छत्तीसगढ़ » राजनांदगांव

27-Oct-2020 9:42 PM 22

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 27 अक्टूबर। कोरोना संक्रमण के चलते जिलेभर में नवरात्र पर्व पर जहां भक्तिमय माहौल बना रहा। वहीं दशमी पर्व पर जिलेभर में दशहरा पर्व सादगी के साथ मनाया गया। असत्य पर सत्य की जीत का पर्व सोमवार को दशहरा समितियों द्वारा पूजा-अर्चना कर बुराई पर अच्छाई की जीत को लेकर रावण पुतले का दहन किया। वहीं भगवान राम के जयकारे भी लगाए।

सोमवार देर शाम विजयादशमी पर्व दशहरा समितियों ने रावण के पुतले का दहन किया। इससे पहले भगवान राम, लक्ष्मण और हनुमान रूपी बच्चों की पूजा-अर्चना के बाद रावण दहन का सिलसिला शुरू हुआ। इसके अलावा शहर के अलग-अलग मोहल्लों और क्षेत्रों में भी बच्चों ने पारंपरिक रूप से रावण के पुतले बनाकर उसका दहन करते खुशियां मनाई।  शहर के म्युनिसिपल स्कूल मैदान, स्टेट स्कूल मैदान और कमला कॉलेज मैदान तथा गौरीनगर में दशहरा समितियों के पदाधिकारियों ने रावण का पुतला बनाकर पूजा-अर्चना की और पारंपरिक रूप से पुतले का दहन किया गया। कोरोना संक्रमण के चलते और प्रशासन के निर्देशानुसार दशहरा पर्व पर फटाखे और सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर रोक लगने से लोगों की भीड़ नहीं जुट पाई।

 नहीं दिखा आतिशबाजी का नजारा

कोरोना संक्रमण के कारण इस वर्ष रावण दहन कार्यक्रम के दौरान अद्भुत आतिशबाजी का नजारा भी देखने को नहीं मिला। परंपरागत तरीके से दशहरा पर्व नांदगांव शहर तथा जिलेभर में मनाया गया।

म्युनिसिपल स्कूल मैदान, स्टेट स्कूल मैदान तथा कमला कॉलेज मैदान से लेकर अन्य सार्वजनिक स्थानों में शासन द्वारा जारी की गई गाइड लाइन के अनुसार दशहरा उत्सव मनाया गया। 10-10 फीट के ही रावण पुतले तैयार किए गए थे। समितियों  के पदाधिकारियों की उपस्थिति में रावण पुतले का दहन कराया गया। इधर कमला कॉलेज मैदान में राजा दिग्विजय दास दशहरा उत्सव समिति ने प्रशासन के मापदंड के अनुरूप रावण दहन किया गया।

इस अवसर पर महापौर हेमा देशमुख, पूर्व सांसद मधुसूदन यादव, पूर्व महापौर सुदेश देशमुख, राजगामी संपदा अध्यक्ष विवेक वासनिक, निगम अध्यक्ष हरिनारायण धकेता, जितेन्द्र मुदलियार, रूबी गरचा, उपेन्द्र देशमुख, देवेन्द्र साव, इंदर ठाकुर, शकील रिजवी, रोहित बिसेन, सुनील आहूजा, सारांश आजवानी, आफताब अहमद, विक्की साहू समेत अन्य लोग शामिल थे।


27-Oct-2020 9:32 PM 17

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 27 अक्टूबर। अंबागढ़ चौकी मंडल से ग्राम चिल्हाटी सेक्टर से जिला पंचायत सदस्य अरुण कुमार यादव के नेतृत्व में महेश सहारे एवं तीरथ यादव के साथ 15 साथियों ने सोमवार को जिला भाजपा अध्यक्ष मधुसूदन यादव के समक्ष भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

सदस्यता ग्रहण करते समय सभी सदस्यों ने एक स्वर में कहा कि आज भारत को एक सूत्र में पिरोने का कार्य भाजपा की सरकारें कर रही हैं और वे राष्ट्रवाद से प्रेरित होकर भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं। भाजपा में शामिल होने वालों में मानसिंह यादव,  प्रमोद दामले, उमराव लाड़े, नेमीचंद सहारे, विवेक कुमार लाडे, मिलिंद कुमार लाडे, योगेश कुमार अंबादे, भवन कुमार मुलेठी, सुनील कुमार लाडे, विकास कुमार लाडे, हीरेंद्र कुमार कुमरे, मनोज कुमार सहारे एवं  संदीप मेश्राम शामिल थे।

जिलाध्यक्ष श्री यादव ने भाजपा प्रवेश पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अब लोगों को समझ में आ चुका है कि भारत को परम वैभव के शिखर पर भाजपा ही ले जा सकती है, इसलिए 2 वर्ष के कांग्रेस के कार्यकाल में लोगों को कथनी और करनी में अंतर अब समझ आ चुका है, इसलिए गांव-गांव से लोग भाजपा में प्रवेश लेने के लिए स्वयं सामने आ रहे हैं। भाजपा उनका स्वागत करती है।


27-Oct-2020 9:30 PM 19

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 27 अक्टूबर। छुरिया विकासखंड में प्रगति वनधन विकास केन्द्र जोब की महिलाओं को चिरायता का विक्रय कर 63 हजार रुपए का मुनाफा हुआ। शासन की वनधन विकास केन्द्र महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने प्रभावी केन्द्र के रूप में उभर रहे हैं।

