छत्तीसगढ़ » राजनांदगांव

Date : 16-Jan-2020

मुस्लिम समाज ने अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य हफीज खान की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में नव निर्वाचित महापौर हेमा सुदेश देशमुख का सम्मान किया

राजनांदगांव, 16 जनवरी। वार्ड नं. 7 मोतीपुर रामनगर मदरसा में राम नगर के मुस्लिम समाज द्वारा छग अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य हफीज खान की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में नव निर्वाचित महापौर हेमा सुदेश देशमुख का सम्मान किया गया। इस अवसर पर पार्षद मधुकर बंजारी, गणेश पवार, शरद पटेल उपस्थित थे।

कार्यक्रम के प्रारंभ में मदरसा के सदर नासीर भाई सहित समाज के लोगों द्वारा अतिथियों का पुष्प गुच्छ से आत्मीय स्वागत किया गया। सदर नासीर भाई ने स्वागत भाषण देते मदरसा के उपर हाल निर्माण व मदरसा के सामने की रोड निर्माण करने के अलावा कब्रिस्तान में बाउंड्रीवाल सहित अन्य कार्य कराने की मांग की। 

महापौर श्रीमती देशमुख ने कहा कि आप लोगों के आर्शीवाद से ही मैं महापौर के पद में बैठी हूूूॅ और जब मैं आप लोगों के विश्वास में खरा उतरूंगी, तभी इस सम्मान की सार्थकता होगी। उन्होंने मदरसा एवं कब्रिस्तान के कार्य कराने की मांग पर जल्द से जल्द काम कराने का आश्वासन दिया। छग अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य हफीज खान ने कहा कि आप सब की दुवाओं से ही यह मुकाम मिला है। हमारी सरकार अल्पसंख्यकों के हित के लिए अनेक कार्य कर रही है इसका लाभ आप लोगों को भी दिलाया जाएगा। कब्रस्तान एवं मदरसे के काम को भी पूरा कराया जाएगा। पार्षद मधुकर बंजारी ने भी वार्डवासियों सहित मुस्लिम समाज के लोगों का आभार व्यक्त करते कहा कि वार्ड सहित आप लोगों द्वारा किए जा रहे मांग को प्राथमिकता से पूर्ण किया जाएगा। कार्यक्रम में महापौर श्रीमती देशमुख सहित अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। कार्यक्रम का संचालन पूर्व पार्षद एजाजुल रहमान ने किया। इस अवसर पर मुस्लिम समाज के लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

 

 

 


Date : 16-Jan-2020

छत्तीसगढ़ शासन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा भूमि स्वामी हक में व्यवस्थापन के लिए योजना लागू की

राजनांदगांव, 16 जनवरी।  छत्तीसगढ़ शासन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा नगरीय क्षेत्रों के लिए शासकीय भूमि, अतिक्रमित भूमि तथा पट्टे की भूमि को भूमि स्वामी हक में परिवर्तन करने के लिए योजना लागू  की गई है।

योजना के अनुसार जिले के  नगरीय निकाय क्षेत्रों अर्थात् नगर निगम/नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत में स्थित 7 हजार 500 वर्गफीट तक की शासकीय नजूल भूमि को स्थाई पट्टे अथवा भूमि स्वामी हक में प्राप्त किया जा सकता है। स्थाई पट्टे पर भूमि आबंटन हेतु प्रब्याजि की राशि प्रचलित बाजार मूल्य की 150 प्रतिशत प्रब्याजि की राशि देय होगी। भूमि स्वामी हक में भूमि प्राप्त करने के लिए रिक्त भूमि 102 प्रतिशत प्रचलित बाजार मूल्य की राशि तथा अतिक्रमित भूमि 152 प्रतिशत प्रचलित बाजार मूल्य की राशि देय होगी।

नगरीय क्षेत्रों में पूर्व में आबंटित रियायती एवं गैर रियायती पट्टेदारों को पट्टे में प्राप्त भूमि को फ्री-होल्ड अर्थात् भूमि स्वामी हक में परिवर्तित कराया जा सकता है। यदि गैर रियायती स्थाई पट्टों अपने पट्टे की भूमि को फ्री होल्ड (भूमि स्वामी हक) कराना चाहते हैं तो उन्हें प्रचलित बाजार मूल्य के 2 प्रतिशत की प्रब्याजि की राशि देय होगी। यदि रियायती स्थाई पट्टों के पट्टेदार अपने पट्टे की भूमि को फ्री होल्ड (भूमि स्वामी हक) कराना चाहते हैं तो उन्हें रियायती पट्टे को गैर रियायती में परिवर्तन के लिए प्रचलित बाजार मूल्य की 100 प्रतिशत प्रब्याजि की राशि तथा भूमि स्वामी हक में परिवर्तन हेतु प्रचलित बाजार मूल्य के अतिरिक्त 2 प्रतिशत की प्रब्याजि की राशि इस तरह कुल 102 प्रतिशत बाजार मूल्य की प्रब्याजि की राशि देय होगी।

 

 


Date : 16-Jan-2020

स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत शहर को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने सेंट्रल व आईडीबीआई बैंक ने निगम को दिया दो गारबेज रिक्शा

राजनांदगांव, 16 जनवरी। स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत शहर को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने नगर निगम द्वारा व्यापक प्रबंध किए जा रहे है। जिसके तहत प्रात: से दोपहर तक सफाई मित्रों व स्वच्छता दीदीयों द्वारा साफ -सफाई किया जा रहा है। साथ ही शहर के प्रमुख मांगों एवं बाजार में रात्रिकालीन सफाई भी की जा रही है। स्वच्छता में सभी संस्थाओं एवं नागरिकों का भी सहयोग प्राप्त हो रहा है। इसी कड़ी में बुधवार को सेन्ट्रल बैक आफ  इंडिया एवं आईडीबीआई बैंक द्वारा कचरा परिवहन के लिए नगर निगम को दो गारबेज रिक्शा प्रदान किया गया। सेन्ट्रल बैक आफ इंडिया के ब्रांच मेनेजर विभोर दसोरा एवं आईडीबीआई बैंक के ब्रांच मैनेजर राजेश अग्रवाल द्वारा महापौर हेमा सुदेश देशमुख की उपस्थिति में मिलचाल एसएलआरएम सेंटर की सुपरवाईजर प्रेमा सोनकर एवं भरकापारा एसएलआरएम की सुपरवाईजर राधा चौहान को गारबेज रिक्शा विधिवत पूजा कर सौपा गया। इस अवसर पर निगम अध्यक्ष हरिनारायण पप्पू धकेता एवं आयुक्त चंद्रकांत कौशिक, पूर्व महापौर अजीत जैन, स्वास्थ्य विभाग के प्रभारी सदस्य गणेश पवार एवं पार्षदगण उपस्थित थे।
निगम आयुक्त श्री चंद्राकांत कौशिक ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन अभियान को सफल बनाने एवं अगामी स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में उच्च स्थान प्राप्त करने नगर निगम द्वारा साफ -सफाई में विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसके लिए हमारे स्वास्थ्य कर्मियों के साथ-साथ निगम के अधिकारी व कर्मचारी द्वारा भी मेहनत किया जा रहा है। इसके अलावा पालीथिन मुक्त करने भी अभियान चलाकर नागरिकों एवं दुकानदारों को समझाईस दी जा रही है। साथ ही आवश्यकता पडऩे पर जुर्माना भी वसूला जा रहा है।

