महासमुन्द

दिशा नाट्य कला मंच के कलाकारों द्वारा रामलीला का मंचन
16-Oct-2021 5:03 PM (54)
दिशा नाट्य कला मंच के कलाकारों द्वारा रामलीला का मंचन

गायत्री मंदिर में हुआ श्रीराम का राज्याभिषेक 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुंद, 16 अक्टूबर।
इस बार दशहरे पर भगवान श्रीराम का राज्याभिषेक स्थानीय गायत्री मंदिर में हुआ। इस बार कोविड-19 में 50 फीसदी की छूट मिलने से दशहरा मैदान में लोगों की भीड़ देखी गई।
दशहरा मैदान में शाम चार बजे से लोग पर्व के मद्देनजर वहां पहुंच रहे थे। इस दौरान दिशा नाट्य कला मंच के कलाकारों द्वारा रामलीला मंचन के पहले संसदीय सचिव एवं विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकार, नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्राकर, पूर्व विधायक डॉ. विमल चोपड़ा सहित तमाम जनप्रतिनिधियों ने श्रीराम का माल्यार्पण किया। शाम साढ़े पांच बजे के बाद साउंड आधारित रामलीला का मंचन शुरू हुआ। फिर दिशा नाट्य मंंच के कलाकारों ने मनमोहक प्रस्तुति दी। कल शाम पांच बजे रामलीला की टोली स्थानीय गायत्री मंदिर से निकलकर दशहरा मैदान पहुंची। इसके बाद साउंट आधारित रामलीला का मंचन हुआ। मंचन के बाद 35 फीट रावण के पुतले का दहन किया गया।

पिछले दो सालों से यह पर्व महासमुंद में बेहद सादगी से मनाया गया और इस बार इस पर्व को लेकर लोगों में खासा उत्साह दिखा।
शाम से ही दशहरा मैदान में भीड़ उमडऩी शुरू हुई। दशहरा आयोजन समिति के सदस्यों ने इस बार प्रशासन द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार मंचन के कार्यक्रम को टाल दिया था, लेकिन हिंदू परिषद के लोगों ने विधायक व कलेक्टर से मुलाकात कर मंचन की अनुमति मांगी। इसके बाद कलेक्टर ने मंचन की अनुमति दी।

इस पर्व को लेकर 15 दिनों पहले ही कलाकारों ने मंचन की तैयारियां शुरू कर दी थी। गायत्री मंदिर में प्रतिदिन रात 7 से 9 बजे तक मंचन की प्रैक्टिस करते थे। इस बार रामलीला मंचन के पाठ में बढ़ोतरी की गई थी।रावण दहन के बाद श्रीराम चंद्र, भैय्या लक्ष्मण, माता सीता के साथ पूरा दल जय श्रीराम के जयकारे लगाते हुए पंचशील गायत्री मंदिर पहुंचा।

जहां श्रीराम भगवान का राज्याभिषेक हुआ। इस दौरान लोगों ने श्रीरामचंद्र जी का पूजा अर्चना कर राज्याभिषेक कराया।
 

अन्य पोस्ट

Comments