समूह की सचिव रूक्मिणी मंडावी ने बताया कि ऐसा सोचे नहीं थे कि एक माह में इतनी उन्नति करेंगे। उन्होंने कहा कि जनपद पंचायत के अधिकारियों से प्रोत्साहन एवं सहयोग मिला। जिससे हम सभी महिलाएं अब स्वावलंबी हो रही हैं। शासन के प्रगति वनधन विकास केन्द्र जोब से हमारी किस्मत बदली है। अब हम न केवल जागरूक हुए हैं, बल्कि हमारा आत्मविश्वास भी बढ़ा है और संकोच दूर हुआ है। उन्होंने बताया कि 44 क्विंटल चिरायता ग्रामीणों से क्रय किया गया। हमें वन विभाग की मदद मिली और वन विभाग द्वारा चिरायता क्रय किया गया। उन्होंने बताया कि समूह की महिलाएं अभी इस सफलता से बहुत खुश है और हम सभी आगे किस तरह कार्य करना है इस पर ध्यान केन्द्रित कर रहे हैं। बिमलाबाई ने कहा कि अब हम जिमीकंद का अचार बनाएंगे और इसकी मार्केटिंग भी करेंगे।

जनपद पंचायत सीईओ प्रतीक प्रधान ने बताया कि चिरायता वनौषधि है और इस क्षेत्र में बहुतायत होता है। महिलाओं ने 93 हजार 135 रुपए की लागत से ग्रामीण क्षेत्रों में चिरायता खरीदा था और उसका विक्रय करने पर 1 लाख 55 हजार 225 रुपए की राशि में विक्रय किया। जिससे शुद्ध आमदनी 62 हजार हुई।


27-Oct-2020 6:00 PM 17

एनएसयूआई ने प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 27 अक्टूबर।
कोरोना महामारी के कारण महाविद्यालयों में नियमित कक्षाएं नहीं लग रही है। इस कारण ऑनलाइन कक्षाएं प्रारंभ की गई है। ऑनलाइन कक्षा में कुछ छात्र को ही जोडऩे और अन्य छात्रों के पढ़ाई से वंचित रहने का आरोप एनएसयूआई ने लगाया है। वहीं कुछ विषयों की ऑनलाइन कक्षाएं शुरू नहीं होने की भी बात कही गई है। एनएसयूआई ने इसका विरोध करते दिग्विजय कॉलेज के प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा। 

एनएसयूआई के जिला उपाध्यक्ष राजा यादव के नेतृत्व में सोमवार को ऑनलाइन कक्षाओं से संबंधित  दिग्विजय कॉलेज के प्राचार्य के नाम महाविद्यालय के रजिस्ट्रर को मांग पत्र सौंपा। जिला उपाध्यक्ष श्री यादव ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण महाविद्यालयों में नियमित कक्षाएं नहीं लग रही है। इस कारण ऑनलाइन कक्षाएं प्रारंभ की गई है, जो एक छात्रहित की बात है, लेकिन इसमें भी कुछ अध्यापक लापरवाही बरत रहे हैं। इस कारण छात्रों को नुकसान भुगतना पड़ रहा है, जो एक चिंताजनक बात है। छात्र-छात्राओं को वाट्सअप, ऑनलाइन एप के माध्यम से भी कुछ ही छात्र-छात्राओं को जोड़ा जाता है। जिसके चलते कई छात्र ऑनलाइन क्लास से वंचित हो रहे हैं और अब तक बहुत से विषयों की ऑनलाइन कक्षाएं शुरूआत भी नहीं की गई है। जिसका हम विरोध करते हैं और मांग करते हैं कि ऐसे प्रध्यापक जो ऑनलाइन कक्षाओं में गड़बड़ी कर रहे हैं उन पर तत्काल कार्रवाई करें। साथ ही ऑनलाइन कक्षाओं में आ रही समस्याओं को जल्द से जल्द निराकरण किया जाए। जिससे छात्र-छात्राएं लाभान्वित हो।

ग्रामीण ब्लॉक अध्यक्ष राहुल साहू एवं रोहित उक्टेल ने कहा कि जल्द से जल्द बाकी विषयों की ऑनलाइन कक्षाएं प्रारंभ की जाए, भविष्य में छात्र-छात्राओं को महाविद्यालय की लापरवाही के कारण कक्षाओं में शामिल नहीं किया जाता है तो एनएसयूआई उग्र प्रदर्शन करेगी। जिसकी जवाबदेही महाविद्यालय की होगी। 
इस दौरान राजा यादव, राहुल साहू, खेम देशलहरे, रोहित उक्टेल, वैभव, कैलाश कुमार साहू, संजय सिन्हा, सतीष हरिहारनों आदि मौजूद थे।
 


27-Oct-2020 5:58 PM 15

राजनांदगांव, 27 अक्टूबर। राजनांदगांव जनपद पंचायत के भोथीपार जलाशय को 10 वर्षीय लीज पट्टा प्रदान करने 5 नवंबर तक आवेदन आमंत्रित किया गया है। आवेदन जनपद पंचायत राजनांदगांव में जमा कर सकते हैं, जो समिति या समूह लीज में प्राप्त करना चाहते हैं वे जनपद पंचायत कार्यालय से नियम व शर्ते की जानकारी ले सकते हैं।
 


26-Oct-2020 10:32 PM 26

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 26 अक्टूबर। सांसद संतोष पांडे  गत् दिनों राजनांदगांव जिले का निर्धारित कार्यक्रम छोड़कर कवर्धा रियासत की राजमाता व पूर्व विधायक रानी शशिप्रभा देवी  के देहावसान पर कवर्धा पहुंचकर अंतिम यात्रा में सम्मिलित हुए। राम राज्य परिषद से दो बार कवर्धा की विधायक रही शशि प्रभा  को उन्होंने श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कवर्धा के लिए किए गए कार्यों को उपलब्धि बताते अपना मार्गदर्शक खोना बताया। उन्होंने मृतात्मा की शांति व परिजनों को संबल प्रदान करने प्रार्थना की।