इसी कड़ी मेंं महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने बताया कि स्वच्छता अभियान में सामाजिक संस्थाओं के साथ साथ नागरिक भी स्वस्फूर्त होकर जुड़ रहे हैं। जिसके परिणाम स्वरूप विगत 5-6 वर्षो से स्वच्छता सर्वेक्षण में राजनांदगांव शहर उच्च स्थान को प्राप्त कर रहा है और इस वर्ष स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के तृतीय सर्वेक्षण में संस्कारधानी राजनांदगांव को 19वॉ स्थान एवं द्वितीय सर्वेक्षण में 18वां स्थान प्राप्त हुआ। इस प्रकार राजनांदगांव स्वच्छता सर्वेक्षण के टॉप 20 में स्थान बना लिया है और टॉप 10 में स्थान प्राप्त करने कमर कसकर कार्यकर रही है। इसी कड़ी में पूर्व में बैक ऑफ  बडोदा द्वारा दो गारबेज ट्राली प्रदान की गई थी और आज सेंट्रल बंैक आफ  इंडिया एवं आईडीबीआई बैंक द्वारा भी 1-1 गारबेज रिक्शा कचरा परिवहन के लिए नगर निगम को प्रदान किया जा रहा है। इसके लिए मैं तीनों बैंक के मैनेजर सहित उनके स्टाफ के लोगों का आभार व्यक्त करती हूं। इस अवसर पर नगर निगम का स्वच्छता अमला उपस्थित था।

 

 


Date : 16-Jan-2020

राजस्व योजनाओं को हर व्यक्ति तक पहुंचाने निर्देश, सुबोध ने ली राजस्व अधिकारियों की बैठक

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 16 जनवरी।
राजस्व सचिव सुबोध कुमार सिंह ने बुधवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में राजस्व अधिकारियों की बैठक ली। श्री सिंह ने बैठक में राजस्व से संबंधित प्रकरणों के निराकरण की प्रगति की समीक्षा की। श्री सिंह ने शासन द्वारा चलाए जा रहे राजस्व से जुड़े योजनाओं के बारे में जानकारी अधिकारियों को दिए। उन्होंने निर्देशित किया कि इन योजनाओं का प्रचार-प्रसार किया जाए ताकि आम नागरिकों को जानकारी प्राप्त हो और इसका लाभ ले सके। बैठक में अपर कलेक्टर ओंकार यदु, अपर कलेक्टर हरिकृष्ण शर्मा, एसडीएम एवं राजस्व अधिकारी उपस्थित थे। 

श्री सिंह ने योजना के बारे में जानकारी देते कहा कि नगरीय क्षेत्रों में स्थित 7 हजार 500 वर्ग फीट तक की शासकीय नजूल भूमि, अतिक्रमण भूमि तथा पट्टे की भूमि को भूमि स्वामी के हक में व्यवस्थापन किया जा सकता है। इसके लिए शासन द्वारा निर्धारित मूल्य का भुगतान करना होगा। श्री सिंह ने निर्देशित करते हुए कहा कि काबिज किए शासकीय भूमि का सर्वे करके चिन्हांकित करे। जिन शासकीय भूमि पर काबिज किए हुए हैं, वहां पर शासन द्वारा निर्धारित देय राशि का भुगतान कर भूमि का व्यवस्थापन किया जा सकता है। 

श्री सिंह ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री मानधन योजना और व्यापारिक पेंशन योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि इन योजनाओं का लाभ उन सभी किसानों और व्यापारियों को मिलना चाहिए, जो इनके लिए पात्र हैं। इस योजना के तहत 60 वर्ष पूरा होने पर हितग्राही को प्रतिमाह 3 हजार रूपए पेंशन का लाभ मिलेगा। हितग्राही कॉमन सर्विस सेन्टर में जाकर इस योजना को प्रारंभ कराके लाभ प्राप्त कर सकते हैं। श्री सिंह ने कहा इस योजना का प्रचार-प्रसार बेहतर रूप से करे। विभिन्न जगह पर शिविर लगाकर हितग्राहियों को योजना की जानकारी दे और इसके लाभ के बारे में बताए। श्री सिंह ने ई-कोर्ट व्यवस्था के तहत प्रकरणों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ई-कोर्ट के माध्यम से कागजी कार्रवाई दूर होगी जिससे विवादों का निपटारा जल्दी से किया जा सकता है। बैठक के दौरान संचालक भू-अभिलेख श्री रमेश शर्मा ने राजस्व मामले से संबंधित जानकारी एवं आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।


Date : 16-Jan-2020

जनवरी माह के दूसरे सप्ताह में अचानक तापमान बढऩे से ठंड गायब 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव,  15 जनवरी।
जनवरी माह के दूसरे सप्ताह में अचानक तापमान बढऩे से ठंड गायब हो गई। एक ओर जहां पिछले दो-तीन दिनों में जहां  सुबह और देर शाम लोगों को ठंड से कंपकंपी होने लगी थी, लेकिन मकर संक्रांति के फौरन बाद तापमान में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। 

पिछले कुछ दिनों से बारिश और कड़ाके की ठंड ने लोगों को हलाकान कर दिया था, लेकिन उम्मीद से परे ठंड एकाएक गायब हो गई और अब गर्मी का अहसास होने लगा है। हालांकि रात के तापमान में अब भी गिरावट है। लिहाजा शाम और सुबह के वक्त ठंड बरकरार है। 

उल्लेखनीय है कि गत् दिनों कोहरे और सर्द हवाओं से ठिठुरन बढ़ी हुई थी। पिछले कुछ दिनों से वनांचल में सूर्य निकलने के बाद भी कोहरे का आलम बना हुआ था। तापमान में गिरावट होने से लोगों को कंपकंपी का अहसास भी हुआ।  मंगलवार से तापमान बढ़ते ही लोग गर्म कपड़ों में नजर नहीं आए। वहीं लोगों को गर्मी का अहसास भी होने लगा है। ऐसा माना जा रहा है कि आगामी दिनों तापमान के उतार-चढ़ाव के चलते लोगों को ठंड और गर्मी का मिलाजुला असर बना रहेगा।

इधर तापमान के उतार-चढ़ाव के चलते लोगों में सर्दी-खांसी व वायरल की शिकायत भी बढऩे लगी है। वहीं चिकित्सकों द्वारा बच्चों व बुजुर्गों को पर्याप्त गर्म कपड़ों का उपयोग करने की सलाह दे रहे हैं। इसके अलावा गर्म पानी और गर्म भोजन ग्रहण करने की समझाईश भी दी जा रही है।  सेहत पसंद लोगों की भीड़  पार्कों समेत स्टेडियम और सडक़ों में देखने को मिल रही है। सुबह सैर-सपाटे के लिए युवाओं के अलावा महिलाएं और बुजुर्ग भी अलसुबह सडक़ों में वाक करते नजर आ रहे हैं। वहीं सेहतमंद युवा व्यायाम समेत दौड़ का अभ्यास कर रहे हैं।

 

 


