सामान्य ज्ञान

08-Apr-2021 2:53 PM 23

कान्यकुब्ज उत्तर प्रदेश के प्रमुख नगरों में से एक कन्नौज का प्राचीन नाम है। यह उत्तर प्रदेश राज्य का प्रमुख मुख्यालय एवं नगरपालिका है। कान्यकुब्ज कभी हिन्दू साम्राज्य की राजधानी के रूप में प्रतिष्ठित रहा था। माना जाता है कि कान्यकुब्ज ब्राह्मण मूल रूप से इसी स्थान के रहने वाले हैं। सम्राट हर्षवर्धन के शासन काल में कान्यकुब्ज अपने चरमोत्कर्ष पर पहुंच गया था। वर्तमान कन्नौज शहर अपने  इत्र  व्यवसाय के अलावा तंबाकू के व्यापार के लिए भी मशहूर है। यहां मुख्य रूप से कन्नौजी बोली, कनउजी भाषा के रूप में इस्तेमाल की जाती है।
साहित्य में कान्यकुब्ज के निम्न नाम उपलब्ध हैं- कन्यापुर (वराहपुराण), महोदय, कुशिक,कोश,गाधिपुर, कुसुमपुर (युवानच्वांग),कण्णकुज्ज (पाली)।
कान्यकुब्ज की गणना भारत के प्राचीनतम ख्याति प्राप्त नगरों में की जाती है। वाल्मीकि रामायण के अनुसार इस नगर का नामकरण कुशनाभ की कुब्जा कन्याओं के नाम पर हुआ था। पुराणों में कथा है कि पुरुरवा के कनिष्ठ पुत्र अमावसु ने कान्यकुब्ज राज्य की स्थापना की थी। कुशनाभ इन्हीं का वंशज था। कान्यकुब्ज का पहला नाम  महोदय  बताया गया है। महोदय का उल्लेख विष्णुधर्मोत्तर पुराण में भी है।
महाभारत में कान्यकुब्ज का विश्वामित्र के पिता राजा गाधि की राजधानी के रूप में उल्लेख है। उस समय कान्यकुब्ज की स्थिति दक्षिण पंचाल में रही होगी, किन्तु उसका अधिक महत्व नहीं था, क्योंकि दक्षिण-पंचाल की राजधानी कांपिल्य में थी।
दूसरी शती ई. पू. में कान्यकुब्ज का उल्लेख पंतजलि ने महाभाष्य में किया है। प्राचीन ग्रीक लेखकों की भी इस नगर के विषय में जानकारी थी। चंद्रगुप्त मौर्य और अशोक के शासन काल में यह नगर मौर्य साम्राज्य का अंग ज़रूर ही रहा होगा। इसके पश्चात् शुंग और कुषाण और गुप्त नरेशों का क्रमश: कान्यकुब्ज पर अधिकार रहा। 140 ई. के लगभग लिखे हुए टाल्मी के भूगोल में कन्नौज को कनगौर या कनोगिया लिखा गया है। 405 ई. में चीनी यात्री फाह्यान कन्नौज आया था और उसने यहां पर केवल दो हीनयान विहार और एक स्तूप देखा था, जिससे सूचित होता है कि 5वीं शती ई. तक यह नगर अधिक महत्वपूर्ण नहीं था। कान्यकुब्ज के विशेष ऐश्वर्य का युग 7वीं शती से प्रारम्भ हुआ, जब महाराजा हर्षवर्धन ने इसे अपनी राजधानी बनाया। इससे पहले यहां मौखरि वंश की राजधानी थी। इस समय कान्यकुब्ज को  कुशस्थल  भी कहते थे। हर्षचरित के अनुसार हर्ष के भाई राज्यवर्धन की मृत्यु के पश्चात् गुप्त नामक व्यक्ति ने कुशस्थल को छीन लिया था, जिसके परिणामस्वरूप हर्ष की बहिन राज्यश्री को विंध्याचल पर्वतमाला की ओर चला जाना पड़ा था। कुशस्थल में राज्यश्री के पति गृहवर्मा मौखरि की राजधानी थी।
अपने उत्कर्ष काल में कान्यकुब्ज जनपद की सीमाएं कितनी विस्तृत थीं, इसका अनुमान स्कन्दपुराण से और प्रबंधचिंतामणि के उस उल्लेख से होता है जिसमें इस प्रदेश के अंतर्गत छत्तीस लाख गांव बताए गए हैं। शायद इसी काल में कान्यकुब्ज के कुलीन ब्राह्मणों की कई जातियां बंगाल में जाकर बसी थीं। आज के संभ्रांत बंगाली इन्हीं जातियों के वंशज बताए जाते हैं।
 


08-Apr-2021 2:52 PM 23

उटविलर स्पैटलौबर सेब की एक प्रजाति है। लगभग विलुप्त हो रही प्रजाति का साधारण-सा दिखने वाला यह खट्टा सेब इन दिनों खूब चर्चा में है। दावा किया जा रहा है कि इस ‘सुपर एप्पल’ के सत्व से चमड़े की झुर्रियां मिटती हैं, मानव कोशिकाओं की जीवन-अवधि लंबी होती है और झड़े हुए बाल फिर से उग सकते हैं।  
स्विटजरलैंड के दूरस्थ हिस्से में गिनती के रह गए एक पेड़ पर उगने वाला उटविलर स्पैटलौबर नामक यह दुर्लभ सेब दूसरी अन्य प्रजातियों की तुलना में अधिक (लगभग चार महीने) समय तक टिकाउ रहता है। पर इसके कसैले स्वाद के कारण इसकी मांग नहीं रही और इसके वृक्षों की संख्या इस कदर घटती गयी कि स्विटजरलैंड में अब मात्र 20 पेड़ रह गए हैं।  
कहा जा रहा है कि सीरम और क्रीम में इस्तेमाल की जा रहीं इस सेब की स्टेम कोशिकाएं मानव चमड़ी की स्टेम कोशिकाओं को उत्तेजित करती हैं और इस तरह चमड़ी पर जल्द झुर्रियां नहीं आतीं। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक सौंदर्य प्रसाधनों की दुनिया में इस सेब को उम्र रोकने के क्षेत्र में एक उत्साहजनक सफलता माना गया है तथा अमेरिका, यूरोप व एशिया की तकरीबन 100 सौंदर्य कंपनियों ने इसका इस्तेमाल शुरू किया है।

पश्तो 
पश्तो, जिसे पख़्तो या अफग़ानी भी कहा जाता है, अफग़ानिस्तान और पाकिस्तान में रहने वाले पठान समुदाय की मुख्य भाषा है। यह केन्द्रीय और दक्षिणी अफग़़ानिस्तान और उत्तर-पश्चिमी पाकिस्तान के ख़ैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के वासी हैं। भौगोलिक दृष्टि से यह आमू दरिया से दक्षिण और सिन्धु नदी से पश्चिम के क्षेत्रों में रहते हैं। पश्तो हिन्द-ईरानी भाषा-परिवार की ईरानी उपशाखा की सदस्य है, और ईरानी भाषाओं में इसे एक पूर्वी ईरानी भाषा माना जाता है। अनुमान किया जाता है कि विश्व-भर में कऱीब 5-6 करोड़ लोग पश्तो अपनी मातृभाषा के रूप में बोलते हैं।  अफग़ानिस्तान के संविधान ने दरी (फ़ारसी) के साथ-साथ पश्तो को भी एक राजभाषा होने का दर्जा दिया है। 
 