26-Oct-2020 10:27 PM 27

राजनांदगांव, 26 अक्टूबर। ग्राम परेवाडीह-भाठागांव से तुमड़ीलेवा जाने वाले मार्ग पर राईस मिल खोलने को लेकर उठा विवाद लगातार गहराता जा रहा है। इस मामले में ग्रामीण और किसानों के साथ  राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस यूथ के जिला अध्यक्ष आशीष रामटेके ने आरोप लगाते कहा कि 27 अक्टूबर को राजनांदगांव-खैरागढ़ मार्ग पर तिलई गांव के सुबह 11 बजे चक्काजाम किया जाएगा।

श्री रामटेके ने कहा कि उक्त निर्माणाधीन राईस मिल के विरोध में जिलाधीश को दो बार ज्ञापन भी सौंपा जा चुका है, लेकिन निर्माण कार्य बदस्तूर जारी है। इस मामले में राजनांदगांव जनपद पंचायत सीईओ सहित एसडीएम एवं उद्योग विभाग के जिम्मेदारी अधिकारियों से भी चर्चा की गई, लेकिन किसी ने संतोषजनक जवाब नहीं दिया। इससे ग्रामीण आक्रोशित हैं।


26-Oct-2020 10:26 PM 25

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 26 अक्टूबर। मदिरा परिवहन करते वाहन समेत आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

सहायक आयुक्त आबकारी नवीन प्रताप सिंह तोमर ने बताया कि 24 अक्टूबर को आबकारी विभाग द्वारा घोरदा से रीवागहन मार्ग में नाका लगाकर वाहन चेकिंग के दौरान मोटर साइकिल वाहन क्रमांक सीजी-07-के-9165 में अवैध मदिरा परिवहन करते पकड़ा गया। मौके पर डोंगरगढ़ निवासी सुनील बोरकर एवं अनमोल सांगोड़े से 96 पाव देशी दारू केवल महाराष्ट्र में विक्रय हेतु वैध का लेबल लगा जब्त किया गया। इसी तरह 23 अक्टूबर को ग्राम जैतगुंडरा थाना जोब में जयतुरा गोंड़ से 265 पाव देशी दारू केवल महाराष्ट्र में विक्रय हेतु वैध का लेबल लगा जब्त कर किया गया। दोनों प्रकरणों में आबकारी अधिनियम की धारा 34(2), 36, 59 (क) का प्रकरण दर्ज कर विवेचना किया जा रहा है।


26-Oct-2020 10:21 PM 25

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 26 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग अध्यक्ष डॉ. किरणमई नायक के शहर आगमन पर शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष कुलबीर छाबड़ा के नेतृत्व में 23 अक्टूबर को स्थानीय पुराना सर्किट हाउस में जोशीला स्वागत किया गया।

शहर कांग्रेस के सचिव सूर्यकांत जैन ने बताया महिला आयोग की अध्यक्ष जिले में दो दिवसीय प्रवास पर आई हैं। उन्होंने सुकुलदैहान एवं कलेक्टर परिसर में बैठक कर जन अदालत के जरिए लोगों की समस्यों का निराकरण करते अफसरों को आवश्यक दिशा-निर्देश। तत्पश्चात शाम 6 बजे पुराना सर्किट हाउस में शहर कांग्रेस के पदाधिकारियों द्वारा अध्यक्ष डॉ. नायक का जोशीला स्वागत किया। उन्होंने कांग्रेसियों से चर्चा करते महिलाओं से जुड़ी समस्याओं को सुनकर उनका निराकरण का भरोसा दिलाया। अध्यक्ष डॉ. नायक ने  राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं व महिला उत्थान के लिए चलाए जा रहे योजनाओं की जानकारी दी।

स्वागत करने वालों में महापौर हेमा देशमुख, शहर कांग्रेस उपाध्यक्ष झम्मन देवांगन, नासिर जिंदरान, महामंत्री महेंद्र शर्मा, रूपेश दुबे, राजा त्रिपाठी, अमित चंद्रवंशी, हनी ग्रेवाल, चंद्रकला देवांगन, मनीष साहू,  महेश साहू, अमीन हुद्दा, मामराज अग्रवाल, शुभम लालवानी, मनीष गौतम, चिंटू शर्मा समेत अन्य कांग्रेसी शामिल थे। उक्त जानकारी शहर जिला कांग्रेस सचिव सूर्यकांत जैन ने दी।


26-Oct-2020 8:25 PM 30

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 26 अक्टूबर। क्वांर नवरात्र पर्व के नवमीं और दशमी पर रविवार को जसगीतों के साथ तालाबों व पोखरों में सुबह से जोत-जंवारा का विसर्जन का दौर चला। वहीं सोमवार को मां दुर्गा व काली तथा सरस्वती की प्रतिमा का विसर्जन का दौर शुरू होने हो गया।

कोरोना संक्रमण और प्रशासन के निर्देशानुसार इस बार शहर समेत ग्रामीण अंचल में दशहरा पर्व पर होने वाले आयोजनों और सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर पूरी तरह रोक लगी हुई है। ऐसे में लोगों ने 10 फीट का रावण के पुतले का पारंपरिक रूप से पूजा-अर्चना कर दहन किया। इधर रविवार को हवन-पूजन के पश्चात श्रद्धालुओं ने नौ कन्या भोज का भी आयोजन कराया। क्वांर नवरात्र पर जिले सहित शहर के मंदिरों में श्रद्धाभक्ति का माहौल बना रहा।

शनिवार को हवन-पूजन के पश्चात रविवार को मंदिरों व प्रतिमा पंडालों से आस्था के साथ भक्तों ने जोत-जंवारा विसर्जन जसगीतों के माध्यम से तालाब व सरोवरों में ले जाकर विधि-विधान से विसर्जित किया।  शनिवार को शहर के मां काली माई मंदिर, मां दुर्गा मंदिर एवं पाताल भैरवी मंदिर समेत अन्य मंदिरों में हवन हुआ, जहां भक्तों ने अपनी आस्था के साथ हवन-पूजन कार्यक्रम में परिजनों समेत शामिल हुए।