Date : 15-Jan-2020

मकर संक्रांति पर्व पर मंदिरों में भक्तों की भीड़ उमड़ी, नदी में डुबकी के बाद भगवान को तिल लड्डू का भोग
छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 15 जनवरी।
मकर संक्रांति पर्व पर बुधवार को सुबह से मंदिरों में भक्तों की भीड़ उमड़ी रही। सुबह से लोग स्नान ध्यान कर विधि-विधान से पूजा-अर्चना की। मंदिरों में सुबह से ही भक्तों ने पूजा-अर्चना कर परिवार की मंगल कामना के लिए प्रार्थना की। वहीं भक्तों द्वारा दान-पुण्य भी किया। इस दौरान भक्तों ने तिल व तिल से बने पकवान भी प्रसादी के रूप में चढ़ाया। 

माना जाता है कि तिल का दान-पुण्य मकर संक्रांति पर महत्वपूर्ण माना जाता है। मकर संक्रांति पर्व को लेकर शहर समेत अंचल में उत्साह का माहौल बना हुआ है। 
मकर संक्रांति पर्व को लेकर शहर के पाताल भैरवी मंदिर, मां शीतला मंदिर, शनि मंदिर समेत शहर के अन्य स्थानों के मंदिरों में सुबह से ही लोगों की भीड़ उमड़ी रही। भक्तों द्वारा सुबह मंदिरों में तिल से बने पकवान का प्रसादी चढ़ाया और भिक्षुओं को दान-पुण्य भी किया गया। वहीं मंदिर परिसरों में भिक्षुओं का तांता भी लगा रहा। इधर भक्तों ने मंदिरों में भगवान से प्रार्थना करते अपने घर-परिवार की खुशहाली की कामना की। 

रंग-बिरंगे पतंग से दिखी आसमानी छंटा
मकर संक्रांति के खास मौके पर रंग-बिरंगे पतंग से आसमानी छंटा देखने लायक थी। परंपरागत रूप से पतंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। शहर में आज पतंग की खरीदी-बिक्री भी हुई। म्युनिसिपल हाईस्कूल मैदान में पतंग प्रतियोगिता के विशेष आयोजन में हिस्सा लिया। पतंगबाजों के लिए विशेष ईनाम का ऐलान किया गया। इस बीच रंग-बिरंगे पतंग को उड़ाने के लिए हर तबके ने अपनी रूचि दिखाई। इस साल 14 के बजाय 15 जनवरी को मकर संक्रांति मनाई गई। बताया जाता है कि पौराणिक गाथाओं के मुताबिक  पतंग उड़ाना की परंपरा रही है। पतंगबाजों ने आपस में प्रतियोगिता भी हुई।

 

 

 


Date : 15-Jan-2020

किसानों को पैरादान के लिए प्रोत्साहित किया जाए - कलेक्टर

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजनांदगांव, 15 जनवरी। 
कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य की अध्यक्षता में समय-सीमा की बैठक आयोजित की गई। श्री मौर्य ने बैठक में त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2019-20 को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक संपन्न कराने निर्वाचन कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2019-20 के लिए नियुक्त अधिकारियों से कहा कि वे निर्वाचन के दायित्वों का जिम्मेदारी पूर्वक वहन करें। 

श्री मौर्य ने विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। इसके बाद मुख्यमंत्री जन चौपाल, कलेक्टर जन चौपाल, मंत्रियों से प्राप्त पत्रों और जन शिकायत निवारण के तहत प्राप्त आवेदनों के निराकरण की समीक्षा की। 

कलेक्टर श्री मौर्य ने राज्य निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुरूप मतदान दलों के गठन, प्रशिक्षण, यातायात व्यवस्था, निर्वाचन सामग्री, मतदान जागरूकता कार्यक्रम आदि कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। श्री मौर्य ने कहा कि मतदान दल के लिए यातायात व्यवस्था और रूटचार्ट पहले से ही तैयार कर लिया जाए। 

श्री मौर्य ने बताया कि राज्य शासन द्वारा गौठानों को चिन्हांकित कर मल्टी एक्टिविटी सेन्टर के रूप में तैयार करना है। इसके लिए गौठान समिति बनाई जाए। इस समिति में महिला स्व सहायता समूहों को शामिल किया जाए। गौठानों में गांव के आम लोगों द्वारा गमला निर्माण, पौधे, सब्जी, फूल उद्यान, माला तैयार करना, बूके निर्माण, मिट्टी व गोबर के बर्तन और ऐसे सभी कार्य जिनसे आय प्राप्त हो। इन गौठानों में वर्क सेन्टर का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए गांव में जन चौपाल लगातार आम जनों को जानकारी भी दी जाएगी। 
कलेक्टर श्री मौर्य ने बैठक में कहा कि गरवा योजना के तहत बनाए गए गौठानों के लिए पैरा दान करने किसानों को प्रोत्साहित किया जाए। इसके साथ ही खेतों में पैरा नहीं जलाने की समझाईश किसानों को दी जाए। श्री मौर्य ने कहा कि जिन किसानों ने पैरा जलाए है उन किसानों को नोटिस देने के निर्देश अधिकारियों को दिए। 

बैठक में अपर कलेक्टर हरिकृष्ण शर्मा, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी तनुजा सलाम, वन मंण्डलाधिकारी राजनांदगांव बीपी सिंह, नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी, एसडीएम, जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं नगरीय निकायों के अधिकारी उपस्थित थे।

 


Date : 15-Jan-2020

कांग्रेस प्रत्याशियों के खिलाफ पंचायत चुनाव में प्रचार करने के आरोप में केंद्रीय नेताओं तक पहुंची डोंगरगढ़ विधायक की शिकायत
छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 15 जनवरी।
कांग्रेस प्रत्याशियों के खिलाफ पंचायत चुनाव में प्रचार करने के आरोप में घिरे डोंगरगढ़ विधायक भुनेश्वर बघेल की शिकायत केंद्रीय नेताओं तक पहुंच गई है। श्री बघेल के खिलाफ क्षेत्र क्र. 7 से अधिकृत प्रत्याशी कांति बंजारे ने राजीव गांधी पंचायतीराज संगठन की राष्ट्रीय अध्यक्ष मिनाक्षी नटराजन से शिकायत की, वहीं श्रीमती बंजारे ने प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी सचिव चंदन यादव को भी पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी है। बताया जाता है कि प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया तक भी विधायक बघेल की पार्टी विरोधी गतिविधियों की जानकारी पहुंच गई है। 

कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी शाहिद भाई के खिलाफ स्वतंत्र उम्मीदवार हेमंत वैष्णव का प्रचार करने के बाद विधायक बघेल क्षेत्र कं्र. 07 की प्रत्याशी क्रांति बंजारे के क्षेत्र में जाकर विरोध में प्रचार कर रहे हैं। 