08-Apr-2021 2:50 PM 35

दुनिया का पहला अंतर्राष्ट्रीय डिजिटल पुस्तकालय फ्रांस की राजधानी पेरिस में खोला गया है।  विभिन्न देशों की सांस्कृतिक विरासत को इंटरनेट पर उपलब्ध कराने के अंतर्राष्ट्रीय साझे प्रयास का यह अच्छा उदाहरण है।
पाठक  222.2स्रद्य.शह्म्द्द  पर जाकर दुनिया की तमाम दुर्लभ पुस्तकें पढ़ सकते हैं। यह 19 देशों के पुस्तकालयों के सहयोग से साकार हुआ है। अमेरिकी कांग्रेस के वाशिंगटन स्थित पुस्तकालय और मिस्र के एलेक्जेण्ड्रिया पुस्तकालय ने मिलकर इसे विकसित किया है, और इसे यूनेस्को के पेरिस कार्यालय से लांच किया गया है।
हालांकि यह ऐसा पहला अंतर्राष्ट्रीय प्रयास नहीं है। इंटरनेट सर्च इंजिन गूगल ने 2004 में ऐसा ही प्रोजेक्ट शुरू किया था। इसके अलावा यूरोपीय संघ ने नवंबर, 2008 में अपना डिजिटल पुस्तकालय शुरू किया था यूनेस्को के इस नये पुस्तकालय के जरिए उपयोगकर्ताओं को विश्व की सात भाषाओं में दुर्लभ पुस्तकें, मानचित्र, पाण्डुलिपियां और वीडियो मिल सकते है और दूसरी भाषाओं में भी जानकारी उपलब्ध है।
 


08-Apr-2021 2:49 PM 19

खस यानी वेटीवर , यह एक प्रकार की झाड़ीनुमा घास है, जो केरल और अन्य दक्षिण भारतीय प्रांतों में उगाई जाती है। वेटीवर तमिल शब्द है। दुनिया भर में यह घास अब इसी नाम से जानी जाती है। हालांकि उत्तरी और पश्चिमी भारत में इसके लिए खस शब्द का इस्तेमाल ही होता है। इस घास की ऊपर की पत्तियों को काट दिया जाता है और नीचे की जड़ से खस के परदे तैयार किए जाते हैं। बताते हैं कि इसके करीब 75 प्रभेद हैं, जिनमें भारत में वेटीवेरिया जाईजेनियोडीज  अधिक उगाया जाता है।
भारत में उगने वाली इस घास की ओर दुनिया का ध्यान 1987 में विश्वबैंक के दो कृषि वैज्ञानिकों के जरिए गया। इसकी काफी रोचक कहानी है। विश्वबैंक के कृषि वैज्ञानिक रिचर्ड ग्रिमशॉ और जॉन ग्रीनफिल्ड मृदा क्षरण पर रोक के उपाय की तलाश में थे। इसी दौरान उनका भारत में आना हुआ और उन्होंने कर्नाटक के एक गांव में देखा कि वहां के किसान सदियों से मृदा क्षरण पर नियंत्रण के लिए वेटीवर उगाते आए हैं। उन्होंने किसानों से ही जाना कि इसकी वजह से उनके गांवों में जल संरक्षण भी होता था तथा कुओं को जलस्तर ऊपर बना रहता था।उसके बाद से विश्व बैंक के प्रयासों से दुनिया भर में वेटीवर को पर्यावरण संरक्षण के उपयोगी साधन के रूप में काफी लोकप्रियता मिली है। 
वैसे खस का इस्तेमाल सिर्फ ठंडक के लिए ही नहीं होता, आयुर्वेद जैसी परंपरागत चिकित्सा प्रणालियों में औषधि के रूप में भी इसका इस्तेमाल होता है। इसके अलावा इससे तेल बनता है और इत्र जैसी खुशबूदार चीजों में भी इसका उपयोग होता है। सबसे महत्वपूर्ण बात है कि पर्यावरण के खतरों से निबटने में सक्षम एक बहुउपयोगी पौधे के रूप में आज दुनिया के विभिन्न देशों में इस पौधे के प्रति लोगों की दिलचस्पी काफी बढ़ रही है। मृदा संरक्षण और जल संरक्षण में उपयोगी होने के साथ यह दूषित जल को भी शुद्ध करता है।
 


08-Apr-2021 2:48 PM 15

भागवत पुराण हिन्दुओं के अ_ारह पुराणों में से एक है। इसे श्रीमद्भागवतम् या केवल भागवतम् भी कहते हैं। इसका मुख्य वण्र्य विषय भक्ति योग है, जिसमे कृष्ण को सभी देवों का देव या स्वयं भगवान के रूप में चित्रित किया गया है। इसके अतिरिक्त इस पुराण में रस भाव की भक्ति का निरुपण भी किया गया है। परंपरागत तौर पर इस पुराण का रचयिता वेद व्यास को माना जाता हैं।

श्रीमदभागवत भारतीय वाङ्मय का मुकुटमणि है। भगवान शुकदेव द्वारा महाराज परीक्षित को सुनाया गया भक्तिमार्ग का तो मानो सोपान ही है। इसके प्रत्येक श्लोक में श्रीकृष्ण-प्रेमकी सुगन्धि है। इसमें साधन-ज्ञान, सिद्धज्ञान, साधन-भक्ति,सिद्धा-भक्ति, मर्यादा-मार्ग, अनुग्रह-मार्ग, द्वैत, अद्वैत समन्वय के साथ प्रेरणादायी विविध उपाख्यानों का अद्भुत संग्रह है।  भागवत पुराण में महर्षि सूत गोस्वामी उनके समक्ष प्रस्तुत साधुओं को एक कथा सुनाते हैं। साधु लोग उनसे विष्णु के विभिन्न अवतारों के बारे में प्रश्न पूछते हैं। सुत गोस्वामी कहते हैं कि यह कथा उन्होंने एक दूसरे ऋषि शुकदेव से सुनी थी। इसमें कुल बारह सकन्ध हैं। प्रथम काण्ड में सभी अवतारों को सारांश रूप में वर्णन किया गया है।
 