महाअष्टमी के चलते मंदिरों में सुबह से ही भक्तों का आने का सिलसिला चलता रहा। शहर के अधिकांश क्षेत्रों में मंदिरों व पूजा पंडालों की समितियों द्वारा कोरोना काल और संक्रमण को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग तथा मास्क को अनिवार्य रूप से चेहरे में लगाने की अपील करते रहे। नवरात्र पर्व पर शहर के अधिकांश क्षेत्रों में गरबा उत्सव पर पूरी तरह रोक लगी रही। इधर पूजा पंडालों में नवरात्र पर्व पर जसगीत के माध्यम से  भक्तिमय माहौल निर्मित रहा।

 दिनभर चलता रहा प्रतिमाओं का विसर्जन

सोमवार को शहर समेत ग्रामीण क्षेत्रों में पूजा पंडालों में स्थापित मां दुर्गा, काली एवं माता सरस्वती की प्रतिमाओं का विसर्जन का क्रम दोपहर बाद से शुरू हो गया। जसगीतों के साथ प्रतिमाओं को पूजा पंडालों से शहर के मुख्य मार्गों में भ्रमण कराते मोहारा नदी स्थित विसर्जन कुंड में विसर्जित किया गया। इधर शनिवार को हवन पूजन के पश्चात रविवार को ज्योति कलश का विसर्जन हुआ। वहीं सोमवार को प्रतिमाओं का विसर्जन का क्रम देर शाम तक चलता रहा। ऐसे में नवरात्र पर्व के दौरान शहर समेत जिलेभर में भक्तिमय माहौल निर्मित रहा।

हालांकि कोरोना संक्रमण के चलते  इस बार डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर में दर्शनार्थियों के लिए मंदिर परिसर में रोक लगा दी गई थी। ऐसे में शहर समेत ग्रामीण क्षेत्रों में लगने वाले सेवा पंडाल नहीं लगे थे। वहीं पदयात्री भी इस बार घरों व आसपास के मंदिरों में अपनी मनोकामनाएं लेकर पूजा-अर्चना कर की।


26-Oct-2020 4:07 PM 21

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 26 अक्टूबर। दशहरा अवसर पर सोमवार को पुलिस लाइन में शस्त्र पूजन किया गया। इस अवसर पर एसपी डी. श्रवण ने विभागीय शस्त्रों का विधि-विधान से पूजन किया। साथ ही अफसरों और विभागीय कर्मियों को दशहरा पर्व की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर एएसपी एमएस चंद्रा, सुरेशा चौबे, नरेन्द्र मिश्रा, रूचि वर्मा, अमित सिंह, नीलकंठ, अमित गुप्ता, गजेन्द्र सिंह, सतीश कुमार पुरिया समेत अन्य अधिकारी शामिल थे।


25-Oct-2020 12:10 AM 31

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 24 अक्टूबर। नवरात्र की सप्तमी पर राज्यपाल अनुसुईया उइके मां बम्लेश्वरी दर्शनार्थ डोंगरगढ़ प्रवास पर सांसद संतोष पांडेय ने वनांचल के जनप्रतिनिधि व बालिका तस्करी कांड में पीडि़त बालिकाओं व पालकों के साथ मुलाकात की।  ज्ञात हो कि सांसद पांडेय के लिए डोंगरगढ़ की अवधि में ही मुलाकात के लिए राजभवन से समय निर्धारित कर दी गई थी।

सांसद पांडेय ने बताया कि कुछ सप्ताह पूर्व विकासखंड अंबागढ़ चौकी के ग्राम की तीन बालिकाओं की तस्करी से बाल-बाल बची बालिकाओं सहित उनके पालकों तथा उनके नेतृत्वकर्ता के रूप में जनपद सदस्य नम्रता सिंह व वनांचल के जनप्रतिनिधि के साथ राज्यपाल से मुलाकात कर स्थानीय पुलिस प्रशासन द्वारा दोषी को छोड़कर आश्रय दाता के विरुद्ध फर्जी पुलिस प्रकरण बनाने की प्रमाणित शिकायत को सामने रखा गया।

इसके बाद राजू टांडिया ने मानपुर की स्थिति को विस्तार से राज्यपाल को अवगत करवाया। जिसमें रावण दहन के विषय में टांडिया ने विरोध और दंगा फैलाने के प्रयास को बताया गया। इसी दौरान 295 क के आरोपी का नाम लेते ही राज्यपाल ने याद किया कि उस व्यक्ति ने उनके सामने भी धर्म आदि के विषय में गलत टिप्पणी किया था और उन्होंने उसे रोका था। उक्त विषय पर टिप्पणी करते सांसद ने कहा कि  जहां मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ में राम वन गमन पथ निर्माण का ढिंढोरा पीट रहे हैं। वहीं दूसरी ओर जनप्रतिनिधि व अधिकारी के परिजन प्रभु  श्रीराम पर टिप्पणी व भाषणबजी करते हैं जो अत्यंत दुखद है।

सांसद ने बताया कि कलेक्टर और एसपी को तत्काल इस विषय पर संज्ञान लेते कार्रवाई करने हेतु आदेशित किया। सांसद पांडेय और नम्रता सिंह ने राज्यपाल को मानपुर आने का न्योता दिया, इस पर उन्होंने आने का वादा किया।