श्रीमती बंजारे ने विधायक के खिलाफ राष्ट्रीय कांग्रेस नेत्री मिनाक्षी नटराजन से शिकायत कर दी है। बताया जाता है कि क्रांति बंजारे के साथ नटराजन के राजनीतिक ताल्ुलकात अच्छे हैं। सुश्री नटराजन ने कांग्रेस की पंचायती राज प्रकोष्ठ की प्रमुख नेता होने की वजह से बंजारे के साथ काम किया है। श्रीमती बंजारे ने फोन पर विधायक बघेल की कार्यप्रणाली को लेकर शिकायत कर दी। श्रीमती बंजारे ने चंदन यादव से भी मामले में दखल देने की गुजारिश की है। बताया जाता है कि प्रभारी सचिव यादव ने जिलाध्यक्ष नवाज खान से भी सवाल-जवाब किया है। उन्होंने विधायक की कार्यप्रणाली की मिल रही शिकायत की जानकारी ली। 

सूत्रों का कहना है कि खान ने विधायक बघेल के पार्टी विरोधी गतिविधियों को लेकर यादव से अनभिज्ञता जाहिर की है।इस संबंध में श्रीमती बंजारे ने ‘छत्तीसगढ़’ से चर्चा में कहा कि पार्टी ने चुनाव लडऩे मुझे टिकट दी है। विधायक का मेरे खिलाफ प्रचार करना समझ से परे है। यह सही है मैंने सुश्री नटराजन से शिकायत की है। इसके अलावा अन्य नेताओं से संपर्क कर विधायक की कार्यशैली की जानकारी दी है। प्रदेश कांग्रेस को विधायक को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने का निर्देश भी मिला है। 

बताया जाता है कि विधायक को प्रदेश कांग्रेस से संभलने की नसीहत भी मिली। इसके बाद विधायक आज पूरे दिन अपने घर में सुस्ताते रहे। ‘बीमार’ बताकर विधायक ने आज अपने सुरक्षाकर्मियों को भी अवकाश दे दिया। बताया जाता है कि विधायक ने अपना मोबाईल भी बंद कर दिया हैं। 

बताया जाता है कि पूर्व में हर्षिता गोस्वामी की जगह कांग्रेस ने क्रांति बंजारे को अधिकृत कर दिया। इस फैसले को लेकर विधायक नाराज हो गए। बताया जाता है कि शाहिद भाई और क्रांति बंजारे के खिलाफ न सिर्फ विधायक बल्कि संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष भी स्वतंत्र उम्मीदवारों का प्रचार कर रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि विधायक और संगठन के नेताओं ने कांग्रेस प्रत्याशियों को हराने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी हैं। बताया जाता है कि संगठन की पसंद से परे प्रत्याशियों को कांग्रेस में निपटाने का खेल खुलेआम खेला जा रहा हैं। लिहाजा जिला पंचायत के 08 और 07 दोनो क्षेत्र में अंदरूनी खींचतान पर घमासान मच गया है। 

 चित्रलेखा भी निर्दलीय के पक्ष में
जिला पंचायत की निवृतमान अध्यक्ष चित्रलेखा वर्मा भी निर्दलीय हेमंत वैष्णव के लिए खुलकर प्रचार कर रही हैं। वह चुनावी सभाओं के साथ ग्रामीणों के साथ बैठक लेकर वैष्णव को जिताने की अपील कर रही हैं। बताया जाता है कि श्रीमती वर्मा निजी संबंधों का हवाला देकर शाहिद भाई के खिलाफ प्रचार कर रही हैं। चर्चा है कि गत जिला पंचायत चुनाव में वैष्णव ने वर्मा की जीत में मददगार के रूप मे काम किया था। यह भी चर्चा है कि वैष्णव ने जिला पंचायत अध्यक्ष बनने के लिए वर्मा को साधन और संसाधन मुहैय्या कराए थे। चित्रलेखा वर्मा का इस बार संगठन ने पत्ता साफ कर दिया। अब वह संगठन से बाहर जाकर प्रचार कर रही हैं।
 


Date : 15-Jan-2020

कलेक्टर ने वार्ड कार्यालय और मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण, आवेदनों की रिकार्ड पंजी की जांच की, प्रभारी को कार्यालय की दीवारों में नोडल अधिकारियों के नाम व मोबाईल नंबर लिखवाने के निर्देश दिए

राजनांदगांव, 15 जनवरी। कलेक्टर श्री जयप्रकाश मौर्य ने आज नगर निगम  राजनांदगांव इंदिरा नगर वार्ड में मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत लगाए गए शिविर का आकस्मिक निरीक्षण किया।  उन्होंने निरीक्षण के दौरान मरीजों से चर्चा कर उन्हें मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली। श्री मौर्य ने गौरी नगर में स्थित वार्ड कार्यालय का भी निरीक्षण किया। वहां प्राप्त आवेदनों की रिकार्ड पंजी की जांच की। श्री मौर्य ने प्रभारी को कार्यालय की दीवारों में नोडल अधिकारियों के नाम व मोबाईल नंबर लिखवाने के निर्देश दिए। साथ ही वार्ड कार्यालय से संबंधित जानकारी के पोस्टर लगाने के लिए भी कहा। श्री मौर्य ने आज देर शाम शासकीय मेडिकल कॉलेज का भी निरीक्षण  किया।

 

 

 

 


Date : 14-Jan-2020

घोर नक्सल इलाकों का धुंआधार दौरे के बाद महाराष्ट्र अफसरों के साथ एसएसपी की लंबी बैठक, नक्सल अभियान में तेजी लाने बनी रणनीति

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 14 जनवरी।
मानपुर क्षेत्र के भीतरी इलाकों में धुंआधार दौरा करने के बाद एसएसपी बीएल ध्रुव ने महाराष्ट्र के पुलिस अधिकारियों की लंबी बैठक लेकर नक्सलियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की रणनीति बनाई। एसएसपी ने नक्सलियों के खिलाफ संयुक्त अभियान में तेजी लाने के लिए महाराष्ट्र के अफसरों को आवश्यक जानकारी देते हुए सीमावर्ती गांवों में जोरदार अभियान चलाने पर जोर दिया। 

मिली जानकारी के अनुसार 12 जनवरी को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव बीएस ध्रुव ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों से नक्सलियों का सफाया करने के लिए संयुक्त ऑपरेशन चलाने के लिए नक्सल प्रभावित क्षेत्र के थाना प्रभारियों, आईटीबीपी के अधिकारियों व जिला व गढ़चिरौली महाराष्ट्र के पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक ली। इसमें नक्सलियों के विरूद्ध संयुक्त आपरेशन चलाकर समन्वय के साथ कार्य करने के लिए कार्ययोजना बनाई। बैठक में आईटीबीपी के अधिकारी, मानपुर थाना प्रभारी, खडग़ांव, मोहला, सीतागांव, गढ़चिरौली महाराष्ट्र के पुलिस अधिकारी उपस्थित थे। बैठक उपरांत घोर नक्सल क्षेत्रों का भ्रमण किया। भ्रमण के दौरान उंचापुर, बुकमरका, कोराचा एवं आसपास के ग्रामीणों से सौजन्य मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनी गई व संबंधितों को उसके निराकरण के लिए आदेशित किया गया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव द्वारा ग्रामीणों से पुलिस के साथ बेहतर समन्वय बनाने के लिए अपील की गई। साथ ही नक्सलियों के दमनकारी नीतियों से अवगत कराकर जागरूक किया गया। इस दौरान नक्सल क्षेत्र के स्कूली बच्चों से मुलाकात कर शिक्षा के महत्व के बारे में बताया गया व अनुशासन में रहकर शिक्षक शिक्षिकाओं द्वारा दी गई शिक्षा को अच्छी तरह ग्रहण कर कठिन परिश्रम से अपने लक्ष्य प्राप्ति तक पढ़ाई करने, बीच में पढ़ाई नहीं छोडऩे, नियमित स्कूल जाने प्रेरित कर जीवन में शिक्षा के महत्व के संबंध में बताते देश के अच्छे जिम्मेदार नागरिक बनने की समझाईश देते उचित मार्गदर्शन दिए। इस बीच वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव को घोर नक्सली क्षेत्र में अपने बीच पाकर स्कूल बच्चों एवं ग्रामीणों मे काफी हर्ष का माहौल रहा।