06-Apr-2021 12:55 PM 24

1. निम्नलिखित में से किसने सर्वप्रथम गहन परिस्थितिकी (डीप इकॉलोजी) शब्द का प्रयोग किया?
(अ) ई.पी. ओडम ने (ब) सी. रौनकियर ने (स) एफ. ई. क्लीमेन्ट्स ने (द) अर्नीज नेस ने
2. जैव ईंधन के संबंध में निम्न में से कौन सा कथन सत्य नहीं है?
(अ) जैव ईंधन पारिस्थितिकी अनुकूल होता है (ब) जैव ईंधन लागत प्रभावी होता है (स) जैव ईंधन ऊर्जा संकट के समाधान में योगदान दे सकता है (द) जैव ईंधन मक्का से भी बनता है
3. अंतर्राष्ट्रीय टाइगर दिवस मनाया जाता है?
(अ) 24 जुलाई को (ब) 29 जुलाई को (स) 20 जुलाई को (द) 25 जुलाई को
4. शैतान का गोल्फ कोर्स (डेविल्स गोल्फ कोर्स) नाम से प्रसिद्ध मृत्यु की घाटी (डेथ वैली) स्थित है?
(अ) यू.एस.ए. में (ब) चिली में (स) साइबेरिया में (द) अफगानिस्तान में
5. निम्नलिखित पर्वतों में से कौन टर्शियरी पर्वतीकरण का परिणाम नहीं है?
(अ) कुनलुन (ब) अप्लेशियन (स) आल्पस (द) एण्डीज
6. निम्नलिखित में से किस नाभिकीय शक्ति संयंत्र की कुल स्थापित क्षमता अधिकतम है?
(अ) ककरापार (ब) कैगा (स) कुडानकुलम (द) तारापुर
7. मूंगफली के क्षेत्रांतर्गत कम, परंतु प्रति हेक्टेयर बहुत अधिक उत्पादन वाला भारत का राज्य है?
(अ) उत्तरप्रदेश (ब) पश्चिम बंगाल (स) पंजाब (द) छत्तीसगढ़
8. अश्रुगैस का रासायनिक नाम है?
(अ) चैल्कोपाइराइट (ब) क्रिप्टॉन (स) क्लोरो एसीटोफेनोन (द) इनमें से कोई नहीं
9.कपार्ट भारत में निम्नलिखित में से किस एक में मुख्यत: कार्यरत है?
(अ) ई प्रशासन (ब)शेयर बाजार (स)ग्रामीण विकास (द) प्रदूषण नियंत्रण
10. केंद्रीय उत्पाद शुल्क दिवस निम्नलिखित में से किस तिथि को मनाया जाता है?
(अ) 22 फरवरी (ब) 24 फरवरी (स) 26 फरवरी (द)28 फरवरी
11. प्राचीन भारत में ज्योतिषशास्त्र का पहला प्रसिद्घ विद्वान कौन था?
(अ) बाणभट्टï (ब) आर्यभट्टï (स) विशाखदत्त (द) कात्यायन
12. 18 वें सेफ्टी ओलंपिक्स का आयोजन किया गया था?
(अ) सिओल (ब) बर्लिन (स) लंदन (द) मास्को
13. अकबर के संबंध बनाने वाला प्रथम शासक निम्नलिखित में से कौन था?
(अ) हाड़ा (ब) राठौर (स) सिसौदिया (द) कच्छवाहा 
14. सीजफ्राइड रेखा निम्नलिखित में से किन दो देशों के बीच की सीमा रेखा है?
(अ) अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच (ब) भारत और पाकिस्तान के बीच (स) जर्मनी और फ्रांस के बीच (द) चीन और बांग्लादेश के बीच
15. किस समय से अधिकारियों और अनेक महत्वपूर्ण व्यक्तियों को बड़ी संख्या में भूमि अनुदान करने के रूप में प्रदान की जाने लगी?
(अ) मौर्य काल से (ब) कुषाण काल से (स) हर्ष के शासन काल से (द) गुप्त काल से
16. निम्नलिखित में से किस कुषाण शासक द्वारा सर्वप्रथम सोने सिक्के जारी किए गए?
(अ) कुजुल कडफिसेस (ब) कनिष्क (स) विम कडफिसेस (द) उपरोक्त में से कोई नहीं
17. लागहस्र्ट नाम विद्वान ने नागार्जुनकोण्ड स्तूप के अवशेषों की खोज की थी?
(अ) सन् 1922 में (ब) सन् 1924 में (स) सन् 1926 में (द) सन् 1928
18. राज्य विधानसभाओं के 4091 स्थानों मेें से कितने स्थान अनुसूचित जातियों एवं अनुसूचित जनजातियों के लिए आरक्षित है?
(अ) 1008 (ब) 1058 (स) 1142 (द) 1096
19. मुद्रा स्वयं मुद्रा का निर्माण करती है-यह परिभाषा किसने प्रस्तुत की? 
(अ) मार्शल (ब) क्राउथर (स) क्रोउमर (द) हैन्सन 
20. जिस मुद्रा में भुगतान करने पर लेनदार कानूनी तौर पर स्वीकार करने से इनकार नहीं कर सकता है, उसे कहते हैं?
(अ) विधिग्राह्य मुद्रा (ब)दुर्लभ मुद्रा (स) सुलभ मुद्रा (द) गर्म मुद्रा 
21. विश्व की सबसे ऊंची चोटियां निम्नलिखित में से किस प्रकार के पर्वतों में पाई जाती हैं?
 (अ) प्राचीन मोड़दार पर्वत (ब) नवीन मोड़दार पर्वत (स) अवशिष्टï पर्वत (द) ब्लॉक पर्वत 
22. भारतीय सहायता से निर्मित चूखा जल विद्युत परियोजना कहां स्थित है?
(अ)बांग्लादेश में (ब)श्रीलंका में (स)भूटान में (द)मालदीव में
23. भारत में मतदान की आयु सीमा को 21 वर्ष से घटाकर 18 वर्ष कब किया गया?
(अ) 1988 ई. (ब)1989 ई. (स)1990 ई. (द)1991 ई. 
24. सबसे छोटी सीमा भारत की किस देश के साथ है?
(अ) पाकिस्तान (ब) नेपाल (स) म्यान्मार (द) भूटान
25. भारत का एक मात्र शीत मरूस्थल कौन सा है? 
(अ) लद्दाख (ब) पूर्वी कामेंग (स) लाचेन (द) चम्बा
26. उत्तर पश्चिम में स्थित पर्वत कौन सा है?
(अ) अरावली (ब) विंध्याचल (स) हिंदकुश (द) सतपुड़ा  
27. निम्नांकित बादलों में किससे ओला सामान्यतया संबंधित है?
(अ) पक्षाभ (ब) कपासी (स) कपासी वर्षी (द) स्तरी 
28. ऋतु के नियामक देवता किसे माना जाता है?
(अ) इंद्र (ब) वरूण (स) अग्नि (द) रुद्र
29. सार्वजनिक उपक्रमों की विनिवेश प्राप्तियों के निवेश के लिए स्थापित राष्टï्रीय निवेश कोष किस वर्ष प्रभावशील हुआ?
(अ)  वर्ष 2006 (ब) वर्ष 2007 (स) वर्ष 2005 (द) वर्ष 2001

सही जवाब- 1.(द)अर्नीज नेस ने, 2.(ब)जैव ईंधन लागत प्रभावी होता है, 3.(ब)29 जुलाई को, 4.(अ) यू.एस.ए. में, 5.(ब) अप्लेशियन, 6.(द) तारापुर, 7.(ब)पश्चिम बंगाल, 8.(स) क्लोरो एसीटोफेनोन, 9.(स) ग्रामीण विकास, 10.(ब)24 फरवरी, 11.(ब) आर्यभट्ट, 12.(अ) सिओल, 13.(द)कच्छवाहा, 14.(स) जर्मनी और फ्रांस के बीच, 15.(द) गुप्त काल से, 16.(स) विम कडफिसेस, 17.(स) सन् 1926 में, 18.(स) 1142, 19.(स) क्रोउमर, 20.(अ) विधिग्राह्य मुद्रा, 21.(ब)नवीन मोड़दार पर्वत, 22.(स)भूटान में, 23.(अ)1988 ई., 24.(द)भूटान, 25.(अ) लद्दाख, 26.(अ) अरावली, 27.(स)कपासी वर्षी, 28.(ब)वरूण, 29. (ब) वर्ष 2007 0।
 

 


06-Apr-2021 12:54 PM 23

अमड़ा (Amada, Hog palm, Spondias mombin ) ऐनाकार्डीएसिई प्रजाति का वृक्ष है इस पर लगने वाला फल आकार में छोटा और हरे रंग का होता है। यह गुदे एवं रस से भरा रहता है जो स्वाद मे खटटा होता है। अमड़ा दिखने में आम की तरह लगता है। अमड़ा शीतल प्रकृति का होता है। इसका उपयोग अचार और चटनी बनाने में किया जाता है। अमड़ा की पत्तियां,छाल, और फल सभी बेहद उपयोगी होते हैं।
 अमड़ा को खाने में कई तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है। अमड़ा को जूस, शर्बत जैसे पेय पदार्थ बनाने में उपयोग किया जाता है।  अचार बनाने और कई तरह की चटनी बनाने में इसका उपयोग होता है । अमड़ा खाने में खट्टा होता है इसलिए इसे आमचूर और इमली के स्थान पर इस्तेमाल कर सकते हैं।  दालों में सब्जियों में खटास लाने के लिए अमड़ा का उपयोग करते हैं। इसके रस से वेनेगर का भी निर्माण किया जाता है इसके साथ ही जैम और जैली भी बनाए जाते हैं ।
अमड़ा स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है । इसमें  विटामिन बी और विटामीन सी प्रचुर मात्रा में होते हैं । इसके सेवन से हाजमा ठीक रहता है एवं पाचन क्रिया मजबूत होती है। अमड़ा को कई प्रकार की औषधियों में भी उपयोग किया जाता है । यह  पेट के लिए काफी फ़ायदेमंद होता है। इसका सेवन करने से पेट के वायु विकार दूर होते हैं। यह पेट को साफ रखता है कब्ज को दूर करता है। यह पित्त की बीमारियों से बचाव करता है।
 अतिसार होने पर अमड़ा का सेवन करने से आराम मिलता है। बुखार या संक्रमण से फैलने वाली बिमारियों से बचाव करता है। अमड़ा के पत्तों को पीस कर इसका लेप सूजन वाले स्थान पर लगाने से सूजन कम हो जाती और दर्द से निजात मिलती है। अमडा़ का सेवन करने से चर्म रोग भी दूर होते हैं। यह मुंह के विकारों को भी दूर करता है। सर्दी जुकाम से बचाव करता है ।