इस दौरान पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष भरत वर्मा, सहकारी बैंक के पूर्व अध्यक्ष शशिकांत द्विवेदी, जनपद सदस्य नम्रता सिंह, मानपुर-चौकी के मंडल अध्यक्ष राजू टांडिया, पोषण पुजारा, शेखर मानिकपुरी, डोंगरगढ़ मंडल अध्यक्ष अमित जैन, पूर्व मंडल महामंत्री विजेंद्र सिंह, नेता प्रतिपक्ष अमित छाबड़ा, शहर महामंत्री मोनू भंडारी, सचिन जैन, संगीता मिश्रा, मनोज कोरेटिया आदि उपस्थित थे।


24-Oct-2020 8:30 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 24 अक्टूबर। शारदीय नवरात्र पर्व की अष्टमी पर मंदिरों और प्रतिमा पंडालों में महाष्टमी हवन विधि-विधान से संपन्न हुआ। वहीं नौ कन्या भोजन के लिए भी बच्चों में उत्साह नजर आया। नवरात्र पर्व पर व्रतधारी श्रद्धालुओं द्वारा नौ कन्या भोजन का भी आयोजन विधि-विधान से किया।

ज्ञात हो कि गत दिनों नवरात्र पर्व प्रारंभ होने के साथ ही शहर समेत जिलेभर में भक्तिमय माहौल बना हुआ है। श्रद्धालुओं द्वारा मंदिरों और प्रतिमा पंडालों में कोरोना संक्रमण के चलते शासन के निर्देेशानुसार सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का उपयोग करते पूजा-अर्चना के लिए पहुंच रहे हैं। इधर पूजन सामग्रियों के लिए भी बाजार समेत मंदिर परिसरों के समीप ही दुकानें लगी हुई है।

शनिवार को महाष्टमी हवन होने से श्रद्धालुओं ने मंदिरों और प्रतिमा पंडालों में पहुंचकर आहुति दी। वहीं मंदिर समिति और प्रतिमा पंडालों के पदाधिकारियों द्वारा शासन के निर्देशों का पालन करते श्रद्धालुओं को प्रवेश दे रहे हैं। शनिवार को महाष्टमी हवन देर शाम तक चलता रहा। इधर प्रतिमा पंडालों में भी श्रद्धालुओं के पहुंचने को लेकर समितियों के पदाधिकारियों द्वारा भी सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क को लेकर आवश्यक सूचना जारी कर की।

रविवार को ज्योति कलश विसर्जन को लेकर भी प्रतिमा पंडालों और मंदिर समिति के पदाधिकारियों ने भी रणनीति तैयार की है। नवरात्र प्रारंभ होने के साथ ही मंदिरों और पूजा पंडालों में ज्योति कलश प्रज्जवलित होने के साथ ही श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचते रहे।

नवरात्र पर्व प्रारंभ होने के साथ ही शहर के अलग-अलग इलाकों के मंदिरों और प्रतिमा पंडालों में श्रद्धालुओं द्वारा पहुंचकर अपनी आस्था के अनुरूप पूजा-अर्चना की। इसके अलावा शाम के समय जस गीत होने से आसपास क्षेत्र में भक्तिमय माहौल बना हुआ है। वहीं घरों में भी भक्तिमय नजारा दिख रहा है। शहर के पुराना बस स्टैंड स्थित मां कालीमाई मंदिर, दिग्विजय कॉलेज स्थित दुर्गा मंदिर, बर्फानी आश्रम स्थित मां पाताल भैरवी मंदिरों समेत अन्य मंदिरों में नवरात्र पर्व से जोत कलश प्रज्जवलित हो रहे हैं। इन मंदिरों में श्रद्धालुओं द्वारा ज्योति कलश का दर्शन करने श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती रही।

 नवरात्र पर्व के दौरान व्रतधारी श्रद्धालुओं द्वारा नियमत: छोटे बच्चों को नौ कन्या का भोज भी करवाते हैं। ऐसे में बच्चों में नौ कन्या भोज को लेकर उत्साह भी बना रहता है। बच्चे अलग-अलग स्थानों में पहुंचकर भोज ग्रहण भी कर रहे हैं। इधर मंदिर परिसरों के सामने श्रद्धालुओं द्वारा लोगों को प्रसादी भी वितरित किया गया।


24-Oct-2020 8:29 PM 27

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 24 अक्टूबर। जिला भाजपा अध्यक्ष मधुसूदन यादव ने देश के प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों को प्रसाद योजना अंतर्गत विकसित करने की महत्वकांक्षी योजना में डोंगरगढ़ का नाम जोडऩे पर हर्ष व्यक्त करते कहा कि यह जिले के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि इसका खुले हृदय से प्रदेश सत्ता पक्ष को भी स्वागत करना चाहिए, क्योंकि पर्यटन क्षेत्र रूप में नाम होने के कारण ही अब डोंगरगढ़ की पवित्र नगरी एवं मां बम्लेश्वरी मंदिर जो राष्ट्रीय रूप से प्रसिद्ध था, अब उसे अंतर्राष्ट्रीय पहचान मिलेगी और धर्मनगरी के सौंदर्यीकरण एवं विकसित होने से संस्कारधानी की भी गरिमा बढ़ेगी, इसलिए जिला भाजपा की तरफ से मधुसूदन यादव ने इस पुनीत कार्य के लिए केंद्र सरकार द्वारा 4 करोड़ 33 लाख रुपए की धन राशि दिए जाने पर केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रहलाद पटेल, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह एवं पहल करने वाले सांसद संतोष पांडे को साधुवाद देते आभार व्यक्त किया है।

आभार व्यक्त करने वालों में रामजी भारती, सुरेंद्र सिंह बन्नोआना, रजिंदरपाल सिंह भाटिया, चंद्रिका डड़सेना, जिला पंचायत सदस्य राजेश श्यामकर,  अमित जैन, विजेंद्र सिंह, प्रिंस कक्कड़ सहित भाजपा नेता शामिल हैं।