Date : 13-Jan-2020

सर्वेश्वरदास हॉकी के सालाना आयोजन का अब तक अता-पता नहीं, जनवरी के आखिरी सप्ताह में शुरू होने वाले इस प्रतियोगिता की तारीख अब तक तय नहीं हो पाई है

छत्तीसगढ़ संवाददाता

राजनांदगांव, 13 जनवरी। देश की ख्यातिप्राप्त टूर्नामेंट में से एक सर्वेश्वरदास हॉकी प्रतियोगिता के सालाना आयोजन को लेकर संशय के बादल मंडरा रहे हैं। दशकों पुरानी राजनांदगांव में आयोजित होने वाली इस टूर्नामेंट में शामिल होने के लिए देशभर की नामी हॉकी टीमें पहुंचती हंै। साल-दर-साल इस टूर्नामेंट को काफी प्रसिद्धि मिली। बताया जा रहा है कि जनवरी के आखिरी सप्ताह में शुरू होने वाले इस प्रतियोगिता की तारीख अब तक तय नहीं हो पाई है। इसके पीछे आर्थिक वजह को बताया जा रहा है।

मिली जानकारी के मुताबिक राज्य सरकार ने 2020 के इस आयोजन के लिए फंड नहीं होने की जानकारी खेल संगठनों को दी है। लिहाजा राजनांदगांव में इसको लेकर विरोध शुरू हो गया है। भाजपा ने टूर्नामेंट  को नहीं कराए जाने की तीखी प्रतिक्रिया दी है। जिलाध्यक्ष मधुसूदन यादव ने सोमवार को जिला प्रशासन को लिखित में ज्ञापन देकर आयोजन कराने की मांग की है। इधर प्रदेश हॉकी संघ ने भी आयोजन नहीं होने को लेकर बैठक की है। संघ के अध्यक्ष फिरोज अंसारी ने आज खेल संगठनों के साथ लंबी बैठक की। बताया जाता है कि स्टेडियम समिति के कलेक्टर पदेन अध्यक्ष होते हैं। लिहाजा उनकी देखरेख में ही टूर्नामेंट सालों से होता रहा है। बताया जाता है कि सर्वेश्वरदास हॉकी प्रतियोगिता के लिए राजगामी संपदा भी भागीदार होता है। बताया जा रहा है कि आयोजन के संबंध में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से भी चर्चा हुई है। मौखिक रूप से उन्होंने आयोजन करने के निर्देश दिए हैं, लेकिन लिखित तौर पर सूचना नहीं मिलने के कारण अब तक तारीख तय नहीं हुई है। टूर्नामेंट की तैयारी के लिए करीब एक पखवाड़े का वक्त लगता है। ऐसे में निश्चित तारीख का ऐलान नहीं किया गया है।  बताया जा रहा है कि टूर्नामेंट अगले महीने फरवरी के दूसरे सप्ताह तक खिसक सकता है।  राजनांदगांव को हॉकी के नर्सरी के रूप में भी जाना जाता है। ऐसे में प्रतियोगिता नहीं होने को स्थानीय स्तर पर शहर की गरिमा से भी जोडक़र देखा जा रहा है।

 

 

 


Date : 13-Jan-2020

कांग्रेस विधायक का पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ खुलेआम प्रचार, निर्दलीय के पक्ष में जनसंपर्क

छत्तीसगढ़ संवाददाता

राजनांदगांव, 13 जनवरी। जिला पंचायत चुनाव में कांग्रेस के भीतर चल रही अंदरूनी खींचतान ने अधिकृत प्रत्याशियों के लिए मुश्किल खड़ी कर दी हैं। डोंगरगढ़ विधायक भुनेश्वर बघेल ने संगठन को दरकिनार करते सीधे निर्दलीय उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार शुरू कर दिया हैं।

क्षेत्र कं.8 में कांग्रेस ने अधिकृत प्रत्याशी शाहिद भाई को चुनाव मैदान में उतारा है। उनके खिलाफ स्वतंत्र रूप से चुनाव लड़ रहे हेमंत वैष्णव के लिए विधायक बघेल खुलकर चुनावी सभा एवं बैठकें कर रहे हैं। बताया जाता है कि बघेल शाहिद भाई के खिलाफ ग्रामीणों से हेमंत वैष्णव को जिताने की अपील कर रहे हैं। उक्त क्षेत्र बघेल के विधानसभा क्षेत्र का हिस्सा हैं। वे संगठन के खिलाफ जाकर स्वतंत्र प्रत्याशी के लिए प्रचार कर रहे हैं। बताया जाता है कि विधायक के इस कदम को लेकर निष्ठावान कार्यकर्ता सोच में पड़ गए हैं। शाहिद भाई के खिलाफ बघेल और जिला संगठन के एक नेता ने गठजोड़ बनाकर अपने ही पार्टी के खिलाफ माहौल खड़ा कर दिया है।

 गौरतलब है कि कांग्रेस ने शाहिद भाई से पहले हेमंत वैष्णव को अधिकृत प्रत्याशी घोषित किया था। बाद में संगठन ने शाहिद को अधिकृत कर दिया। इस वजह से शाहिद के खिलाफ बघेल ने संगठन को किनारे करते हुए हेमंत वैष्णव के पक्ष में जनसंपर्क शुरू कर दिया।

 बताया जाता है कि जातिगत समीकरण के आधार पर ही शाहिद भाई के खिलाफ चुनाव लड़ा जा रहा है। उन्हें ओबीसी वर्ग के कुछ सामाजिक प्रमुखों ने बाहरी बताते हुए विरोध में प्रचार शुरू किया है। चर्चा है कि इन सबके पीछे विधायक बघेल और संगठन के एक नेता की अपनी निजी दिलचस्पी है।

 बता दें कि शाहिद भाई पंचायतीराज के अनुभवी नेता माने जाते हैं। वह राजनांदगांव जनपद के उपाध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य भी रहे हैं। ग्रामीण राजनीति में शाहिद भाई एक चर्चित नाम है। इसके बावजूद विधायक बघेल ने शाहिद भाई के खिलाफ खड़े प्रत्याशी हेमंत वैष्णव को जिताने की मुहिम छेड़ दी है।


Date : 13-Jan-2020

चुनाव में कांग्रेस के षडयंत्र को बेनकाब करने जुट जाएं कार्यकर्ता, गांव-गांव में किसानों, मजदूरों, शिक्षकों, श्रमिकों, महिलाओं एवं सभी वर्ग को बताएं- खूबचंद पारख