सामाजिक डार्विनवाद क्या है?
सामाजिक डार्विनवाद , सामाजिक विकास का सिद्धांत हैं।  जिसे हर्बर्ट स्पेंसर ने विकसित किया था। स्पेंसर ने चाल्र्स डार्विन के जीव वैज्ञानिक विकास के सिद्धांत को योग्यतम की विजय को समाज के विकास पर लागू किया है। इसके अनुसार समाज मेें योग्य व्यक्ति ही समाज में प्रभावशाली होते हैं और समाज को आगे ले जाते हैं।  समाज के निर्बल और अयोग्य व्यक्ति या तो जीवित नहीं रहते या फिर अप्रभावी  हो जाते हैं। इस सिद्धांत को पूर्ण रूप से स्वीकार नहीं किया गया है।
 


06-Apr-2021 12:53 PM 26

जब भोजन हमारे पेट में पहुंचता है तो वहां कई तरह के पाचक रस आकर मिलते हैं और उसका मंथन शुरु होता है। उसमें से प्रोटीन, शर्करा और चर्बी अलग होती है। फिर हमारे जिगर से निकला रस चर्बी को पचाता है। पेट से यह भोजन छोटी आंतों में पहुंचता है, जहां आंतों की दीवारें पोषक तत्वों को सोख लेती हैं। इस प्रक्रिया में कोई 6 से 8 घंटे लगते हैं। उसके बाद यह भोजन बड़ी आंतों में पहुंचता है, जहां पाचन क्रिया जारी रहती है, जो कुछ नहीं पच पाया उसे हमारे शरीर से निकलने में कोई 24 घंटे लगते हैं। 
वैसे पाचन इस बात पर निर्भर करता है कि आपने क्या खाया है। मांस को हजम करने और आंतों से बाहर निकलने में दो-तीन दिन लग जाते हैं, जबकि सब्जियों और फलों को कोई 12 घंटे लगते हैं।

अमरकोश
संस्कृत के कोशों में अमरकोश अति लोकप्रिय और प्रसिद्ध है। इसे विश्व का पहला समान्तर कोश (थेसॉरस) कहा जा सकता है। इसकी रचनाकार अमरसिंह बताये जाते हैं। अन्य संस्कृत कोशों की भांति अमरकोश भी छंदोबद्ध रचना है। इसका कारण यह है कि भारत के प्राचीन पंडित पुस्तकस्था विद्या को कम महत्व देते थे। उनके लिए कोश का उचित उपयोग वही विद्वान् कर पाता है जिसे वह कंठस्थ हो। श्लोक शीघ्र कंठस्थ हो जाते हैं। इसलिए संस्कृत के सभी मध्यकालीन कोश पद्य में हैं। 
अमरकोश का वास्तविक नाम अमरसिंह के अनुसार नामलिगानुशासन है। नाम का अर्थ यहां संज्ञा शब्द है। अमरकोश में संज्ञा और उसके लिंगभेद का अनुशासन या शिक्षा है। अव्यय भी दिए गए हैं, किन्तु धातु नहीं हैं। धातुओं के कोश भिझ होते थे ( काव्यप्रकाश, काव्यानुशासन आदि )। हलायुध ने अपना कोश लिखने का प्रयोजन कविकंठविभूषणार्थम् बताया है। अमरकोश में साधारण संस्कृत शब्दों के साथ-साथ असाधारण नामों की भरमार है। 
 


06-Apr-2021 12:51 PM 21

चोल  प्राचीन भारत का एक राजवंश था। चोल शब्द की व्युत्पत्ति का अर्थ विभिन्न प्रकार से किया जाता है। कर्नल जेरिनो ने चोल शब्द को संस्कृत  काल एवं  कोल  से संबद्ध करते हुए इसे दक्षिण भारत के कृष्णवर्ण आर्य समुदाय का सूचक माना है।
चोल शब्द को संस्कृत  चोर  तथा तमिल  चोलम  से भी संबद्ध किया गया है किंतु इनमें से कोई मत ठीक नहीं है। आरंभिक काल से ही चोल शब्द का प्रयोग इसी नाम के राजवंश द्वारा शासित प्रजा और भू-भाग के लिए उपयोग होता रहा है। संगमयुगीन मणिमेक्लै में चोलों को सूर्यवंशी कहा है। चोलों के अनेक प्रचलित नामों में शेंबियन् भी है।  12वीं सदी के अनेक स्थानीय राजवंश अपने को करिकाल से उद्भत कश्यप गोत्रीय बताते हैं।
चोलों के उल्लेख अत्यंत प्राचीन काल से ही प्राप्त होने लगते हैं। कात्यायन ने चोलों का उल्लेख किया है। अशोक के अभिलेखों में भी इसका जिक्र मिलता है। किंतु इन्होंने संगमयुग में ही दक्षिण भारतीय इतिहास को संभवत: प्रथम बार प्रभावित किया। संगमकाल के अनेक महत्वपूर्ण चोल सम्राटों में करिकाल अत्यधिक प्रसिद्ध हुए संगमयुग के पश्चात् का चोल इतिहास अज्ञात है। फिर भी चोल-वंश-परंपरा एकदम समाप्त नहीं हुई थी क्योंकि रेनंडु (जिला कुडाया) प्रदेश में चोल पल्लवों, चालुक्यों तथा राष्ट्रकूटों के अधीन शासन करते रहे।
 


06-Apr-2021 12:50 PM 14

केन्द्र सरकार ने  ‘स्वच्छ भारत मिशन’  2 अक्टूबर 2014 को शुरू किया था।  इसका लक्ष्य महात्मा गांधी की 150वीं जयंती यानी 2 अक्टूबर 2019 तक पूरे देश के 4041 वैधानिक शहरों और नगरों में पूरी तरह स्वच्छता सुनिश्चित करना है। शहरी क्षेत्रों में खुले में शौच की समस्या खत्म करने के लिए शौचालयों का निर्माण इस मिशन की प्राथमिकता है।
पांच वर्ष के स्वच्छता मिशन के तहत 62 हजार 9 करोड़ रुपये खर्च करने का प्रावधान किया गया है। इसके तहत घरों में 1.04 करोड़ शौचालयों, 2.51 लाख सामुदायिक शौचालय सीटों और 2.55 लाख सार्वजनिक शौचालय सीटों का निर्माण किया जाना है।  इस योजना के अंतर्गत 37 करोड़ शहरी लोगों को ठोस कचरा प्रबंधन में सहायता दी जाएगी।
केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय ने ‘स्वच्छ भारत मिशन’  के क्रियान्वयन का मूल्यांकन 3 अप्रैल 2015 को जारी किया। इसके अनुसार वर्ष 2014-15 के दौरान गुजरात ‘स्वच्छ भारत मिशन’ को लागू करने में देश के सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में सबसे से आगे (प्रथम) रहा। ‘स्वच्छ भारत मिशन’ के तहत वर्ष 2014-15 में कुल 2 लाख 70 हजार 69 घरों में बने शौचालयों में से 60 प्रतिशत अकेले गुजरात में बने।  
केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्राप्त प्रस्तावों के आधार पर वित्तवर्ष 2014-15 के दौरान 900 करोड़ रुपये की मंजूरी प्रदान की है।  राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 700 करोड़ रुपये दिए गए है।  
 