24-Oct-2020 8:28 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 24 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक ने जिला पंचायत सभाकक्ष में जिले से प्राप्त महिलाओं के उत्पीडऩ से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई की। डॉ. नायक ने 15 प्रकरणों के दोनों पक्ष आवेदक एवं अनावेदक को बारी-बारी से अपना पक्ष प्रस्तुत करने का मौका दिया। उनकी शिकायतों को सुनकर 15 प्रकरणों की सुनवाई की गई। इस अवसर पर महापौर हेमा देशमुख, शासकीय अधिवक्ता शमीम रहमान एवं कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास रेणु प्रकाश एवं शहर के स्थानीय अधिवक्तागण उपस्थित थे।

प्रकरणों में एक वृद्ध महिला को उनके घर का आधिपत्य नहीं मिल पा रहा था। किसी अन्य महिला द्वारा उनके मकान पर कब्जा कर निवास किया जा रहा था। जिसकी मृत्यु होने के बाद वृद्ध महिला जब अपने घर में निवास करने गई तो उन्हें आधिपत्य नहीं मिल सका। इसकी जानकारी मिलने पर राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने तुरंत पुलिस विभाग के अधिकारी को निर्देशित करते घर का आधिपत्य देने के लिए कहा।

 सुनवाई के अन्य मामले में आवेदिकागण जो कि शासकीय कर्मचारी है, के द्वारा अवकाश स्वीकृत न होने की शिकायत आयोग के समक्ष की गई थी। आयोग के समक्ष हाजिर होने पर यह ज्ञात हुआ कि आयोग की नोटिस अनावेदक को मिलते ही अनावेदक द्वारा 20 अक्टूबर 2020 को सुनवाई के ठीक 2 दिन पूर्व ही अवकाश स्वीकृत कर दिया गया है। जिसकी जानकारी आवेदकगणों को आयोग के समक्ष हाजिर होने पर हुई जिसमें आवेदिकागणों द्वारा डॉ. किरणमयी नायक का आभार व्यक्त किया गया।

एक अन्य प्रकरण में पिता और पुत्री के मध्य संपत्ति विवाद में पुत्री और पिता दोनों को अपने-अपने पक्ष के समर्थन में संबंधित दस्तावेजों को लेकर आगामी सुनवाई की तिथि पर आयोग में उपस्थित होने को निर्देशित किया गया। जिस पर दोनों पक्षों के द्वारा सहमति व्यक्त की गई।

इसके अतिरिक्त आयोग के अन्य प्रकरण में आवेदिका ने अपने पति के विरुद्ध जो कि स्वास्थ्य विभाग के आरएचओ के पद पर पदस्थ हैं, पत्नी और पुत्री को कोई भरण पोषण राशि न देकर प्रताडि़त करने की जानकारी दी, जिसे आयोग द्वारा तत्काल गंभीरता से लिया जाकर संबंधित अधिकारी के उच्च अधिकारियों को पत्र के माध्यम से भरण पोषण राशि हेतु अधिकारी के वेतन से आधा वेतन सीधे प्राप्त करने का आवेदन प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया और उसके पश्चात आयोग के समक्ष हाजिर होने का निर्देश दिया गया। एक अन्य मामले में अनावेदकगणों की अनुपस्थिति होने पर एसपी राजनांदगांव के माध्यम से आगामी सुनवाई तिथि पर उपस्थिति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया।

इसके अतिरिक्त आयोग ने कई विभागों में आंतरिक परिवाद समिति गठन पर जोर दिया जाकर उनकी रिपोर्ट के अवलोकन के पश्चात महिला उत्पीडऩ से संबंधित शिकायत का निराकरण किए जाने की बात कही। आयोग के समक्ष कुल 15 प्रकरण सहित एक नया प्रकरण तत्काल लिया गया। 15 प्रकरणों में से 8 प्रकरण निराकृत होकर नस्तीबध हुए शेष 7 प्रकरणों को आगामी सुनवाई हेतु आयोग में उपस्थिति होने हेतु निर्देशित किया गया।


24-Oct-2020 8:23 PM 27

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 24 अक्टूबर। दुर्गा प्रतिमा विसर्जन  को लेकर नगर निगम ने व्यापक तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए निगम के अधिकारी-कर्मचारियों को भी दायित्व सौंपा गया है। नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक ने बताया कि दुर्गा विसर्जन पर्व पर मूलभूत दायित्वों के निर्वहन के लिए अधिकारी व कर्मचारियों को दायित्व सौंपा गया है। इसके लिए प्र.सहायक अभियंता संदीप तिवारी व प्र. सहायक अभियंता अतुल चोपडा को प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। साथ ही सभी उप अभियंताओं को अलग-अलग प्रभार सौंपा गया है।

आयुक्त श्री कौशिक ने बताया कि 25 व 26 अक्टूबर को दुर्गा विसर्जन के लिए मोहारा नदी में निर्मित विसर्जन कुंड में विसर्जन कराए जाने प्रकाश व्यवस्था, मूर्ति विसर्जन के लिए क्रेन की व्यवस्था की जा रही है। विर्सजन उपरांत वेस्ट मटेरियल, पूजा समाग्री, फूल, कपडे, प्लास्टिक पेपर आदि सुरक्षित एकत्र कर पुर्नउपयोग एवं कम्पोस्ंिटग आदि में भेजने 25 अक्टूबर के लिए प्र.सहायक अभियंता संदीप तिवारी एवं 26 अक्टूबर के लिए सहायक अभियंता संजय ठाकुर को प्रभारी अधिकारी बनाया गया है तथा रानीसागर, सर्किट हाऊस के पास व नंदई चौक में मूर्ति लाने ले जाने के लिए वाहन की व्यवस्था की जा रही है। इन सबके लिए उप अभियंताओं को सहयोगी बनाया गया है।