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजनांदगांव, 13 जनवरी।
त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारी के लिए रविवार को भाजपा कार्यालय में जिला पंचायत, जनपद पंचायत के कार्यकर्ताओं की एक वृहद बैठक संपन्न हुई। बैठक में प्रत्याशियों को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने मार्गदर्शन दिया और चुनाव की तैयारियों के संबंध में संगठनात्मक जानकारी दी। साथ ही चुनाव में कांग्रेस के षडयंत्र को बेनकाब करने का आह्वान भी किया। 

बैठक में वरिष्ठ भाजपा नेता खूबचंद पारख ने कहा कि विधानसभा चुनाव में बड़े-बड़े वायदे कर सत्ता प्राप्त कर कांग्रेस ने प्रदेश की जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा दिया है। ऐसी पार्टी को सबक सिखाने के लिए कार्यकर्ता गांव-गांव में किसानों, मजदूरों, शिक्षकों, श्रमिकों, महिलाओं एवं सभी वर्ग को बताएं कि कांग्रेस ने जो वादा किया उसके विपरीत अब वायदा खिलाफी की जा रही है। शराबबंदी हो या फिर संपूर्ण कर्जमाफी सभी वायदे धरे के धरे रह गए हैं। प्रदेश का विकास ठप्प सा हो गया है। श्री पारख ने कहा कि मौजूदा चुनाव ग्रामीण सत्ता का है, इसलिए गांव-गांव में किसानों को जागरूक करें कि जिस सरकार ने आपके विश्वास को ठेस पहुंचाई हो उसे एक वोट भी न मिले, इसकी रूपरेखा बनाएं, बैठक करें और तय करें कि भाजपा के उम्मीदवार को जिताने में अपना योगदान दें।

जिला भाजपा अध्यक्ष मधुसूदन यादव ने भी ग्रामीण कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि भाजपा देश निर्माण में लगी हुई है और भारत को विश्व पटल पर अग्रणी बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित है। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी भत्ता, सभी को रोजगार देना, चिटफंड कंपनियों से पैसा वापस दिलाना आदि ऐसी कई घोषणाएं कांग्रेस सरकार ने की थी, परंतु आज एक वर्ष पश्चात भी दूर-दूर तक घोषणाओं पर अमल नहीं हुआ है। ऐसी झूठी सरकार को सबक सिखाने का समय आ गया है। उन्होंने प्रत्याशियों से आह्वान किया कि 15 वर्ष में डॉ. रमन सिंह की सरकार ने जो कार्य ग्रामीण विकास के लिए किए हैं, उसकी जानकारी तथा केंद्र में बैठी नरेंद्र मोदी सरकार के किए गए सकारात्मक कार्यों की जानकारी गांव के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाएं तो भाजपा की विजय निश्चित होगी।

बैठक में संतोष अग्रवाल, सचिन बघेल, प्रदीप गांधी, दिनेश गांधी, रजिंदरपाल भाटिया, कोमल जंघेल, भरत वर्मा, शोभा सोनी, विनोद खांडेकर, अशोक चौधरी, खेदूराम साहू, राजेश खांडेकर, रमेश पटेल, कोमल सिंह राजपूत एवं हीरेंद्र साहू उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री सावन वर्मा ने किया।

 

 


Date : 13-Jan-2020

मप्र की दंपत्ति ने नांदगांव के आधा दर्जन को ठगा, नौकरी लगाने व डिलरशिप देने के नाम पर धोखाधड़ी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 13 जनवरी।
मध्यप्रदेश के सिवनी की एक दंपत्ति ने शहर के करीब आधा दर्जन लोगों को नौकरी और व्यवसायिक कंपनियों का डिस्ट्रीब्यूटर बनाने के नाम पर डेढ़ लाख रुपए की धोखाधड़ी की है। कोतवाली पुलिस ने शिकायत के बाद मामले को जांच में लिया है। 

मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी सुनील कुमार ठाकुर निवासी केकड़ी जिला सिवनी मप्र और उसकी पत्नी करूणा गौतम ने मिलकर प्रार्थी सुभाष अग्रवाल निवासी गंज लाइन राजनांदगांव और अनामिका वर्मा, देवदास साहू, रविन्द्र सिंह राजपूत, गेमेन्द्र साहू, मनीष कुमार साहू, वर्षा अग्रवाल से मोबाइल पर संपर्क कर सुपर डिस्ट्रीब्यूटर बनाने तथा नौकरी लगाने के नाम पर रुपए लिये है। 

आरोपी सुनील ठाकुर और उसकी पत्नी करूणा गौतम द्वारा प्रार्थियों से मोबाइल पर संपर्क किया गया और नौकरी लगाने के नाम पर किसी से 5 हजार, 7 हजार और 10 हजार रुपए लेकर करीब एक लाख 41 हजार रुपए लिए गए। उन्होंने बताया कि आरोपियों द्वारा प्रार्थियों से अपने बैंक खाते में रकम जमा कराया गया। सालभर बीत जाने के बाद भी आरोपियों द्वारा प्रार्थियों को नौकरी नहीं लगाया गया और न ही रकम वापस किया गया।

 पुलिस ने बताया कि आरोपी द्वारा प्रार्थियों के रुपए वापस मांगने पर गाली-गलौज भी किया जाता था। पुलिस आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर विवेचना में जुटी है।

 


Date : 13-Jan-2020

सप्ताहभर में 50 फीसदी घटा प्याज का दाम, भाव गिरने से कारोबारी-ग्राहकों को मामूली राहत

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजनांदगांव, 13 जनवरी।
करीब चार माह से आसमानी उछाल के साथ महंगे दाम पर बिके प्याज की कीमतें अब घटने लगी है। सप्ताहभर के भीतर 50 फीसदी गिरावट के साथ प्याज की कीमतों में कमी आई है। 

बेतहाशा कीमत के कारण प्याज ने लोगों को जमकर रूलाया। गृहणियों के लिए प्याज की छौंक लगाना नामुमकिन सा हो गया था। घरों और होटलों के थाली से प्याज गायब हो गया था। देशभर में प्याज की कीमतें आसमान छू रही थी। राजनांदगांव में भी प्याज का भाव सुनकर लोग उल्टे पांव लौट रहे थे। लंबे अरसे बाद प्याज की कीमत आधा हो गई है। प्याज की कीमतें सौ रुपए से सीधे 50 रुपए तक पहुंच गई है। कारोबारियों और ग्राहकों को घटते भाव से मामूली राहत मिली है। प्याज की खरीदी और बिक्री बढऩे से कारोबारी जगत भी थोड़ा संतुष्ट होने लगा है। 

बताया जाता है कि केंद्र सरकार ने आयात प्याज को राज्यों में भेजना शुरू कर दिया है। वहीं लोकल बाडिय़ों से भी प्याज की आवक बढ़ी है। लिहाजा दाम में लगातार कमी आने लगी है। बताया जाता है कि प्याज की कीमत घटने से लोगों ने सुकून महसूस किया है।

