोपण भी किया और कहा कि इस वृक्ष को बाद में पुन: देखने के लिए भी आऊंगा। उन्होंने कहा कि यह आदर्श गौठान हम सबके लिए बहुत महत्वपूर्ण है यहां पर नेपियर घास, खाद्य का उत्पादन, मशरूम, मुर्गी पालन आदि कार्य महिला स्व सहायता समूह के द्वारा किया जा रहा है जो प्रशंसनीय है मुझे यहां पर वाशिंग पाउडर और फिनाइल जैसे रासायनिक पदार्थों के उत्पादन देखकर काफी प्रसन्नता हुई है, पहले हम लोग सोचते थे कि फिनाइल या वॉशिंग पाउडर कहां बनाया जाता है? लेकिन अब यहां आप सबको इसके उत्पादन के कार्य में लगे हुए देखकर हमें अच्छा महसूस हो रहा है।

आप सब ने मिलकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तथा विधानसभा के अध्यक्ष चरणदास महंत और राज्य के सभी वरिष्ठ नेताओं की मंशा के अनुरूप विकास के कार्यों में जो योगदान प्रदान किया है वह सुखद है। नरवा, गरवा, घुरवा, बारी यह छत्तीसगढ़ राज्य की चार चिन्हारी हैं इसकी कल्पना भूपेश बघेल  ने मुख्यमंत्री के पद को धारण करने के पूर्व ही कर ली थी, अब यह साकार होने लगा है। यहां पर वर्मी खाद और केंचुआ का उत्पादन आप लोग करने लगे हैं यह आत्मनिर्भरता की ओर एक महत्वपूर्ण कदम है। गौठान और गौ माता को आर्थिक रूप से जोडऩे का प्रयत्न राज्य सरकार ने किया है केवल गौ माता की जय कहने मात्र से काम नहीं चलेगा हम सबको उनको संवर्धित और संरक्षित करने के लिए कृत संकल्पित होना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि एक बात आप लोग याद रखना भले ही घर संगमरमर का बना लो लेकिन जब तक गोबर से लिपाई नहीं होगी वह पवित्र नहीं होगा। लोगों को जनपद सदस्य कमलेश सिंह, मीडिया प्रभारी निर्मल दास वैष्णव एवं ग्राम के सरपंच राधेलाल थवाईत ने भी संबोधित किया। इस कार्यक्रम में विशेष रूप से जांजगीर एसडीएम मेनका प्रधान, नवागढ़ विकासखंड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी मनीष आनंद देवांगन, तहसीलदार प्रकाश साहू तथा अधिवक्ता प्रमोद सिंह, महेश्वर शुक्ला, कृष्णा प्रजापति, सतीश शर्मा, विमल देवांगन, राम खिलावन तिवारी, राजेश्वर तिवारी, राम तीरथ दास जी, राजेश सिंह ,अरविंद मिश्रा, राकेश वैष्णव, सुशील कुमार साहू, मनीष वैष्णव, सुखराम पटेल सहित अनेक गणमान्य जन उपस्थित थे, साथ ही गौ सेवा आयोग छत्तीसगढ़ शासन से आए हुए डॉ अमित जैन पुलिस प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के लोग काफी संख्या में उपस्थित थे।
 

अन्य पोस्ट

Comments