उन्होंने बताया कि मोहारा रोड एवं मुख्य मार्गो में विद्युत व्यवस्था प्र. सहायक अभियंता अतुल चोपडा एवं कंट्रोल रूम का दायित्व एवं मुख्य चौक चौराहो मेें टैंकर उपलब्ध कराने मोटर प्रतिपालन प्रभारी राजस्व उप निरीक्षक सुरेन्द्र साव को सौंपा गया है।

इसके अलावा प्र.स्वास्थ्य अधिकारी अजय यादव सहित उनकी टीम को शहर के सम्पूर्ण क्षेत्रो में विशेष साफ -सफाई व्यवस्था एवं शहर के भीतरी इलाकों में घुमने वाले आवारा पशुओं को पकडऩे आदि का दायित्व सौंपा गया है।

उपरोक्त सभी अधिकारी-कर्मचारी सौंपे गए दायित्वों की जिम्मेदारी से निर्वहन करेंगे एवं उच्च अधिकारी को पालन प्रतिवेदन देंगे।

 


24-Oct-2020 8:22 PM 24

राजनांदगांव, 24 अक्टूबर। महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने नागरिकों को विजयादशमी पर्व पर शुभकामनाएं देते कहा कि यह पर्व मानव मात्र को लोक कल्याण की भावना से जुडऩे की प्रेरणा देता है।  महापौर श्रीमती देशमुख ने नागरिकों को भारतीय संस्कृति से जुड़े विजयादशमी, दशहरा पर्व की बधाई देते इस पर्व को परंपरागत रूप से मनाने का आव्हान किया है। उन्होंने कहा कि यह पर्व बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक है। इस दिन शमीपूजन का भी विशेष महत्व है और यह पर्व वर्षा ऋतु की समाप्ति और शरद ऋतु के आरंभ का सूचक है। निगम अध्यक्ष हरिनारायण पप्पू धकेता, निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक, नेताप्रतिपक्ष श्री कशुन यदु समेत संतोष पिल्ले, विनय झा, सुनीता अशोक फडऩवीस, राजेश गुप्ता चम्पू, अब्दुल समद खान समेत अन्य ने शुभकामनाएं दी।


24-Oct-2020 5:33 PM 18

मरीजों से बातचीत कर ली जानकारी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 24 अक्टूबर।
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत शासन के संयुक्त सचिव के दल ने कोविड-19 अंतर्गत राजनांदगांव जिले में कोरोना रोकथाम के कार्यों एवं कोरोना मरीजों के प्रबंधन उपायों का निरीक्षण किया। राजनांदगांव जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के बढ़ते संख्या को ध्यान में रखकर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार की संयुक्त सचिव वरिष्ठ आईएएस अधिकारी ऋचा शर्मा के नेतृत्व में तीन सदस्यीय दल ने जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के उपचार और प्रबंधन की व्यवस्था देखने जिले के भ्रमण पर थी। दल ने जिले में कोविड-19 की रोकथाम एवं कोरोना मरीजों के प्रबंधन उपायों की सराहना की।

दल ने ग्राम टेड़ेसरा में कोविड-19 के कॉल सेंटर का भ्रमण कर कोरोना पॉजीटिव मरीजों को कॉल सेंटर से किस तरह से कॉल किया जा रहा है और क्या जानकारी दी जा रही है। उक्त संबंध में अवलोकन कर कॉल करने वाले कर्मचारियों से चर्चा कर जानकारी ली एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना पॉजिटिव मरीजों को दी जा रही त्वरित जानकारी की सराहना की। 

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबंधक गिरीश कुर्रे ने जिले में कोविड-19 के तहत कोरोना के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम तथा पॉजिटिव मरीजों के उपचार व प्रबंधन के संबंध में जिले में किए जा रहे कार्यों के संबंध में प्रस्तुतिकरण दिया एवं दल के सदस्यों के जिज्ञासाओं पर आवश्यक जानकारियों से अवगत कराया। दल ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोमनी में संचालित कोविड केयर सेंटर का अवलोकन किया और भर्ती मरीजों से बात की और मिल रहे स्वास्थ्य सेवाओं के विषय में जानकारी ली। दल ने उदयाचल में गैर शासकीय संस्थाओं के सहयोग से संचालित कोविड केयर सेंटर एवं गांधी सभागृह में संचालित सैम्पल संग्रहण केन्द्र का भी अवलोकन कर मरीजों एवं कार्यरत कर्मचारियों से बात की और मिल रही सेवाओं की गुणवत्ता की प्रशंसा की। 

दल ने पेंड्री स्थित डेडीकेटेड कोविड अस्पताल मेडिकल कॉलेज का भ्रमण कर आरटीपीसीआर लैब अवलोकन किया एवं तत्पश्चात अस्पताल में संचालित कोविड सेवाओं का जायजा लिया व भर्ती मरीजों और कार्यरत चिकित्सकों एवं नर्सिंग स्टॉफ से चर्चा की। दल के सदस्यों ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी के साथ स्थानीय दिग्विजय स्टेडियम में होम आईसोलेशन मरीजों हेतु संचालित जिला स्तरीय कंट्रोल रूम एवं रात्रिकालीन सैम्पल संग्रहण केन्द्र का मुआयना किया और मरीजों से दूरभाष पर बात करने वाले चिकित्सकों से चर्चा कर पूरी प्रक्रिया से अवगत हुए। दल के सदस्यों ने तुलसीपुर में मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य मोबाईल मेडिकल यूनिट के माध्यम से स्वास्थ्य शिविर एवं सैम्पल संग्रहण कार्य का अवलोकन किया। 