05-Apr-2021 12:43 PM 40

1. निगम कर लगाया जाता है?
(अ) कंपनियों के कुल विनियोग पर (ब) कंपनियों के शेयर धारकों की कुल पूंजी पर (स) कंपनियों के लाभ पर (द) कंपनियों की कुल प्राप्तियों पर
2. सीमा शुल्क क्या है?
(अ) प्रत्यक्ष कर (ब) एक प्रकार का उपभोग कर (स) अप्रत्यक्ष कर (द) एक प्रकार का व्यय कर
3. निम्नलिखित में से किस उद्योग को लाइसेंस लेने की अनिवार्यता से मुक्त कर दिया गया है?
(अ)इस्पात (ब) कोयला (स)रेल यातायात (द) उपभोक्ता इलेक्ट्रानिकी
4. थाईलैंड में की जाने वाली स्थानांतरित कृषि को किस नाम से जाना जाता है?
(अ) तुंग्या (ब) तमराई (स) टावी (द) हुमा
5. बिना सिंचाई की सहायता से की जाने वाली तर खेती के लिए वार्षिक वर्षा की कितनी मात्रा आवश्यक होती है?
(अ) 50 सेमी से कम (ब) 50 से 100 सेमी से कम (स) 100 स 200 सेमी (द) 200 सेमी से अधिक
6. ऊर्जा समता के आधार पर एक टन तेल निम्नलिखित में से किसके बराबर होता है?
(अ) 1 बिलियन कैलोरी के (ब) 10 बिलियन कैलोरी के (स) 1 मिलियन कैलोरी के (द) 10 मिलियन कैलोरी के
7. सीआईएस में कोयला का सबसे बड़ा उत्पादक क्षेत्र कौन सा है?
(अ) पिथौरा (ब) कारागंडा (स) डॉनेज (द) कुजबास
8. वह स्थान जो ग्रीनविच के 74 अंश पश्चिम में स्थित है, वहां पर समय होगा?
(अ) 5 घंटे 42 मिनट पीछे (ब) 5 घंटे, 42 मिनट आगे (स) 4 घंटे 56 मिनट पीछे (द) 4 घंटे 56 मिनट आगे
9. परिचालन भूमि जोत का सर्वाधिक क्षेत्र निम्नलिखित प्रकार के किसान के अंतर्गत है?
(अ) मध्यम किसान (ब) बड़े किसान (स) सीमांत किसान (द) लघु किसान
10. संरचनात्मक बेरोजगारी उत्पन्न होने का क्या कारण है?
(अ) कच्चे मालों का अभाव (ब) अपर्याप्त उत्पादन क्षमता (स) अवस्फीतिक दशाएं (द) भारी उद्योगों के प्रति झुकाव
11. आठ सौ  से 1200 ई. तक भारतीय समाज की प्रमुख विशेषता थी?
(अ) सामंतवाद (ब) उदारवाद (स) समतावाद (द) गणतंत्र
12. सिक्किम को किस संविधान संशोधन के द्वारा भारत संघ में पूर्ण राज्य के रूप में शामिल किया गया?
(अ) 33 वें संविधान संशोधन (ब) 34 वें संविधान संशोधन (स) 35 वें संविधान संशोधन (द) 36 वें संविधान संशोधन
13. भारतीय संविधान किस प्रकार की नागरिकता प्रदान करता है?
(अ) एकल (ब) दोहरी (स) एकल और दोहरी दोनों प्रकार की (द) इनमें से कोई नहीं
14. निम्नलिखित में से किस एक देश को यूरेनियम सिटी स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है?
(अ) ऑस्ट्रेलिया (ब) कनाडा (स) रूस (द) संयुक्त राज्य अमेरिका
15. मध्य पूर्व के खनिज तेलों में अग्रणी उत्पादक है?
(अ) ईरान (ब) इराक (स) कुवैत (द) सऊदी अरब
16. मिट्टी की पारगम्यता किसकी संक्रिया होती है?
(अ) गठन एवं गहराई की (ब) सरंध्रता एवं गठन की (स) सरंध्रता एवं गहराई की (द) सरंध्रता, गठन एवं गहराई की
17. राष्टï्रीय मानव अधिकार आयोग में कितने सदस्यों का प्रावधान है?
(अ) 9 (ब) 10 (स) 7 (द) 8 
18. गैर तेल निर्यातक देशों में खनिज तेल उत्पादन में अग्रणी देश कौन सा है?
(अ)संयुक्त राज्य अमेरिका (ब)रूस (स) दक्षिण कोरिया (द) जर्मनी
19. अजंता चित्रकला का संबंध मूल रूप से किस धर्म से  है?
(अ) जैन धर्म (ब) ब्राह्मïण धर्म (स) शाक्त धर्म (द) बौद्घ धर्म
20. न्यूनतम जनसंख्या घनत्व वाला महाद्वीप है?
(अ) यूरोप (ब) अफ्रीका (स) एशिया (द) आस्ट्रेलिया
21. विश्व में सर्वाधिक लिंगानुपात वाले प्रथम तीन देशों का अवरोही क्रम है?
(अ) ब्राजील, इंडोनेशिया, जापान (ब) जापान, यूएसए, रूस (स) रूस, जापान, यूएसए (द) ब्राजील, जापान, रूस
22. निम्नलिखित में से कौन नाइजीरिया के मूल निवासी हैं?
(अ) हौसा (ब) होपी (स) जूनी (द) चुकची 
23. भारत की पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी का जन्मदिवस कब मनाया जाता है?
(अ) 19 नवंबर(ब) 19 दिसंबर (स) 19 जनवरी (द) 19 फरवरी
24. किस एक पूर्व ग्रह ने ग्रह होने की स्थिति खो दी है?
(अ)नेप्च्यून ने (ब) प्लूटो ने (स) यूरेनस ने (द) ऐसा कोई ग्रह नहीं 
25. निम्न में से किसने आइसोडोपान की संकल्पना को दिया है?
(अ) अल्फ्रेड वेबर ने (ब) डी.एम. स्मिथ ने (स) वॉन थूनेन ने (द) डब्ल्यू. इजार्ड ने
26. जनसंख्या का सबसे कम भार कहां पाया जाता है?
(अ) एशिया (ब) यूरोप (स) अफ्रीका (द) ओशनिया
27. विश्व के किस महाद्वीप में आदिमजातियों की सर्वाधिक जनसंख्या पाई जाती है?
(अ) एशिया (ब) यूरोप (स) अफ्रीका (द) आस्ट्रेलिया
28. जनसंख्या वितरण को सर्वाधिक प्रभावित करने वाला तत्व है?
(अ) खनिज संपदा (ब) मृदा संरचना (स) जलवायु (द) प्राकृतिक वनस्पति
29. मौर्यकाल में ‘भाग’ शब्द का इस्तेमाल निम्र में से किसके लिए किया जाता था?
(अ) गृह कर (ब) भूमि कर  (स) जल कर (द) हिरण्य

सही जवाब- 1.(स) कंपनियों के लाभ पर, 2.(ब) एक प्रकार का उपभोग कर, 3.(द) उपभोक्ता इलेक्ट्रानिकी, 4.(ब)तमराई, 5.(द) 200 सेमी से अधिक, 6.(ब)10 बिलियन कैलोरी के, 7.(स)डॉनेज, 8.(स) 4 घंटे 56 मिनट पीछे, 9.(स) सीमांत किसान, 10.(ब) अपर्याप्त उत्पादन क्षमता, 11.(अ)सामंतवाद, 12.(द) 36वें संविधान संशोधन, 13.(अ) एकल,14.(ब)कनाडा, 15.(द) सऊदी अरब, 16.(द) सरंध्रता, गठन एवं गहराई की, 17.(स)7, 18.(अ)संयुक्त राज्य अमेरिका, 19.(द) बौद्घ धर्म, 20.(द) आस्ट्रेलिया, 21.(स) रूस, जापान, यूएसए, 22.(अ) हौसा, 23.(अ) 19 नवंबर, 24.(ब) प्लूटो ने, 25.(अ)अल्फ्रेड वेबर ने, 26.(द) ओशनिया, 27.(स) अफ्रीका, 28.(स) जलवायु, 29.(ब) भूमि कर।
 


05-Apr-2021 12:41 PM 23

दिल के खतरों के लिए घंटी माना जाने वाला कोलेस्ट्रॉल आज एक गंभीर समस्या बना हुआ है। इसकी सीधा संबंध हृदय रोगों से है, भारत ही नहीं दुनिया के सभी देशों में लोग इसकी समस्या से जूझ रहे हैं। खास बात ये है कि कोलेस्ट्रॉल कम करने वाली जो दवाएं हैं, उनके जबरदस्त कुप्रभाव हैं। 