 ज्ञात हो कि गत वर्ष सितंबर से लेकर दिसंबर तक प्याज की कीमत ने लोगों को रूलाकर रखा था। इस मामले में लोग केंद्र सरकार को कोसते नजर भी आए। देश के कई हिस्सों में प्याज 200 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गया था। राजनांदगांव में भी प्याज 120 रुपए की अधिकतम दाम पर बिका। इस साल प्याज के बढ़े दाम ने हर किसी को रूलाकर रख दिया। आम और खास को प्याज खरीदने सोंचना पड़ा। बहरहाल बाजार में अब प्याज का दाम घटते क्रम की ओर है। माना जा रहा है कि एक पखवाड़े के भीतर प्याज की कीमतें लगभग 80 फीसदी तक कम हो जाएगी।

 

 


Date : 13-Jan-2020

सडक़ सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन हेलमेट जागरूकता रैली निकाली, शिविर में 200 चालकों का परीक्षण

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 13 जनवरी।
सडक़ सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन 12 जनवरी को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव यूबीएस  चौहान ने हरी झंडी दिखाकर महिला मोटर साइकिल हेलमेट जागरूकता रैली का शुभारंभ यातायात प्रांगण से किया। 

इस अवसर पर नगर पुलिस अधीक्षक श्यामसुंदर शर्मा, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र गुप्ता, लालबाग थाना प्रभारी आशीर्वाद रहटगावकर एवं यातायात पुलिस स्टॉफ उपस्थित थे। रैली यातायात प्रांगण से शहर के महावीर चौक, जयस्तंभ चौक, मानव मंदिर चौक, सिनेमा लाईन, आजाद चौक, हलवाई लाईन, भारतमाता चौक, गंज चौक, नंदई चौक, इंदिरा नगर चौक, दुर्गा चौक, गांधी चौक, मानव मंदिर, फौव्वारा चौक,  गुरूनानक चौक, भदौरिया चौक, यातायात कार्यालय में समापन किया गया। शहर में हेलमेट जागरूकता रैली निकालकर यातायात नियमों का प्रचार-प्रसार किया गया।

इसी क्रम में ठाकुरटोला-सोमनी टोल प्लाजा में यातायात पुलिस एवं अशोका हाईवे द्वारा दो दिवसीय नेत्र शिविर उदयाचल आई हास्पिटल राजनांदगांव के डॉक्टरों के सहयोग से शुभारंभ किया गया। इसमें 200 वाहन चालकों का नि:शुल्क नेत्र/स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। जिसमें परीक्षण उपरांत दवाई वितरण किया गया। नेशनल हाईवे में सफर कर रहे वाहन चालकों को रोककर नेत्र/स्वास्थ्य शिविर का लाभ लेने की समझाईश देकर यातायात नियमों का पाम्प्लेट वितरण कर प्रचार-प्रसार भी किया गया।

 

 


Date : 13-Jan-2020

नवनिर्वाचित मेयर हेमा करेंगी नई कार की सवारी, निगम ने नए वाहन की खरीदी की प्रक्रिया शुरू की

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 13 जनवरी।
राजनांदगांव म्युनिसिपल कार्पोरेशन की नवनिर्वाचित महापौर हेमा देशमुख नई कार की सवारी करेंगी। राज्य सरकार ने पूर्व में ही मेयर, अध्यक्ष और नगर निगम के प्रमुख अभियंता के लिए नए वाहन के खरीदने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। चुनाव आचार संहिता लागू होने की वजह से खरीदी प्रक्रिया शुरू नहीं हो सकी। नई शहरी सरकार के सत्तारूढ़ होने के बाद प्रस्ताव के मुताबिक तीन नए लक्जरी वाहन की खरीददारी किया जाना है। 

बताया जाता है कि महापौर श्रीमती देशमुख के लिए ‘एक्सेंट’ कार खरीदने की प्रक्रिया शुरू की गई है। फिलहाल अध्यक्ष के लिए पुरानी मार्शल गाड़ी निगम ने उपलब्ध कराई है। नए अध्यक्ष हरिनारायण धकेता को पुराने वाहन में ही शहर भ्रमण करना होगा। प्रमुख अभियंता के पास भी पुरानी वाहन मौजूद है। उनकी भी गाड़ी लगभग एक्सपायर हो चुकी है। बताया जाता है कि सबसे पहले महापौर के लिए नई कार की खरीदी किया जाना है। 

इस संबंध में आयुक्त चंद्रकांत कौशिक ने ‘छत्तीसगढ़’ को बताया कि नगरीय निकाय विभाग द्वारा तीन गाडिय़ों की खरीदी किए जाने की स्वीकृति है। महापौर के लिए नई गाड़ी खरीदने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जल्द ही महापौर को एक्सेंट कार मुहैया करा दी जाएगी। इसके बाद अध्यक्ष और प्रमुख अभियंता के लिए भी कार की खरीदी की जाएगी।
गौरतलब है कि लंबे समय से नगर निगम मेयर, अध्यक्ष और अभियंता के लिए गाड़ी खरीदने की कोशिश में जुटा रहा। कई बार आयुक्त को कंडम हो चुकी गाडिय़ों के बदले नई वाहन खरीदने के लिए राज्य सरकार से पत्र-व्यवहार करना पड़ा। करीब एक दशक बाद राज्य सरकार ने निगम प्रशासन को नई कार खरीदने की मंजूरी दी है। बताया जाता है कि उक्त कार का भुगतान नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा ही किया जाएगा। 

 

 


Date : 12-Jan-2020

6 पेटी शराब के साथ मप्र सीमा पर सपड़ाए दो तस्कर, साल्हेवारा पुलिस ने वाहन भी किया जब्त

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 12 जनवरी।
राजनांदगांव जिले के साल्हेवारा से सटे मध्यप्रदेश की सीमा पर पुलिस ने 6 पेटी शराब के साथ दो तस्करों को धरदबोचा है। पुलिस ने कार्रवाई के दौरान वाहन को भी जब्त किया है। अवैध शराब तस्करों के खिलाफ जिलेभर में चल रही कार्रवाई के बीच साल्हेवारा पुलिस ने मध्यप्रदेश के रास्ते पहुंच रही अवैध शराब को रोकने के लिए ठोस कार्रवाई की है।

पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अवैध शराब के खिलाफ धरपकड़ अभियान द्वारा प्रभारी ढंग से चलाई जा रही है। जिसके तहत साल्हेवारा पुलिस को शनिवार सुबह एक अंतर्राज्यीय शराब तस्करों को पकडऩे में सफलता मिली है। पुलिस ने वाहन की जांच की तो वाहन में 6 पेटी अंग्रेजी शराब कीमती लगभग 30 हजार रुपए को बरामद किया है। पुलिस ने वाहन को भी जब्त किया। आरोपी रजत दास उर्फ पप्पू  21 वर्ष बोरसी कालोनी रेल्वे क्रॉसिंग के पास दुर्ग एवं आरोपी मनोज आचार्य 27 वर्ष बोरसी कालोनी रेल्वे क्रॉसिंग के पास दुर्ग को गिरफ्तार कर कार्रवाई की है।

 