दल के भ्रमण में डॉ. सुनील गिट्टे एवं भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के डॉ. रंगनाथन व राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन आनंद साहू, एडीएम सीएल मारकन्डेय, एसडीएम मुकेश रावटे, निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक, डीन डॉ. रेणुका गहने, मेडिकल कॉलेज के हॉस्पिटल सुपरिटेन्डेंट डॉ. बेक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक गिरीश कुर्रे, कार्यक्रम अधिकारी डॉ. अल्पना लूनिया, डॉ. बीएल कुमरे, सीटी प्रोग्राम मैनेजर अनामिका विश्वास, एपीडियोलॉजिस्ट प्रेरणा सहगल, मेडिकल कॉलेज के अस्पताल प्रबंधक अविन चौधरी, डॉ. सोनिका त्रिपाठी, डॉ. स्नेहा, साहिल मसीह, डॉ. प्रणय शुक्ला, अखिलेश नारायण सिंह, विकास राठौर, दिनेश ताडिया, थामेश वर्मा आदि अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।
 


24-Oct-2020 5:31 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 24 अक्टूबर।
अनुविभागीय अधिकारी खैरागढ़ निष्ठा पाण्डे ने विभिन्न विकास कार्यों का निरीक्षण किया। गौठान ग्राम विचारपुर में वन विभाग द्वारा अब तक पौधा एवं इ गार्ड प्रदाय नहीं करने पर एसडीएम श्रीमती पांडे ने नाराजगी जाहिर करते उप वनमंडल अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। विचारपुर-कोटरीछापर में कृषि विभाग के आरईएओ द्वारा वर्मी निर्माण का समुचित प्रशिक्षण समूह की महिलाओं को नहीं देने एवं सतत निरीक्षण नहीं करने पर असंतोष व्यक्त करते कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। 

महरूमकला गौठान एवं फल्तेपुर गौठान में वर्मी टांका में गोबर व्यवस्थित रूप से समय में भराई नहीं करने एवं समूह की महिलाओं को प्रशिक्षण एवं निरीक्षण के अभाव को देखते ग्रामीण कृषि विकास अधिकारी दिप्ती पाल को समझाईश देते शो-कॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। महरूमकला ग्राम में विगत 2 माह से सामुदायिक भवन निर्माण कार्य बंद होने पर सरपंच, सचिव पर नाराजगी जाहिर करते समझाईश दी कि 10 दिन में निर्माण कार्य पूर्ण करें एवं संबंधित सब इंजीनियर को शो-कॉज नोटिस जारी करते जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूर्ण कराने का निर्देश दिए। 

चिचोला वनधन विकास केन्द्र निर्माण कार्य को एवं आंगनबाड़ी को जल्द से जल्द पूर्ण कराने के लिए सरपंच, सचिव को निर्देश दिए। इस अवसर पर जनपद सीईओ रोशनी भगत उपस्थित थी। 
 


24-Oct-2020 2:36 PM 165

एक नवंबर से भूख हड़ताल की चेतावनी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 24 अक्टूबर।
सहारा इंडिया के जमाकर्ताओं (एजेंटों) ने मैच्युरिटी के बाद भी निवेशकों की राशि वापस नहीं किए जाने को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम चिट्ठी  भेजकर इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी है।
 
एजेंटों का आरोप है कि अवधि पूर्ण होने के बाद भी जमाकर्ताओं  की राशि को लौटाने में देरी की जा रही है। जिसके चलते निवेशकों का जमाकर्ताओं से विश्वास उठ गया है और जमा राशि को वापस कराने का एजेंटों पर दबाव बढ़ाया जा रहा है। 

शनिवार को एजेंट तुलाराम सिन्हा, शेषनारायण देवांगन, मुकेश देवांगन, ओमप्रकाश साहू, घनश्याम यादव, अंगदराम देवांगन, अजय सिंह समेत कई एजेंटों ने देश के शीर्ष राजनायिकों के नाम पत्र लिखकर इस मामले में दखल देने की अपील की है।

एजेंटों का आरोप है कि संस्था एवं शाखा कार्यालय द्वारा एजेंटों को अवधि पूर्ण होने के बाद राशि निकालने के लिए नई पॉलिसी के तहत उतनी ही राशि जमा करने का दबाव बनाया जा रहा है। जिसका विरोध करने पर संस्था द्वारा अनुशासनहीनता का आरोप लगाकर एजेंटों का कोड निरस्त कर बाहर किया जा रहा है।

एजेंटों का कहना है कि सालों से संस्था के प्रति निष्ठापूर्वक कार्य कर रहे हैं। संस्था के इस रूख की वजह से एजेंटों की विश्वसनीयता पर भी लोग सवाल उठा रहे हैं। जबकि ईमानदारी से निवेशकों के पैसे जमा कराए गए हैं। इधर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री तथा संस्था प्रमुख सुब्रत राय सहारा के अलावा अन्य जिम्मेदार व्यक्तियों के नाम एजेंटों ने पत्र भेजकर  इस अव्यवस्था को दुरूस्त करने की मांग की है। उनकी मांग पूर्ण नहीं होने पर एजेंटों ने इच्छामृत्यु की मांग भी की है। वहीं आगामी एक नवंबर से राजनांदगांव के रिजनल कार्यालय में एजेंटों ने भूख हड़ताल की चेतावनी दी है।
 
उधर संस्था पर एजेंटों द्वारा लगाए गए आरोपों को रिजनल मैनेजर राजीव जैन ने खारिज किया है। ‘छत्तीसगढ़’ से उन्होंने कहा कि किसी भी एजेंट को संस्था से बाहर नहीं किया गया है। सभी निवेशकों के रकम विलंब होने की स्थिति में ब्याज समेत लौटाया जा रहा है। अगले साल मार्च तक सभी निवेशकों की राशि लौटा दी जाएगी।