केन्द्रीय औषधि अनुसंधान संस्थान , लखनऊ के वैज्ञानिकों ने अशोक की पत्तियों में ऐसा कंपाउंड ढूंढा है , जिसमें लिपिड कम करने की जबरदस्त क्षमता है। दावा है कि बहुतायक में पाए जान वालेे अशोक के पेड़ की पत्तियों का प्रयोग लिपिड कम करने के लिए भी तक नहीं किया गया है। वैज्ञानिकों का मानना है कि कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए इस्तेमाल की जा रही दवाओं के मुकाबले यह हर्बल दवा  काफी लोकप्रिय होगी। इसका कारण यह है कि इसका कोई दुष्प्रभाव  शरीर पर नहीं पड़ता है।  संस्थान के वैज्ञानिकों के अनुसार  केरल के लोग अशोक की पत्तियों का अर्क विभिन्न रोगों के उपचार के लिए प्रयुक्त करते हैं। इस अर्क में कोलेस्ट्रॉल, ट्राइग्लिसरायड, एलडीएल कम करने की प्रभावी क्षमता है। खास बात यह है कि एचडीएल जिसे गुड कोलेस्ट्रॉल कहते हैं, उसमें कोई कमी नहीं आई । 
 


05-Apr-2021 12:40 PM 21

ऐतरेय ब्राह्मण ऋग्वेद की एक शाखा है जिसका केवल  ब्राह्मण ही उपलब्ध है, संहिता नहीं। ऐतरेय ब्राह्मण ऋग्वेदीय ब्राह्मणों में अपनी महत्ता के कारण प्रथम स्थान रखता है। यह  ब्राह्मण  हौत्रकर्म से संबद्ध विषयों का बड़ा ही पूर्ण परिचायक है और यही इसका महत्व है। इस  ब्राह्मण  के अन्य अंश भी उपलब्ध होते हैं जो  ऐतरेय आरण्यक  तथा  ऐतरेय उपनिषद्  कहलाते हैं।
ऐतरेय ब्राह्मण में 40 अध्याय हैं जिनमें प्रत्येक पांच अध्यायों को मिलाकर एक  पंचिका कहते हैं और प्रत्येक अध्याय के विभाग को  कंडिका । इस प्रकार पूरे ग्रंथ में आठ पंचिका, 40 अध्याय, अथवा 285 कंडिकाएं हैं।  
ऐतरेय ब्राह्मण के अन्तिम अध्याय में पुरोहित का विशेष महत्व निरूपित है। राजा को पुरोहित की नियुक्ति अवश्य करनी चाहिए, क्योंकि वह आहवनीयाग्नितुल्य होता है। पुरोहित वस्तुत: प्रजा का प्रतिनिधि है, जो राजा से प्रतिज्ञा कराता है कि वह अपनी प्रजा से कभी द्रोह नहीं करेगा। स्कन्द पुराण में प्राप्त आख्यान के अनुसार ऐतरेय के पिता हारीत ऋषि के वंश में उत्पन्न ऋषि माण्डूकि थे। छान्दोग्य उपनिषद के अनुसार महिदास को 116 वर्ष की आयु प्राप्त हुई। शांखायन गृह्यसूत्र  में भी इनके नाम का  ऐतरेय और  महैतरेय  रूपों के उल्लेख है। 
 


05-Apr-2021 12:40 PM 24

ओदन्तपुरी विश्वविद्यालय, भारत का एक प्राचीन विश्वविद्यालय था।  यह बिहार शरीफ में स्थित है।  इसकी स्थापना पाल वंश के प्रथम शासक गोपाल ने की थी। ओदन्तपुरी विश्वविद्यालय तंत्र  विद्या  की शिक्षा का प्रमुख केंद्र था।  ओदन्तपुरी विश्वविद्यालय के प्रमुख विद्वान थे - महारक्षित और शील रक्षित। 
ओदंतपुरी वर्तमान बिहार का प्राचीन नाम है। बिहार में स्थित ओदंतपुरी को  उदंतपुरी या  उद्दंडपुर भी कहते हैं। इसकी प्रसिद्धि का कारण था, यहां का बौद्ध विहार और तत्संबद्ध महाविद्यालय। आठवीं सदी के मध्य में बंगाल और बिहार में पाल वंश के संस्थापक गोपाल (730-740 ई.) ने यहां एक महाविहार की स्थापना की थी।  अनुवर्ती पाल राजाओं ने इस विहार तथा महाविद्यालय को अनेक दान दिए थे। यह एक महत्वपूर्ण विद्या केन्द्र बन गया था।
ओदंतपुरी की समृद्धि काल में यहां एक हज़ार विद्यार्थी शिक्षा पाते थे। दूर-दूर से विद्यार्थीगण शिक्षा पाने के लिए यहां रहते थे।  यहां का सर्वप्रथम विद्यार्थी दीपंकर था, जो बाद में विक्रमशिला महाविद्यालय का प्रधान आचार्य बना और जिसने तिब्बत जाकर वहां लामा संस्था की स्थापना की। 13वीं शती के प्रारंभ में मुस्लिमों के बिहार पर आक्रमण के समय यहां का विहार और विद्यालय नष्ट हो गए।  बिहार-बंगाल में ओदंतपुरी के लगभग समकालीन अन्य महाविद्यालय नालंदा ,  विक्रमपुर,  विक्रमशिला, जगद्दल और ताम्रलिप्ति में थे। 
 


05-Apr-2021 12:38 PM 16

क्राइसोप्रेज एक उपरत्न है, जिसे  देखकर कई लोगों को जेड उपरत्न का भ्रम हो जाता है। इस उपरत्न के बड़े आकार के पत्थर प्राय: कोमल तथा हल्के रंग के होते हैं। इस उपरत्न को गर्म करने पर या अधिक देर सूर्य की रोशनी में रखने पर इसका रंग फीका पड़ जाता है। यदि इसे दुबारा नमी के वातावरण में रखा जाए तो इसका मूल रंग दोबारा वापिस आ जाता है।
इस उपरत्न को  हरितमणि के नाम से भी जाना जाता है। इस उपरत्न की सबसे अच्छी श्रेणी आस्ट्रेलिया में पाई जाती है। यह कई हल्के रंगों में पाया जाता है, लेकिन हल्का हरा रंग इसकी उत्तम श्रेणी हैं अथवा  एप्पल ग्रीन  रंग में यह उपरत्न अच्छा माना जाता है। इसके अतिरिक्त हल्का पीला रंग भी अच्छा माना जाता है। यह एक पारभासी उपरत्न है। इस उपरत्न का उपयोग गहनों के निर्माण में अधिक होता है।
क्राइसोप्रेज शब्द, ग्रीक शब्द क्राइसोस प्रासोन से लिया गया है जिसका अर्थ है - गोल्ड लीक। इस उपरत्न को विजयी उपरत्न के रुप में भी जाना जाता है।  
 


