सामान्य ज्ञान

वर्षा वन किसे कहते हैं?
25-Feb-2021 12:41 PM 112
 वर्षा वन किसे कहते हैं?

उष्ण कटिबंधीय वर्षा वन लम्बे पेड़ों, उष्ण जलवायु़ और भारी वर्षा से युक्त वन है। कुछ वर्षा वनों में प्रतिदिन एक इंच से अधिक वर्षा होती है।
वर्षा वन अफ्रीका, एशिया , आस्ट्रेलिया और मध्य और दक्षिणी अमेरिका  में पाए जाते हैं। विश्व में सबसे बड़ा वर्षावन अमेजऩ वर्षावन है।
वर्षावन वे जंगल हैं, जिनमें प्रचुर मात्रा में वर्षा होती है अर्थात जहां न्यूनतम सामान्य वार्षिक वर्षा 1750-2000 मिमी (68-78 इंच) के बीच है। मानसूनी कम दबाव का क्षेत्र जिसे वैकल्पिक रूप से अंतर-उष्णकटिबंधीय संसृति क्षेत्र के नाम से जाना जाता है, की पृथ्वी पर वर्षावनों के निर्माण में उल्लेखनीय भूमिका है।
विश्व के पशु-पौधों की सभी प्रजातियों का कुल 40 से 75 प्रतिशत इन्हीं वर्षावनों का मूल प्रवासी है। यह अनुमान लगाया गया है कि पौधों, कीटों और सूक्ष्मजीवों की कई लाख प्रजातियां अभी तक खोजी नहीं गई हैं। उष्णकटिबंधीय वर्षावनों को पृथ्वी के आभूषण और संसार की सबसे बड़ी औषधशाला कहा गया है, क्योंकि एक चौथाई प्राकृतिक औषधियों की खोज यहीं हुई है। विश्व के कुल ऑक्सीजन प्राप्ति का 28 प्रतिशत वर्षावनों से ही मिलता है, इसे अक्सर कार्बन डाई ऑक्साइड से प्रकाश संश्लेषण के द्वारा प्रसंस्करण कर जैविक अधिग्रहण के माध्यम से कार्बन के रूप में भंडारण करने वाले ऑक्सीजन उत्पादन के रूप में गलत समझ लिया जाता है।
भूमि स्तर पर सूर्य का प्रकाश न पहुंच पाने के कारण वर्षावनों के कई क्षेत्रों में बड़े वृक्षों के नीचे छोटे पौधे और झाडिय़ां बहुत कम उग पाती हैं। इस से जंगल में चल पाना संभव हो जाता है। यदि पत्तों को काट दिया जाए या हलका कर दिया जाए, तो नीचे की जमीन जल्दी ही घनी उलझी हुई बेलों, झाडिय़ों और छोटे-छोटे पेड़ों से भर जाएगी, जिसे जंगल कहा जाता है। दो प्रकार के वर्षावन होते हैं, उष्णकटिबंधीय वर्षावन तथा समशीतोष्ण वर्षावन।
विश्व के अनेक वर्षावन मानसून के कम दबाव के क्षेत्र वाले स्थानों से संबद्ध हैं, जिन्हें अंतर-उष्णकटिबंधीय संसृति क्षेत्र के नाम से भी जाना जाता है।  उष्णकटिबंधीय वर्षावन वे वर्षावन हैं, जो उष्ण कटिबंधों में स्थित हैं और जमैका के पास (कर्क रेखा एवं मकर रेखा के बीच) पाए जाते हैं और दक्षिण पूर्व एशिया (म्यांमार से फिलीपींस, इंडोनेशिया, पापुआ न्यू गिनी और पूर्वोत्तर ऑस्ट्रेलिया), श्रीलंका, कैमरून से कांगो (कांगो वर्षावन) तक उप-सहारा अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका (जैसे अमेजन वर्षावन), मध्य अमेरिका (जैसे बोसावास, दक्षिणी युकाटेन प्रायद्वीप - एल-पेटेन-बेलीज-कैलैकमुल) और कई प्रशांत द्वीप समूह (जैसे हवाई) में मौजूद हैं।

पोजोलाना क्या है ?
पोजोलाना एक प्राकृतिक अथवा कृत्रिम सामग्री है जिसमें सिलिका अभिक्रियाशील रूप में पाई जाती है ।   पोजोलाना एक सिलीसियस अथवा सिलिसियस एवं एलूमिनियस सामग्री है जिसमें इसके अपने बहुत कम अथवा नगण्य संयोजी गुणधर्म होते हैं परन्तु महीन रूप से विभावित रूप में।  आर्द्रता की उपस्थिति में यह रासायनिक रूप से प्रतिक्रिया करती है जिससे कांक्रीट के विशिष्ट गुणधर्म आ जाते हैं । फ्लाईऐश, माइक्रोसिलिका, राइस-हस्क, जीजीबीएस, मेटाकोलाइन पोजोलोनिक सामग्रियों के कुछ उदाहरण हैं ।
 

अन्य पोस्ट

Comments