Date : 12-Jan-2020

ठाकुरटोला टोल नाका को हटाने की उठी मांग, नांदगांव के सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन कर उठाई आवाज, आंदोलन के बाद खोला गया बंद लेन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजनांदगांव, 12 जनवरी।
नेशनल हाईवे में स्थित ठाकुरटोला टोल नाका को हटाने की मांग ने जोर पकड़ लिया है। राजनांदगांव के सैकड़ों नागरिकों ने शनिवार को दोपहर बाद घंटों प्रदर्शन करते टोल नाके को तत्काल निर्धारित स्थान टप्पा में ले जाने के लिए आवाज उठाई। टोल नाका के विरोध में राजनीतिक एवं गैर राजनीतिक लोगों ने एकजुट होकर लगभग ढाई घंटे तक प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के कारण नेशनल हाईवे में आवाजाही प्रभावित रही। हंगामे के बाद बंद लेन को आखिरकार खोला गया।

 लंबे समय से टोल नाके से राजनांदगांव जिले के पासिंग नंबर से भी वसूली किए जाने की शिकायत सामने आ रही थी। लिहाजा कल नागरिकों का गुस्सा आसमान पर पहुंच गया और देखते ही देखते टोल प्लाजा के सामने एक बड़ा जनसैलाब प्रदर्शन में शामिल हो गया। 

लंबे समय से टोल प्लाजा के कर्मचारियों के बर्ताव को लेकर भी शिकवा-शिकायत होती रही। नियमों का हवाला देकर टोल प्रबंधन सीजी-08 नंबर की गाडिय़ों से वसूली कर रहा था। वहीं रोजमर्रा के काम से दुर्ग-भिलाई आवाजाही करने वाले लोगों को घंटों जाम में फंसना पड़ रहा था। जबकि नियमानुसार स्थानीय वाहनों को आवाजाही के लिए छूट दिया जाना है। इससे परे टोल प्रबंधन लोगों को परेशान करने की नियत से वाहनों की आवाजाही में रोकटोक कर रहा था। बताया जाता है कि कल अधिकृत कंपनी अशोका हाईवेज के खिलाफ प्रदर्शन करने राजनीतिक दल, सामाजिक संगठन और व्यापारिक संगठनों ने मोर्चा खोल दिया।  

बताया जाता है कि प्रदर्शन के बावजूद टोल प्रबंधन की हठधर्मिता बरकरार रही। नियमत: वाहनों की वसूली किए जाने की जानकारी दी गई। इस बात को सुनकर प्रदर्शनकारियों का गुस्सा बढ़ गया। बताया जाता है कि हाल ही में फास्टैग आने के बाद यह सुविधा बंद कर दी गई। जिसके चलते राजनांदगांव जिले के वाहन चालकों और नागरिकों की परेशानी बढ़ गई।
इस बीच प्रदर्शन की वजह से मौके पर पुलिस की तगड़ी सुरक्षा रही। एएसपी यूबीएस चौहान, एसडीएम मुकेश रावटे तथा सीएसपी श्यामसुंदर शर्मा भी मौजूद थे। बताया जाता है कि टोल प्रबंधन की कार्यप्रणाली को लेकर नाराजगी है।

 हंगामे के बाद बंद लेन को आखिरकार खोला गया। प्रदर्शन में नगर निगम अध्यक्ष  हरिनारायण धकेता, कमलजीत सिंह पिंटू, शाहिद खान, जितेन्द्र मुदलियार, रूबी गरचा, मेहुल मारू, नीलू शर्मा,  रविन्द्र सिंह, चेतन भानुशाली, कमलेश सूर्यवंशी समेत अन्य लोग शामिल थे।


Date : 12-Jan-2020

एक दलम बराबर एमएमसी जोन के 12 हार्डकोर नक्सली पुलिस के हाथों ढेर, नांदगांव, बालाघाट तथा कवर्धा पुलिस सालभर में मारे दर्जनभर नक्सली

प्रदीप मेश्राम

छत्तीसगढ़ संवाददाता

राजनांदगांव, 11 जनवरी । ट्रांजिट रूट माने जाने वाले नक्सलियों के एमएमसी (मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ ) जोन में बीते सालभर में सुरक्षा बलों के हाथों 12 हार्डकोर नक्सली ढेर हुए हैं। मारे गए नक्सलियों के थिंग टैंक माने जाते हैं। 

पुलिस के बढ़ते वर्चस्व को कमजोर करने के लिए तीनों राज्यों की सीमा पर नक्सलियों ने एमएससी जोन का गठन किया है। हाल ही में एमएमसी जोन के अस्तित्व के खात्मे के लिए केंद्र सरकार के सुरक्षा सलाहकार के. विजय कुमार ने अफसरों के साथ लंबी बैठक की। सालभर में नक्सल मोर्चे पर तीनों राज्यों की पुलिस ने सीमावर्ती इलाकों में  नक्सलियों के खिलाफ तगड़ी मोर्चाबंदी की। लिहाजा नक्सलियों के एक दलम के बराबर 12 कुख्यात नक्सली मारे गए। 

राजनांदगांव पुलिस ने अकेले 3 अगस्त को शहीद सप्ताह के दौरान एकमुश्त 7 नक्सलियों को मार गिराया, जबकि बालाघाट और कवर्धा पुलिस ने क्रमश: दो-दो नक्सली ढेर किए। राजनांदगांव पुलिस ने दर्रेकसा दलम के कुख्यात नक्सली सुखदेव उर्फ लक्ष्मण को मार गिराया। पुलिस ने सुखदेव के पास से हथियार भी जब्त किए। एमएमसी जोन के नक्सल इतिहास में एक साथ 7 नक्सलियों को मारने का अवसर राजनांदगांव पुलिस के हाथ लगा। इसी तरह कवर्धा पुलिस ने दो नक्सलियों को मार गिराया। बालाघाट पुलिस ने मंगेश समेत एक महिला नक्सली को मारकर एमएमसी जोन के बढ़ते प्रभाव को कम किया।

इस संबंध में राजनांदगांव रेंज डीआईजी रतनलाल डांगी ने बताया कि एमएमसी जोन में नक्सलियों को घेरने की पुख्ता रणनीति बनाने का फायदा मिला। नक्सलियों को जहां नुकसान हुआ है। वहीं पुलिस की ताकत अंदरूनी इलाकों में मजबूत हुई है। डीआईजी का दावा है कि नक्सलियों की हैसियत अब सीमित होकर रह गई है। अब भी मौका है कि नक्सली मुख्यधारा में लौटकर संवैधानिक अधिकारों के दायरे में जीवनयापन करे।

बताया जाता है कि बस्तर के रास्ते राजनांदगांव से अमरकंटक तक नक्सली  एमएमसी जोन में लाल गलियारा बनाने की फिराक में है। पुलिस ने एक साल के भीतर दर्जनभर नक्सलियों को मारकर नक्सलियों के नापाक इरादे पर पानी फेर दिया। हालांकि एमएमसी जोन की ताकत पूरी तरह से कम नहीं हुई है। 

नक्सलियों ने भी पुलिस को माकूल जवाब देने के लिए रणनीतिक तौर पर कई बदलाव किए हैं। सुरक्षा एजेंसियों के पास यह जानकारी है कि नक्सलियों ने खासतौर पर पर्यटक क्षेत्र कान्हा नेशनल पार्क के वादियों में नए दलम भी तैयार कर दिए हैं। बताया जा रहा है कि एमएमसी जोन के खात्मे के लिए पुलिस भी दमदारी से मोर्चे पर डटी हुई है।