05-Apr-2021 12:38 PM 14

कारों पर एक तरह से कहें तो जर्मनी वालों का एकाधिकार रहा है। लेकिन अब भारत भी ऑटोमोबाइल इंजनियरिंग में उपलब्धियां हासिल कर रहा है। इनमें सुपर कार भी शामिल है। 
भारत की पहली सुपर कार का नाम रखा गया है एम-जीरो। इसका निर्माण मीन मेटल मोटर्स नाम की कंपनी कर रही है। मीन मेटल मोटर्स के संस्थापक और डायरेक्टर सार्थक पॉल के अनुसार इसके लिए 4.0 लीटर एएमजी वी8 बाई टर्बो या 4.8 लीटर एनए वी10  इंजन की खरीद पर बात चल रही है।  
पहली इंडियन सुपरकार एम-जीरो  की अधिकतम गति होगी 320 किलोमीटर प्रति घंटा। जीरो की स्पीड से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पकडऩे में इसे 3 सेकंड्स से भी कम समय लगेंगे। पावर आउटपुट की बात करें तो पहली इंडियन सुपरकार एम-जीरो को मीन मेटल मोटर्स की टीम 500 से ज्यादा बीएचपी की पावर से लैस करना चाहती है।  यह एक हाइब्रिड सुपरकार होगी, इसलिए इसमें एक इलेक्ट्रिक मोटर भी होगा। इलेक्ट्रिक मोटर की क्षमता 250 बीएचपी प्रड्यूस करने की होगी। इस तरह से सुपरकार एम-जीरो की कुल क्षमता 750 बीएचपी से ज्यादा की होगी। इसमें कुल 900 एनएम टॉर्क डिवेलप होगा।
हाई स्पीड पर कार को स्थिरता प्रदान करने के लिए इसका एयरोडाइनैमिक्स बहुत ही उम्दा स्तर का होना चाहिए। इसके लिए पहली इंडियन सुपरकार एम-जीरो में क्रॉससहेयर तकनीक का इस्तेमाल किया जाने वाला है। पहली इंडियन सुपरकार एम-जीरो की बॉडी बनाने में स्पेशल अलॉय (मिश्रित धातु) का प्रयोग किया जाएगा।  ऐसा इसके बेहतर एयरोडाइनैमिक्स और ट्रैक पर स्टैबिलिटी के लिए जरूरी है।
लाइट वेट सस्पेंशन सिस्टम के लिए मीन मेटल मोटर्स की टीम हाइड्रो-न्यूमैटिक स्ट्रट्स का इस्तेमाल करने वाली है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसका हाइड्रो पार्ट ग्राउंड क्लियरेंस को अजस्ट करेगा जबकि प्रेशर वाला पार्ट गाड़ी के चलते समय स्थिरता प्रदान करेगा। पहली इंडियन सुपरकार एम-जीरो  की सबसे बड़ी खासियत है बिना चाभी की एंट्री। इसका मतलब यह हुआ कि अगर आप मालिक हैं तो आपके सिवा कोई और इस कार को खोल ही नहीं सकता है।  इस सपने को पूरा करने के लिए मीन मेटल मोटर्स की टीम शुरुआती चरण में 7 मिलियन डॉलर की फंडिंग जुटाने की कोशिश कर रही है।
एम-जीरो  पर चार देशों की चार टीमें काम कर रहीं हैं। पुर्तगाल और इटली की टीम इसकी बॉडी और स्टाइलिंग पर काम कर रही है जबकि इंग्लैंड की टीम इसके सिमुलेशन और ऐनालिसिस को देख रही है। इसके अलावा बची इंडियन टीम के जिम्मे इंजन, ट्रांसमिशन, एयरोडाइनैमिक्स, वीइकल डाइनैमिक्स, इलेक्ट्रॉनिक्स और एनर्जी स्टोरेज सिस्टम को देखना है।
 


04-Apr-2021 1:50 PM 23

1. भारतीय संविधान में आपात संबंधी उपबंध भारत शासन अधिनियम, 1935 और किसके संविधान से लिया गया है? 
(अ) दक्षिण अफ्रीका (ब) जर्मनी के वीमर संविधान (स) कनाडा (द) पूर्व सोवियत संघ  
2. भारतीय संविधान के निम्नलिखित में से किस भाग में पंचायती राज से संबंधित प्रावधान हैं?
(अ) भाग-6 (ब)भाग-7 (स) भाग-8 (द) भाग-9 
3. भारतीय संविधान के अनुसार संघ की कार्यपालिका शक्तियां किसमें निहित होती हैं?
(अ) लोकसभा अध्यक्ष (ब) उपराष्ट्रपति (स) राष्ट्रपति (द) प्रधानमंत्री
4. राज्य सभा को भंग किया जा सकता है?
(अ) प्रत्येक पांच वर्ष बाद (ब) प्रत्येक छह वर्ष बाद (स) प्रधानमंत्री की सलाह पर (द) इनमें से कोई नहीं
5. 31वें संवैधानिक संशोधन अधिनियम द्वारा लोक सभा की अधिकतम सदस्य संख्या कितनी निर्धारित की गई थी?
(अ) 530 (ब) 540 (स) 542 (द) 545 
6. प्रधानमंत्री को उसके पद और गोपनीयता की शपथ निम्नलिखित में से कौन दिलाता है?
(अ) उपराष्ट्रपति (ब) राष्ट्रपति (स) लोकसभाध्यक्ष (द) सर्वोच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश  
7. भारत सरकार के सर्वोच्च शासकीय अधिकारी निम्नलिखित में से कौन होते हैं?
(अ) दिल्ली के उपराज्यपाल (ब)भारत के रक्षा सचिव (स)भारत के मंत्रिमण्डलीय सचिव (द) भारत के प्रधानमंत्री के मुख्य सचिव 
8. निम्नलिखित में से कौन राष्ट्रीय विकास परिषद के अंग नहीं होते हैं?
(अ) राज्यों के मुख्यमंत्री (ब) राज्यों के राज्यपाल (स) प्रधानमंत्री (द) योजना आयोग के अध्यक्ष
9. सूर्य और कुंती का पुत्र कौन है?
(अ) युधिष्ठिर (ब) अर्जुन (स) वसुषेण (द) भीम
10. भीष्म थे?
(अ) बारहवें आदित्य (ब) आठवें वसु (स) अश्विनी कुमार (द) चौथे रुद्र 
11. निम्न में से किसे लंका का निर्माणकर्ता माना जाता है?
(अ) विश्वकर्मा (ब) कुबेर (स) कामदेव (द) वरुण 
12. वज्र नामक अस्त्र किस ऋषि की अस्थियों से बनाया गया था?
(अ)भारद्वाज (ब)अत्रि (स) जमदग्नि (द) दधीचि
13. निम्नलिखित में से कौन सा धात्विक खनिज है?
(अ) हीरा (ब) कोयला (स) जिप्सम (द) सोना
14. क्रिवायरॉग क्षेत्र से कौन सा खनिज प्राप्त किया जाता है?
(अ) बॉक्साइट (ब) मैंगनीज (स) लौह अयस्क (द) खनिज तेल
15. मेसाबी रेंज किससे संबंधित है?
(अ) लौह अयस्क (ब) पेट्रोलियम (स) कोयला (द) सोना
16. जब चंद्रमा, पृथ्वी के सबसे नजदीक होता है, तो ऐसी स्थिति कहलाती है?
(अ) छाया (ब) प्रच्छाया (स) अपभू (द) उपभू
17. इटली का एकीकरण कब हुआ?
(अ) 1959-1970 के बीच (ब) 1880-1891 के बीच (स) 1859-1870 के बीच (द) 1759-1770 के बीच
18. पृथ्वी के चारों ओर एक विशेष वृत्तीय कक्षा में विभिन्न द्रव्यमानों के दो कृत्रिम उपग्रह निम्र में से किस स्थिति में घूम सकते हैं?
(अ) नियम चाल से (ब) नियम संवेग से (स) नियम गतिज ऊर्जा से (द) असमान वेग से
19. चीन के प्रधानमंत्री कौन हैं?
(अ) ली केकियांग (ब) वेन जियाबाओ (स) ली पेंग (द) इनमें से कोई नहीं 
20. विश्व में संश्लेषित या सिन्थेटिक रबड़ का सबसे बड़ा उत्पादक कौन सा देश है?
(अ) थाईलैंड (ब) मलेशिया (स) इंडोनेशिया (द) संयुक्त राज्य अमेरिका
21. रबड़ की कृषि के लिए लगभग कितनी वर्षा होना आवश्यक है?
(अ) 100 से 200 सेमी (ब) 200 से 250 सेमी (स) 250 से 300 सेमी (द) 300 से 350 सेमी
22. भारत में कच्चा ऊन का सबसे अच्छा उत्पादक राज्य निम्न में से कौन सा है?
(अ) आंध्रप्रदेश (ब) जम्मू एवं कश्मीर (स) कर्नाटक (द) राजस्थान
23. भारत में धात्विक खनिजों की सर्वाधिक खदानें किस राज्य में पाई जाती हैं?
(अ) गुजरात में (ब) झारखंड में (स) कर्नाटक में (द) उड़ीसा में
24. प्रसिद्घ पेट्रोनास ट्विन टावर्स कहां स्थित है?
(अ) मलेशिया (ब) जापान (स) पेरिस (द) रूस
25. साफ आसमान की रात की किसी स्थान का अक्षांश निर्धारित किया जा सकता है, उस कोण को माप कर जो?
(अ) धु्रवतारा देखने वाले के साथ बनता है (ब) देखने वाला वीनस के साथ बनाता है (स) देखने वाला चंद्रमा के साथ बनाता है (द) देखने वाला मंगल और चंद्रमा के साथ बनाता है 
26. खिरगीज एक घुमक्कड़ी जनजाति है?
(अ) मध्य एशिया की (ब) दक्षिण एशिया की (स) दक्षिण पूर्व एशिया की (द) पश्चिम एशिया की
27. लैप्स कहां पाए जाते हैं?
(अ) न्यूजीलैंड में (ब) कजाकिस्तान में (स) दक्षिणी रूस में (द) स्केन्डिनेवियन क्षेत्र में
28. वियतनाम एवं लाओस में की जाने वाली स्थानांतरित कृषि को क्या कहा जाता है?
(अ) रे (ब) टावी (स) तमराई (द) तुंग्या 
29. भारतीय संघ के अंतर्गत किसी राज्य को मिलाने का अधिकार किसे है?
(अ) भारत के राष्ट्रपति को (ब)प्रधानमंत्री को (स) संसद को (द) सर्वोच्च न्यायालय को 

सही जवाब- 1.(ब)जर्मनी के वीमर संविधान, 2.(द)भाग-9, 3.(स) राष्ट्रपति, 4.(द)इनमें से कोई नहीं, 5.(द)545, 6.(ब) राष्ट्रपति, 7.(स) भारत के मंत्रिमण्डलीय सचिव, 8.(ब)राज्यों के राज्यपाल, 9.(स) वसुषेण, 10.(ब)आठवें वसु, 11.(अ) विश्वकर्मा, 12.(द)दधीचि, 13.(द) सोना, 14.(स)लौह अयस्क, 15.(अ) लौह अयस्क, 16.(द) उपभू, 17.(स) 1859-1870 के बीच, 18.(अ) नियम चाल से, 19.(अ) ली केकियांग, 20.(द) संयुक्त राज्य अमेरिका, 21.(स) 250 से 300 सेमी, 22.(ब) जम्मू एवं कश्मीर, 23.(ब)झारखंड में, 24.(अ)मलेशिया, 25.(द) देखने वाला मंगल और चंद्रमा के साथ बनाता है, 26.(अ) मध्य एशिया की, 27.(द) स्केन्डिनेवियन क्षेत्र में, 28.(अ) रे, 29.(स) संसद का।
 

 


04-Apr-2021 1:47 PM 21

लॉर्ड वेलेजली को बंगाल का शेर कहा जाता था। उसने सहायक सन्धि की पद्धति शुरू की थी, जिसके तहत व्यवस्था की गई कि देशी नरेश कंपनी की सेना और एक ब्रिटिश रेजीमेंट रखेंगे और इन सबके बदले एक निश्चित रकम कंपनी को देंगे। 
इस व्यवस्था के तहत  निजाम हैदराबाद (1798 और 1800 ई.), मैसूर (1799 ई.), तंजौर (1799 ई.), अवध, (1801 ई.), पेशवा (1802 ई.), भोसले (1803 ई.) और सिंधिया  (1804) से सन्धि हुई। वेलेजली ने 1799 ई. में रक्षक सेना को गोवा भेजा और बंगाल के डेनमार्की भू- भाग को हथिया लिया था।  वेलेजली ने मद्रास पे्रसीडेंसी का 1801 में सृजन किया और लॉर्ड लेक के नेतृत्व में 1803 में कंपनी की सेना ने दिल्ली और आगरा को अपने अधिकार में ले लिया। 
 


04-Apr-2021 1:47 PM 24

राष्ट्रीय भू गर्भ विज्ञान पुरस्कार हर साल खनन मंत्रालय द्वारा दिए जाते हैं। यह पुरस्कार मौलिक अथवा प्रयुक्त भू-गर्भ विज्ञान, खनन एवं संबंधित क्षेत्रों में उनके प्रतिभाशाली योगदानों को मान्यता प्रदान करने के लिए व्यक्तियों/भू-गर्भ वैज्ञानिकों के दल/अभियंताओं/टेक्नोलाजिस्टों/शिक्षा वेत्ताओं से नामांकन आमंत्रित किए जाते हैं।  
राष्ट्रीय भू-गर्भ विज्ञान पुरस्कार तीन प्रकार का है-
(1) राष्ट्रीय भू-गर्भ विज्ञान उत्कृष्ठता पुरस्कार- उत्कृष्ठता का यह पुरस्कार विशिष्ट भू-गर्भ वैज्ञानिकों/अभियंताओं/टेक्नोलाजिस्टों/शिक्षाविदों को उनकी जीवन भर की उपलब्धियों तथा भू-गर्भ विज्ञान के किसी भी क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए दिया जाता है। यह पुरस्कार में 5 लाख- की नगद राशि, एक प्रमाण पत्र, एक प्रशस्ति पत्र तथा एक ट्राफी दी जाती है।
(2) राष्ट्रीय भू-गर्भ विज्ञान पुरस्कार- इसके अंतर्गत निम्नलिखित किसी भी क्षेत्र में उनके प्रतिभाशाली योगदान को सम्मानित करने के लिए भू-गर्भ वैज्ञानिकों/अभियंताओं/टेक्नोलाजिस्टों/शिक्षाविदों को व्यक्तिगत रूप से अथवा एक दल के रूप में उन्नीस पुरस्कार दिए जाते हैं।  प्रत्येक पुरस्कार में 2 लाख की नगद राशि, एक प्रमाणपत्र, एक प्रशस्ति पत्र तथा एक ट्राफी दी जाती है।
(3) युवा शोधकर्ता पुरस्कार- यह एकल पुरस्कार विश्वविद्यालयों, शैक्षणिक संस्थाओं तथा पेशेवर संस्थानों के ऐसे शोधकर्ताओं/वैज्ञानिकों जिनकी आयु पुरस्कार के वर्ष के 31 दिसंबर को 30 वर्ष से कम हो, को भू-गर्भ विज्ञान के किसी भी क्षेत्र में शोध कार्य के लिए दिया जाता है। इस पुरस्कार में रु. 50 हजार  की नगद राशि, एक प्रमाण पत्र, एक प्रशस्ति पत्र तथा एक ट्राफी दी जाती है।
 


04-Apr-2021 1:46 PM 24

अमेरिका में नागरिक अधिकारों के लिए लडऩे वाले आंदोलनकारी मार्टिन लूथर किंग जूनियर की 4 अप्रैल,  1968 में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।
मार्टिन लूथर किंग को कई लोग अमेरिका का गांधी भी कहते हैं। उन्होंने अफ्रीकी अमेरिकी नागरिकों के अधिकारों के लिए अहम भूमिका निभाई। वर्ष 1964 में उन्हें उनके प्रयासों के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।  वर्ष 1955 में अलबामा में श्वेत यात्रियों के लिए अपनी सीट ना छोडऩे के लिए रोजा पाक्र्स ने गिरफ्तारी दी।  इसके साथ ही किंग उनके समर्थन में उतर आए और प्रसिद्ध बस आंदोलन चलाया। यह आंदोलन 383 दिनों तक चला और आखिरकार संघर्ष रंग लाया और 1956 में अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि एफ्रो-अमेरिकी अश्वेत नागरिक नगर निगम के किसी भी बस में कहीं भी बैठ सकते हैं।
किंग महात्मा गांधी और उनके सिद्धांतों से बेहत प्रेरित थे। 1959 में किंग ने भारत यात्रा की जिसे उन्होंने तीर्थयात्रा जैसा बताया था। उन्होंने कई बार कहा कि महात्मा गांधी के अहिंसा के सिद्धांत को वह आंखें खोल देने वाला मानते हैं।  4 अप्रैल 1968 को जब किंग अमेरिका के मेम्फिस शहर में सफाई कर्मचारियों की खराब परिस्थितियों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे, तभी उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई।  उन पर गोली चलाने वाले जेम्स अर्ल रे को 99 साल की सजा सुनाई गई और 1998 में जेल में ही रे की मौत हो गई।